वर्जिन लड़की की गांद चुदाई

हेलो फ्रेंड्स विराट राजपूत हियर आपकी सेवा मैं फिर से हाज़िर हू कैसे है आप सब जेसे की आप जानते है की मैं एक कल्लबोय हू और अपनी ट्रू स्टोरी पोस्ट करता हू तो हाज़िर हू अपनी एक ट्रू स्टोरी के साथ.

मेरी आगे 29 है और मेरे लंड का साइज़ 6 इंच है देखने मैं स्मार्ट टॉल हू 6 फ्ट हाइट है. सो अब स्टोरी पर आते है जेसे की लास्ट पार्ट मैं आपने पहदा की कैसे पिंकी की जीन्स उतार दी.

अब आयेज.

तो दोस्तो पिंकी की जेनूस उतार कर देखा तो उसकी पनटी पूरी गीली थी. तो मैने उसके पेट को चूमते और चूस्ते हुए धीरे धीरे नीचे आया और उसकी थाइस जांगे को चूमने लगा और उसके पूरे लेग को दबाना और चूसने लगा.

वो मज़े से बस सिसकियाँ भर रही थी आहा आहा आहा आहा आहा आहा…फिर मेने उसकी पिंदलियों को हल्के हल्के बीते करने लगा और चूमने लगा. पिंकी तो बस पागल सी हो गयी वो उपर भात गयी और मेरे सर को पकड़कर दबाने लगी. फिर मैं धीरे से उपर आया और उसकी पनटी को पकड़कर उतार दिया. बिल्कुल क्लीन सवे छूट थी उसकी बिल्कुल सील पॅक दोनो होत आपस मैं जुड़े हुए और हल्की सी ब्राउन. उसमे से निकलते पानी.

मेने धीरे से उसकी छूट को टच किया तो पिंकी ने एक दम से मेरे शहोल्दर को पकड़ लिया और नौचने लगी आहा आहा… विराट आहा सीसिसिस क्या कर रहे हो आहा… मार गयी आहा और बोहोट तेज़ तेज़ छीलाने लगी..

फिर मेने उसको पीछे किया और उसकी टाँगे उठा कर अपनी शहोल्दर पर रख ली और धीरे से उसकी छूट को अपनी जीभ से टच किया. तो वो एक दम बेड को ज़ोर से पकड़ लिया और बोहोट तेज़ सिसीकिया लेने लगी… आहा सीसिसिस और अपने सिर को तकिये के उपर इधर उधर पटककने लगी.. और ज़ोर ज़ोर से सिसकियाँ लेने लगी.

पिंकी-आहा विराट क्या कर रहे हो आप ये मैं मार जौंगी आहा विराट…

तब तक मैं उसकी छूट को चाटने लगा था और वो बस मस्ती मैं पागल हो रही थी.

मेने अपने हाथ से उसकी छूट के पांकुदियो को धीरे से खोला तो अंदर से बिल्कुल पिंक छूट थी उसकी. मेने उसकी छूट के अंदर जीभ डाल दी जिससे वो बोहोट ज़ोर से चीख पड़ी मज़े से.

पिंकी- आहा मार गयी विराट आराम से आहा…

बाहर से उसकी फ्रेंड ने पूछा क्या हुवा छिला क्यू रही है आराम से कोई सुन ना ले… तब उसने अपने मूह पर तकिया रख लिया और ज़ोर ज़ोर से सिसकियाँ भरने लगी.

मैं उसकी छूट को अंदर जीभ डालकर गोल गोल घूमने लगा और वो अपने हाथ पैर बुरी तरह पताकने लगी और मज़े से पागल होने लगी. उसकी छूट की गर्मी से मेरा लंड भी खड़ा हो गया था.

10 मिंट उसकी छूट चाटने के बाद वो बिल्कुल अकड़ गयी और अपनी टॅंगो से मेरा मूह अपनी जांघों मैं दबा लिया और बोहोट ज़ोर से झड़ने लगी और चीखने लगी आहा… मार गयी मैं बस करो जान लोगे क्या मेरी हटो…

में पिंकी के उपर से हट कर साइड मैं लेट गया और वो ज़ोर ज़ोर से हाफ़ रही. थोड़ी देर आराम करने के बाद वो उठकर जाने लगी.

मेने पूछा कहा जा रही?

