प्यासी भाभी की चुदाई

देअर मेरि कहनि बहुत पुरनि है मेर अगे जब 35 सल थि अभि 45 है मेरा दोसत जो पनजबि था हम बचपन से दोसत थे स स स तक हम सथ पदते थे बद मे हुम अलग हो गये फ़िर हमरि सदि भि हो गै फ़िर कै सल बद वोह मिला और आपने घर लेगया अपनि बिवि से मिलया वोह बहुत समरत थि तीन बछे थे मेरा आना जना सुरु हो गया वोह मुज़े लल्लु कहति थि मैं भभि कहता था वोह दोनो मुज़से बदे थे भभि कभि कभि मजक करति थि मैं धयन नहि देता था।

एक बर दोसत बिमर हो गया मैं उसे दवा खने ले जता था उसने मुज़े एक दिन कहा आज मेरि तबियत थि नहि है तुम यहा मेरे घर रुक जओ। मैं रुक गया उसके बेद के बजु मे मेरा बेद भभि ने लगा दिया बछे दुसरे रूम मे थे। करिबरत 2 बजे मुज़े लगा कोइ मेरे पस आकेर सो गया मैं समज़ा नहि फिर मेरे कन मे आवज मैं हु भभि मुज़े तज्जुब हुअ मैं ने कहा भैसहब देख लेनगे उसने कहा उनहे पता है। उसने गौन के उनदेर कुछ नहि पहना था उसका चिकना बदन मेरे उप्पेर था उसने गौन निकल दिया वोह बिल कुल ननगि हो चुकि थि उसने आपने होत मेरे होत पे रख दिये और चुसने लगि और मरा सोसक सहलने लगि मुज़े लगा मैं सपना देख रहा हु उसने मेरे कपदे उतरे मैं भि ननगा हो गया फ़िर उसने मेरा लनद आपे मुह मे लेकेर चुसना सुरु किया इससे पहले किसि औरत ने मेरा लनद नहि चुसा था

यह कहानी भी पड़े  सेक्सी मामी के जमकर चूत चुदाई की

मने कहा आआआआहा भभि माआआजा आअराआहा है फिर वह मुज़े चोदने के लिये कहा और मेरे निचे आगै मैन उसकि चुत पे लनद रख और धक्का मरा चतुत बहुत जयदा चुदि थि लनद एक बर मे पुरा चला गया उसके कहा आआआहा लाआआलु माआजा आआगया जोर से चोदो मैं आपना 7 इनच का लनद पुरा बहर निकलता वोह भि निचे से धक्के मर रहि थि और कह रहि थि लल्लु जोर से चोदो आआआहा आआअह माआजाअ आअराअहा है फ़िर थोदि देर बद हुम दोनो ज़ेर गये उसने मुज़े कमर से पकद लिया अओर कहा मेरे उप्पेर लेते रहो।

फ़िर करिब 30 मिनित तक हम मसति करते रहे फ़िर उसने मेरा लनद अपने मुह मे लिअया और चुसने लगि मैं उसकि चुत मे उनगलि दल केर मजा देरहा था मैं फ़िर तययर हो गया आब कि बर उसने मुज़े कहा पिछे से चोदो मैने उस्से कुत्ते कि तरह से चोदा अबकि बर वोह जलदि ज़र गै मेरा लनद अभि मसत था मैं उसे चोद रहा था मेरा पनि नहि निकल रहथा वोह कह रहि थि बस लल्लु आब बस करो मेरि तनग दुख रहि है मैने कहा थोदि देर बस मैं धक्के मर रहा था वोह चिल्ला रहि थि बाआस बाआस मेरि तनग गै मैं चोद रहा उसका पनि निकल गया था इस लिये फ़स्सह फ़स्सह कि आवज अरहि थिमैं उसेचोद रहा वोह कह रहि थि बाआआस बस्सस्स आआअहा मैं माआअर जौनगीई

इ फ़िर मेरा पनि उसकि चुत मे निकल गया।फ़िर हुम दोनो लेत गये। उसने कहा अम्मा(मम्मि) ने कया खा केर पैदा किया था मेरि चुत का भुरता बना दिया।तुमहरे भै ने कभि ऐसा नहि चोदा आज तक। फ़िर मैं उसे रोज चोदने लगा उसे दो बर का चसका लग गया था।दोसत कि तबियत थिक होने के बद हम दोनो सथ मे उसे चोदने लगे हम तिनो नग्गे होकेर मजा लेते थे मैं पहले चोदता था बद मे दोएत फ़िर मैं भभि कि आदत ऐसे हो गै कि उसे तिन बर का चसका लग गया था। फ़िर आगे कया हुअ बद मे बतौनगा।

यह कहानी भी पड़े  तीन मर्दों ने की ठुकाई
error: Content is protected !!