रियान अंकल 1 पार्ट 11

रियान अंकल 1 पार्ट 11
लेखक- सीमा
अब आगे की कहानी
फिर उसने रियान के लंड को जोर से दबा कर उसकी तरफ कातिल अदाओं के साथ देखा, जैसे पूछ रही हो कि क्यों अंकल मज़ा आया क्या ?
आह उह्ह करके रियान रह गया, पर रियान भी खेला खाया मर्द था, सो उसे पता था कि कैसे खुद को कंट्रोल करना है।
सीमा रियान की जांघ पर एक हाथ को फिरा रही थी और कभी लंड या कभी लंड की गोटियों को दबा रही थी, सहला रही थी , जिससे वो बार बार उत्तेजना से उछल रहा था।
अब की बार सीमा ने रियान के अंडरवियर के कट से एक हाथ को अन्दर करके लंड को टटोला, उसकी गोटियों पर उंगली फिराई और अपनी उंगली को अन्दर तक करके उसके गांड के छेद पर फिराने लगी।
उफ्फ्फ़ क्या लड़की थी साली को मर्दों को तड़पाना और उत्तेजित करना अच्छे से पता था, रियान की सिसकारियां बंद होने का नाम नहीं ले रही थी, आअह्ह सीमा उफ्फ़ आह जान ही ले लोगी क्या ?
वो हंसते हुए अपने हाथों को गति देती रही, फिर अचानक से उसने रियान के अंडरवियर को निकाल दिया, उसने भी अपने कूल्हे उठा कर उसे सहयोग किया।
चड्डी हटते ही लंड बाहर आ गया, फनफनाते हुए लंड को देख कर सीमा की एक तेज सिसकी निकल गई उई मम्मी ये क्या है ?
रियान ये तुम्हारा खिलौना है खेलो जी भर कर, सीमा बोली इतना बड़ा और इतना मोटा, हाय भगवान मेरी चूत का तो बुरा हाल हो जाएगा।
रियान समझ गया था कि पहली बार सीमा जीते जागते लंड से रूबरू हो रही है, वो बिदक भी सकती थी, ये समझते हुए उसने मोर्चा संभाला और उसको उठा कर पलंग के नीचे खड़ा कर दिया।
रियान ने अपने सीने से चिपका कर उसके गले को किस करने लगा, चूंकि अब वो लोग जमीन पर खड़े थे और सीमा उसके कंधों तक ही आ रही थी।
जिससे उसकी चूचियां रियान के सीने पर दब रही थीं और लंड चूत पर दस्तक दे रहा था, बीच बीच में रियान ने उसके कान की लौ भी चूसा, जिसका असर ये हुआ कि वो फिर से कामातुर हो गई।
रियान ने उसको वैसे ही चिपकाए हुए उसका हाथ लेकर अपने लंड पर रख दिया और कान के पास धीरे से बुदबुदाया सीमा मेरी जान ये लंड अब तुम्हारा है।
जितना मर्ज़ी तुम इससे खेलो, इसे चूसो या काटो ये उफ़ भी नहीं करेगा, सीमा धीरे से बोली पर अंकल ये अन्दर कैसे जाएगा, इतना मोटा है, मुझसे तो उंगली में ही बहुत दर्द होता है।
रियान बोला घबराओ नहीं, अपनी चूत की इसके साथ दोस्ती करा दो, फिर देखना कैसे प्यार से तुम्हारी चूत इसको अन्दर आने देती है, डरने की कोई बात नहीं है।
कोई तुम पहली लड़की नहीं हो, जो लंड को चूत में ले रही हो और फिर मैं हूं न, सीमा बोली कुछ होगा तो नहीं न ? रियान बोला मतलब।
सीमा बोली मतलब ये कि इतना मोटा लंड ले कर यदि मेरी चूत फट गई, तो मैं फिर किसी को मुँह भी नहीं दिखा सकूंगी।
रियान ये सुनकर समझ गया कि इसको सेक्स का जो भी ज्ञान है, वो पोर्न और सहेलियों से मिला हुआ है, अभी तक इसकी बेबाकी से उसे जो अंदेशा हो रहा था कि लौंडिया कहीं खेली खाई न हो।
