रियान अंकल 1 पार्ट 1

रियान अंकल 1 पार्ट 1
लेखक- सीमा
ये कहानी एक 40 साल के आदमी की है उसने अपनी जिंदगी में किन किन लड़कियों और औरतों के साथ चूदाई की कहानी है।
इस कहानी के मुख्य किरदार का नाम रियान हुसैन है और रियान एक बिज़नेस मैन है, वैसे तो उस का बिज़नेस बहुत बड़ा है उस बिसनेस में उस का एक पाटनर है।
वो बिज़नेस के काम में बहुत व्यस्त रहता है, रियान अक्सर अपने काम में इतना खो जाता है कि उसे समय का ध्यान ही नहीं रहता है।
जब रियान की नयी नयी शादी हुई थी, तब उसके पास रहने के लिए अपना घर भी नहीं था, उन दिनों वो लोग किराए के मकान में रहते थे।
जिसकी वजह से रियान की कमाई का एक बड़ा भाग किराया देने में चला जाता था, परिणाम स्वरूप वो अपनी वाइफ के लिए ज़्यादा कुछ नहीं कर पाता था, उसे इस बात का हमेशा अफ़सोस रहता था।
फिर रियान एक दिन अपनी नौकरी छोड़ दी और खुद का बिज़नेस का काम शुरू कर दिया, तकदीर ने उस का साथ दिया और वो कामयाब होता चला गया।
चंद सालों बाद रियान के पास अपना घर और अपनी गाड़ी दोनों हो गयी, वो खुश था सब कुछ ठीक चल रहा था, बहुत पैसा आ रहा था।
बस जैसे जैसे रियान की कमाई बढ़ती गयी, रियान अपनी वाइफ और बेटे से दूर होता चला गया, रियान अब रोज़ देर से आने लगा।
एक दिन वाइफ ने रियान को समझाया और वाइफ के कहने के मुताबिक उसने कुछ स्टाफ बढ़ा दिया और घर जल्दी आने लगा और लेट होने पर क्या होता था।
अब कहानी पर आते है।
ट्रिन ट्रिन ट्रिन टेबल पर पड़े मोबाइल की रिंग से रियान चिहुंका, रियान ने मोबाइल उठाकर स्क्रीन पर नज़र डाली ।
कॉल रियान की वाइफ का था उस ने कॉल रिसिप किया और वाइफ ने कहा कि आप घर नही आ रहे हो, क्या आज, तो रियान बोला बस निकल ही रहा हूं।
रियान घर आ गया और अपने बेटे और वाइफ के साथ खाना खाया, और रूम में जाकर सो गया, 5 दिन बाद रियान की वाइफ की एक हादसे में जान चली गयी।
रियान का बेटा सलमान किशोरावस्था में है, वाइफ की मौत के बाद रियान ने दोबारा शादी ना करने का निर्णय किया।
कुछ दिनों तक रियान ने सलमान को किसी तरह की कमी नहीं होने दी लेकिन जैसे जैसे वक़्त गुज़रता गया वाइफ की याद धुँधली होती चली गयी, उसके बाद रियान को औरत की कमी महसूस होने लगी।
रियान ने अपने बिज़नेस पार्टनर अनिल को अपनी समस्या बताई तो उसने कहा- तुम्हें इस आयु में शादी करने की ज़रूरत ही क्या है।
सलमान अब इतना बड़ा हो चुका है कि वो अब माँ के बगैर भी रह सकता है। बात तेरी तो तुम बाहर से काम चला सकते हो।
बाहर से मतलब? रियान ने उससे पूछा।
अबे गधे मैं बाहर की लड़कियां, औरतों की बात कर रहा हूं, इस उम्र में शादी करने से अच्छा है।
