स्टोरी रीडर पूजा की फॅंटेसी पूरी की और सॅटिस्फाइ किया

हेलो फ्रेंड्स, मुझे उम्मीद है की आप सब ठीक होंगे, और अपने घर में सेफ होंगे.

मेरा नाम शिवंश है, और मैं गुजरात की राजकोट सिटी से हू. मैने अपने बारे में पहली स्टोरी में सब कुछ बताया है. लेकिन फिर भी आज एक बार दोबारा बता देता हू.

मेरी हाइट 5’11″ है, और मेरा वेट 70 क्ग है. सबसे इंपॉर्टेंट बात है, की मेरे लंड का साइज़ 6.5 इंच लंबा और 2 इंच मोटा है. मैने आज तक काफ़ी सारी भाभियों, लड़कियों और औंतीयों को सॅटिस्फाइ किया है. क्यूंकी मैं एक प्रोफेशनल प्लेबाय हू, और ये ही तो मेरा काम है.

तो ये था मेरा इंट्रोडक्षन, और चलो अब स्टोरी शुरू करते है.

तो इस स्टोरी की हेरोयिन है पूजा. मेरी स्टोरी की फीडबॅक से हमारी बात हुई थी, और कैसे हमने उसकी फॅंटेसी पूरी की, और उसको सॅटिस्फाइड किया, वो आप इस कहानी में जाँएंगे. तो प्लीज़ स्टोरी पूरी रेड करना.

ये बात है लास्ट मंत की. मैं नॉर्मली अपनी मैल चेक कर रहा था, तो उसमे पूजा की मैल आई हुई थी. उसमे लिखा था की ‘आपकी लास्ट स्टोरी रेड की, और वो मुझे बहुत अची लगी. क्या आप सच में प्लेबाय हो?’

मैने रिप्लाइ किया: हा मैं सच में प्लेबाय हू, और मैं राजकोट सिटी से हू.

तो उसने तुरंत रिप्लाइ किया: मैं बरोडा से हू, और मैं मॅरीड हू. बुत मेरी से लाइफ अची नही है. मेरे हज़्बेंड मेरी फॅंटेसी पूरी नही करते, और सॅटिस्फाइ भी नही करते.

मैने कहा: मैं इसीलिए तो ये वर्क कर रहा हू, आप जैसी हॉट हाउसवाइव्स को सॅटिस्फाइ करना और उनकी फॅंटेसी को पूरा करना.

तो हमने ऐसे ही बातें की और नंबर एक्सचेंज किए. फिर हमने 1 मंत के बाद मिलने का प्लान बनाया, और मैं रेडी होके बरोडा के लिए निकल गया.

मैं मॉर्निंग में 8 बजे बरोडा पहुँच गया, और उनको कॉल किया.

तो उन्होने कहा: थोड़ी देर रूको, मैं आती हू पिक करने.

अभी तक हमने एक-दूसरे को देखा भी नही था.

15 मिनिट के बाद वो आई कार लेके. उन्होने मुझे कॉल की और पूछा-

पूजा: आप कहा पे हो, और क्या पहना है?

मैने कहा: मैने वाइट शर्ट और ब्लॅक जीन्स पहनी है.

तो उन्होने कहा: हा देख लिया.

फिर 2 मिनिट में मेरे सामने एक कार आके खड़ी हो गयी. उन्होने मिरर नीचे किया और कहा-

पूजा: शिवंश?

तो मैने कहा: आप पूजा?

तो पूजा ने कहा: एस, आओ बैठ जाओ.

आपको बता डू पूजा की आगे 35 थी, और क्या लग रही थी वो. उसने वेस्टर्न ड्रेस पहनी थी और क़यामत लग रही थी.

फिर 10 मिनिट्स के बाद हम उनके घर पहुँच गये, जो की खाली था. उनके हज़्बेंड बिज़्नेस ट्रिप पे गये हुए थे. उसने कार पार्किंग में खड़ी की, और हम घर के अंदर चले गये. उन्होने अंदर जाते ही कहा-

पूजा: आप जाके फ्रेश हो जाओ, मैं आपके लिए नाश्ता बना देती हू.

मैने कहा: ओक.

और मैं फ्रेश होने चला गया.

