पड़ोसन लड़की को उसकी बहन के सामने चोदा

सभी को नमस्कार। मैं राज हूँ, उम्र 25, मुंबई से। खैर कहानी पर आता हूँ। मैं अपनी हाल ही में घटी घटना के साथ वापस आया हूँ। मेरे साथ हमारे फ्लैट के पास एक छोटा सा घर था। वहां एक दंपत्ति अपनी 2 बेटियों के साथ रहते हैं। मैं उन्हें पिछले 15 साल से जानता हूं।

अब वो दोनों बेटियां कॉलेज चली गयी। उनकी उम्र में 1.5 साल का अंतर था। लेकिन उनके पिता रात को शराब पीकर आये, और अपनी पत्नी से झगड़ा किया। 3 महीने पहले उसकी पत्नी उन्हें छोड़कर चली गई।

वह अपनी 2 बेटियों की देखभाल करने में सक्षम नहीं था। वह रात को आया और सो गया। उनकी पत्नी के चले जाने के बाद उनका दैनिक जीवन बर्बाद हो गया।

मैं उन दोनों लड़कियों को तब से जानता था, जब वे बहुत छोटी थीं। उनके नाम सपना और सारिका हैं। वे कॉलेज में पढ़ रही थी। मुझे नहीं पता कि वे कैसे पढ़ते थी, लेकिन दोनों के बॉयफ्रेंड थे। दोनों ही खूबसूरत लग रही थीं, लेकिन छोटी वाली ज्यादा सेक्सी थी। वे दोनों दुबली-पतली हैं। जब भी हम एक-दूसरे का सामना करते हैं तो मुस्कुराते हैं।

एक दिन जब मैं अपने ऑफिस से अपने फ्लैट पर लौट रहा था, तो मैंने देखा कि उनके घर के सामने कुछ लोग उलझे हुए थे। मैं उनके दरवाजे पर गया। खूब जमघट लगा। मैं 1 घंटे से बाहर इंतज़ार कर रहा था। उसके बाद मैंने उनके मुख्य दरवाजे पर दस्तक दी। सारिका ने दरवाज़ा खोला। उसने मेरे प्रश्न का उत्तर दिया, कि उसकी बड़ी बहन सपना अपने प्रेमी के साथ राज्य के बाहर किसी होटल में गई थी, सेक्स करने से ठीक पहले सपना को कुछ बीमारी महसूस हुई।

वह घबरा गई और उन्होंने वापस लौटने का फैसला किया। उसके बॉयफ्रेंड ने उसे छोड़ दिया, क्योंकि वह कोई सामान्य लड़की नहीं थी। इससे सपना को बहुत दुख हुआ। मैंने देखा सपना अपने बेडरूम में रो रही थी। फिर मैं वहां से लौट आया।

2 हफ्ते बाद मैंने देखा कि सपना मोबाइल फोन से बात कर रही थी, और मुस्कुरा रही थी। मैंने उसकी कॉल खत्म करने के बाद उससे पूछा कि वह कैसी थी? उसने जवाब दिया कि वह अब ठीक थी, लेकिन उसे विश्वास नहीं हो रहा था कि उसके प्रेमी ने उसे छोड़ दिया‌था। मैंने उसे उसकी किस्मत के लिए सांत्वना दी।

फिर 1 हफ्ते के बाद मुझे उसका पिता सड़क पर मिला। उन्होंने मुझसे कहा कि सपना की शादी के लिए कोई अच्छा लड़का ढूंढो। मैंने उससे कहा कि इसी वजह से मुझे उससे बात करनी होगी। वह मुझे अपने घर ले आया। शाम के बाद का समय था। मेरे सपना के सामने बैठने के बाद वह शराब पीने के लिए घर से बाहर चला गया।

उस वक्त सारिका वहां नहीं थी। मैंने सपना से कहा कि उसके बाद उसे क्या करना था, और वह क्या चाहती थी? उसने शर्मनाक तरीके से कहा कि कोई भी पुरुष उससे शादी नहीं करता, क्योंकि उसे सेक्स से डर लगता था। मैंने उससे कहा कि अगर वह सच-मुच अपने डर से बचना चाहती थी, तो मेरे साथ मिल कर अपने डर पर काबू पाए। वो कुछ नहीं बोली लेकिन उसके चेहरे ने मुझे अपने मन की बात आगे बढ़ाने का इशारा किया।

