राजकोट मे मिली एक हसीन भाभी की चुदाई

हेलो, एवेरिवन आज मैं अपनी एक और रियल इंडियन सेक्स स्टोरी बताने जा रहा हू, मेरी पिछली स्टोरी के काफ़ी मेल्स आए थे मुझे और उसकी वजह से ही यह और एक घटना मेरी लाइफ मे बनी.

तो अब कहानी पे आता हू, मेरा नाम सागर है और मैं राजकोट(गुजरात) का रहने वाला हू, मेरी उम्र 26 साल है और मेरी बॉडी काफ़ी अछी तरह से बिल्ट है.

ये 2 हफ्ते पहले की बात है, मुझे एक भाभी का मैल आया और बताया की, आपकी स्टोरी मैने पढ़ी है और मैं आपसे मिलना चाहती हू, हमने कॉंटॅक्ट्स एक्सचेंज किए और एक दूसरे के साथ बात करने लगे, उसकी आवाज़ क्या कमाल की थी, उसने उसका नाम, जिज्ञा बताया, और उसकी उमर 30 ईयर बताई, उसका पति एक बड़ा बिज़्नेसमॅन था और वो मोस्ट्ली आउट ऑफ स्टेशन ही रहता था, जिसकी वजह से वो, काफ़ी अनसॅटिस्फाइड थी.

हमरी बाते अभी आगे बढ़ने लगी और धीरे धीरे हम सेक्स चॅट भी करने लगे, वो बहुत जल्दी गरम हो जाती थी और लगता था इसके साथ सोने से जन्नत की सैर हम दोनो को मिलेगी.

एक दिन उसने फोन किया और बताया की अगले दिन उसके पति बाहर जा रहे तो मैं उसके घर पहुच जाउ, मैने छुट्टी ले ली और क्लीन शेव उपर नीचे करके उसके घर पहुचने लगा.

मैने जब डोर बेल बजाई, तो उसने ही डोर ओपन किया, ओह माय गॉड क्या कयामत लग रही थी, जैसे परियो की रानी हो, मैं तो देखते ही दंग रह गया, उसने बताया, अंदर नही आओगे और एक नॉटी सी स्माइल दी, मैने कहा हा, आपने बुलाया तो आना ही पड़ेगा ना, फिर मैं ड्रॉयिंग रूम मे बैठा और वो मेरे लिए पानी लेकर आई.

यह कहानी भी पड़े  पति की सहमति से परपुरुष सहवास-2

उसने एक ब्लॅक कलर की स्लीव लेस नाइटी पहन रखी थी, और लग रहा था अंदर कुछ नही पहेना.

खैर उसकी साइज़, 34, 32, 38, क्या लग रही थी वो, उफफफफफ्फ़, उसकी अदा, उसका अंदाज़, उसकी चाल, ओह माय गॉड…

मैने पानी पिया और मेरे बगल मे बैठी वो, इधर उधर की बाते करने लगी, मेरी नज़र तो उसके बड़े रसीले ओर गोल गोल बूब्स पर से हट ही नही रही थी.

जिज्ञा- क्या देख रहे हो मेरे राजा?

मैं – कुछ नही, बस सोच रहा हू, उपरवाले ने क्या खूब बनाया है आपको, जी कर रहा है पूरी जिंदगी देखता ही राहु.

जिज्ञा- चल झुटे, इतनी भी सुंदर नही हू मैं.

मैं – अरे मेडम, आपको क्या पता आपकी सुंदरता, वो तो सिर्फ़ मेरे पैंट मे सोए हुए शेर को पता है, एक बार उनसे तो पूछ लीजिए.

जिज्ञा – क्या बात है, मेरा शेर अभी से इतना उतावला हो रहा है.?

ऐसा कह कर उसने मेरे लंड पे हाथ रख दिया और दबाने लगी, मैं सातवे आसमान पे था.

फिर मैने कहा अपना कमरा नही दिखाओ गी?

तो उसने कहा हा हा क्यू नही, आज मैने उसे सजाके रखा है, मैने उसे अपनी गोद मे उठाया और उसके सिहरे मे उसे अपनी बहो मे उठा के, उसके रूम की तरफ ले गया.

जैसे हमने रूम खोला, मैं तो देखता ही रह गया, उसने पूरा रूम सज़ा के रखा था, और इतने सेक्सी स्मेल आ रही, जी किया उसको ऐसे ही खा जाउ.

मैं – वा क्या बात है, जानेमन आपने तो ऐसे सज़ा के रखा है जैसे हमारी आज सुहाग रात हो.

जिज्ञा – हा, मेरा तो वैसा ही ख्याल है.

फिर मैने उसे, बेड पे पाटकाया और उसके उपर चढ़ गया, लेकिन वो इतनी जोश मे थी, और गरम हो गयी थी, उसने मुझे नीचे जाने दिया और खुद उपर आ गई.

यह कहानी भी पड़े  दोस्त के साथ मिल कर हाईफाई औरत की चूत गांड की चुदाई की-3

वो मेरे शर्ट के बटन एक एक करके खोलने लगी, मैं उसके बूब्स दबा रहा था, वो मेरे पूरे शरीर को किस करती एक एक कपड़ा उतार ती गई, और अपनी जीभ से मेरे सारे शरीर को गीला कर दिया, उफफफ्फ़ क्या माल लग रही थी वो, मैने भी देर ना करते हुए.

उसके सारे कपड़े निकाल दिए, और हम दोनो पूरे नंगे हो गये, वो धीरे धीरे, मेरे लंड से खेलने लगी, और एक ही झटके मे, उसे मूह मे भर लिए, ओह्ह्ह्ह्ह्ह, मेरे मूह से अव्वाज निकल गई, मैने उसे कहा धीरे करो जानेमन, यह शेर तुम्हारा ही हैं आज से, और वो, एक प्रोफेशनल की तरह मेरे 7 इंच के लंड को चूसने, लगी, और थूक लगाने लगी.

अब मेरी बारी थी, हम 69 पोज़िशन मे आ गये और मैने उसकी चूत पर अपनी उंगली घुमाई, उफफफफफ्फ़ उसके पूरे शरीर मे, वाइब्रेशन हो गयी और मेरे लॅंड को और अंदर डाल दिया, और अपनी चूत को मेरे मूह की और ढकलेने लगी.

मैने अपनी जीभ से, उसकी क्लीन शेव्ड चूत को, चूसना शुरू किया, आए हाए, क्या स्वाद था, उसकी पूरी चूत गीली हो गई थी, और इतनी चिकनी की मानो, गम पड़ रहा उसकी चूत से.

वो काफ़ी नशे मे आ गई थी, और 20 मिनट लंड चूसने के बाद मैने झड़ने वाला था, मैने बोला उसको तो उसने अपनी स्पीड और बढ़ा दी, और, मेरा वीर्या अपने मूह मे छोड़ गई, साथ मे वो भी मेरे मूह मे झड़ गई, ओह क्या टेस्ट था.

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2

error: Content is protected !!