नयी नयी लड़कियों और औरतों की जवानी का मजा लूटो, तुम तो लकी हो प्यारे कोई रोकने वाला भी नहीं है, उसने हंसते हुए कहा।
अनिल की बात सुनकर रियान का मन भी गदगद हो गया, लेकिन सलमान को पता चला तो ? रियान ने डरते हुए पूछा।
उसका भी हल मेरे पास है उसे बोर्डिंग भेज दे पढ़ने के लिये, फिर लड़कियों और औरतों के घर में जाकर , उन के घर में ही रुक कर उन को चोद।
या उन लड़कियों और औरतों को अपने घर पर बुलाओ बीवी की तरह रात दिन मज़े लो और जब मन भर जाए तो सब भूल जाओ, ये अनिल ने आँखें चमकाते हुए कहा।
रियान उसके प्रभाव में आ गया और अगले दिन ही वो सलमान को लेकर जोधपुर चला गया और उसे बोर्डिंग में डाल दिया।
अब रियान नयी नयी लड़कियों और औरतों को पटाने में लग गया, इस बीच रियान की मुलाकात उस के दोस्त से हुई,वो स्कूल के दोस्त थे।
रियान ने अपने दोस्त मुरली से पूछा की तुम्हारी लाइफ कैसी चल रही है, तो मुरली ने रियान को बताया कि वो सरकारी नौकरी में हैं।
उसकी बीवी राजश्री एक बैंक में काम करती है। हम सुबह 9:30 बजे काम पर चले जाते है और शाम को ही वापिस आते है, मुरली ने बताया की उस के एक बेटी है, जिसका नाम परी है।
फिर मुरली में रियान की लाइफ के बारे में पूछा तो रियान ने बता दिया की एक महीने पहले उस के साथ क्या क्या हुआ।
रियान की उदासी देख कर मुरली ने उससे प्रोमिस लिया की कुछ टाइम वो मुरली के साथ रहेगा। बहुत मना करने के बाद भी रियान ने हां कह दिया।
रविवार के दिन 11 बजे रियान मुरली के घर पहुंचा तो मुरली ने रियान को अपनी पत्नी से मिलाया,रियान तो मुरली की पत्नी को देखता ही रह गया ।
उनका फिगर कोई 36-32-40 का होगा, एकदम गोरी, रियान का तो दिमाग़ चकरा गया, राजश्री कही से एक 18 साल की लड़की की मां नही लगती थी।
फिर उन सब ने नाश्ता किया और बात करने लगे, हसीं मजाक भी होने लगा, रियान ने नोट किया कि राजश्री रियान को अजीब कनखियों से देख रही थीं।
रियान ने मुरली से पूछा कि तुम्हारी बेटी कहां है तो उसने बताया उस की छुट्टियां चल रही है तो कल ही अपने मामा जी के यहां गई है।
कुछ देर बाद रियान अपने घर आ गया, राजश्री के ख्याल से उस का रोम-रोम खड़ा हो गया था, लंड बैठने का नाम नहीं ले रहा था, रियान बाथरूम में गया और मुठ मार के लंड को ठंडा किया।
दो सप्ताह तक रियान मुरली के घर कई बार गया उस ने राजश्री को लगभग पटा ही लिया था, बस मौके की तलाश थी।
एक रोज रियान ऑफिस में काम कर रहा था, कि राजश्री ने उसे फोन करके घर बुलाया, वो तुरंत मुरली के घर पहुंच गया।
आज राजश्री ने सलवार-सूट पहना हुआ था, क्या मस्त कयामत लग रही थीं, राजश्री की मस्त उभरी हुई गांड, बड़े उभरे बूब्स और उन्होंने आज मस्त जूड़ा बना रखा था।
रियान ने अन्दर जाकर कहा आपने क्यों बुलाया था ?