मैंने उसे दिखाने के लिए अपना स्मार्टफोन निकाला, और अपना पोर्न वीडियो खोला। वह मुझसे कहती रही कि उसे सेक्स पसंद था लेकिन जब भी उसका प्रेमी उसके गुप्त शरीर के अंगों (योनि) में उंगली करने की कोशिश करता, तो वह घबरा जाती‌थी। वह कभी-कभी उसके चेहरे पर थप्पड़ मारती थी। उसने मुझे यहां तक बताया कि उसके बॉयफ्रेंड ने उसे बहुत सारे पॉर्न वीडियोज़ भी दिखाए।

मैंने सपना के साथ अपने वीडियो दिखाने का प्लान रोक दिया। मैंने उससे कहा कि यदि संभव हो तो अपना मुँह और योनि साफ कर ले या अभी नहा ले। उसने पहली पसंद को प्राथमिकता दी और बाथरूम में चली गई।

जब वह मेरे पास आई तो मैंने उसे बिस्तर पर बैठने के लिए कहा। मैंने उससे कहा कि मुझसे मत डरो। उसने धीरे से मुझे जवाब दिया ‘तुम कुछ भी करो लेकिन मुझे प्रेग्नेंट मत करो।’ मैं मुस्कुराया और धीरे-धीरे उसके बाल खींचे, और उसके गले और गर्दन पर गुदगुदी करने लगा। वह गहरी साँसे ले रही थी। फिर मैंने उसकी मैक्सी उतार दी, और उसकी ब्रा भी उतार दी।

उसके काले निप्पल वाले छोटे सफेद स्तन लटक रहे थे, और मैं उसके दोनों स्तन दबा रहा था। उसके निप्पल खड़े हो गये थे। फिर मैं अपनी उंगलियां उसके पेट की तरफ ले गया, और उसकी नाभि के अंदर अपनी उंगली डाल दी। ऐसा लग रहा था कि उसे अपनी ख़ुशी का एहसास होने लगा है।

फिर मैंने उससे कहा कि वह बिल्कुल भी शर्म ना करे,‌‌ और अपनी पैंटी खोल कर मुझे अपनी योनि दिखाए। उसने झिझकते हुए अपनी पैंटी उतार दी, और बिस्तर पर बैठ गई और अपने दोनों पैरों पर स्प्रे करके मुझे अपनी खुली योनि दिखाई। उसकी छोटी काली योनि के चारों ओर छोटे-छोटे बाल। मैंने धीरे से अपनी हथेली उसकी योनि पर रखी। मेरे स्पर्श से उसके शरीर में कंपन हो गया। मैंने उसकी योनि को सूंघा, और कुछ देर तक उसकी योनि को चाटा।

अपनी जीभ से चिकनाई करने के बाद मैंने धीरे से अपनी बीच वाली उंगली उसकी योनि के छेद में डाल दी।

मुझे ऐसा लगा जैसे उसकी योनि मेरी उंगली पर काट रही हो। वह पूरी तरह नग्न थी। फिर मैंने अपनी उंगली उसकी योनि के अंदर बहुत तेजी से घुमाई। मैं अपने बाएं हाथ से उसके छोटे स्तनों से खेलता रहा। 10 मिनट के बाद उसकी योनि और अधिक फिसलन भरी हो गयी।

उस समय मैंने अपनी सारी उंगलियां उसकी योनि के अंदर डाल दीं, और धीरे-धीरे उसका छेद चौड़ा कर दिया।

फिर मैंने उसे बिस्तर के पास खींच लिया और उसके दोनों पैरों को ऊपर की ओर पकड़ लिया। मैंने अपनी पैंट की ज़िप खोली, और अपने खड़े लिंग से उसकी योनि को छुआ। वह मुझसे बार-बार कहती थी कि उसे गर्भवती मत बनाओ। मैंने उससे कहा कि इस बारे में चिंता मत करो।

