तलाकशुदा लड़की की लंड की प्यास बुझाई

दोस्तों, मेरा नाम हेरी है। मैं अभी 24 साल का हूं। मेरा कद लंबा, शरीर मजबूत है, और मेरा रंग गोरा है। मेरे लंड का साइज़ 7 इंच लंबा है और 3 इंच चौड़ा है।

मैं अपने कुछ दोस्तों के साथ पी.जी. मैं रहता हूं, जो कभी-कभी रूम में रहते थे। वैसे तो वो अपनी गर्लफ्रेंड के रूम पर ही रहते थे। कभी-कभी ही आया-जाया करते थे, तो मैं अकेला रहता था।

मैं आज आपको मेरे पहले और यादगार सेक्स की कहानी बताऊंगा। वह अजनबी औरत का नाम रिया (बदला हुआ नाम) था। उसकी उम्र 28 साल थी। वो दिखने में काफी हॉट थी। उसका जिस्म पूरी गदराई घोड़ी की तरह था। वैसे उसका रंग काला था, पर हुस्न की मल्लिका कामुक औरत थी।

एक दिन मैं सोशल मीडिया पर ऑनलाइन कुछ दोस्तों से बात कर रहा था। ऐसे में एक लड़की से मेरी नई-नई बातें शुरू हुई। दिन और रात हमारी बातें होने लगी। फिर एक दिन हमने मिलने का फैंसला किया। जब हम मिले तो उसने नीले रंग की टाइट टी-शर्ट और जींस पहन रखी थी। जिस्म से उसके चूचे और गांड बाहर आने को मचल रहे थे। उसकी चूचियां आम के जैसी बड़ी-बड़ी थी, जिसको हर कोई चूसना चाहेगा। उसके रसीले दो आम और होंठ बड़े रसीले थे। जब हम मिले तब-

हेरी:‌ हाय।

रिया: हाय।

हेरी: काफी हॉट और सुंदर लग रही हो।

रिया: धन्यवाद, आप भी बड़े हैंडसम लग रहे हैं।

मेरे और रिया के बीच बातें हो रही थी, तभी मुझको उसने बताया कि-

रिया: मुझे तुमसे कुछ कहना है। एक राज़ की बात है।

हेरी: हां बोलो।

रिया: मैं एक तलाकशुदा महिला हूं। मेरे पति और मेरे बीच अच्छे हालात नहीं थे। वो मुझे खुश नहीं रख पा रहे थे। मुझे पूरी तरह संतुष्टि नहीं मिल रही थी, इसलिए हम अलग हुए।

ये सब बातें हुई, और वो थोड़ी इमोशनल हो गई। मैंने उसे गले लगाया और उसके आंसू पोंछे। वो मुझसे लिपट गई और अपने होठों को मेरे होठों पर रख दिया। हमने एक-दूसरे को किस किया। फिर मैं उसे अपने कमरे पर ले गया। जब हम रूम पर मेरे बाइक से जा रहे थे, तब उसने पीछे से मुझे गले लगाया और मेरे लंड पर हाथ फेर रही थी।

अब हम रूम पर पहुंचें। जैसे ही मैंने दरवाजा खोला, वो सीधी मुझ पर टूट पड़ी और मुझे चूमने लगी। मैं उसके रसीले होठों को चूमने और जोर-जोर से स्मूच करने लगा। चुंबन करते-करते हम बिस्तर तक पहुंचें। उसने मुझे बिस्तर पर थक्का दिया, और मुझ पर चढ़ गई। उसका गरम हुआ जिस्म काफी मदहोश कर देने वाला था। उसकी 36″ की चूचियां बड़ी-बड़ी देख के मैं उसकी चूचियों को दबाने लगा, और टी-शर्ट को खींच कर फाड़ दिया।

उसकी दूध जैसी चूचियां अब केवल ब्रा से ही बंधी थी। ब्रा के अपर से ही मैं उसकी चूचियों के निपल्स को खींचने लगा। उसे चाटने लगा, और जोर-जोर से दबाने लगा। वो भी आह्ह आह्ह आह्ह आह्ह करने लगी, और मेरी टी-शर्ट उसने निकाली, और मेरे होंठों और गले को चूमने लगी, और पूरे शरीर को चाटने लगी। मैंने भी अब उसके बालों को पकड़ा और उसके ब्रा हुक को खोल ब्रा को फेंक कर ऊपर से नंगा कर दिया।