फिर उसने कहा देखो तुम अभी कुंवारी हो, थोड़ा दर्द तो होगा, पर तुम सहयोग करोगी, तो ये कम से कम होगा, फिर कभी न कभी तो ये दर्द तुमको झेलना ही पड़ेगा।
तो आज क्यों नही, रही बात मुँह दिखाने की, तो कुदरत ने चूत को ऐसा बनाया है कि जब तक लड़की या औरत न चाहे, तब तक कोई भी मर्द उसको समझ नहीं सकता।
आज तक तुमने किसी औरत या लड़की को चूत चुदाई करने से मरते देखा या सुना है क्या ? सीमा बोली ये तो नहीं सुना, पर दर्द होता है, ये मुझे पता है और खून भी आएगा, ये भी पता है।
रियान बोला तो बेफिक्र हो कर इस पल का आनन्द लो, जिसके लिए तुम बेक़रार हो, सीमा बोली वो तो है, पर आप प्यार से डालना, मुझे दर्द हो, तो रुक जाना।
मेरी चूत का ख्याल रखना, आपका लंड बहुत लम्बा और मोटा है, और मेरी चूत अभी एकदम नई और कुंवारी है, ये आपके लंड को झेल नहीं सकेगी।
रियान बोला सीमा मेरी रानी, मैं इसका पूरा ख्याल रखूंगा कि तुमको कम से कम दर्द हो, तुम जब कहोगी, मैं रुक जाऊंगा।
सीमा रियान की बातों से कुछ संतुष्ट सी दिखाई दी, पर डर अभी भी उसके चेहरे पर दिख रहा था और इसका इलाज उसकी कामुकता को जगा कर ही हो सकता था।
रियान बोला अरे जान तुमको कुछ भी नहीं होने दूंगा, तुमको तो पता भी नहीं चलेगा कि कब पूरा लंड चूत में चला गया, ये कह कर उसने सीमा को गोद में उठा लिया।
कसम से उसकी मखमली गांड पर हाथ लगते ही रियान का लंड सलामी देने लगा, लाल रंग की जालीदार ब्रा और पैंटी में सीमा मस्त माल नजर आ रही थी।
यद्यपि उसका बदन इतना अभी भरा नहीं था, पर उम्र के हिसाब से वो पतली कमसिन बदन की मलिका थी।
रियान ने अपने डनलप वाले गद्दे पर उसको उछाल दिया और खुद उसके ऊपर आ गया, उसकी ब्रा के ऊपर से ही उसके निपल्स चूसने लगा, सीमा भी आह आह आह कर रही थी।
रियान उसकी पतली कमर पर हाथ फेर रहा था और साथ ब्रा के ऊपर के खुले हिस्से में वो चूस चूस कर लव बाइट देता जा रहा था, सीमा तो पागल सी हुई पड़ी थी।
ये सीमा का पहली बार था, तो वो बहुत जल्दी गर्म हो गई थी, सो रियान ने सोचा कि एक बार इसका पानी निकाल दिया जाए, फिर इसकी सील तोड़ी जाए, तो ये पूरा मजा देगी।
ये सोचते ही रियान ने उसकी ब्रा और पैंटी उतार दी, एक कमसिन नग्न काया उसके सामने थी, रियान ने भी अपने बचे खुचे वस्त्र के नाम अपनी चड्डी को उतारा और सीमा से चिपक गया।
रियान ने सीमा की एक निपल्स को मुँह में भर लिया और बच्चों की भांति चूसने लगा, सीमा के मुँह से आहह आहह उम्म्ह की मस्त और मदहोश कर देने वाली आवाजें उसे कामातुर किए जा रही थी।
सीमा भी रियान का सर अपनी चूची में दबाने लगी, वो और तेजी से उसकी एक चूची चूस रहा था और एक हाथ से उसकी दूसरी चूची को मसल रहा था।
दूसरे हाथ से उसके चूतड़ मसल रहा था और सीमा आह्ह्ह हह उईईई आह्ह आआ ऊओऊऊच ऊउई इम्म्मां उम्म्ह्ह्ह धीरे अंकल मैं कहीं नहीं जा रही हूं।