राजश्री बोली हाँ , आज बैंक की छुट्टी हैं और मुरली बाहर गए हुए है।
में घर में बोर हो रही थी तो आप को बुला लिया आप कमरे में बैठो जब तक मैं चाय लाती हूँ, रियान बोला ठीक है।
रियान पीछे से राजश्री की मटकती हुई गांड देखी और मन ही मन बोला कि आज तो खुदा ने मेरी सुन ली ये माल आज चोदने को मिलेगा ।
जब रियान अन्दर कमरे में गया तो कमरे को देख कर समझ गया कि आज उस के लंड को वाइफ के बाद पहली चुत चुदाई करने का मौका मिलने वाला है।
फिर कमरे में बैठ कर रियान मैग्जिन पड़ने लगा था, अचानक उस की निगाह राजश्री पर पड़ी।
इन दिनों मई का महीना और राजस्थान की गर्मी थी, इतने में राजश्री पसीने में भीगी हुईं चाय ले आईं, राजश्री के पसीने में भीगने से उनके सूट के बाहर से ही उनकी चूचियाँ चमक रही थीं।
ऊओह क्या मनोरम सीन था, रियान समझ गया कि राजश्री ने ब्रा नहीं पहनी है। उसने अपनी चूचियाँ पर रियान की नज़र ताड़ ली।
राजश्री ने चाय दी और रियान ने चाय ले ली, अब राजश्री रियान से सट कर बैठ गईं और अपनी चूचियाँ को रियान के बाजू से लगा कर मैगजीन को साथ में देखने लगीं।
रियान उनके सख़्त चूचियाँ अपनी बाजुओं पर दबते हुए साफ़ महसूस कर रहा था, बहुत गरमाहट थी उनमें, रियान मुस्कराया और चाय पीने लगा।
रियान ने चाय खत्म की और बोला क्यों बुलाया है मुझे आज ? राजश्री उठ कर बेड पर लेट कर बोलीं आपको हर बात खुल कर समझानी पड़ेगी क्या?
रियान ने चाय का कप और मैग्जिन टेबल पर रखी और बेड पर राजश्री के पास बैठ गया, अब राजश्री ने रियान को हाथ पकड़ कर उसे अपने ऊपर कर लिया और उस के होंठों को चूम लिया।
चूमने के बाद राजश्री बोली अब आया समझ में? और उन्होंने रियान के बालों में हाथ फेरा, फिर रियान की गर्दन झुका कर उस के होंठों को चूसने लगीं।
राजश्री ने अपनी ज़ुबान रियान के मुँह में डाल दी,उसे मज़ा आने लगा, फिर राजश्री ने रियान की ज़ुबान अपने मुँह में ले ली और चूसने लगीं, वाउ क्या रसीला सा किस था, कोई 2 मिनट लंबा चला।
फिर रियान ने राजश्री के बालों में उंगलियाँ फेरीं, उनके नर्म गालों पर हाथ फेरा अंगूठे से उनके होंठ फैलाए और किस करने लगा।
राजश्री की आँखें बंद थीं। रियान उन्हीं की तरह ही उने किस कर रहा था, फिर राजश्री ने रियान का हाथ पकड़ा और उसे अपने मम्मों पर रख दिया।
रियान राजश्री के सख़्त बूब्स को बारी-बारी से दबाने लगा, और राजश्री साथ ही उस के लंड को सहलाने भी लगी थीं, रियान ने उनके निपल्स को हल्के से मसला, तो वो सिहर गईं।
राजश्री ने रियान को हटाया और उठ कर कुर्ता उतार दिया व फिर से लेट कर रियान को भी नंगा होने का इशारा किया।
रियान ने अपनी शर्ट और वेस्ट (बनियान) उतार दी और राजश्री के सुंदर बूब्स को खूब चूमने दबाने और चाटने लगा , राजश्री की साँसें तेज़ हो गईं थी।
रियान राजश्री के चुचियों को चूमते हुए नीचे की तरफ आया और उनकी नाभि पर ज़ुबान फिराने लगा, वो इससे मदहोश हो गईं और उनका जिस्म अकड़ गया।
