सास लेटी दामाद जी के निचे

टोनी बोले सासू मां आज तो सुहागरात है और सुहागरात को सिर्फ सील बंद चूत को चोदने का ही दस्तूर है और अब आज मैं अपनी सास की गांड मार कर आपकी गांड की सील तोडूंगा।

मम्मी टोनी का लंड चूम कर बोली वाह दामाद जी फिर देर किस बात की और टोनी का लंड चूस कर फिर से खडा कर लिया और टोनी के आगे घोडी बन गई और टोनी ने अपना लंड मम्मी की गांड के सूराख पर रख कर एक जोरदार धक्का लगाया और टोनी का आधा लंड मम्मी की गांड में घूस गया और मम्मी जोर से चिल्लाने लगी और टोनी को लंड गांड से निकालने को बोलने लगी और टोनी के आगे से हट गई और टोनी का लंड मम्मी की गांड से निकल गया।

मम्मी बिस्तर से उठ कर दर्द से कराहते हुए इथर उधर घूमने लगी और बोली दामाद जी ये आपने क्या कर दिया मेरी तो दर्द से जान निकली जा रही है और फिर से दर्द से छटपटाने लगी।

टोनी ने मम्मी को दर्द की दवा दी और जब मम्मी को दर्द से कुछ राहत मिली तब मम्मी ने कहा दामाद जी आज के बाद कभी भी आप मुझे गांड मरवाने को नहीं कहोगे।
उसके बाद टोनी ने मम्मी की चूदाई की और अपना वीर्य मम्मी की चूत में छोड कर मुझे मम्मी की चूत से अपना वीर्य चटवाया और मुझे मम्मी की चूत से वीर्य चाटने में बहुत मजा आया।

उस रात टोनी ने मेरी दो बार और चुदाई की और एक बार अपना वीर्य मुझे पिलाया और एक बार मेरे चूचों पर छोड कर खुद चट कर गये।

अगले दिन सुबह जब मैं उठी तब मम्मी किचन में नाश्ता बना रही थी और मुझे भी जोर से पेशाब लगी थी और जब मैं उठ कर जाने लगी तभी टोनी ने मुझे अपनी बाहों में भर कहा मेरी जान कहां जा रही हो।

मैंने कहा जानू छोडो मूझे मैं अभी पेशाब करके आई।

उन्होंने मुझे अपनी गोद में उठायाऔर मुझे बाथरूम में ले गए और अपना लंड मेरी चूत से लगा कर बोले मेरी जान ले अब मूत।

मैं उनका लंड अपनी चूत से लगा कर मूतने लगी और तभी टोनी के लंड से मूत की मोटी धार मेरी चूत पर पडने लगी और टोनी का मूत बहुत गर्म था और टोनी के मूत की गर्मी से मेरी चूत एकदम से पिघल गई।

मूतने के बाद टोनी ने मेरी चूत और अपना लंड पानी से साफ करके जब हम कमरे में आए तब तक मम्मी नाश्ता लेकर कमरे में आ गई थी।

नाश्ता करने के बाद मम्मी बर्तन साफ करने किचन में चली गई और टोनी ने फिर से एक बार मेरी दमदार चूदाई की और अपना वीर्य मुझे पिलाया।

मम्मी भी किचन का काम खत्म करके आ गई और टोनी का लंड चूसने लगी और लंड चूसते हुए पुछा दामाद जी जब आपने पहली बार मेरी चूदाई की थी लगा तो मुझे तब भी था पर रात आपको नेहा की सील बंद चूत की चूदाई करते देख यकीन हो गया कि आप पहले भी किसी को चोद चुके हो और वो भी सील बंद चूत को।

टोनी ने मम्मी के चूचे मसल कर कहा नहीं सासू मां ऐसी कोई बात नहीं है आपको तो यूँ ही वहम हो गया।

मैंने भी टोनी के लंड चूमा लेकर पुछा बताओ न जानू आपने पहले किसकी सील बंद चूत की चूदाई की है।

टोनी ने फिर से मना कर दिया और मैंने कहा जानू आपको मेरी कसम बताओ न जानू प्लीज मुझे भी तो पता चले कि मेरे जानू के लंड का पहला वीर्य किसकी चूत में झडा है।
टोनी बोले नेहा ऐसी बात है तो सूनो मैंने पहले मेरा दोस्त विपिन है न उसकी दीदी अंजलि और उसकी मौसी की बेटी पिंकी की सील बंद चूत को चोदने का मजा लिया है।
मैंने कहा जानू जरा तफसील से बताओ वो सब कैसे हुआ मुझे सूनना है।