कभी वो कहती धीरे दबाओ तो कभी कहती आह और तेज दबाओ, रियान मस्ती से उसकी चूचियों का दूध निकालने में लगा रहा।
उफ्फ अंकल हिस्स अहह उहह उफ्फ अंकल ओह उफ्फ्फ उई अंकल बड़ा मजा दे रहे हो, अब रियान उसकी चूची को छोड़ कर धीरे धीरे नीचे सरकने लगा।
चूची के नीचे उसके पेट के ऊपरी हिस्से को जीभ से चाटने लगा, गीली जीभ पूरी निकाल कर रियान नीचे से उसकी नर्म मुलायम पेठ को चाटता, तो सीमा मचल जाती।
सीमा बोली क्या करते हो अंकल, बड़ी गुदगुदी हो रही है आह, पर इस गुदगुदी में उसको भी मज़ा आ रहा था, वो रियान का सर अपने पेट पर दबाए जा रही थी।
फिर रियान ने सर उठा कर उसकी गहरी नाभि को देखा आह सपाट पेट पर गहरी नाभि देख कर उसका लंड बेकाबू हो गया था।
रियान ने भी देर न करते हुए अपनी एक उंगली उसकी नाभि में डाल दी और गोल गोल नचाना शुरू कर दिया।
सीमा तो रियान की इस हरकत से जैसे बावली सी हो गई उई मां मर गई अंकल उई उई उई हे भगवान हिस्स्स इस्सस अपने तो आग लगा दी है।
रियान उसकी सीत्कार का मजा लेते हुए अपनी जीभ को नुकीला करके उसकी नाभि में अन्दर डाला और उसको चाटने लगा, वो आवाजें देते हुए लगातार मस्ता रही थी।
उसके पेड़ू का हिस्सा, मतलब की चूत के ऊपर वाला भाग, बिल्कुल ऐसा चिकना था जैसे वैक्सिंग किया हो, एक भी बाल नहीं, रोंया तक नहीं था।
रियान समझ गया कि आज सीमा चुदने की पूरी तैयारी से आई है, उसने उसकी चूत के ऊपर के उभरे हुए हिस्से को अपने होंठों से चूम लिया, उई मां मर गई हईई उई ई।
तभी रियान को अपने खड़े लंड पर सीमा के नाज़ुक हाथों का स्पर्श मिला, तो उसका लंड और बेकाबू हो गया, सीमा ने कसके लंड को दबा दिया।
रियान के मुँह से न चाहते हुए भी सिसकारी निकल गई आह्ह्ह ओह्ह्ह उफ्फ क्या उखाड़ ही लोगी ? वो हंस दी और उसने रियान के लंड को फैंटना शुरू कर दिया।
रियान के ढीले पड़ते ही सीमा ने उसको धकेल कर बिस्तर पर गिरा दिया, रियान की दोनों टांगें खोलकर बीच में आकर उसने गप से लंड के सुपारे को अपने मुँह में भर लिया।
उफ्फ लड़की ने पोर्न मूवीज से बहुत कुछ सीखा हुआ था, रियान के लंड को सीमा की जीभ का अहसास उसे जन्नत का अनुभव करा रही थी।
रियान के लंड के सुपारे को सीमा ने अपने मुँह में भर कर अन्दर से ही जीभ को लंड पर फिराया, इससे तो उसकी मादक सिसकारी निकल गई आह्ह आह मेरी जान सीमा बड़ा मजा आ रहा है।
रियान के मोटा सुपारा उसके छोटे से मुँह में फंस सा गया था, उसने लंड के सुपारे को मुँह से निकाला और सुपारे को गीली जीभ से चाटने लगी।
सुपारे में जो कट होता है, उसमें सीमा ने अपनी जीभ को नुकीली की और पूरे सुपारे की फांक पर तिर तिर, तर तर करते हुए फिराने लगी।
रियान कि तो सांस हलक में अटक गई ये लड़की थी या बवाल थी क्या कयामत कर रही थी अहह ऊउफ्फ्फ सीईईईईमा आ आ आह चूसो मेरी जान।
सीमा ने जीभ बिना हटाए ही रियान की ओर देखा और मुस्कुराते हुए लंड अपने मुँह में लेकर सपोड़ने लगी, रियान ने भी लंड को नीचे से धक्के लगा कर उसका मुख चोदन शुरू कर दिया।
