छीनाल बेहेन की चुदाई नौकर ने की

दोस्तों मेरा नाम मोहन यादव हे और आज मैं आप को अपनी चुदासी बहन डिम्पल की बात बताने के लिए आया हूँ. मेरी बहन का नाम डिम्पल हे जैसे की मैंने बताया. वो मेरे से 2 साल बड़ी हे और अभी उसकी उम्र 24 साल हे. वो शादीसुदा हे लेकिन उसके पति ने उसे बहुत मारपीट के हमारे घर पर भेज दिया. वैसे दुनिया वालों को हम लोगों ने ऐसे बताया हे की डिम्पल का पति ड्रिंक करता हे इसलिए हमने उसे यहाँ बुला लिया. लेकिन असली बात तो ये हे की डिम्पल का पति उसे खुद यहाँ छोड़ के गया हे. क्यूंकि उसने अपने खुद के सगे बड़े भाई के साथ डिम्पल को मुहं काला करते हुए देखा था.

उस दिन माँ बहुत रोई थी और पापा ने डिम्पल को बहुत डांटा था. पर डिम्पल ने तो मेरे जीजा के सामने ही कहा जब ये कुछ नहीं करेगा तो मैं तो खोजूंगी ही न किसी को. जीजा ने पापा को कह दिया की जब उसके अंदर की गर्मी कम हो तो उसे मेरे वहाँ छोड़ जाना. और वो राम राम कह के चले गए. तभी से डिम्पल हमारे घर में हे.

वो खा खा के मोटी हो गई हे. और बस थोडा बहुत काम करती हे घर का. बाकि सब काम मेरी माँ और हमारा नोकर सचिन करता हे. सचिन पिछले 6 साल से हमारे घर में काम कर रहा हे. और वो हरयाणा का हे. डिम्पल को एक दिन मैंने जिस हालत में देखा वो आप लोगों को मैं बताने के लिए आया हूँ.

वो दिन मंगल का था और बहुत अमंगल देखा था मैंने उस रोज. पापा के रस्ते के पेड़ो का टेंडर खुलने वाला था इसलिए वो सरकारी कचेरी में थे. माँ सुबह से ही मौसी के घर गई थी. मैं कोलेज से आ के लेटा हुआ था घर में. सचिन और डिम्पल को पता नहीं था की मैं घर पर हूँ. क्यूंकि मैं अज एक लेक्चर फ्री होने की वजह से ऑलमोस्ट डेढ़ घंटा जल्दी आ गया था घर पर.

यह कहानी भी पड़े  सेक्सी कनिका पराए मर्द से चुदी

तभी मुझे किचन से कुछ खुसपुस सुनाई दी. मैं उठ के वहां गया तो अन्दर डिम्पल और सचिन खड़े हुए थे. सचिन खड़ा हुआ था और डिम्पल घुटनों के ऊपर बैठी हुई थी. सचिन का लंड उसकी पेंट में से बहार निकला हुआ था. और मेरी बहन उसे हिला के चूस रही थी. और साथ में वो दोनों बातें भी कर रहे थे.

सचिन: शादी के पहले तो रोज मिलती थी मेरे से. और अब तो काफी दिन निकल जाते हे!

डिम्पल: अरे पहले इजी था, अब मेरे उस हरामी पति ने सब खेल खराब कर दिया हे. उसने साले ने यहाँ आ के बोल दिया की मैं दुसरो के लेती हूँ.

सचिन: तो तुझे भी इतनी जल्दी दुसरो के लोडे लेने की क्या जरूरत थी.

डिम्पल: चल छोड़ अब वो सब.

इतना कह के वो फिर से नोकर के कडक लंड को चूसने लगी. सचिन ने डिम्पल के बाल पकड़ लिए और उसे खिंच के वो डिम्पल को पूरा लोडा चूसा रहा था. डिम्पल के बाल बिखरे हुए थे और उसके मुहं में पूरा लंड घुसा हुआ था. फिर डिम्पल को सचिन ने खड़ा किया और बोला, चल ऊपर बैठ जा.

डिम्पल अपनी टाँगे खोल के किचन के प्लेटफोर्म के ऊपर बैठ गई. सचिन ने उसकी जांघो को और भी फैला दिया. और फिर वो निचे बैठ के बोला, आज तेरी चूत में शहद डाल के चाटूंगा.

ये कह के वो फ्रिज के ऊपर से डाबर हनी की शीशी ले आया. शहद की बोतल खोल के डिम्पल की चूत के ऊपर उसने शहद को चूत के ऊपर निकाला. शहद को उसने निचे नहीं गिरने दिया और अपनी जबान से वो चाटने लगा. डिम्पल ने सचिन के बाल पकड लिए और वो अपनी चूत में उसके मुहं को धक्के देने लगी. सचिन की जीभ लपलपा रही थी और वो मेरी बहन की चूत को जोर जोर से चाटने लगा था. कुछ देर चूत को ऐसे चाटने के बाद सचिन खड़ा हुआ और उसने अपने लंड के ऊपर शहद निकाला और बोला ये लो अब तुम मेरे मीठे मीठे लंड को चूसो.

यह कहानी भी पड़े  सिस्टर की फ्रेंड को चोदा

डिम्पल ने लंड को मुहं में एक ही झटके में पूरा ले लिया. और वो चूसने लगी उसको. शहद लगा हुआ लंड वो बड़े ही सेक्सी ढंग से चूस रही थी.

कुछ देर लंड चुसाने के बाद में सचिन अब डिम्पल को किचन के प्लेटफोर्म को पकडवा के खड़ा कर दिया. और फिर पीछे से उसने अपने लंड को पकड के अपने लंड को डिम्पल की चूत में डाल दिया. डिम्पल सिहर उठी और वो थोड़ी और पीछे को हुई ताकी उसकी चूत खुल जाए. सचिन ने उसके बोबे दबाये और अपना लंड पूरा धकेल दिया उसकी चूत के अन्दर. डिम्पल आह्ह्ह कर बैठी और बोली, सचिन तेरा लोडा तो बहुत ही लम्बा हे, इसको मैंने अपने ससुराल में बहुत मिस किया.

सचिन ने डिम्पल के कंधे को पकड़ा और बोली, हां छिनाल तुझे तो ऐसा बड़ा लंड लेना ही पसंद हे. चल अपनी गांड हिला और इसको चोद.

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2