टोनी ने मुझे अपनी बाहों में भर लिया और बोलने लगे।

नेहा जब मैं कालेज में पढता था तब एक दिन विपिन मेंरे कुछ नोट्स अपने साथ ले गया और उसके दो दिन बाद तक वो कालेज नहीं आया और मुझे उन नोटस की बहुत जरूरत थी और मैं वो नोटस लेने एक दिन उसके घर चला गया।

जब मैं उसके घर गया तब वो घर पर नहीं था और उसकी बडी दीदी अंजलि जिसकी कुछ दिनों बाद शादी होने वाली थी वो अकेली घर पर थी।

जब मैंनें अंजलि से विपिन के बारे में पुछा तो वो कहने लगी कि विपिन तो अभी 10 दिन बाद आएगा और मैंने अपने नोटस के बारे में बात की तो उसने कहा कि कि मैं खुद विपिन के कमरे से अपने नोटस ले लूं।

मैं विपिन के कमरे में अपने नोटस ढूंढने लगा और मुझे उसके बैड के दराज से एक चूदाई कहानी की किताब मिली जिसमें अलग अलग तरह की चूदाई कहानियां थी और उनको पढ कर मेरा लंड पैंट में ही उछलने लगा और मैं बिना अपने नोटस लिये वापस आने लगा।

अभी मैं घर की लौबी में ही आया था कि तभी मुझे किसी ने पिछे से पकड लिया और जब मैंने पिछे मुड कर देखा तो मेरे सामने अंजलि सिर्फ एक गुलाबी रंग का ब्रा कच्छी में थी।

इससे पहले कि मैं कुछ समझ पाता तभी अंजलि ने कहा उउउऊऊ मेरे राजा कहां जा रहा है।

मैंने कहा अंजलि छोडो मूझे ये क्या कर रही हो तूम मेरे दोस्त की बहन हो।

अंजलि पैंट के उपर से मेरा लंड पकड कर बोली मेरे राजा मैं तेरे दोस्त की बहन हूं तेरी नहीं और अगर तेरी जगह आज विपिन भी होता तब भी मैं आज उसका लंड अपनी चूत में लेकर उसके लंड और अपनी चूत की गर्मी निकालती बोल कर अंजलि ने अपनी ब्रा कच्छी भी उतार दी।

अंजलि का मस्त गोरा चिट्टा और मांसल नंगा जिस्म देख कर मेरे मुंह में पानी आ गया और अंजलि ने मेरा हाथ पकड़ कर अपने मस्त मुलायम और नर्म चूचों पर रख दिया और मेरा हाथ अंजलि के चूचों पर लगते ही मेरा लंड पैंट फाड कर बाहर आने को आतुर था।

तभी अंजलि ने मेरा लंड पैंट के उपर से पकड लिया और मेरा लंड मसल कर बोली उउउऊऊऊ राजा अब शर्म छोड और अपने मस्त लंड से अपने दोस्त की बहन को चोद कर अपनी रंडी बना ले और मेरी पैंट खोल कर मेरे अंडरवियर में हाथ डाल कर मेरा लंड पकड लिया।

मेरा लंड पकड कर अंजलि की आंखें चमक उठीं और अंजलि बोली वववाआऊऊ मेरे राजा बहुत मस्त लंड है तेरा और मेरी पैंट और अंडरवियर उतार दिया।

अब मेरा लंड अंजलि के सामने था और अंजलि मेरा लंड देख कर मस्ती में बोली उउउऊऊऊ मेरे राजा आज बहुत मजा आने वाला है और मेरा लंड पकड कर खींचते हुए मुझे अंदर कमरे में ले गई और बिस्तर पर चित लिटा कर मेरा लंड चूसने लगी और मेरे उपर आकर अपनी चूत मेरे मुंह से लगा दी।

अंजलि की चूत की मादक महक पाकर मैं मदहोश हो गया और अंजलि की चूत चाटने लगा और अंजलि मेरा लंड चूसना छोड कर बोली मेरे राजा मेरे चूचे भी मसल दो और फिर से मेरा लंड अपने मुंह में भर लिया।

मैं अंजलि की चूत चाटने और चूचे मसलने लगा और मुझे अंजलि की चूत चाटने और चूचे मसलने में बहुत मजा आ रहा था और अंजलि मेरा लंड चूसते हुए अअअआआआ उउउऊऊऊ कर रही थी।

कुछ देर लंड चूसने के बाद अंजलि ने मेरा लंड मुंह से निकाला और अपना फोन उठा कर किसी को फोन लगाया।

जब सामने वाले ने फोन उठाया तब अंजलि बोली साली रंडी कहां रह गई फिर मत कहियो कि मैंने अकेली ने मजा लूट लिया अब जल्दी आ साली रांड यहां मेरी चूत फटने को फडफडा रही है।