तब वो मेरा हाथ पकड़ कर बोली चलो.

फिर हम दोनो भतरूम गये और पिंकी ने अपनी छूट को साफ किया और फिर मुझे वही पर किस करने लगी. तब मेने पूछा अब क्या इरादा है मेडम.

पिंकी-इरादा तो कुछ नेक है पर तोड़ा दर लग रहा फर्स्ट टाइम कैसे होगा. अभी तक मेने अपनी गंद मैं उंगली भी नही डाली कभी तो तोड़ा दर लग रहा.

मे-डरने की कोई ज़रूरत नही है फर्स्ट टाइम होता है तोड़ा देखो सच बोलू तोड़ा दर्द तो होगा. बाकी आपकी मर्ज़ी है पर मज़ा लेना है तो तोड़ा दर्द तो सहन करना होगा. उसके बाद तो मज़ा ही मज़ा.

ऐसे ही बाते करते करते हम बाहर आ गये बातरूम से और बेड तक आ गये फिर मेने बेड पर बैठकर पिंकी को अपनी गोद मैं बैठाया और उसकी बॉडी को प्यार से सहलाने लगा तो वो मेरी तरफ़ मूह करके मेरे होठों हो चूसने लगी और मेरी उसकी दोनो चुचियो को हाथ से मसालने लगा और उनके निप्पल्स को तोड़ा दबाने लगा जिससे वो गरम होने लगी.

फिर मेने उसे तोड़ा आयिल लाने को कहा आओ उठकर बाहर अपनी फ्रेंड के पास चली गयी और तोड़ा आयिल लेकर आई. तो मेने उसे बेड पर उल्टा लिटा दिया और उसकी दोनो पैर बेड से नीचे थे. फिर मेने उसकी छूट को चाटना सुरू किया तो वो फिर से मज़े से पागल होने लगी.

थोड़ी देर छूट चाटने के बाद मेने उसकी गंद पर टेल डाला और उंगली से धीरे धीरे सहलाने लगा. उसे तोड़ा मज़ा आने लगा और पिंकी सिसकियाँ भरने लगी आहा म्‍मम्मूउहह आहा…

मेने धीरे से उसकी गंद मैं थोड़ी थोड़ी उंगली करने लगा तो वो तोड़ा कसमसने लगी.

ऐसे ही थोड़ी महंत के बाद मेरी एक उंगली उसकी गंद मैं चली गयी. जिसे मैं धीरे धीरे उंड़र बाहर करता रहा और टेल को उसकी गंद पर डालता रहा.

थोड़ी देर कसमसने के बाद उसको भी तोड़ा अक्चा लगने लगा. फिर मेने उठकर अपने लंड पर बोहोट अकचे से तेल लगाया और उसको पूरा ताल मैं भिगो दिया और उसकी कमर को किस करते करते उसके उपर आ गया.

फिर उसके दोनो चुचियो को अपने हाथों से पकड़ लिया और धीरे धीरे दबाने लगा. और लंड को उसकी गंद पर लगाकर सहलाने लगा. वो धीरे धीरे सिसकियाँ भरने लगी.

मेने तोड़ा ज़ोर लगाया तो वो हल्की सी चीखी पर मैं उसकी गर्दन को किस करता रहा. और उसकी चुचियो को दबाता रहा. फिर मुझे लगा अब मेरा लंड उसकी गंद पर अकचे से सेट है तो अब तोड़ा ज़ोर लगाना चाहिए.

तो मेने उसके मूह को तोड़ा एक साइड करके उसके होठों को चूसने लगा. जिससे उसकी चीख बाहर ना निकले और अपना तोड़ा वजन उस पर दल दिया जिससे वो जयदा हीले नही. फिर मेने तोड़ा ज़ोर लगाया तो लंड का टोपा अंदर चला गया और वो मूह से गु गु की आवाज़ निकालने लगे और मेरे नीचे से छटपटाने लगी.

दोस्तो स्टोरी थोड़ी लंबी हो गयी है बुत आपको मज़ा आएगा आयेज कोई भाभी गर्ल आंटी कल्लबोय सरिवसे चाहती है तो मैल करे और ये भी बताए केसी लगी स्टोरी मेरी मैं ईद है

यह कहानी भी पड़े  बेस्ट दोस्त बनी गर्लफ्रेंड

error: Content is protected !!