मैं फ्रेश होके सिर्फ़ बॉक्सर में बाहर आया, और मैने देखा तो पूजा ने भी बाबयडॉल्ल पहन लिया था चेंज करके. बाबयडॉल्ल ट्रॅन्स्परेंट थी, तो क्लियर्ली दिख रहा था की उसने ब्रा नही पहनी थी.

फिर हमने नाश्ता किया, और इधर-उधर की बातें करने लगे. फिर मैने उसके पास जाके उसको गोदी में उठाया, और बेडरूम में ले गया. और बेडरूम में ले जेया कर बेड पे लिटा दिया. फिर मैं धीरे-धीरे उनको किस करने लगा.

वो भी पूरी तरह से मेरा साथ देने लगी. फिर हमने ऐसे ही 20 मिनिट्स लीप-किस की. उसके बाद मैने पूछा-

मे: आपकी फॅंटेसी क्या है?

तो उसने कहा: क्या आप मेरी अंडरआर्म्स (बगल) को लीक करोगे?

तो मैने कहा: हा क्यूँ नही, ज़रूर करूँगा.

फिर मैने उनके हाथ उपर किए, और उनकी अंडरआर्म्स को लीक करने लगा. वो एक-दूं से तड़प उठी, उसकी फॅंटेसी जो पूरी हो रही थी. फिर मैने बाबयडॉल्ल को उतार दिया, और पेट पे किस करने लगा, और नेवेल को आचे से लीक किया.

उसके बाद मैने उनकी पनटी को निकाल दिया, और मैं उनकी पुसी को जीभ से लीक करने लगा. मैं पूजा की छूट को 15 मिनिट तक लीक करता रहा, और उस टाइम में पूजा 2 बार झाड़ चुकी थी.

फिर मैं सीधा लेट गया और वो मेरे उपर आ गयी और मेरा बॉक्सर निकाल के मेरे पेनिस को हाथ से हिलाया. 2 मिनिट में उसने मेरे पेनिस को अपने मूह में ले लिया, और चूसने लगी.

10 मिनिट उसने मस्त मेरा पेनिस चूसा, और फिर वो मेरे उपर आ गयी, और अपने पैर को फैला कर बैठ गयी. उसने मुझे इशारा किया, की अब डाल दो. मैने भी देर ना करते हुए सेट किया अपना पेनिस, और एक ही धक्के में पूरा डाल दिया. और वो मेरे उपर जंप करने लगी.

वो आहह फक मे जान ऐसे बोलने लगी. फिर 5 मिनिट में वो तक गयी, तो मैने उनको बेड पे लिटा दिया, और मैं उनके उपर चढ़ के छोड़ने लगा. वो फिर से चिल्लाने लगी-

पूजा: आहह आहह मेरे राजा, आज मुझे पूरी तरह से सॅटिस्फाइ कर दो.

करीब 30 मिनिट हम ऐसे ही अलग-अलग पोज़िशन में सेक्स करते रहे, और 30 मिनिट के बाद मैं झड़ने वाला था. फिर मैने कहा-

मे: मैं झड़ने वाला हू.

तो उसने कहा: अंदर ही डाल दो.

तो मैने भी अपना पानी उसकी पुसी में ही डाल दिया. फिर हमने 10 मिनिट लीप-किस की. अब टाइम दोपहर के 3 बाज गये थे, तो मैं फ्रेश हुआ और उनको बाइ कहा.

तो उसने कहा: वेट, मैं आपको बस स्टॉप तक छ्चोढ़ देती हू.

और फिर उसने मुझे बस स्टॉप ड्रॉप किया, और मैं वाहा से राजकोट के लिए निकल गया.

तो दोस्तों कैसी लगी मेरी ये स्टोरी? अगर आपको अची लगी हो, तो प्लीज़ मुझे फीडबॅक ज़रूर देना. आपकी फीडबॅक मेरे लिए बहुत ही इंपॉर्टेंट होती है, और कोई ग़लती हो गयी हो तो वो भी बता सकते हो.

तो फीडबॅक देने के लिए और मुझसे बात करने के लिए प्लीज़ कॉंटॅक्ट मे ओं मी एमाइल:

यह कहानी भी पड़े  बेटे के सामने माँ की चूत बार-बार चुदी

error: Content is protected !!