सामने से आवाज आई कि दीदी अभी कुछ ही देर में पहुंच रही हूँ बस कुछ देर सब्र करो और अंजलि ने ये कह कर फोन काट दिया कि अगर तू पांच मिनट में नहीं आई तो मैं अपनी चूत में लंड ले लूंगी और फिर मत कहियो कि अंजलि दीदी ने अकेले अकेले ही मजा कर लिया।

तभी घर की घंटी बजी और अंजलि मेरा लंड चूम कर बोली मेरे राजा अभी आई और दरवाजा खोलने नंगी ही चली गई।

कुछ देर बाद अंजलि जब वापस कमरे में आईं तब उसके साथ एक सांवले रंग की नाटी सी लडकी और थी और कमरे में आते ही अंजलि ने उस लडकी से कहा पिंकी देख मेरी रंडी बहना जैसा तू चाहती थी बिल्कुल वैसा ही लंड है मेरे बलमा का और मेरा लंड पकड कर उसे दिखाने लगी।

पिंकी मेरा लंड देख कर बोली उउउऊऊऊ दीदी क्या मस्त लंड है और मेरा लंड अपने मुंह में भर लिया और कुछ देर लंड चूसने के बाद बोली दीदी मैंने लंड नापना है।
अंजलि बोली साली रांड अभी ये लंड तेरी चूत की गहराई नापेगा और उसके बाद तू लंड की लम्बाई और मोटाई नापना बोल कर अंजलि और पिंकी दोनों बहनें मेरा लंड चूसने और चाटने लगीं और मैं दोनों का एक एक चूचा हाथ में लेकर मसलने लगा।

कुछ देर लंड चूसने के बाद अंजलि और पिंकी दोनों अपनी टांगे फैला कर बिस्तर पर लेट गईं।

मैंने दोनों की चूत का एक एक चूमा लिया और पुछा बोलो पहले किसकी चूत की आग बुझाऊं।

अंजलि मेरा लंड अपनी चूत की दरार से लगा कर बोली उउउऊऊऊ मेरे राजा पहले अपना मुसल लंड मेरी चूत में ठोक कर मेरी चूत का उदघाटन कर।

मैंने अपना लंड अंजलि की चूत से अच्छे से सैट किया और एक हल्का सा धक्का लगाया।

मेरे लंड का सूपाडा अंजलि की चूत में फंस गया और अंजलि आआआहहह करके बोली उउउऊऊऊ मेरे राजाअब जल्दी से अपना लंड मेरी चूत में डाल कर मेरी चूत का भोसडा बना डाल।

मैंने फिर से धक्का लगाया और इस बार मेरा आधा लंड अंजलि की चूत में घूस गया और अंजलि दर्द से छटपटाने लगी।

पिंकी अंजलि को दर्द से छटपटाते देख कर बोली उउउऊऊऊ अंजलि दीदी तेरी चूत की सील टूट गई है और मेरा जोश बढाते हूए बोली उउउऊऊऊ मेरे राजा अब बस एक ही झटके में अपना सारा लंड साली रंडी की चूत में पेल दे।

मैंने फिर एक दमदार धक्का लगाया और इस बार मेरा सारा लंड अंजलि की चूत में समा गया और मैं अंजलि के चूचे मसलते हूए धीरे-धीरे धक्के लगाने लगा।

कुछ देर बाद अंजलि को मजा आने लगा और अंजलि आआआहहह करके अपने चूतड उठा कर चूदते हुए बोली उउउऊऊऊ राजा उउउऊऊऊ राजा चोद मुझे बहुत मजा आ रहा है जोर से चोद और जोर से तेरा लंड मेरी चूत में बच्चेदानी के अंदर तक चोट मार रहा है अअअआआ राजा चोद और जोर से और अंजलि की चूत से चूतरस छलक गया।

अंजलि एकदम से निढाल हो गई और मुझे अपने धक्कों की स्पीड कम करने को कहा और मैं फिर से धीरे धीरे अंजलि को चोदने लगा।

अंजलि फिर से गर्म हो गई और मुझे लंड निकालने को कहा और जब मैंने अपना लंड अंजलि की चूत से निकाला अंजलि मेरे अगे घोडी बन गई।

मैंने पिछे से अपना लंड अंजलि की चूत में डाल दिया और तेज तेज धक्के लगाता हुआ अंजलि को चोदने लगा और अपनी एक उंगली अंजलि की गांड में घुसाने लगा।
अंजलि अपनी गांड पिछे करके चूदती हूई अअअआआआ उउउऊऊऊ ओओओहह करते हुए बोली उउउऊऊऊ राजा पहले अच्छे से मेरी चूत की चूदाई कर फिर गांड भी मार लेना।

करीब एक घंटे की धकम पेल चूदाई के बाद मैंने अपना वीर्य अंजलि की चूत में छोड दिया।

मेरे वीर्य की गर्मी अपनी चूत में महसूस करके अंजलि की चूत ने फिर से चूतरस छोड दिया।