सीमा गूं ऊं गूऊन गूं की आवाज कर रही थी, सीमा ने लंड निकाल कर रियान के लंड की गोटियां चूसना शुरू क़र दी, साथ में वो लंड को अपने हाथ से फैंट रही थी।
सीमा जिस तरह से लंड चूस रही थी, शायद ही कोई कुंवारी लड़की चूस सकती होगी, अब रियान का उसकी चूत को चाटने का दिल कर रहा था।
रियान ने उसको रोका और सीमा को अपने मुँह पर बैठने को बोला, उसने झट से रियान की तरफ गूमके अपनी चूत को उसके मुँह पर रख दिया और खुद उसका लंड की तरफ झुक गई।
उसने 69 का पोज बना लिया था, रियान ने सपने में भी नहीं सोचा था कि ये कल की पैदा हुई लौंडिया उस की उम्मीद से ज्यादा चुदने को बेताब होगी।
तभी रियान की आंखों के सामने उसकी गुलाबी चूत का छोटा सा फूल मेरा दिल ललचा गया, रियान ने अपनी जीभ को उसकी कुंवारी चूत के कुंवारे छेद में डाल कर चोदना चालू किया।
तो सीमा भी जोर जोर से उसका लंड चूसने लगी, उउउह यस आह की घुटी घुटी सी हल्की आवाजें पूरे कमरे में अलग सा मादक संगीत सा बजा रही थी।
कोई 15 मिनट में ही सीमा के शरीर में कम्पन सा होने लगा और रियान का जिस्म भी अकड़ने लगा, और अगले ही पल उधर सीमा झड़ रही थी।
इधर रियान का लंड फूल कर रस बहा रहा था, इधर रियान उसकी चूत का रस चपड़ चपड़ करके चाट रहा था, उधर सीमा उसके गाढ़े वीर्य का आखिरी क़तरा भी निचोड़ रही थी।
एक मिनट में ही सीमा निढाल सी रियान के लंड पर अपना मुँह रख कर पड़ी थी, उधर रियान बेहाल सा पड़ा लम्बी लम्बी सांसें ले रहा था।
रियान का पूरा मुँह चूत के रस से गीला था, तो सीमा के होंठों के किनारों से सफ़ेद लकीर सी बह रही थी, फिर सीमा उठी और बाथरूम में जाकर कुल्ला करके वापस आ गई।
वो रियान के हाथों पर सर रख कर उससे चिपक कर लेट गयी, उसने भी साइड से साफ टॉवल उठा कर अपना चेहरा और लंड पौंछा फिर उसकी चूत को साफ किया और उससे चिपक गया।
रियान बोला सीमा कैसा लगा ?, सीमा बोली कुछ मत पूछो अंकल बस उन पलों को मुझे जी लेने दो मैंने जितना सोचा था, उससे कई हज़ार गुना सुख आपने दिया।
मेरा 69 का बहुत मन था, मुझे लंड का रस पीकर देखना था, लंड चूसना था, जबसे मैंने पोर्न में ऐसा देखा था, तभी से ये सब करने का मेरा बहुत मन था।
आपने मेरी सारी इच्छाएं पूरी कर दी, आपका लंड बहुत मस्त है, ये कह कर सीमा ने रियान के होंठों को चूसने लगी।
15 मिनट में रियान का लंड फिर से खड़ा हो गया, सीमा ने आश्चर्य से उसके लंड को देखा और फिर रियान की तरफ देखने लगी।
रियान ने भी उसकी चूत पर हाथ फेरा, तो वो बिल्कुल गीली थी, मतलब झड़ने के बाद भी साली रण्डी की चुदास कम नहीं हुई थी।
चूंकि रियान का लंड एक बार झड़कर रस निकाल चुका था, तो उसे पता था कि उसका लंड अब सीमा की चूत की देर तक चुदाई करेगा।
रियान ने एक बार फिर उसको चूमना शुरू किया, तो चूमता ही चला गया, सीमा भी चुदास से भर कर मछली की तरह मचलने लगी।
