पास होने के लिए ठरकी टीचर से चुदने की कहानी

नमस्कार दोस्तों। जैसा कि आपने मेरी कहानी के पहले भाग में देखा कि कैसे मुझे मेरे ट्यूशन टीचर से प्यार हो गया। और उसने कैसे मेरे प्यार का फायदा उठा कर मेरे साथ 2 साल तक लगातार संबंध बनाए।

अगर आपने वो कहानी नहीं देखी, तो पहले जा कर उस कहानी को देखें। तभी आप को ये कहानी समझ आएगी। तो समय को बरबाद ना करते हुए हम अगली कहानी शुरू करते हैं।

अब में 21 साल की हो चुकी थी, और मेरी सील तोड़ने वाला मेरा ट्यूशन टीचर अर्जुन भी अलीगढ़ जा चुका है। अब मैंने पोस्ट ग्रेजुएशन कॉलेज में एडमिशन ले लिया था। जो की नोएडा में है।

और अब अर्जुन के मेरे साथ बार-बार करने के कारण मेरा फिगर थोड़ा सा चेंज हो गया था।

अब मैं एक काफी हॉट लड़की बन चुकी थी,‌ और मुझे अब करने में काफी मजा आने लगा था।

इसलिए कॉलेज स्टार्ट होने से पहले मैं 3 दिन के लिए मम्मी-पापा से बोल कर अर्जुन के साथ आगरा जाती हूं। वहां हम आगरा घूमते हैं, और इन तीन दिनों में वो मेरी जम कर चुदाई करता है। मुझे भी बहुत मज़ा आता है।

फिर जब अर्जुन जब नींद में होता है,‌ तो मैं उसका मोबाइल चेक करती हूं। जिसमें वो मेरे साथ-साथ काफी लड़कियों से बात करता है।

इसलिए कॉलेज आकर मैं भी सोचती हूं,‌ कि मैं भी अब जवानी का आनंद लूंगी। जिस दिन मेरा कॉलेज होता है। उस दिन मुझ पर एक सीनियर की नज़र आ जाती है।

जिसका नाम मोहित होता है, और वो 24 साल का होता है। फिर 3-4 दिन बाद वो मुझे प्रपोज करता है।

मेरे साथ कॉलेज में कोई रैगिंग ना करे, इसलिए मैं उसे अपना बॉयफ्रेंड बना लेती हूं।

शुरुआत में तो हम पार्क में जाते हैं। पर वहां उसे मेरे साथ ऊपर-ऊपर से करना पड़ता है। इसलिए वो मुझे कमरे में बुलाता है। मैं अब बरेली से नोएडा आ चुकी थी, और घर से अलग रहती थी।

इसलिए मैं अब जो चाहूं वो कर सकती थी। फिर मैं उसे हां बोल देती हूं, क्योंकि ये मेरा पहली बार नहीं होता। वो मुझे एक कमरे में ले कर जाता है, जहां पर पहले तो वो मुझे किस करता है।

उसके बाद मेरी चूचियों साथ खेलता है। फिर मेरी चूचियों को चूसता है, और उसके बाद मुझे चोदने लगता है। हम उस दिन 8-9 घंटे कमरे में रहते है, और साथ में बहुत एन्जॉय करते हैं।

हमारा 6 महीने का रिश्ता रहता है। जिसमें वो कई बार मेरी चुदाई कर देता है। उसके बाद मेरे एग्जाम होते हैं, और मेरी एक सब्जेक्ट में कम्पार्टमेंट आ जाती है। वो सब्जेक्ट एक ठरकी टीचर पढ़ाते होते हैं। जिनका नाम विक्रम है। और उनकी उम्र 27 है। वो अभी कुवारे होते हैं, और कॉलेज के प्रोफेसर हैं।

इसलिए वो अपनी हवस कॉलेज की बिगड़ी हुई लड़कियों से मिटा लेते हैं। और इस वजह से उन्हें शादी की जरूरत नहीं पड़ती, ना ही किसी को गर्लफ्रेंड बनाने की।

मेरी बेस्ट फ्रेंड मुझसे बोल देती है, कि “जा कर विक्रम सर से बात कर ले। वो तुझे भी पास कर देंगे।”

इसलिए मैं उनके पास चली जाती हूं, और उनसे पास करने की गुजारिश करती हूं। लेकिन वो बहुत नखरे दिखाते हैं। फिर हमारे बीच में बात होती है। मैं उनसे जा कर कहती हूं।

मैं: सर मेरे केमिस्ट्री में मार्क्स थोड़े से कम हे। आप मेरे थोड़े मार्क्स बड़ा दीजिए।

विक्रम सर कहते है: नेहा मैं तुम्हारी इस चीज में कोई मदद नहीं कर सकता। मुझे परेशान मत करो और अच्छे से पढाई करो। अभी तुम फेल नहीं हुई हो, बस कंपार्टमेंट है तुम्हारी।

मैं उनसे कहती हूं:

ठीक है सर। पर आप मुझे महत्वपूर्ण प्रश्न बता दीजिए कि अगले पेपर में क्या-क्या आएगा।

विक्रम सर कहते है: वहीं जो मेने पूरा सेमेस्टर पढ़ाया है।

मैं उनसे कहती हूं: सर आपने बहुत कुछ पढ़ाया है। उन सब में से क्या आएगा?