राजश्री अपनी जांघें मसलने लगीं, रियान ने उन की सलवार का नाड़ा खींचा, तो खुलने की जगह उसमें गाँठ पड़ गई, तो वो हंस कर खोलने लगीं।
थोड़ी देर तक नहीं खुलने पर रियान ने नाड़ा एक झटके में तोड़ दिया और उठ कर एक झटके में सलवार पैंटी सहित उतार के फेंक दी।
राजश्री ने शर्मा के आँखें बंद कर लीं और रियान एकटक उनकी रसीली चुत को देखने लगा, फिर वो हंस कर उठीं रियान को पीछे धकेल कर उस का पेंट और चड्डी उतार दिया।
रियान के 9 इंच के लंड को देख उनके मुँह से आह निकल गई- मस्त लंड है यार।
इतना बोल कर राजश्री ने लंड को अपने मुँह में भर लिया और चूसने लगीं, उन्होंने एक प्यासी रण्डी की तरह लंड को चूसने चाटने और लंड के टोपे पर ज़ुबान फिराने लगी।
राजश्री को 10 मिनिट हो गए थे तो रियान ने उने पीछे को हटाया तो उन ने हाथ से मुँह साफ़ करते हुई लेट गईं और टांगें खोल कर बोलीं प्लीज एक बार मेरी चुत चाट दो ना।
रियान ने अपना मुंह को राजश्री की चूत के पास लाया उस की चुत की अजीब सी महक ने उसे मदहोश कर दिया और वो जीभ से राजश्री की चुत चाटने लगा।
राजश्री पूरी अकड़ गईं उस ने अपने हाथों से रियान के बाल पकड़कर उस के मुंह को चुत पर दबाने लगीं आअह उम्म्ह अहह हय याह वववीईए उम्म्म्मह आअहह कहाँ से सीखा मेरी जान वाउ मज़ा आ गय आअहह बस अब लंड डाल दो।
रियान उठा और राजश्री पर लेट गया और लंड अन्दर डालने के लिए एक जोरदार धक्का दे मारा और लंड को राजश्री की चुत के अंदर गूसा दिया।
राजश्री के मुँह से चीख निकल गई, वो दर्द से ऊपर सरक कर बोलीं ऊउउइईईई माँआ मारेगा क्याआअ आराम से लंड डालो आआअहह हाईईईई।
अब राजश्री ने भी रियान की कमर पकड़ ली और बोलीं आराम से चोदो आराम से करना नहीं तो मुझे बहुत दर्द होगा ।
रियान धीरे-धीरे अपना लंड राजश्री की गीली चुत में आगे-पीछे करने लगा, वो मदहोशी से रियान के होंठों को चूमने लगीं।
रियान थोड़ा ऊपर उठ कर राजश्री की चूचियां चूसने लगा, उस ने स्पीड बड़ा दी और जोर-जोर से चोदना चालू कर दिया।
राजश्री के मुंह से सिसकारियां आह ऊहह उम्म्म्मह शाब्ब्ब्बबाष्ह मेरी जान और तेज़ और तेज़्ज़्ज़्ज़ चोद जी भर के चोद उम्म्म्मह अहहl
रियान बोला राजश्री मज़ा आ गया क्या मस्त चुत है तुम्हारी ,राजश्री के मुंह से आहह वॉववव ऊहह और तेज़ और तेजज़्ज़ चोद शबाआअश जान उम्म्म्मह।
फिर कुछ देर बाद राजश्री का बदन अकड़ने लगा और वो झड़ गईं, रियान ने और 8-10 मिनिट चूदाई के बाद उनकी चुत में माल झाड़ दिया ।
उन दोनों की साँसें फूली हुई थीं, राजश्री आँखें बंद किए एक मुस्कान लिए लेटी थीं और रियान उनके बूब्स पर सिर रखे हाँफ रहा था।
वो रियान के बालों में उंगली फिरा रही थीं। राजश्री बोली आई लव यू सओ मच , रियान ने सिर उठा के उनकी तरफ देख कर कहा आई लव यू टू जान।
फिर उन दोनों ने एक लम्बा सा किस किया, रियान राजश्री के ऊपर से उतर कर उनके बगल में लेट गया, और राजश्री ने रियान के सीने पर सिर रख कर लेट गईं।
रियान ने राजश्री से पूछा कि एक बात बताओ जान , तुम मुझसे क्यों चुदीं?