फिर रियान ने सीमा को पेट के बल लिटा कर उसके चूतड़ों पर लंड रख कर बैठ गया, रियान ने लंड सैट करने के नजरिये से थोड़ा खिसका और उसके उभरे चूतड़ों पर चटाक से रियान ने एक चांटा दे मारा।
आएई ऊऊईई ईम्म्म्मामांआ मर गई आह फिर से रियान ने एक जोर का चांटा दूसरे चूतड़ पर मारा, सीमा फिर चीखी आह्ह्ह मैं मर गयी उईईई अंकल जान ही लोगे क्या आहहह।
रियान ने देखा कि सीमा के दोनों गोरे चूतड़ों पर उसकी उंगली के लाल निशान उभर आए थे, पता नहीं क्यों एक सुकून सा मिला।
तभी एक झटके से रियान ने सीमा को पलट कर उसकी चूत के छेद पर अपना मुँह रख कर सपर सपर चाटने लगा।
उसने भी दूसरे पल ही अपनी टांगें खोल कर चुत उठाते हुए रियान के मुँह को ढक सा दिया, फिर उसने मुँह हटाया और धीरे से एक उंगली उसकी चूत में डाल दी।
सीमा की कुंवारी चूत का दर्द उसके अधरों से निकल पड़ा उईईई मांआअ मरर गई अहाआअ मर गई अंकल हाय दर्द हो रहा है, रियान उंगली चूत की झिल्ली से पहले तक ही अंदर कर रहा था।
जिससे सीमा की संकरी अधखुली चूत में रियान की मोटी उंगली चूत के रस से भीगी, सटासट अन्दर बाहर होने लगी, एक उंगली से चुत चोदन करीब पांच मिनट चला।
उसको मजा आने लगा था और उसकी आहें अब बंद हो गई थी, ये देख कर रियान ने दूसरी उंगली भी उसकी चूत में प्रवेश कर दी।
सीमा की फिर से चीख निकल गई उईईई मां आ आज आज तो मर गई ईईई मां उफ्फ बाहर निकालो अंकल बहुत दर्द हो रहा है।
रियान थोड़ी देर रुक सा गया, वैसे लेटे लेटे उसकी चूची चूसता रहा, दूसरे हाथ से तकिए के नीचे से उसने जैली निकाली और चूत से उंगली निकाल कर उसमें जैली लेकर चूत के अन्दर तक लगाने लगा।
जैसे ही रियान ने उंगली चूत से निकाली, सीमा लम्बी लम्बी सांसें लेने लगी, इसमें कोई शक नहीं था कि उसकी चूत का छेद बहुत संकरा था।
फिर रियान जैली लगी उंगली से उसकी चूत को चोदने लगा, उम्मम अअअह मर्रर्र गईईई आहह हह उफ्फ्फ आओऊ आह उफ्फो अंकल क्या लगा दिया बड़ा अच्छा लग रहा है।
रियान ने दूसरी उंगली भी अन्दर पेल दी, उसकी इस दूसरी उंगली में भी जैली लगी थी, सीमा की चुत का हिस्सा सुन्न हो गया था और उसे मजा आने लगा था वो कूल्हे उठाते हुए उंगली से चुत रगड़ने लगी थी।
उसकी चुत से पानी रिसना शुरू हो गया था, उसकी आंखें बंद थी और वो बस मस्त कामुक आवाजें निकाले जा रही थी।
सीमा अब तक दो बार झड़ चुकी थी और उसकी चूत भी लंड से दोस्ती के लिए बेक़रार हो उठी थी, रियान उठा और उसको खींच कर उसको बेड पर बैठा दिया।
फिर रियान खुद खड़ा होकर उसके मुँह में लंड डाल कर मुख चोदने लगा, उसने भी गपाक से उसका लंड अन्दर ले लिया, रियान का लंड उसके मुँह के अन्दर तक जा रहा था।
सीमा की आंख से आंसू निकलने लगे, वो गों गों गों करते हुए लंड चूस रही थी, पर उसने मुँह से लंड नहीं निकाला, बराबरी से उसने रियान का लंड चूस चूस कर फौलाद सा कर दिया।