विक्रम सर कहते है: मुझे माफ करो और परीक्षा की तैयारी पर फोकस करो।

मैं उनसे कहती हूं: सर प्लीज सर, कुछ मदद कर दो, वरना मैं फेल हो जाऊंगी।

विक्रम सर कहते है: सॉरी, मैं कोई मदद नहीं कर सकता तुम्हारी।

मैन उनसे कहती हूं: सर आप जो कहोगे मैं वो करुंगी। प्लीज मुझे इस एग्जाम में पास कर दो।

अगले सेमेस्टर में मैं सही से पढ़ूंगी।

ये सुन कर विक्रम मुझसे बोलता है: क्या कर सकती हो तुम मेरे कहने पर?

मैं उनसे कहती हूं: जो भी आप कहेंगे।

विक्रम सर कहते है: जाओ, जा कर परीक्षा की तैयारी करो।

फिर मैं रोने लगती हूं।

विक्रम सर कहते है: ठीक है, दूसरा काम बोलता हूं, वो कर पाओगी?

मैं उनसे कहती हूं: हां कर लूंगी।

विक्रम बहुत ज्यादा ठरकी होता है, और उसकी मुझ पर भी गंदी नज़रें होती है। और आज मैं उसके पास खुद चली जाती हूं।

विक्रम सर कहते है: जाओ मेरे ऑफिस का गेट अंदर से लॉक कर दो। मैं तुम्हें आजमाना चाहता हूं, कि तुम मेरे कहने पर कुछ भी कर पाओगी या नहीं।

मैं ऑफिस का गेट अंदर से बंद कर देती हूं।

विक्रम सर कहते है: अगर पास होना है, तो जो मैं कहूंगा वो करना पड़ेगा। मैं तुम को तीन साल पढ़ाऊंगा। हर सेमेस्टर का एक विषय है मेरे पास। और बाकी और सब्जेक्ट के भी मैं तुम्हें महत्वपूर्ण प्रश्न निकाल कर दे दूंगा। बस तुम्हें मुझे थोड़ी गुरु दक्षिणा देनी होगी।

फिर मैं कहती हूं: क्या देना होगा मुझे आप को गुरु दक्षिणा में?

विक्रम सर कहते है: वो मैं बाद में बताउंगा।

पहले मुझे भरोसा दिलाओ के तुम मेरे कहने पर कुछ भी कर सकती हो।

फिर मैं उनसे कहती हूं: आज़मा लिजिये आप मुझे।

विक्रम सर कहते है: ठीक है, अपने कपड़े उतार दो।

ये सुन कर मैं अपनी टी-शर्ट उतार देती हूं, और अपनी ब्रा भी।

फिर वो मुझे अपने पास बुलाते हैं, और मेरी चूचियों को चूसते है, और मेरी चूत मैं ऊंगली डाल कर एन्जॉय करते हैं। फिर जब वो मुझे चूस लेते है, वो कहते हैं-

विक्रम सर: जब तक तुम इस कॉलेज में हो, मैं तुम्हे ट्यूशन पढ़ाऊंगा। और जब मैं कहता हूं।

जहां में कहता हूं, वहां आना पड़ेगा।

मैं ठीक है कह कर उनके ऑफिस से बाहर आ जाती हूं। और फिर अगले दिन वो मुझे अपने कमरे में ले जाते हैं। उन्हें यहां रूम मिला होता है। वैसे वो बिहार के होते हैं।

जब मैं उनके कमरे में पहुंचती हूं, पहले वो मुझे किस करते हैं। उसके बाद मेरे कपड़े उतार देते हैं। मैं पूरी नंगी होती हूं उनके सामने। वो मुझे बिस्तर पर लिटा कर मेरी चूचियों को चूसने लगते हैं। फिर मेरी सिसकारी निकलने लगती है,‌और वो अपना लंड बाहर निकाल लेते हैं।

फ़िर वो मेरी चुत में उंगली डाल कर उससे चोदने लगते हैं। फिर मैं अपना पानी छोड़ देती हूं, और वो अपना लंड निकाल कर मुझे चोदने लगते हैं।

विक्रम एक 27 साल के आदमी होते है, और उन्हें बहुत अच्छा एक्सपीरियंस होता है‌ लड़कियों के साथ का। इसलिए उस दिन वो बिस्तर पर मुझे तोड़ कर रख देते है। वो उस दिन मेरी जम‌‌ कर चुदाई करते हैं। मैं उनके कमरे में उस दिन 6 घंटे रहती हूं,‌ और वो उस दौरान मुझे कई बार चोद देते हैं।

उनसे अच्छे से चुदवा कर मैं अपने कमरे में आ जाती हूं। फ़िर मैं रोज़ उनके कमरे में 3-4 घंटे के लिए जाती हूं, जिसमें वो मुझे बस 15-20 मिनट पढ़ाते थे। बाकी समय मेरी जम कर चुदाई करते थे।

मैं अपनी बी.एस.सी. और एम.एस.सी. उसी कॉलेज से करती हूं।

इसलिए मेरा उनके साथ 5 साल का रिश्ता रहता है। और इस दौरान विक्रम का जब मूड होता है,‌ वो मुझे चोद देता है। मुझे बॉयफ्रेंड बनाने की भी जरूरत नहीं पड़ी। जब तक कॉलेज खत्म होता है मेरी उम्र 26 साल हो जाती है,‌‌ और विक्रम मुझे चोद-चोद के मेरा पूरा फिगर खराब कर देते हैं।

पर उसके बाद भी मैं काफी लड़कों से चुदवा लेती हूं। अपने कॉलेज के बाद वाली जिंदगी की कहानी। मैं अगले पार्ट में बताऊंगी।

यह कहानी भी पड़े  डॉक्टर सोनल की चुदाई की कहानी


error: Content is protected !!