विधवा औरत की चुदाई

हेलो फ्रेंड्स, माइसेल्फ अली फ्रॉम गुजरात जामनगर, आई एम न्यू ऑन डीके और मैं अपने बारे मे बता दू मैं एक 24 साल का आम आदमी हूँ जैसे हर कोई लड़के होते है नॉट अट्रॅक्टिव बट ठीक ठाक हूँ मेरे नेचर से मुझे लोग लाइक करते है लुक से नही अछा तो मैं अपनी फर्स्ट स्टोरी लिखने जा रहा हूँ तो उम्मीद है आप लोगो को पसंद आएगी अब ज़्यादा टाइम ना लेते हुए मैं स्टोरी पे आता हूँ, ये स्टोरी 2012 की है और इसमे कुछ मिलावट नही है एक दम सच्ची है मैने अपनी कार बेचने के लिए एक वेबसाइट पे एड की थी और जैसे ही एड को 4/5 दिन हुए बहोत कॉल आए मुझे लोगो के क्यूंकी मैने रेट बहोत कम रखा था लेकिन किसी लड़की का कॉल आएगा ये तो मैने सोचा भी नही था लेकिन एक दिन अचानक एक कॉल आया एक लड़की का उसने कहा हेलो मैं निशा (नेम चेंज्ड) मैने आपकी एड देखी कार की आप कहा रहते है कार देखने के लिए कहा आना पड़ेगा और कब आउ?, तो मैने कहा अभी तो मैं जिम मे हूँ आप एक घंटे के बाद पाँचवाती आ जाना जहा मैं रहता हूँ.

तो उसने कहा ठीक है मैं एक घंटे बाद कॉल करूँगी और फिर जैसे की बात हुई ही वो टाइम पे आ गयी और जेसे ही वो आई मैं तो देखता रह गया एक दम माल लग रही थी, तो फिर मैने हेलो किया और कार दिखाई बोला ये रही कार राइड लो अगर चाहो तो और वो भी मुझे देखती रह गयी कार को टच तक नही किया बस बोली की फाइनल रेट बता दो मैं फिर कॉल करूँगी तो मैने कह दिया रेट और फिर वो चली गयी और दूसरे दिन मेसेज आया बोली सॉरी मुझे कार तो पसंद नही आई बट आप बड़े क्यूट लगे मुझे क्या मैं आपसे फ्रेंडशिप कर सकती हूँ, मैने सोचा ये कोई गेम खेल रहा है मेरे साथ लड़की अचानक सामने से मुझे फ्रेंडशिप का बोल रही है ये कैसे हो सकता है तो फिर मैने सोचा जो होगा देखा जाएगा हम कोन्से शादी करने वाले है इससे तो मैने कहा माय प्लेस्सुरे तो उसने कहा आप फ्री होके कब मिलोगे मुझे तो मैने कहा शाम को आइस क्रीम पे मिलते है और मैं उसके दिए हुए टाइम पे गया.

तो उसने मुझे अपने बारे मे बताया की मैं मॅरीड हूँ डाइवोर्स हो गया है मेरा कोई बच्चा नही पापा मम्मी के साथ रह रही हूँ और अकेली हूँ ना भाई ना बहन बूढ़े मा बाप है अकेली वारिस हूँ बस कोई लड़का ढूँढ रही हूँ जो मुझे अपनाए, तो मैं समझ गया जाल डाल रही है मुझपे तो मैने भी अपने बारे मे बताया की मेरे अपने घर मे 4 लोग है मेरी शादी नही हुई पापा का बीझणस संभालता हूँ एक्सपोर्ट का तो फिर थोड़ी बात चित के बाद उसने कहा मैं कितने टाइम से अकेली हूँ मेरा कोई नही जो मुझे समझे, पर मैं समझ गया की वो क्या कहना चाहती है तो मैने कहा डॉन’ट वरी अब मैं हूँ ना हम मौज करेंगे टेंशन क्यू लेती हो, तो उसने कहा जब मैने मॅरीड वाली बात कही तो चेहरा क्यू सुन पढ़ गया तुम्हारा तो मैने कहा इतनी खूबसूरत लड़की मॅरीड हो तो चेहरा सुन पढ़ ही जाएगा ना तो फिर उसने कहा बट डॉन’टी वरी तुम मुझे सिंगल ही समझो अभी भी कुछ नही बिगड़ा और हम हस्स पड़े.