उसके होंठों के किनारे से थूक निकल रहा था, उफ्फ्फ क्या चुदक्कड़ रांड लग रही थी, रियान भी हांफने सा लगा था।
तभी रियान ने मुँह से लंड निकाल लिया और उसको लिटा कर उसकी टांगों के बीच आ गया, रियान उसकी चूत में लंड रगड़ने लगा।
सीमा बोली अंकल अब मेरी चूत में अपना लंड जल्दी से डाल दो, अब मुझसे बर्दाश्त नहीं होता जल्दी डालो अपना लंड।
रियान ने उसके चूतड़ों के नीचे एक तकिया लगाया और सफ़ेद तौलिया बिछा कर उस पर चढ़ गया, सीमा तो चुदासी होकर पगला रही थी।
वो अपने कूल्हे को उछाल कर लंड को चूत में लेने की कोशिश कर रही थी, उसको नहीं पता था कि ये मस्ती कुछ ही पलों में दर्द और चीख में बदलने वाली है।
लंड को चूत में रगड़ते रगड़ते लंड को छेद में फिक्स कर दिया, उसकी टांगों को जितना फैला सकता था, रियान ने फैला दिया।
फिर उसके कंधों को कसके पकड़ कर हल्के से लंड का दबाव चूत के ऊपर बनाया, रियान का निशाना सही था, लंड का टोपा चूत को चीरता हुआ चूत के अन्दर समा गया।
सीमा बोली उई आआआआ ईईईई मररर गईईईई आ आ उफ्फ आह अंकल्ल जल्दी से निकालो इसे उफ्फ्फ फ्फ्फ़ मार डाला आहह चुत फट गई मम्मी रे।
सीमा लगातार छटपटा कर रियान की पकड़ से दूर जाना चाह रही थी, वो चूत से लंड को निकलने लगी, तो रियान ने कुंवारी लौंडिया चोदने का अपना आजमाया हुआ नुस्का काम में लिया।
रियान उसको अपने भार से दबा कर उसकी चूची को चूसने लगा और चूसता ही चला गया, दूसरे हाथ से उसके चूतड़ और कमर को सहलाता रहा।
धीरे धीरे चूत ने लंड के हिसाब से अपना मुँह खोल दिया और सीमा की चीख भी बंद हो कर सिर्फ आहहह अह्ह्ह आ आ आ ईईईई की आवाजें ही सुनाई दे रही थी।
फिर जब रियान को लगा कि ये सही वक़्त है कि सीमा को कली से फूल बना दिया जाए, तो रियान ने अपना लंड बाहर निकाला और एक शॉट मार दिया।
रियान का लंड सीमा की चूत के अंदर 4 इंच तक पहुंच गया वो चीखने लगी, वो यही से लंड को चूत के अंदर बाहर करने लगा, कुछ देर में वो शांत हो गई।
तो रियान ने अपना लंड तेजी से बाहर निकाला और एक जोरदार शॉट मार दिया, उसका पूरा लंड बड़ी तेजी से सीमा की अधखुली चूत को चीरता हुआ अंत तक समा गया।
उईईईई ईईई उईईई मम्मा आअ मरर गई मार डाला कुत्ते ने निकाल साले लंड को बचाओओऊ मां मेरी ईईईई ईईईई।
सीमा रियान की छाती पर हाथ मरते हुऐ बोली मादरचोद अंकल निकल बाहर, बहन के लोड़े में मार जाऊंगी, तेरा ये काला लंड बहुत बड़ा है।
तभी रियान को अपने लंड के पास से कुछ बहता हुआ लगा, उसने हाथ लगा कर देखा, तो खून की धारा बह रही थी, साथ ही चूत का रस भी था।
रियान ने झुक कर उसके होंठों को अपने होंठों से कैद किया और चूसने लगा, उसे तो ऐसा लग रहा था कि उसका लंड गर्म भट्ठी में गया है।
सीमा जैसी खूबसूरत लड़की की कुंवारी अनछुई चूत तो गर्म होती ही है, और संकरी भी होती है, सीमा का कुंवारापन अब साबुत ना रहा था।
