पब्लिक टाय्लेट मे एक आंटी की चुदाई

public toile aunty ki chudai kahani मेरा नाम कबीर है. मेरा उमर 22 साल का हू. ये स्टोरी आज से 3 साल पहले की है सो तब मेरी उमर 19 साल की थी.

मई कॉलेज मे था और कॉलेज पटना मे था. एक बार क्या हुआ पूजा की टाइम पे कॉलेज बाँध दे दिया तो घर जाने के लिया हॉस्टिल से बस लेके पटना स्टेशन जाने वाला था. बस पे जब उठा तो बहुत भीड़ थी, जैसे तैसे उठ गया.

उठने के बाद देखा एक औरत सयद 40 साल की होगी और उनके साथ एक 10/12 साल का बचा था. मई उनके पीछे जाके खड़ा हो गया. बस मे बहुत भीड़ होने की वजह से मई धीरे धीरे उनके गांद को उपर से ही लंड से घिसने लगा.

मैने देखा की वो कुछ नही कह रही तो मुझे ग्रीन सिग्नल मिल गया. मई तोड़ा और दबके घिसने लगा और एक हाथ से भी उनकी गांद उपर से सहलाने लगा.

वो बस एक बार मुदके मुझे देखी और तभी मेने देखा उनका माथे पे सिंदूर है और हाथ पे सखा भी. तो मुझे लगा मई तो मुस्लिम हू सयद इसे ये पसंद नही होगा उनको इसलिए तोड़ा पीछे घिस लिया. पर जब लगे छूट या लंड पे आग तब कों किसका धरम देखते है.

मैने देखा की वो तोड़ा पीछे होने लगी. तो मई भी तोड़ा आगे घिसक लिया और मेरा लंड तो एक दम खड़ा हो गया. मई नज़र किया उनके एक हाथ ऐसे ही कमर पे रख दिया है.

तो मैने तोड़ा हिम्मत दिखके उनके हाथ पे हाथ रखा तो देखा उन्होने कुछ नही कहा. इसलिए धीरे से उनका हाथ लेके मेरे पंत की उपर से लंड पे रख दिया. इसके बाद क्या था.. उन्होने सहलाना शुरू किया.

कुछ दूर जाने के बाद मई पंत मे ही झार गया और उनको भी पता चल गया और हम स्टेशन भी पहुच गये. तो मई उतार के स्टेशन पहुच गया. फिर मई टिकेट लेके जाने ही वाला था की मैने देखा की वो आंटी भी टिकेट लाइन पे खड़ी है.

तो मई उनको लाइन मारना स्टार्ट किया उन्होने भी साथ दे रही थी. तो जब देखा उनका बचा तोड़ा दूर गया तो उनके पास गया और बोला अगर कुछ हो सकता है तो जल्दी बोलो, मेरी ट्रेन 1 घंटे बाद है.

उन्होने कुछ नही कहा और बोला वो अलीगार्ह जा रही है उनका ट्रेन 1. 5 घंटे बाद है. पर मुझे जिस क्वेस्चन का आन्स चाहिए था वो नही मिला. फिर कुछ देर बाद उनका बचा लौट आया.

मई उनके सामने की एक बेंच पे बैठ के टेडी नज़र से उनको देख रहा था. मैने देखा उन्होने उनके बचे को कुछ बोला और उनके बगल मे बैठा एक कपल को बोला कुछ और मेरे तरफ एक अजीब तरीके से देख के जाने लगे.

यार वो सारी पहनी हुई थी ब्लाउस ब्लॅक कलर की और सारी ब्लू चब्बी थी पर एक दम माल. मई भी तोड़ा वेट करके उनके पीछे चला. जब हम तोड़ा दूर गये उनके बचे हमे नही देख पता तब रोका और पूछा क्या हुआ?

मई: आपका नाम क्या है?

आंटी: रीना क्यू?

मई: आपको देख के रह नही पा रहा. मुझे पता है आपको भी चाहिए तो क्यू ना.

रीना: पागल हो यहा कहा करोगे वो सब?

मई: वो मुझ पे चोर दो.

क्यूकी मई बहुत सारी रंडी को छोड़ा था स्टेशन के बाहर एक टाय्लेट है उसमे उनका ओनर मेरा जाना पहचाना है.

रीना: ठीक है फिर जल्दी करो.

मई : अपने आपका बचे को क्या कहा?

मई टाय्लेट की और जाते हुआ पूछा.

रीना : उसको बोला मई खाना ख़ाके आती हू तू यही रुक समान का ढयन रख.

मई : अतचा जी. आपका हज़्बेंड कहा है?

रीना: तुम वो सब क्यू पूछ रहे हो जिससे मतलब है उसमे रहो.

मई : ओक.

और हम वाहा पोुछ गये और रीना आंटी मस्क पहें लिया.

ओनर: क्या आज पताका लेके आया.