फिर मैंने धीरे से अपना लिंग उसकी योनि के अंदर डाल दिया। यह तंग था। मैंने महसूस किया कि उसकी योनि ने मेरे लिंग को कस कर पकड़ लिया था। फिर मैंने अपना हाथ उसके पैरों से हटा कर उसके हाथों की तरफ कर दिया। मैं उसके पूरे शरीर को चूमने लगा। उसने मुझसे उसकी योनि को देखने के लिए एक शीशा लेकर आने का अनुरोध किया।

फिर मैंने उसे एक लुकिंग ग्लास दिया, और फिर से अपना लिंग उसकी योनि में डाल दिया। उसे बहुत शर्म महसूस हुई, और वह इसे और नहीं देखना चाहती थी। फिर उसने मुझसे सारी लाइटें बंद करने को कहा। मैंने वैसा ही किया जैसा उसकी इच्छा थी।

फिर अंधेरे में मैंने उसे फिर से चोदना शुरू किया, लेकिन इस बार मैंने उसे डॉगी स्टाइल में कर दिया। मुझे लगा कि उसका वजन बहुत हल्का था। फिर मैं पूरा नंगा हो गया और उसे आमने-सामने बैठ कर चोद रहा था। मैं उसके होठों को बहुत गहराई से चूम रहा था।

तभी अचानक किसी ने लाइट जला दी और हमें चुदाई करते हुए देख लिया। यह उसकी बहन सारिका थी। घर में प्रवेश करने के लिए उसके पास डुप्लीकेट चाबी थी। उस वक्त हम दोनों को बहुत शर्मिंदगी और परेशानी महसूस हुई। पहले तो वो हमें इस हालत में देख कर चौंक गयी। बाद में वह मुस्कुराते हुए हमारे पास आईं और शरारत से हमसे पूछा कि हम क्या कर रहे थे? उसने हमारे पेट की स्थिति में हमारे मुख्य बिंदु को भी देखा।

सपना ने दाएं हाथ से अपने दोनों मम्मे और बाएं हाथ से अपना चेहरा छिपा लिया, और मुझसे अलग हो गई। मेरा खड़ा लिंग उसकी योनि से बाहर आ गया और सारिका आश्चर्य से मेरे लिंग को देखने लगी। उसने सपना से कहा कि उसका सेक्स का डर खत्म हो गया था। उसने फिर कार्रवाई जारी रखने को कहा लेकिन सपना ने उसका हाथ पकड़ लिया, और कहा कि हमारे साथ रहो।

मेरे दिल की धड़कन तेज़ चल रही थी। क्योंकि मुझे सपना को उसकी बहन सारिका के सामने चोदना था। मिशनरी पोजीशन में मैंने सपना को चोदना शुरू कर दिया। सारिका ने सपना के माथे पर हाथ फिराया। इस बार सारिका ने मेरे लिंग को सपना की योनि के अंदर देखा। दूसरे हाथ से उसने सपना की योनि को छुआ। कभी-कभी वो मेरे लिंग को भी छू लेती थी। सारिका ने भी मेरे चेहरे की तरफ देखा।

उसने मुझसे कहा, ‘तुम मेरी बहन को सेक्स के बारे में सिखाओ। वह सेक्स के मामले में बहुत कमजोर है। तुम उसे चोद कर उसकी समस्या ठीक कर दो। अब वह किसी से शादी कर सकती है।’

लेकिन मुझे स्खलित महसूस हो रहा था। उसकी योनि के अंदर वीर्यपात करना बहुत जोखिम भरा था। मैंने उसकी चुदाई रोक दी। फिर मैंने उसकी योनि को चूसा। सारिका को भी हमें देख कर गर्मी महसूस हुई। मैं बिस्तर से नीचे आया और खड़े होकर उसे 1 मिनट तक चोदा और 2 मिनट तक उसकी योनि को चूसा।