राजश्री ने कहा कि मुरली ने मुझे पिछले 7 महीने से नहीं छुआ, पिछले 5 साल में कोई 30 बार मेरे साथ सम्भोग किया होगा, वो भी सिर्फ़ खानापूर्ति की।
रियान ने बोला ओह हो तभी तुम इतनी टाइट हो मेरी जान अब मैं हूँ न, तुम्हारी सारी हसरतें पूरी कर दूँगा, राजश्री मुस्कुरा कर रियान से चिपक गईं।
राजश्री ने लंड को मुठ्ठी में ले लिया और सहलाने लगीं, और बोली फिर से चोदोगे मुझे ?, रियान तुम्हें कोई शक है क्या ?
राजश्री उठीं और उसने पहले रियान के लंड को जी भर के चूसा और फिर घोड़ी बन गईं, रियान ने उस की चुत पर लंड रखा और एक दमदार झटके से पूरा लंड उस की चुत के अन्दर गाड़ दिया।
राजश्री बोली हाइईइ क्या एंट्री है तू कसम से चुदाई में मास्टर है, रियान उसे धीरे-धीरे मज़े ले – ले कर पेलने लगा।
फिर रियान ने पीछे से राजश्री की चूचियां पकड़ी और उसे जोर-जोर से चोदने लगा, उसकी आहें सिसकारियाँ रियान की रफ़्तार बढ़ाने का काम कर रही थीं।
कोई 10 – 12 मिनट की ताबड़तोड़ चुदाई से राजश्री झड़ गईं और निढाल होकर लेट गईं, अब रियान ने दुबारा लंड चुत में डाला और राजश्री की एक टांग उठा कर अपने कंधे पर रखी और ताबड़तोड़ लंड पेलने लगा।
राजश्री आहह उउफ्फ़ जान निकालेगा क्या हाय ईईई उउम्म्म्मह ऊओह वॉऊव मस्त है यार रियान बस मज़े लो मेरी जान तुम्हारी चुत बहुत टाइट है लंड पेलने में मज़ा आ गया वाआह ।
फिर रियान ने राजश्री की दूसरी टांग भी उठा कर कंधे पर रख ली और उस पर थोड़ा झुक कर अपनी पूरी ताक़त से उसकी चुत मारने लगा।
इस बार चुदाई का साउंड ज़्यादा तेज़ था फॅक फॅक ठप ठप के साथ में राजश्री की आहें और सिसकारियाँ भी गूँज रही थीं।
राजश्री ऊओह रियान लव यू जानूउऊउउ ववववू ओवव्वव आआहह उउउम्म्मह ऊओहूओ छोड़ूऊ और शाबाश मेरी जान करते रहो।
फिर कोई 12 – 13 मिनट की चुदाई के बाद रियान झड़ गया और राजश्री के ऊपर ही लेट कर अपने लंड का पानी उसकी चुत में छोड़ने लगा और साथ ने वो भी झड़ गईं।
वो दोनों ने थक कर एक-दूसरे को लंबा सा किस किया, वो दोनों पसीने से भीगे थे, रियान ने राजश्री को लव यू कहा और उठ कर अपने कपड़े पहन लिए।
रियान ने राजश्री से बोला मुझे आज एक बिजनेस मीटिंग में जाना है उन के साथ डिनर करके रात को 10 बजे तुम्हारे घर आ जाऊंगा।
फिर रियान घर चला गया और वहां से तैयार होकर मीटिंग के लिए निकल गया, मीटिंग के बाद फिर से राजश्री के घर चला गया।
राजश्री ने दरवाजा खोला, तो देखा उन्होंने एक साड़ी पहनी थी, अन्दर घुस कर रियान ने उन्हें बाहों में कस लिया और होंठों को चूम लिया।
रियान ने राजश्री के चूतड़ों पर हाथ फेरने लगा और बोला बहुत सुंदर लग रही हो, राजश्री बोली मुझे पता था आप दोबारा आओगे इसलिए सजी हूं।
