प्यार की नयी परिभाषा

है मेरा नाम हेमनशु है मैन छत्तिसगरह के दुरग सेहर मेन रहता हून आज मैन आप को अपनि लिफ़े कि सबसे बदि सेक्स कि घतना बता रहा हून बात तब कि है जब मैं 12थ मे पध रहा था मेरे सलस्स मेन एक लदकि थि जिस्से मैन बहुत पयार करता था उसका नाम सीमा था लेकिन वो मुझे इगनोरे करति थि मुझे मलूम था कि उसकि लिफ़े मेन कोइ नहिन था एक दिन मैने उसे सचूल से जाते वकत रोक कर बोला कि मैन उसे पयार करता हून उसने मुझे धक्का मरा और वहा से भाग गै तब मैन ईक पलन बनया पलन केय मुतबिक मेन सलस्स मेन जाता और उसकि तरफ़ देखता भि नहिन कै दिनो तक ऐसा चलता रहा फिर उसने मुझे पुचा तुम आज कल मुझसे बात कयुन नहिन करते उस दिन का जवाब जान ना नहिन चते कया ओर उसने मुझे पेहलि बार इ लोवे यौ खा मैं तो जैसे पागल हो गया और फिर कया रोज हुम किसि ना किसि बहने से मिला करते तय हमरे घर वलून को पता नहिन था एक दिन उसके भै ने हुम ईक दुसरेय केय बह्होन मेन देख लिया वो हमारि तरफ़ आया और सीमा का हाथ पकदा और उसे लेय गया कुच दिन हुम नहिन मिले एक दिन सीमा ने मुझे फोने किया और बोला कि मेरे घर वले दो तीन दिन कय लिये शादि मेन जा रहेन है मेन समझ गया और उस दिन मैन रात को उसके खिदकि केय नीचे खदा था उसने खा पिपे मेन चद कर उप्पर आओ मेन उप्पर गया तो वो मेरि बाहो मेन आकर लिपत गयिई मैने भि ज़ोर से उसे पकर लिया उसने खा कि आज कोइ नहिन है हुम एक दुसरे को मन से अपना मान लिया है कयोन ना आज हुम तन से एक हो जये मैने भि हान कर दि उसने दीहेरे दीहेरे मेरि शिरत का बुत्तोन निकला और मेरे निप्पले को कतने लगि फरि कयत हा मैने भि उसके उप्पेर का तोप निकला उसने बलसक बरा पेहनि थि फिर मैने उसके बरेअसत को दबया और उसके निप्पले को ज़ूऊऊऊऊऊऊऊऊऊर्रर्रर्रर्रर्रर्रर से चुसने लगा उसके निप्पले बिलकुल बलुए फ़िलम कि मोदेल कि तेरह थय एक दम लिघत पिनक करीब 20 मिन तक मैने उसके निप्पले चुसे फिर उसने मेरे लुनद पे हाथ रखा जैसे हि उसने हाथ रखा मेरा लुनद एक दुम थान्ना गया उसने पेहलि बार मेरे लुनद को अपनि मुह मेन लिया मैने तोह जन्नत मेन पहुच गया चुसते चुसते मैने उसके मुह मेन अपना मुथ गिरा दिया उसने