इस तरह हमने करीब 30 मिनट तक एन्जॉय किया। सारिका ने भी हमें आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया। तभी सपना को पेशाब करने का मन हुआ और वो बाथरूम में चली गयी। मैं सारिका के सामने नंगा खड़ा था। उसने मेरा खड़ा लंड पकड़ लिया और देखती रही। उसने अपनी हथेली से मेरे अंडकोश को भी तौला। फिर उसने मेरी चमड़ी को हल्के से पीछे की ओर धकेला। फिर वो मेरे लंड को सूंघने लगी। उसने 10 सेकंड तक मेरा लंड चाटा। जब सपना बाथरूम से लौटी तो उसने मेरा लंड छोड़ दिया।

फिर मैंने सपना को फिर से बग़ल में चोदना शुरू कर दिया, ताकि सारिका इसे साफ़ देख सके। सारिका ने केवल इन चुदाई वाले हिस्से में कुछ तस्वीरें और वीडियो लीं। 10 मिनट तक उसे चोदने के बाद मैंने उनसे कहा, कि अब झड़ने का समय हो गया था। सपना ने फिर मुझसे कहा कि मैं उसकी योनि के अंदर वीर्य ना गिराऊं। मैंने उसे पीछे से गले लगा लिया और उसकी चुदाई रोक दी।

मैंने अपने दोनों हाथों से उसके दोनों स्तन पकड़ लिये। मैंने अपने लिंग को उसकी योनि से थोड़ा बाहर निकाला, हालांकि मेरे लिंग का टोपा अभी भी उसकी योनि के अंदर ही था। मैंने उसकी गर्दन पर अपना चेहरा रखा और अपना वीर्य छोड़ दिया। उसी समय सारिका ने सपना की योनि से मेरा लिंग बाहर निकाला और कपड़े फाड़ कर अपनी योनि को साफ किया।

मैं बहुत थक गया था। मैं उनके बिस्तर पर लेटा हुआ था। मेरा वीर्य धीरे-धीरे मेरे लिंग के मुँह से नीचे गिर गया। वो दोनों बिस्तर पर बैठ गईं और मेरे लंड को देखने लगी। स्खलन के बाद भी यह कठोर था। कभी-कभी ऐसा होता है। हालांकि समय बीतने के बाद यह धीरे-धीरे नरम हो जाता है।

उसके बाद मुझे खुद को साफ करना पड़ा।

मैंने उनके बाथरूम का इस्तेमाल किया और अपनी ड्रेस पहनी। उसी समय सारिका कुछ कोल्ड ड्रिंक लेकर आ गयी। सपना भी अपनी ड्रेस लेकर उठ गई। हम तीनों ने कोल्ड ड्रिंक पी और फिर कुछ देर गप-शप की। सपना का चुदाई को लेकर सारा डर ख़त्म हो गया था। जिसके लिए सारिका ने मेरा आभार व्यक्त किया। उसने कहा कि बड़ी बहन की शादी से पहले वह कैसे शादी कर सकती थी। फिर जब उनके पिता नशे में धुत होकर घर आये, तो मैंने उन्हें छोड़ दिया।

उस घटना के बाद हम अक्सर एक-दूसरे का सामना करते रहे। 3 हफ्ते बाद मुझे सपना के लिए लड़का मिल गया। मैंने उनके लिए एक-दूसरे से बात करने की व्यवस्था की। लड़के से बात करके सपना खुश हो गई। 1 महीने बाद उन्होंने अपने परिवार के सामने एक-दूसरे से शादी कर ली। फिर 2 हफ्ते के अंदर सारिका ने भी अपने बॉयफ्रेंड से शादी कर ली। सपना की शादी के लिए उनके पिता ने मुझे बहुत धन्यवाद दिया। अब ये दोनों खुशी-खुशी अपनी शादीशुदा जिंदगी एन्जॉय कर रहे हैं। उन दोनों के बच्चे हैं।

लेकिन मुख्य बात यह थी कि मुझे एक जवान लड़की को उसकी बहन के सामने चोदने में मजा आया।

मैं आपकी प्रतिक्रिया का इंतजार करूंगा और यदि कोई महिला, लड़की आनंद लेना चाहती है तो मुझे मेरे मेल पते पर मेल कर सकती है।

यह कहानी भी पड़े  भतीजे द्वारा अपनी हॉट चाची की चूत का पानी निकालने की कहानी


error: Content is protected !!