अदला बदली करके चुदाई का मज़ा

हेलो फ्रेंड्स वेलकम बॅक. तो मेने रिया को आपना लंड चूसने को बोला और टीया को अजय की और ढाका दे दिया. आब आगे.

अजय को तोड़ा शर्मा रहा था. फिर टीया ने अजय को जाके किस किया. तो अजय तोड़ा कंफर्टबल फील करने लगा. इधर में रिया की बाल को पकड़ के अपना लंड उसके मूह में घुसा दिया और अर्पिता को टीया क पास जाने को बोला. क्यूँ की मुझे रिया को आज जबरदस्त छोड़ना था.

मेने रिया की मूह में ढके मरने सुरू कर दिए. बीच बीच में अपना पूरा लंड उसके मूह में घुसने की कोशिस करता तो वो छटपटा जाती. फिर मेने अपना लंड निकाला और अपने लंड से उसके गॉल पर मार ने लगा. वो एक रंडी की तरह आँखे बंद कर क मेरे लंड से मार खा रही थी.

फिर मेने डूबरा से उसके बाल पकड़े और उसके मूह में लंड घुसना सुरू किया और इस बार मेने अपना लंड घुसा क रहा और दोनो हाथों से उसकी सार को लंड क उपर दबाने लगा.

वो मेरे जांघों पर मरने लगी और अपने आप को खुद से दूर करने की कोशिस करने लगी. पर मेने उसे छोड़ा नहीं. फिर उसने अपना नाख़ून मेरे जांघों में गाड़ ने लगी. मुझे जब दर हुआ तो मेने अपना लंड निकाला तो देखा की उसकी आँखे बिल्कुल लाल हो चुके थे और उसकी आँख नाक और मूह से पानी निकल रहा था.और नीचे गिर क उसकी मुम्मों को भीगा रहा था.

मेने उसे खड़ा किया और उसकी होंठों को चूमना सुरू किया. मेने एक हाथ से उसके बाल पकड़े हुए थे और दूसरी हाथ से उसके बूब्स मसालने लगे. मैने उसकी मूह को खोला और उसके मूह क अंदर थूक दिया और फिर चूस क अपना थूक फिर वापस निकाला और उसकी चुचियों पे गिरने लगा.

उधर टीया अजय को किस करी जा रही थी और अर्पिता अजय का लंड चूस रही थी. फिर मेने रिया की होंठों को दाँत से काट क किंचने लगा और उसकी निपल्स को मरोड़ क किंच ने लगा तो वो छीलाने लगी. मेने कुछ देर एसए ही रहना दिया . वो छिला रही थी.

फिर मेने उसे छोड़ दिया और देखा तो उसके आँखो में हल्के हल्के से आँसू थे. तो मेने उसे पूछा बहुत दर्द हो रहा है क्या? उसने कहा दर्द तो हो रहा है पर मीठा वाला. तू नहीं समझेगा.

फिर मेने उसे हग किया और उसे अपने गोदी में उठा लिया. मेने उसे गोदी में उठा कर बहुत सारा किस किया. उसने दोनो हाथों से मेरा सर पकड़ रखा था और मेरे होंठों को चूसे जा रही थी. मेनी उसे एसए ही अजय क पास ले गया. और बोला देख अजय केसे रंडी की तरह चूस रही है तेरी होने वाली बीवी.

तो अजय ने भी मुझे कहा तेरी बीवी व कुछ कम नहीं है. फिर मेने रिया को सोफे पे बैठा दिया और उसके मुममे चूसने चालू कर दिए मेने एक हाथ से एक चुचि को पकड़ क मसल रहा था और दूसरी चुचि को मूह में ले कर चूस रहा था. वो पागलों की तरह मेरा सर पकड़ क अपने मुम्मो पे दबा रही थी.

मेने फिर उसकी निपल को दो उंगलिओन से पकड़ कर मरोड़ दिया और दूसरी निपल की अपने दंटो से काटने लगा. तो उसने भी अपने दोनो हाथों से मेरे सर को हग किया और ज़ोर्से दबाने लगी और छीलाने लगी. खा जा कुत्ते. निचोड़ दे. कुत्ते तेरे लिए कब से तड़प रहे है. रंडी हूँ में तेरी. जो चाहे कर मेरे बदन क साथ. में यह सब सुन के और एग्ज़ाइटेड हो गया और उसे और ज़ोर्से काटने लगा. फिर मेने उसे सोफे पे लैयता दिया और उसके उपर 69 पोज़िशन में लाइट गया.

मेने उसके मूह में लंड दल क लाइट गया और उसकी छूट को चाटना सुरू कर दिया. वो चाहते हुए भी मेरा लंड नहीं निकल सकती थी. फिर उसने मेरे लंड को हल्का हल्का चूसना सुरू किया और दोनो हाथों से मेरा गांद दबा रही थी. उधर मेने उसके छूट पे बहुत सारा थूक लगाया और उसकी छूट की दाने को अपने दो उंगलिओन से मालिस करने लगा. वो जब भी एग्ज़ाइटेड होती तो मेरे गांद को ज़ोर्से दबा क फैला देती और मेरे लंड को ज़ोर्से अपने मूह में जाकड़ लेती.

