अंजन पॅसेंजर लड़की की चूत चाति और छोड़ी

ही फ्रेंड्स, ये मेरी फर्स्ट स्टोरी है. उमीद है की आप लोगों को पसंद आएगी. तो स्टार्ट करते है.

ये बात लॉक्कडोवन् के बाद की है, जब मैं चंडीगार्ह में कॅब ड्राइव करता था. मैं अपने बारे में बता डू. मैं दिखने में ठीक-ताक हू, और बात करने के तरीके से मैं किसी को भी अपनी तरफ अट्रॅक्ट कर लेता हू. मेरे लंड का साइज़ लगभग 6.5 इंच है, जो किसी को भी आचे से सॅटिस्फाइ कर सकता है.

तो फेब की बात है. मुझे एक राइड आती है, और मैं पिक करने के लिया चला जाता हू. वाहा पे मुझे 2 लड़कियाँ दिखाई देती है, जो की हिमाचल से थी. दिखने में स्लिम, गोरी-चित्ति थी. मैने उनको बिताया, और उन्होने 43 से उप-डाउन करना था.

हमने ज़्यादा बात तो नही की, पर काई बार आइ कॉंटॅक्ट एक लड़की से मेरा हुआ. मैने उन्हे उनकी लोकेशन पे ड्रॉप किया. उनमे से एक का नाम मनु था. उसने मेरे से नंबर माँगा की मैं गपे कर देती हू. सो मैने दे दिया, और उनको ड्रॉप करने के बाद मैं अपने काम में लग गया.

लगभग शाम के 7 बजे होंगे. मुझे गपे पर उसी लड़की का मेसेज आया “ही” का. मैने तुरंत रिप्लाइ किया और हमारी बात होने लगी. बस ऐसे ही हमने मिलने का प्लान बनाया. सब कुछ इतनी जल्दी हो रहा था. हम रात को करीब 8 बजे मिले, और ऐसे ही घूमते रहे.

उसने बताया की वो न्यू थी यहा, और उसका कोई फ्रेंड वग़ैरा नही था. और उसकी आज रूमेट भी कही आउटिंग पे जेया रही थी. तो उसने मुझे मेसेज कर दिया. फिर

हमने बियर ली और थोड़ी-थोड़ी पी ली. उसको तोड़ा नशा हो रहा था. मैने उसको मेरे रूम चलने के लिया पूछा, और वो तुरंत मान गयी.

फिर हम मेरे रूम पे गये, और जाते ही मैने उसको हग कर लिया. हमे लग ही नही रहा था की हम पहली बार मिल रहे थे. बियर के नशे के कारण वो भी गरम हो चुकी थी. और मैं भी ऐसा मौका हाथ से गवाना नही चाहता था.

मैने उसके लिप्स पे किस करना स्टार्ट कर दिया, और उसने भी मेरा पूरा साथ दिया. हम बिल्कुल चिपके हुए थे. एक-दूसरे की बॉडी हीट की वजह से हमे पसीना आना स्टार्ट भी हो गया था. मैने टाइम ना वेस्ट करते हुए उसके कपड़े उतारने स्टार्ट कर दिए.

वो बिल्कुल नखरे नही दिखा रही थी, जैसा मैं बोल रहा था वैसे ही कर रही थी. मैने फिर उसको नीचे बिताया, और अपना लंड निकाल के उसके मूह में डाल दिया. क्या मज़े से लंड चूस रही थी वो बता नही सकता मैं. बहुत मज़ा आ रहा था. मैं पूरा का पूरा लंड उसके मूह में धक्के से डाल रहा था. बिल्कुल एक्सपीरियेन्स्ड लड़की की तरह वो लंड को अंदर-बाहर करती.

मैने फिर उसको उठाया और उसके पुर कपड़े उतार दिए. उसका फिगर 32-30-28 था. गांद बिल्कुल गोल थी. उसकी गांद को देख कर मेरा मॅन उसकी गांद फाड़ने का किया. सच में बहुत मस्त माल थी वो. हिमाचल की लड़कियाँ होती सेक्सी है. मैने उसके बूब्स से खेलना स्टार्ट किया. सच में जब भी मैं बूब्स पे किस करता, वो एक नॉटी स्माइल देती.