यह कहानी भी पड़े  पहली चुदाई मैंने अपनी टीचर के साथ की

फिर दूसरे दिन हमने बाहर जाने का प्लॅन बनाया वाहा जाके साइड कार मे ही बैठे थे फिर धीरे धीरे करीब आते गये और उसने मेरा हाथ पकड़ा और किस किया फिर हाथ गले पे रख दिया तो मैने भी सेम वैसे ही किया मैने उसका हाथ लिया क्या हाथ था यार मैने भी चूम के अपनी चेस्ट पे रख दिया, फिर किस करने लगे और बहोत देर किस करने के बाद हम बहोत ज़्यादा गरम हो गये और फिर मैने एसी ऑन किया और कार मे ही और मेरी कार मे ब्लॅक फिल्म होने की वजह से बाहर से कुछ नही दिखता था तो उसका फ़ायदा लेके हम पिछली सीट पर चले गये और फिर मैने उसका टॉप उतारा और जैसे ही मैने निकाला यार आँख फटी की फटी रह गयी एक दम सिल्की वाइट और इतनी मस्त के मेरी लाइफ मे सोच नही सकता मैं इतनी खूबसूरत लड़की इतनी आसानी से मिल जाएगी और वो भी फुल्ली सेक्सी, तो फिर मैं उपर से मज़े ले रहा था चूम रहा था और ब्रा के उपर ही मैं खेल रहा था और मैने हर जगह चूम लिया और कुछ बाकी नही रखा था तो फिर ब्रा भी निकाल दी पैंटी सलवार सब निकाल दिया.

और धीरे धीरे अब वो बिल्कुल नंगी थी मेरे सामने और मैं बाकी था कपड़े निकालने मे, फिर उसने मुझे लिटाया और मेरे शर्ट के बटन खोले वॉच निकाली पैंट निकाली जोक्की निकाली और जैसे ही जोक्की निकाली शेर निकल गया वो तो जैसे टूट पड़ी सालो की प्यासी थी पहले तो उसके उपर पाबी सॉफ किया अपने रुमाल से और फिर चूसने लगी, मेरे लॅंड का साइज़ बता दू ६ इंच है ज़्यादा दिखावा नही करना आता नॉर्मल सबका होता है और उतना ही है, तो वो चूसने लगी और मुझे बहोत मज़ा आ रहा था वो सिसकारिया लेके चूस रही थी और मैं तो जैसे नशे मे था उसके बाल पकड़ के मसल रहा था और वो घोड़े की स्टाइल मे लॅंड चूस रही थी, मुझे बहोत अछा लग रहा था मैं उसके मुहह मे झड़ना नही चाहता था इसीलिए लॅंड निकाल लिया मैने उसके मुहह से और उसे लेटने को कहा और फिर मैं उसके उपर आया और उसके उपर आके स्मोच करने लगा और हाथो से बूब को मसल रहा था और फिर नीचे उंगली डाली और सहलाने लगा और उसे भी बहोत मज़ा आ रहा था.

यह कहानी भी पड़े  कैसे मैने एक नर्स को चुदाई की

तो फिर उसने कहा प्लीज़ जल्दी डालो ना, तो मैने देर ना करते हुए उसके होल पे रखा अपना लॅंड लेकिन फिसल जा रहा था मुझे मुश्किल हो रही थी तो उसने मदत की और सही जगह पे रखा तो मैने एक ही झटके मे पूरा घुसा दिया और उसके मुहह से अह्ह्ह्ह निकल गयी और फिर मैने धीरे धीरे स्टार्ट किया और स्मोचिंग भी साथ मे, उसे भी मज़ा आ रहा था और मैं करते करते बूब्स भी मसल रहा था और फिर मैने स्पीड बढ़ाई और करीब 5 मिनट के बाद झड़ गया और मेरा ज़्यादा नही चलता क्यू की ओवर एग्ज़ाइट्मेंट हो जाती है मुझे अगर बातें करते करते करू तो ज़्यादा चलता है तो फिर झड़ जाने के बाद मैं उठा उसके उपर से और हम कपड़े पहन के चल दिए, फिर कई बार उसके घर पे मेरे घर पे होटेल पे बहोत मज़े किए जैसे मुझे तो लाइसेन्स वर्झन लेडी मिल गयी है कोई प्रोटेक्षन नही ना प्रेग्नेन्सी की डर और उसने कुछ करवा रखा था पता नही क्या था, फिर हमे जब भी मौका मिलता हम मौज मनाते.

और आज भी उसकी शादी हो चुकी है बरोडा मे लेकिन जब भी मम्मी पापा के घर आती है तो मुझे ज़रूर बुलाती है और हम मज़े करते है, तो दोस्तो कैसी लगी मेरी सीधी साधी स्टोरी प्लीज़ मैल करे फर्स्ट टाइम है ग़लती हो गयी हो तो माफ़ करना प्लीज़. कहानी पढ़ने के बाद अपने विचार नीचे कॉमेंट्स मे ज़रूर लिखे, ताकि हम आपके लिए रोज़ और बेहतर कामुक कहानियाँ पेश कर सके – डीके [email protected]

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published.


error: Content is protected !!