उसके बाद मैंने पिंकी की चूत की सील तोड चूदाई की और अपना वीर्य पिंकी की चूत में छोडा।

उस दिन मैंने अंजलि और पिंकी दोनों को तीन बार चोदा और अपना वीर्य उनको पिलाया और दोनों की गांड भी मारी।

विपिन और उसके मम्मी पापा के आने तक मैंने अंजलि और पिंकी दोनों की भरपूर चूदाई की।

विपिन और उसके मम्मी पापा के आने के बाद हमारी चूदाई कुछ कम हो गई और हमें जब भी मोका मिलता हम किसी होटल में जाकर चुदाई का मजा लेते और पिंकी भी हमारे साथ होती।

शादी के कुछ दिन पहले अंजलि ने मुझे बताया कि वो मां बनने वाली है और शादी के बाद अंजलि अपने पति के साथ विदेश चली गई।

अब अगले हफ्ते पिंकी की भी शादी होने वाली है और अभी पिछले हफ्ते ही मैंने पिंकी की चूदाई उसके होने वाले पति शैंकी के साथ मिलकर की है।

मैंने टोनी को बीच में रोकते हुए पुछा जानू क्या पिंकी के होने वाले पति शैंकी को कोई एतराज नहीं।

टोनी मेरा चूचा मसल कर बोले मेरी जान शैंकी को कोई एतराज नहीं कयोंकि शैंकी और उसके सात और दोस्त मिलकर हफ्ते में एक दिन ग्रूप चुदाई करते हैं और सभी एक दूसरे की पत्नी की चूदाई करते हैं।

अभी तक शैंकी के आठ दोस्तों के ग्रूप में सिर्फ पांच की ही शादी हुई है और शादी के फौरन बाद पिंकी भी उनकी सामुहिक चुदाई में शामिल हो जाएगी।

मैंने पुछा जानू आपको पिंकी को उसके होने वाले पति के साथ मिलकर पिंकी की चूदाई करने में कैसा मजा आया।

टोनी बोले नेहा मेरी जान उस दिन जब पिंकी ने चूदने के लिए मुझे होटल में बुलाया और जब मैं होटल में पहुंचा तब होटल में पिंकी के साथ एक और मर्द था और दोनों एकदम से नंगे थे।

जब मैंनें उस लडके के बारे में पुछा तो पिंकी बोली मेरे राजा ये मेरे होने वाले पति शैंकी हैं।

मैं आंखे फाड कर पिंकी और शैंकी को देखने लगा।

तभी शैंकी बोला टोनी मेरे यार मेरी रंडी बीवी ने मुझे सब कुछ बता दिया है और अब हम दोनों मिलकर मेरी होने वाली रंडी बीवी की चूदाई करते हैं।

फिर जब मैं और शैंकी पिंकी की चूदाई कर रहे थे और पिंकी शैंकी के आठ इंच लम्बे और डेढ इंच मोटे लंड पर कूद रही थी और मेरा लंड पिंकी के मुंह में था।

तब शैंकी ने कहा टोनी अब देख मेरा कमाल और निचे बिस्तर पर चित लेट गया और पिंकी को अपने उपर सीधा लंड चूत में लेकर लेटने को कहा और जब पिंकी शैंकी का लंड अपनी चूत में लेकर शैंकी के उपर लेट गई तब शैंकी ने कहा टोनी मेरे यार अब तू भी आ जा।

पिंकी शैंकी का लंड अपनी चूत में लेकर अपनी टांगे फैला कर बोली।

मेरे राजा तूम भी अपना लंड मेरी चूत में पेल दे और मैंने अपना लंड पिंकी की चूत से लगा कर एक जोरदार धक्का लगाया और मेरा लंड पिंकी की चूत फाडता हुआ पिंकी की चूत में घूस गया और पिंकी की चूत से फडफड की आवाज आई।

शैंकी ने कहा टोनी मेरे यार अब मेरी बीवी की चूत फट गई है और चोद जोर से और मैं और शैंकी दोनों पिंकी की चूत में लंड डाल कर पिंकी को चोदने लगे और दोनों एकसाथ ही पिंकी की चूत में झड गए।

इतना बोल कर टोनी बोले मेरी जान ये है मेरी पहली चूदाई की दास्तान।

अब आगे की कहानी अगले भाग में बताऊंगी कि उसके बाद टोनी ने मेरी और किस किस की किस तरह चुदाई की तब तक आप मेरी कहानी को पढकर मजा लें और अपने विचार अवश्य व्यक्त करें।

यह कहानी भी पड़े  माँ की जवानी की रसीली मिठास

error: Content is protected !!