अब हम दोनों सिर्फ पेंट में थे। उसकी चूचियों को एक-एक करके दबा कर उसमें से दूध निकाला। वो जोर-जोर से कराह उठी। अब वो पूरी तरह से तड़प रही थी। काफी सालों की प्यास अब अपने चरम पर थी। वो जल्दी से मेरे नीचे गई, और मेरी पेंट के ऊपर से ही लंड को दबाने और चूसने लगी। और मेरी पेंट को झटके से उतार दिया।

अब मैं सिर्फ अंडरवियर में था। वो उसके ऊपर से मेरे लंड को चूसने लगी और बोली, “आय हाय क्या मस्त मोटा घोड़े जैसा लंड है तेरा। आज मेरी प्यास बुझा दे और मुझे रंडी की तरह दबा के चुदाई कर मेरी।” फिर उसने मेरे लंड को चूसा और अब मेरा अंडरवियर भी निकाल दिया। मैंने उसके बालों को खींच कर खड़ा किया, और उसकी पेंट उतारी। अब उसको गांड पे जोर-जोर से थप्पड़ मारे।

उसने कहा: मेरे राजा, ये चूत फाड़ दे आज, और रसमलाई पी ले।

अब वो पूरी गरम हो चुकी थी। उसने अपनी पैंटी फाड़ कर फेंकी, और मेरे मुंह को अपनी चूत के अंदर घुसाया, और मैंने भी उसकी चूत पूरी चाटी। अपनी जुबान को आगे-पीछे किया। अपनी जुबान से उसकी चूत चुदाई की, और वो अब चिल्लाने लगी।

रिया: अब चूत चोद कर फाड़ दो मेरी चूत। घुसा अपना हथियार।

और मैंने एक झटके में पूरा मोटा लंड घुसा दिया।

वो चिल्ला उठी: आओऊआ आआह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह, एक झटके में पूरा लंड घुसा दिया मेरे राजा।

मैंने भी जोर-जोर से झटके दिए उसे। वो धीरे-धीरे पूरा मजा लेने लगी।

अब मैंने उसको झुका के उसकी गांड पर लंड रखा। वो डर गई-

वो:‌ क्या कर रहे हो? वहां मत डालो, बहुत दर्द होता है।

पर मैंने एक नहीं सुनी, और एक झटका मारा, और आधा लंड उसकी गांड में‌दे दिया।

वो चिल्ला उठी: आअह्ह्ह्ह आआह्ह्ह्ह आआह्ह्ह उम्म्मम्म उम्म्म्म बहुत दर्द हो रहा है मुझे।

उसके बाद मैंने दूसरे झटके में पूरा लंड उसकी गांड में घुसा दिया। उसकी आंखों में से आंसू बहने लगे।

फिर उसने बोला: धीरे-धीरे आगे-पीछे करना।

मैंने धीरे-धीरे आगे पीछे किया। फिर मैंने अपनी तेजी बढ़ाई। अब वो भी लंड उछाल-उछाल कर लेने लगी, और कहने लगी-

रिया: आज आपने मुझे जन्नत का अनुभव करवाया है। आज एक असली दमदार और मजबूत मर्द से चुदी हूं।

इतना कह कर वो मुझ पर ही लेट गई। फिर वो घोड़ी बनी। मैंने उसकी 69, डॉगी स्टाइल, हर पोजीशन में चुदाई की, और बाद में हमने साथ में नहाया, और बाथरूम में नहाते हुए उसने मेरे पूरे बदन पर साबुन लगाया। मैंने भी उसे साबुन लगाया। फिर एक-दूसरे के भीगे-भीगे बदन को चूमा।

उसने मेरे हर अंग से निकले पानी को चूसा और पिया। फिर जब बाहर आये हम, तो उसने मेरे लाए हुए कपड़े पहने। बाथरूम में भी हमने जम कर चुदाई की। फिर हम दोनों ने एक लंबी सी स्मूच किस की, और मैं उसे स्टेशन छोड़ के आया। उसके बाद काई बार चुदाई हुई हमारी। अब वो अपने पति के साथ दूसरे शहर में रहने चली गई।

तो कैसी लगी ये कहानी कमेंट्स कर के जरूर बताएं, और अगली कहानी का इंतजार करते हुए मिलते हैं, अलविदा।

यह कहानी भी पड़े  रतिका की मदमस्त जवानी


error: Content is protected !!