मई: पैसा तोड़ा ज़्यादा फेका था.

ओनर : 500

मई : ये लो.

उसके बाद हम अंदर चले गये और रीना आंटी पूछा.

रीना : 500 क्यू लिया?

मई: अरे प्राइवसी के लिया. बाहर क्लोज़ लिख देगा अब.

रीना : अछा

फिर जब अंदर आ गये तो उनको पेट मई पकड़ के खिच के पास ले आया और किस करने लगा. मई उनके पूरा मूह चूस रहा था साथ मई उनके नेक कान सारे छत रहा था रीना आंटी मज़े से सिसकिया ले रही थी.

उनका पूरा मूह कुछ ही देर मे गीला हो गया. और आंटी ने धीरे धीरे मेरा शर्ट का बोट्तों भी खोल दिया और वो मेरे छाती पे हाथ फेरने लगी. मई जिम जाता था सो मेरा बॉडी भी कड़क है.

रीना: यार तुम्हारी बॉडी तो मस्त है.

ये कहके उन्होने मेरे निपल्स को चूसने लगा और साथ ही मेरे छाती को चाटने लगा और मई पेक्स को भी. इसी दौरान मई उनके बूब्स ब्लाउस की उपर से बड़ा रहा था. कुछ देर चाटने के बाद रीना नीचे बीत गया और मेरा पेंट उतार दी और हेरन होके बोला-

रीना: तुम्हारा इतना बड़ा और मोटा है?

मई: क्यू आपका हज़्बेंड का इससे छोटा है क्या?

रीना: हा इसका आधा है लगभग.

दोस्तो मेरा लंड अवग लंबा है पर मोटा बहुत है. मेरा लंड 6. 5इंच का है और मोटा लग भाग. 3 इंच का. उनको चूसने को बोला और वो चूष्ने लगी.

तब मई उनको वाहा मेरे शर्ट नीचे देके लेट ने को कहा तो उन्होने वोही काइया फिर मई उनके उपर आके मेरा लंड उनके मूह पे रख के छोड़ने लगा. वो तो हापने लगी थी और पूरे रूम मई पाउच पाउच की आवाज़ आ रही थी..

रीना : अछा

फिर जब अंदर आ गये तो उनको पेट मई पकड़ के खिच के पास ले आया और किस करने लगा. मई उनके पूरा मूह चूस रहा था साथ मई उनके नेक कान सारे छत रहा था रीना आंटी मज़े से सिसकिया ले रही थी.

उनका पूरा मूह कुछ ही देर मे गीला हो गया. और आंटी ने धीरे धीरे मेरा शर्ट का बोट्तों भी खोल दिया और वो मेरे छाती पे हाथ फेरने लगी. मई जिम जाता था सो मेरा बॉडी भी कड़क है.

कुछ देर के बाद मई उनके मूह पे ही माल चोर दिया. उनको पहले तो अतचा नही लगा पर बार बार बोलने पर निगल लिया सारा. उसके बाद उनको उठाया और ब्लाउस उपर करके उनका ढूढ़ चूसने लगा.

मई ज़ोर ज़ोर से चूष रहा था और वो आहे भर रहे थे. फिर उन्होने मुझे हटाया और बोला की इतने टाइम नही अब छोड़ो जल्दी से फिर मई उनका सारी उठाया और पेंटी उतार दी.

बोला की चाट डू क्या तो उन्होने तोड़ा चाटने को कहा. मई तो मूह पे लेके जैसे कचा खा जौ ऐसे खाने लगा था. एक दम वो ज़ोर ज़ोर से सिसकिया ले रही थी.

कुछ देर बाद मई बोला आप सो जाओ और वो सो गयी. फिर मई उनके उपर आया और लंड मूह पे देके मई छूट चाटने लगा 69 पोज़िशन पे. उसके बाद मई देखा मेरा ट्रेन जाने मे बस 25 मीं बचे है.

तो उनको उठाया और सामने दीवार पकड़ के खड़े होने को कहा, उन्होने वैसा ही काइया. और पे पीछे से उनका दोनो बूब्स हाथ मई लेके उनको मेरा लंड छूट पे सेट करने को कहा.

उन्होने जैसे ही सेट काइया मैने एकदम ज़ोर से एक झटका मारा. वो तो बहुत ज़ोर से चीख उठी पर तभी मई एक हाथ लेके उनके मूह पे रख दिया.

2 मिन्स वेट काइया जब दर्द कम हुआ उन्होने बोला अब करो और फिर क्या था. पीछे से एक हाथ से गांद को सहला रहा था और दूसरी हाथ से सारी जो उठाया था उसको ज़ोर्से पकड़के ज़ोर ज़ोर से छोड़ने लगा. और रीना आंटी आहे भरने लगे आह आह आह ओह आह आह आह…

रीना: और ज़ोर से छोड़ा फर दो आज एक ही मौका है.