राजश्री के मुँह से यह बात सुनकर रियान की उत्तेजना और बढ़ गई, उने राजश्री को उठाया और ले जाकर बेड पर लिटा दिया।
उन्होंने फटाफट अपने अपने कपड़े उतारे और दोनों पूरे नंगे थे , राजश्री पेट के बल लेट गईं, रियान उन की पीठ पर अपने होंठ फिराए।
अब राजश्री काफ़ी गर्म हो गई थीं, उसने रियान को नीचे लिटा कर 69 पोज़ में आकर उस का लंड चूसने लगीं और रियान उनकी चुत चाटने लगा।
5 – 7 मिनट बाद राजश्री उठीं और लंड को चुत में डाल कर ऊपर बैठ गईं, लंड को सही से एड्जस्ट किया और रियान के सीने पर हाथ टिका कर कूल्हे ऊपर-नीचे करने लगीं।
रियान बोला की तुम चुदाई की स्टाइल तो सारी जानती हो, कितनों के लंड लिए ? उन्होंने रियान के होंठ चूम लिए और बोली मुरली के बाद तूम पहले हो।
राजश्री की रफ्तार अब तेज़ हो रही थी, रियान उनकी हिलती हुई चुचियों को देख रहा था, उसने अपना हाथ उनके चूतड़ों पर रख कर सपोर्ट देने लगा ।
राजश्री आअहह वॉवववव क्या कड़क लंड है आपका ऊम्म्म अह अहईयइ उववू ओह्ह, वो थोड़ी देर बाद ही झड़ कर रियान के सीने से लिपट गईं ।
रियान ने उन्हें करवट लेकर नीचे किया और चोदने के लिए पोज़िशन बनाई, पर उनकी लस्त सी हालत देख कर रुक गया।
और अपना लंड राजश्री की चुत में डाले हुए उनके होंठ चूसने लगा और चूचियां को मसलने लगा, जब वो नॉर्मल सी हुईं तो रियान ने उनकी चुदाई शुरू की।
कुछ 10 मिनट की चुदाई के बाद राजश्री बोलीं रियान तुम एक बार फिर से मेरी दोनों टांगें अपने कंधे पर रख कर मुझे चोद ना।
रियान ने चुदाई रोकी और एक लंबा किस किया, फिर उनकी दोनों गोरी चिकनी टांगें अपने कंधे पर रख कर लंबे-लंबे और चुत की गहराई तक लंड पेलने लगा।
रियान की हर चोट पर राजश्री की आह निकली जा रही थी, कोई 10 मिनट की शानदार चुदाई के बाद वो दोनों झड़ गए।
एसी कमरे में भी वो दोनों पसीने से लथपथ चिपक कर किस करने लगे। एक दूसरे के बगल में लेट गए और फिर कुछ देर में सौ गए ।
सुबह 4 बजे रियान की आंख खुली तो देखा कि राजश्री की पीठ उस की तरफ थी, तो उसने राजश्री के नीचे की ओर देख कर उसकी गांड मरने की सोचा ।
रियान उठ गया और सिंगारदान में से एक तेल की शीशी लेकर बेड के पास रख दी, उस ने सोचा कि तेल से राजश्री की गांड मरने में बहुत मजा आयेगा ।
फिर रियान ने चादर हटाई तो राजश्री की चूतड़ उसके सामने थे , उसने उसे चूमना शुरू किया, और अपनी जीभ लगाकर राजश्री के गांड के छेद को चाटने लगा।
राजश्री नींद से जाग गई और वो फिर हल्की-हल्की सिसकारियां लेने लगी, तो रियान ने उसकी चूत में उंगली डाल कर चोदना शुरू कर दिया ।
राजश्री के तरबूज जैसे चूतड़ों में छिपी उसकी गांड को चाटकर रियान का जोश और ज्यादा बढ़ने लगा, कुछ देर बाद राजश्री बोली अब ऐसे ही तड़पाओगे या गांड भी मारोगे ?
