अंजन लोगो से हॉट चुदाई की

हाय फ्रेंड्स कैसे हैं आप सभी ? आशा करती हूँ आप सभी अच्छे होंगे | मेरा नाम सुहाना है और मैं उत्तराखंड देहरादून से हूँ | जैसा की आप सभी जानते हैं कि देहरादून बहुत सुन्दर राजधानी है और वहाँ की वादियाँ बहुत सुन्दर हैं | तो उसी प्रकार मैं भी सुन्दर ही हूँ ऐसा मुझे हर कोई कहता है | मेरी उम्र 26 साल है और मैं एक रनर हूँ फिलहाल तो मैं डिस्ट्रिक्ट लेवल में गेम खेलती हूँ, पर कई बार मैं नेशनल भी खेल चुकी हूँ | मेरा फिगर 32-34-36 है और मैं बहुत गोरी हूँ |

मुझे सेक्स स्टोरीज पढ़ना बहुत अच्छा लगता है, हालांकि मैंने कभी सेक्स नहीं किया था क्यूंकि मैं डरती थी सेक्स करने से | इस वजह से मैं अपनी कामवासना अपनी चूत में ऊँगली डाल के शांत किया करती थी | मेरे घर में मैं, मेरी मम्मी और छोटी बहन रहती है और पापा दिल्ली में जॉब करते हैं | मेरा कॉलेज कम्पलीट हो चुका है और मैं अपना कैरियर खेल-कूद में बनाना चाहती हूँ | मैं आप लोगों का ज्यादा टाइम ना लेते हुए सीधे स्टोरी में आती हूँ |

ये घटना आज से तीन महीने पहले की है | मेरी आदत है मैं सुबह रोज जल्दी उठ जाया करती हूँ और सब सोते रहते हैं, और मैं जॉगिंग और व्यायाम के लिए सुबह रनिंग करते हुए जाती हूँ | तो उस दिन भी मैं रोज की तरह सुबह 5 बजे उठ गई थी और बहुत हलकी हलकी सूरज की रौशनी छाई हुई थी, सभी लोग मोर्निंग वाक कर रहे थे और मैं घर से निकलते ही साथ रनिंग करते हुए | फिर मैं पार्क में पंहुची और थोडा बहुत व्यायाम करने लगी | पार्क के सामने किसी अपार्टमेंट में काम चल रहा था तो उसमे से एक मजदूर वहाँ टॉयलेट कर रहा था | दूर से उसका लंड काफी मोटा और बड़ा लग रहा था उसने मुझे उसका लंड देखते हुए देख लिया था और फिर वो मेरी तरफ पलट कर अपना लंड दिखा कर टॉयलेट करने लगा | देखना तो मुझे भी अच्छा लग रहा था पर मैं लड़की हूँ और सुबह का टाइम था तो मैंने सोचा कि ज्यादा भीड़ तो थी नहीं तो इस आदमी की हिम्मत इतनी थी नहीं कि वो मुझे कुछ कर पर पाता | इसलिए मैं भी बड़े मजे उसे देखने लगी कि अब ये करता क्या है ? पर वो बस दूर से ही मुझे देख कर अपना लौड़ा हिलाए जा रहा था |

यह कहानी भी पड़े  मकान मालकिन की रसीली चुत

और मैं भी दूर से उसका हिलता हुआ लंड देख रही थी | फिर धीरे धीरे भीड़ बढ़ने लगी तो मैं अपनी जॉगिंग और व्यायाम की और फिर घर चले गई | अब मेरा ये रोज का काम हो गया था मैं रोज उसे उसी टाइम देखती और और वो मुझे रोज अपना अपना लंड दिखाता और और मैं भी अपने दूध के उसको दर्शन करा देती और वो भी मस्त हो कर मेरे दूध देखते हुए अपना लंड हिलाता रहता | एक दिन मैंने सोचा कि चलो मैं इसके पास जाउंगी सुबह तो मैं एक स्किन टाइट टॉप और स्किन टाइट लोअर पहना और सुबह गई थी | मैं उस समय बहुत सेक्सी लग रही थी | उस दिन भी मैं पार्क में जा कर जॉगिंग और रनिंग करने लगी तो फिर वो मुझे दिखा और फिर से मुझे अपना लंड दिखा दिखा कर मूतने लगा तो मैंने सोचा कि यही सही मौका है सुहाना चले जा इसके पास (मैंने अपने मन में कहा) |

फिर मैं उसे इशारा करके उसके पास गई | मैं वहां गई तो देखा कि बस एक चादर बिछा हुआ है बस और कुछ भी नहीं था और उस समय उसने बस एक लुंगी पहने हुआ था | उस लुंगी में से उसका लंड जो तम्बू बन कर खड़ा था साफ साफ दिख रहा था | मैंने उससे पूछा तुम मुझे रोज अपना लंड क्यूँ दिखाते हो ? तो उसने कहा मैं तो मूतता हूँ तू क्यूँ देखती है मुझे मूतते हुए ? मेरे पास कुछ भी जवाब नहीं था उसके सवाल का | फिर मैंने नाटक करते हुए बोला देखो मैं बहुत सीधी सादी लड़की हूँ अब से मुझे तुम्हारा लंड नहीं दिखना चाहिए | तो उसने कहा तो क्या करोगी मैं चाहूँ तो तुझे अभी पटक कर चोद सकता हूँ और तू कुछ कर भी नहीं सकती पर मुझे जबरजस्ती की चुदाई पसंद नहीं है | तू खुद ही मेरा लंड देखने के लिए यहाँ आई है न ? उसने पुछा | तो गलती से मेरे मुंह से हाँ निकला गया | तो वो खुश हो के अपनी लुंगी निकाल दिया और उसका सांप जैसा फनफनाता हुआ लंड मेरे सामने था, मेरी आँखे फटे रह गई थी | उसका लंड किसी घोड़े के लंड जैसा ही था इतना बड़ा लंड तो मैंने किसी ब्लू फिल्म में भी नहीं देखा था |

यह कहानी भी पड़े  जवान लड़की सोनिया की हॉट चुदाई

Pages: 1 2

error: Content is protected !!