मई: रुक आज घर नही जा पाएगी ऐसा हाल करूँगा तेरी.

रीना: आह आह ओह एमेम आह आह…

मई: आंटी अब लेट जाओ.

रीना : ठीक है.

वो लेट गयी तो मई उसका एक लेग कंधे पे लिया और बीच मई से लंड घुसके एक हाथ से लेग को ज़ोर से पकड़ा और दूसरे से बूब्स को सहलाने लगा और ज़ोर ज़ोर से छोड़ने लगा.

मई : आह ओह आंटी मस्त माल हो आप आज भी आपका छूट इतना मस्त है.

रीना: मेरे पति इतना छोड़ता नही ना (हफ्ते हुआ बोली) आह आह छोड़ आह ओह..

मई: जी.

ऐसे ही छोड़ता रहा और करीब 10 मिन्स छोड़ने के बाद उनका लेग चोर दिया. और मिशनरी पोसितों पे उनको बहुत ज़ोर से छोड़ने लगा. उनके मूह से आह के था चीख भी निकल रही थी.फ्फ़िर मई उनके अंदर ही झार गया.

जब सब ख़तम हुआ तो थोड़ी देर उनके उपर ही सो लिया और उठके उनको फिर से चूसने को कहा.

रीना: तुम्हारे ट्रेन छूट जाएगी.

मई: वो मुझे सोच ने दो, तुम चूसो.

रीना: ओक.

वो फिरसे मूह मई लेने से झट से खड़ा हो गया. रीना के बाल एक दम बिछड़ा हुआ था उनका ब्लाउस खुला हुआ दूध झूल रहे थे. सारी उपर काइया हुआ था पूरा बॉडी लाल हो चुका था. तो मुझे लगा लास्ट शॉट दे डू.

तो उनको फिर से घुटनो के बाल झुकने को कहा और वो बैठ गयी. मई भी उनके पीछे बैठ गया और लंड को छूट पे लगा के ज़ोर ज़ोर से छोड़ने लगा. और धीरे से उनके दोनो हट पकड़के पीछे लिया. एक हाथ से दोनो हाथो को ज़ोर से पकड़ लिया और उनको पूरा लिटा दिया. उनकी गांद मेरे सामने थी.

और तब दोनो हाथो से उनका दोनो हाथ पकड़ा और मिशनरी पोज़िशन पे कुछ देर चुदाई के बाद अचानक से गांद की चीड़ मे लंड लगा के एकदम से ज़ोर से घुसा दिया. फिर भी पूरा नही गया, आधा गया और वो एक दम से चिल्लाने लगी.

तो मई उसकी सर पकड़ के मेरे तरफ काइया और किस करने लगा. थोड़े देर बाद मई उसको चोर दिया और वो रोने लगी.

रीना: बहुत ही ज़्यादा दर्द हुआ यार.

मई : कोई नही अब मज़ा आएगा देखना.

रीना: फिर भी धीरे करो.

मई : ओक.

मई कहा सुनने वाला था मुझे ट्रेन भी पकड़ना था. तो मई ज़ोर ज़ोर से छोड़ने लगा वो कभी दर्द से कभी मस्ती से आह आह करने लगी. तब मई उनको घुटनो के बाल छोड़ने लगा.

उनके बाल पकड़ के बहुत ही ज़ोर से छोड़ रहा था. पूरा टाय्लेट पे ठप ठप की आवाज़ आ रही थी. उंकु गांद और मेरा थाई की लगने से वैसे. 10 मिन्स छोड़ने के बाद मई सारा पानी उनकी गांद मे गिरा दिया और बाकी का उसने चूस लिया.

फिर वो खड़ी होके सारी ठीक करके चलने लगी. तो मैने देखा वो तोड़ा उछाल उछाल के जा रही है. फिर कुछ दूर जाके फार्मेसी से एक दर्द की डॉवा और दूसरा प्रेग्नेंट ना हो इसकी डॉवा खिलवाई और ले गया स्टेशन पे.

मेरी ट्रेन तो छूट गयी थी. फिर जब वो उनकी बचे की पास जाके बैठी तो उनके पास जो कपल बैठा था उनको पता चल गया हालत देख के और वो दोनो मुझे देखने लगे. फिर उसके पति ने मेरा नंबर माँग लिया.

ओर भी जवान भाभी लड़किया ओर आंटी को हॉट बाते करना ही तो आप मैल करे [email protected] आप की सारी डीटेल्स एक दम सीक्रेट रहेंगी उससे आप लोग बेफ़िक्र रहे.

फीडबॅक देना तो पार्ट 2 आएगा नही तो नही आएगा. अगर पसंद नही आया तो बेकार हो जाएगा.

यह कहानी भी पड़े  मम्मी के चुदाई बुड्ढे ने की-1

error: Content is protected !!