सीमा की आंखों से अश्रु की धारा बह रही थी, उसके दोनों हाथ रियान को ताकत से धकेल रहे थे, वो अपने पैर को बिस्तर पर छटपटा कर पटक रही थी।
रियान लगातार उसके होंठों को चूस रहा था, उसने एक हाथ से उसके चेहरे को पकड़ रखा था, क्योंकि वो लगातार अपना मुँह इधर उधर कर रही थी।
रियान दूसरे हाथ से बदन को सहला रहा था बस मेरी गुड़िया बस जो होना था वो हो गया लंड अंदर है अब दर्द नहीं होगा जान बस मेरी बच्ची बस।
सीमा रोते हुए हिचकी लेते हुए फफक रही थी उन्ह आह ये क्या कर दिया अंकल आपने मेरी फाड़ दी आंह आपने कहा था कि प्यार से करोगे ।
आप तो जानवर हो जानवर आपने मेरी चूत को फाड़ दिया आह अब मैं कैसे घर जाऊंगी कुत्ते हो आप अंकल कमीने हो आप।
अपने तो मेरी चूत की मांचोद दी , सीमा रियान को लगातार कोसे जा रही थी, पर वो जानता था कि कुछ ही पलों में ये कमसिन लड़की मुझे दुआएं देगी।
रियान अपने लंड को धीरे धीरे चूत के अन्दर ही हिलाता रहा थोड़ा थोड़ा निकाल कर अन्दर करता रहा, इसका नतीजा जल्दी ही सामने आ गया था।
सीमा का दर्द कम होने लगा और उसके कूल्हे उछलने लगी आहह अह्ह्ह अहह ओह उफ्फ्फ अंकल आपका लंड बहुत बड़ा है मुझे बहुत दर्द हो रहा है ह्म्म्म्म आआह।
रियान बोला अब दर्द कैसा है ?, सीमा बोली कुछ मत पूछो अंकल, बस ऐसे ही करते रहो अच्छा लग रहा है दर्द भी है मगर बदन में चींटी सी दौड़ रही हैं।
बस करते रहो लगता है मेरी चूत फट गई है आह आहह, रियान जो लंड थोड़ा थोड़ा निकाल रहा था, उसे रियान ने पूरा निकाल कर एक साथ चूत में डालने लगा।
रियान का लंड सीमा की चूत में अब आराम से अन्दर बाहर हो रहा था, उस के मुंह से सिसकारियां निकल रही थी आह उम्म मां एई ओईओई बस बस ओह्ह।
इधर रियान ने भी स्पीड बड़ा दी थी उधर सीमा की कसी चूत भी फूलने पिचकने लगी थी, उसकी कुंवारी चुत लंड को बार बार जकड़ने लगी थी।
उफ्फ्फ आह आह उफ्फ्फ सीमा की आवाजें और हरकतें सुर बदलते हुए तेज होने लगी थी, वो अपनी कूल्हे नीचे से उछालने लगी थी आह आह हह उफ्फ्फ ई ई ई ई।
रियान का लंड चुत की जड़ तक समां रहा था, मस्त चूत के रस में भीगा लंड आराम से चूत में अन्दर बाहर हो रहा था एएई आएई उई अंकल्ल नीचे कुछ हो रहा है इस्स्स हिस्स्स उम्माह मां मां मां मर गईईई।
सीमा की जकड़न भी गहरी होने लगी, उसके नाख़ून रियान की पीठ पर गड़ने लगे, उसे समझ में आ रहा था कि वो अपने चरम पर आ गई है।
रियान ने चूत में लंड उतारने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी, जितनी तेज़ी से लंड चूत से बाहर आता, उतनी ही तेज़ी से लंड चूत में जा रहा था।
सीमा ने अपनी टांगों से रियान की कमर को जकड़ लिया और एक चीख के साथ उसकी चूत ने भरभरा कर पानी छोड़ दिया।
आप मेरे साथ बने रहिए और इस रियान अंकल की सेक्स कहानी पर किसी भी प्रकार की राय देने के लिए आप मेल पर मुझसे संपर्क कर सकते हैं.
[email protected]

यह कहानी भी पड़े  हॉट सीमा Xxx की चूदाई कहानी 8


error: Content is protected !!