मैं आपको बता डू, मेरे को सेक्स में सबसे ज़्यादा पसंद छूट चाटना है. मैने उसको घोड़ी बनाया और पीछे से उसकी छूट में जीभ से चाटने लगा. क्या स्मेल थी, और वो भी बिल्कुल पागल हो रही थी. मैने उसकी छूट में एक फिंगर डाली, और हल्की-हल्की जीभ उपर रगड़ने लगा. वो अपने हाथ मेरे सिर में फेरने लगी. मैने 20 मिनिट तक उसकी छूट छाती. वो 2 बार झाड़ चुकी थी. उसका नमकीन पानी मैं टेस्ट कर चुका था.

जब वो झड़ी, मुझे आज भी याद है बड़े ही सेक्सी अंदाज़ से उसने मुझे थॅंक योउ बोला, जैसे की उसे पूरी की पूरी खुशी मिल गयी हो. मैने उसको उठाया, और बेड पे सीधा लिटा दिया. मेरा लंड बिल्कुल लोहे की रोड के जैसा हो गया था. उसकी टांगे ओपन की मैने, और अपना लंड उसके उपर लगाया. छूट का पानी निकालने की वजह से लंड आसानी से अंदर चला गया.

वो आ आ करने लगी. मैं उसके बूब्स को चूस्टा. उसके निपल बिल्कुल हार्ड हो रहे थे, और मैं नीचे से धक्के पे धक्के लगाने लगा. उसकी आ आह की आवाज़े सारे रूम में गूंजने लगी. हमने अलग-अलग पोज़िशन ट्राइ करी. उसने एक बार भी नखरा नही किया.

कभी मैं उसकी टांगे उठता, कभी उसको अपने उपर बैठा के धक्का मारता. जब वो मेरे उपर बैठी उसके अंदर पूरा का पूरा लंड जेया रहा था. उसके फेस को देख के मुझमे और भी जोश आ रहा था.

उसको मैने घोड़ी बनाया, और फिर पीछे से लंड अंदर-बाहर किया. सच में दोनो को मज़ा आ रहा था. उसकी आ की आवाज़ से मैं और तेज़ धक्के लगता. उसने बोला की मेरे अंदर मत करना. वो खुद तब तक 3 बार झाड़ चुकी थी. छूट के बाद मेरा मॅन उसकी गांद मारने का हुआ क्यूंकी मैं मौका हाथ से गवाना नही चाहता था.

पर वो माना करने लगी की नेक्स्ट टाइम. हमने उस रात 5 बार चुदाई की. मुझे सबसे ज़्यादा खुशी उसकी छूट चाट-ते और उसको लंड चुसवाने से हुई. हमने उसके बाद 69 भी किया. सच में बिल्कुल कॉल गर्ल की तरह लंड मूह में लेती थी वो. मैने उसको बोला की मैं उसके मूह में झड़ना चाहता था.

पहले तो उसने माना कर दिया. पर मेरे दोबारा बोलने पर वो मान गयी. पर उसकी एक शर्त थी, की वो भी अपनी छूट चटवाना चाहती थी. तभी हम 69 में आ गये. उसने मेरा लंड मूह में लिया, और मैने उसकी छूट चाटनी स्टार्ट की. 5 मिनिट चाटने के बाद मैने सारा माल उसके मूह में निकाल दिया, और वो पी गयी. मैने भी उसको झाड़वा दिया.

सारी रात हम नंगे लेते रहे. सुबा उठने के बाद हमने 1 बार फिर चुदाई करी. उसके बाद हम अक्सर मिलते रहते. बाकी सब अगली स्टोरी में. उमीद है आप लोगों को ये स्टोरी पसंद आई होगी.

तो दोस्तों अगर कोई लड़की या भाभी आंटी अपनी छूट की खुजली मितवाना चाहती हो, तो मुझे एमाइल कर सकती है पेरफेकटम्मू@गमाल.कॉम पर. सब कुछ बिल्कुल सीक्रेट रहेगा. कोई भी लड़की या आंटी चंडीगार्ह के आस-पास हो तो मेसेज कर सकती है.

यह कहानी भी पड़े  कहानी जिसमें जीजे ने अपनी कुंवारी साली की चूत चोदी


error: Content is protected !!