मेने आब एक हाथ नीचे को लेकर उसके गांद की छेड़ क पास ले गया. और उसे धीरे से सहलाने लगा. इधर मेने रगड़ना जारी रखा. वो मेरे लंड को ज़ोर ज़ोर से चूस रही थी और मेरे गांद में तपद मरने लगी.

में भी एग्ज़ाइटेड होके उसके मूह को छोड़ना चालू गर दिया. वो कुछ बोलना चाहती थी सयद पर मुझे सिर्फ़ गणन्नह गाअंनह की आवाज़ आ रही थी. तो में बिना रुके उसकी मूह को छोड़ता गया.

फर्म मेने अपना एक उंगली उसकी गांद की छेड़ में डालने लगा तो वो छटपटाने लगी. पर मेने उसकी एक नहीं सुनी. मेने वो उंगली एसए ही दल क रखा और उसकी छूट की दाने को चाटने लगा और चूसने लगा. वो और ज़ोर्से छटपटाने लगी मानो जेसे मुझसे छूटने की कोशिस कर रही हो.

फिर मेने उसकी छूट में दो उंगलियाँ दल दी तो काफ़ी आराम से अंदर चला गया तो मेने टीन उंगलियाँ डालने की कोशिस की. सुरू सुरू में तोड़ा मुस्किल था पर बाद में छूट का पानी लग क उंगलियाना आराम से अनद्र चली गयी.

आब में उसकी छूट क डानने मो ज़ोर्से चूसने लगा और ज़ोर ज़ोर से उसकी छूट में उंगली करना सुरू कर दिया और उसकी गांद में उंगली दल क रखा था. वो जेसे तेसे कर क मेरे लंड को अपने मूह से निकली और छीलाने लगी.

रिया: मार गयी. में हे भगवान. जान मेरी निकालने वाली है, जान छोड़ दो, जान ई लोवे उ. ऑश अहह अहह अहह

एसए ही छिलाती रही पर में बिना रुके उसको खाए जा रहा था. कुछ टाइम बाद उसकी छूट से वाइट कलर की मलाई और पानी निकालने लगा और उसकी टाँगे काँपने लगी. इतनी ज़ोर्से उसकी टाँगे कपने लगी की में उसके उपर से उठ गया और खड़ा हो गया. वो कांप ती हुई सोफे से नीचे ज़मीन पे लाइट गयी और वेसए ही कांप ती रही. अर्पिता अजय उसे देखे जा रहे थे. उधर रानी भी उसे एक हल्की स्माइल क साथ देख रही थी. पर टीया अजय की लंड चूसे जा रही थी.

तब टीया ने अजय की लंड क स्किन को पकड़ कर नपीछे किंच ने की कोशिस कीट ओह अजय छिला उठा. दोस्तों यहाँ पे में एक बात बताना चातहूं की सबके लंड का स्किन पीछे नहीं जाता. कुछ सरकम्साइज़्ड होते हैं और कुछ नहीं. मतलब की ज़्यादार तार लोगों का लंड का फॉरेस्किन कटा हुआ या च्िल चक्का होता है. तो इसमे कोई घबराने की बात नहीं. कोई फराक भी नहीं है सेक्स करने में.

तो सब जो कनपटी हुई रिया को देख रहे थे आब अजय की और देखने लगे तो सबको पता चला क्या हुआ. तो अजय ने टीया को उठाया और उसकी गाल पे एक तपद मार. सॅली रॅंड लंड काट खाएगी क्या. और बोलते हुए उसकी मूह में अपना लंड घुसा दिया. एसा लग रहा था जेसे वो मेरा गुस्सा टीया पे निकल रहा हो. फिर वो टीया की मूह को बड़ी बेरेहमी से छोड़ रहा था. टीया क मूह से थूक तपाक के उसकी चुचियों पर गिर रहे थे.

अजय आब और भी ज़ोर्से उसकी मूह को छोड़ना सुरू कर दिया. एसा लग रहा था उसका निकल ने वाला है. और वेसा ही हुआ उसने अपना लंड निकाला और सारा माल टीया के चुचियों पर गिरा दिया. और खुद सोफे पे बैठ गया. मेने रिया क बाल पकड़े और उसे घसीट ते हुए टीया क पास ले गया और बोला छत साली अपने पति का माल छत क साफ कर.

पर रिया की बॉडी में जान ही नहीं थी. तो अर्पिता टीया क पास आई और टीया क चुहियों पर से अजय का माल खाने लगी. दोस्तों क्या हॉट सीन था. में और रानी सोफे पे बैठ कर यह सब देख रहे थे. आब आगे की कहानी अगली पार्ट में. तब तक क लिए हिलाते रहिए और स्वस्त रहिए.

यह कहानी भी पड़े  सुषमा का दो मर्दो के सामने नंगा नाच

error: Content is protected !!