ऊऊऊऊऊऊऊउम्मम्मम्मम्मम्मम किया और खा इतना गारहा मुथ मैं तो पागल हो गै उसने खा कि हामरि शादि होने तक तुम मुझे रोज अपना मुथ पिलाओगे ना पलस्सस्स परोमिसे करो मैने हाअ कर दि फिर मैने उसकि जेअनस उतेरि तोह मैने देखा कि उसकि पनती एक दुम फुलि हिउ थि मैने पुचा कि येह कया है उसने बोला कि मेरे पेरिओद चाल रहा है मैने आज तक किसि लदकि को वहिसपेर पेहने हुए नहिन देखा और किसि लदकि कि चुद मेन से बलूद निकलते देखा था मैने कै बलुए फ़िलम देखि थि यहान तक कि बूबस से दूध निकलते हुई और लकदि को दुसरि लदकि कि केय पोत्ती को खते हुए देखा था मैने उस से रेकुएसत कि वहो मुझे दिखये और उसने अपनि पनती उतेरि और उसका वहिसपेर उसकि पनती मेन चिपका था वहो बलूद से भीगा हुअ था मैने उसकि पनती उथै और उसे सुनघने लगा उसे भीनि भीनि खुसबू आ रहि थि खुसबू ऐसि जो मधोश कर दे फिर उसने अपनि तानग फैलै उसकि पुस्सी एक दुम पिनक सोलौर कि थि उसकि पुस्सी एक दुम शवेद थि एक भि बाल नहिन था उसने अपनि पुस्सी को हाथ कि उनगलि से फैलया और उसमे उनगलि दाल ने लगि मैने देखा कि उसकि पुस्सी मेन से धीरे धीरे बलूद निकल रहा था मैने ऐसा नज़रा पेहलि बार देखा था मैने फिर उसकि पुस्सी एक कपदे से साफ़ कि और चात ने लगा उसके मुह से आआआआआ ऊऊऊऊऊऊऊ ह्हह्हह्हह्हह ओह्हह्हह्हह्हह गोद मर गै कि आवज़ आ रहि थि मैने अपने लुनद पे वसलिने लगाइ और थोदि सि उसके चुद पे लगै जैसे हि लुनद दाला वहो चिख उथि बस करो दरद हो रहा है मैने खा कुच नहिन होता मैने और ज़ूओर्रर्रर लगया और अपना 9इनच लुनद उसकि चूद मेन दाल दिया और जोर से आगे पीचे करने लगा करीब 30मिन तका अलग अलग पोस मेन मारा और मेरि लुनद से सुम निकल कर उसकि चुद मेन चला गया और येह देख उसने अपनि पुस्सी के अनदर से ऐसा धक्का मरा मेरा सार सुम और बलूद बिसतर मेन गिर गया उसके बाद हुम दूनो ने फिर चुदै सुरु कर दि और करीब सुबह 3बजे तक सेक्स करते रहैन फिर मैने कह कि अब मैं चलता हुन मुझे घर जाना होगा नहिन तो किसि को पता चल जयगे गा अभि अनधेरा है मैन चुपो चप निकल जाउनगा आज रात फिर मिलेनगे उने मेर लिप को अपने लिप से चुसने लागि मैने भि उसे चुम्मा और खिदकि से उतर कर घर चला गया रात भर सेक्स करते हुए मैन थक गया था और घर केय पीचय के दरवजे से अनदर गया और चुप चाप से अपने कमरेन मे सीमा के हसीन सपनेय देखते हुये मैन सो गया सुबह 8बजे ममि ने मरे कमरे मेन आइ और बोलि कि सचूल नहिन जाना कया मैने खा आज मेरि तबियत थिक नहिन है वो बोलि कि थिक है सो जाओ मैं घर का सारा काम कर लेति हुन उस दिन मैन करीब शम 7 बजे तक सोया शम को पपा मेरे कमरे मेन आये और बोले कि कया हुअ थिक तो हो मैने खा कि थिक हून कल बहुत रात तक पधता रहा एक्सम आ रहेन हैन ना इस लिये पपा ने कहा कि पधै के चक्कर मेन तुम अपनि तबियत मत बिगार लेना पपा मेरे कमरे से चले गये रात को दिन्निनग तबले मेन खना खने केय बाद मैने पपा से खा कि आज रात मैन अपने फ़रिएनद केय गर पधने जाउन उन हो ने खा कि जाऊ लेकिन अपना खयल रखना मैने सीमा को फोने किया उसेने लिने सलेअर का इशरा किया मैन खिदकि से उप्पर गया तोह देखा वहो बिसतर पे लेति हुइ थि मेने पुचा कि कया हुया तुमहे वहो बोलि कि काल रात कि थक्कन है मैने खा कि कोइ बात नहिन मैन सरि थक्कन मीता दुनगा ये केह कर मैं उसकि पुस्सी को फ़िनगेर मस्सगे देने लगा उसे मज़ा आ रहा था फिर मैने ओइल से उसके सारि बोदी कि मलिश कि फिर कयत हा उसमे जोश आ गया ओर बोलि आज मेरि गानद मारो पलस्सस मैने उसे दूगी सतयले मेन बैथया और गानद मेन वसलिने लागि और अपने लुनद मेन औरा अनद मेन दालने लगा उसकि गानद बहुत तिघत थि उसे दारद हो रहा था थोदि देर बाद उसे मसत लगने लगा खुब देर तक करने के बाद मैने अपना सारा सुम उसके मुह मेन उदेअल दिया वो मसति से मेरे लुनद को चतने लगि फिर मैने उसके चुद को चुसने लगा उसका पेरिओद बनद हो चुक्का था मेन फिर मैने चुसना फिर चलु किया थोदि देर बाद उसके पुस्सी से सेफ़ीद सेअफ़ीद गरम नमकिन पानि निकलने लगा मैन पीने लगा मज़ा आ गया मुझे और फिर कयत हा सारि रात हुम एक दुसरे को पयार करने लगे फिर दुसरे दिन ऐसा हि चलता रहा फिर दुसरे दिन उसके घर वले आ गये फिर हुम दोने सचूल के बाद सतुदी के नाम पर मेरे दोसत के होतेल के कमरे मेन मिलते रहेन फिर हामरि एक्सम सुरु हुइ फिर हुम ने मिलना थोदा कुम कर दिया फिर एक दिन कया हुया वहो मैन बाद मेन बत्तुनगा

यह कहानी भी पड़े  दिल्ली की सेक्सी औरत को उसके घर पर चोदा

Pages: 1 2

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!