रियान ने तेल की शीशी में से ढेर सारा तेल हाथ पर लिया और अपने पूरे लंड पर लगाया और काफी सारा तेल राजश्री के गांड के छेद पर भी लगाया ।
फिर अपनी उंगली भी तेल में डुबाकर राजश्री की गांड में उंगली से तेल को अंदर तक पहुंचाने लगा, 5 मिनट तक उन ने राजश्री की गांड में तेल से भरी दो उंगली चलयी।
राजश्री की गांड कुछ ढीली हो गई। रियान ने अपना लंड का टोपा राजश्री की गांड के छेद पर रखा और कमर पकड़ कर जोर का धक्का दिया।
अब लंड का टोपा राजश्री की गांड में घुस गया लेकिन उसके मुंह से जोर की चीख भी निकल गई, वो आईई ऊईई उफ्फ मर गई मर गई करने लगी।
रियान ने कहा बस कुछ पल का दर्द है फिर मजा ही मजा , राजश्री बोली आराम से करो, मैं 6 साल बाद गांड चुदाई करवा रही हूं ।
रियान तो टोपे को अंदर घुसा चुका था, फिर धीरे-धीरे वहीं से लंड को आगे पीछे करना शुरू किया और हर धक्के के साथ रियान हल्के से लंड को थोड़ा और अंदर घुसा देता था।
इस तरह से करते-करते पूरा लंड रियान ने राजश्री की गांड में उतार दिया और अब वो धीरे धीरे उस की गांड की चुदाई करने लगा।
रियान ने उसकी चूचियों को दबाना शुरू कर दिया, कुछ देर में राजश्री की गांड खुलने लगी और लंड थोड़ा सहजता से अंदर बाहर होने लगा।
10 मिनिट इस पोजीशन में चोदने के बाद रियान ने राजश्री को घोड़ी बनाया और गांड मरने लगा , अब राजश्री की गांड थोड़ी टाइट लग रही थी।
तो रियान ने अपने लंड पर कुछ और तेल डाला और लगातार अंदर बाहर करता रहा, जिससे राजश्री की गांड के अंदर तक तेल पहुंचता रहा।
फिर रियान ने अपनी स्पीड बढ़ा दी और उसकी जांघें राजश्री के चूतड़ों से टकराने लगीं, इससे रूम में पट-पट की आवाज होने लगी।
और साथ में राजश्री की तेज तेज कामुक सीखें माहौल को और भी खुशनुमा बना रही है फाक मि हार्ड रियान ह हह हह हो होहो और तेज मरो मेरी गांड।
राजश्री की गांड काफी टाइट थी 7 – 8 मिनिट की चूदाई के बाद रियान राजश्री की गांड में झड़ने लगा और पूरा माल गांड में खाली करने के बाद शांत हो गया।
रियान ने गांड से लंड निकाल लिया और राजश्री भी हांफती हुई सीधी लेट गई, उसका चेहरा पूरा लाल हो गया था।
राजश्री गांड चुदाई के बाद काफी खुश लग रही थी, फिर रियान ने अपने कपड़े पहन लिए और फिर वहां से निकल कर अपने घर आ गया।
अब रियान ने कई बार राजश्री की चूत और गांड मारी , एक दिन सुबह मुरली और रियान नाश्ता कर रहे थे तब रियान की नजर उसकी बेटी परी पर पड़ी।
परी एक खिलती हुई कली है। बेहद खूबसूरत परी पर जवानी कुछ ज्यादा ही मेहरबान है, उसका हर अंग सांचे में ढला हुआ है, इसके बाद तो।
रियान परी की जवानी को हासिल करने के लिए तड़पने लगा था, वह जब भी परी को कम कपड़ों में देखता था उसका लंड खड़ा हो जाता था।
रियान एक दिन सुबह परी के कमरे के बाहर से गुजर रहा था कि उसे फोन पर परी के बात करने की आवाज सुनाई दी ।
परी बोली नहीं सर प्लीज , फिर उधर से कुछ कहा गया, परी बोली प्लीज सर ओके मैं आ रही हूँ, इतना सुनकर रियान को शक हो गया की जरूर दाल में कुछ काला है।
आप मेरे साथ बने रहिए और इस रियान अंकल सेक्स कहानी पर किसी भी प्रकार की राय देने के लिए आप मेल पर मुझसे संपर्क कर सकते हैं.
[email protected]

यह कहानी भी पड़े  रियान अंकल 1 पार्ट 9


error: Content is protected !!