नये तरीके का चरम सुख दिया भाभी को

भाभी के साथ किचन में माकेऔट करने के बाद अब हम दोनो गरम हो चुके थे, और पसीने से भीग रहे थे तोड़ा. पढ़िए आयेज क्या हुआ.

अब हम दोनो को वाहा गर्मी के मारे पसीना आने लगा. उसने मुझे कहा, “फिरसे सोफा पर जाके कंटिन्यू करे?” मैने एक नॉटी स्माइल देते हुए कहा, “सोफा पे क्यूँ? तुम्हारे बेड पे चलते है ना”.

उसने भी हेस्ट हुए कहा, “ठीक है चलो”. ये सुन कर मैं इतना एग्ज़ाइटेड हो गया. मैने भाभी को उठा लिया, और चूमते-चूमते उसके बेड तक ले गया. मैने उसको बेड पे बिताया और फिर धक्का देकर लिटा दिया, और उसके उपर चढ़ गया. वो मेरे गले और छाती पे चूमने और चाटने लगी, और अचानक से मेरे निपल पे काट लिया और हासणे लगी.

मैं भी उसके निपल्स पे काटने लगा और फिर हमने लेते हुए भी 10 मिनिट्स तक माकेऔट किया. फिर उसने मुझे लिटा दिया, और मेरे उपर चढ़ कर मेरा शरीर चूमते हुए नीचे मेरी पंत के तरफ जाने लगी. भाभी ने मेरे लंड पे किस किया पंत के उपर से ही. फिर मेरी तरफ देख कर मेरा रिक्षन देखा, और हेस्ट हुए फिरसे 2-3 बार किस किया.

फिर उसने मेरी पंत उतार दी, और मेरे अंडरवेर के उपर से मेरा लंड पकड़ कर धीरे से हिलने लगी. उसने मेरे अंडरवेर पे बने प्रेकुं के दाग को देखा. फिर उस जगह पर उंगली से छूटे हुए मुझसे गंदी बातें करते हुए मुझे तडपा रही थी.

मैने उससे बिनटी की, “प्लीज़ भाभी अब और मत तड़पाव, निकालो ना मेरा लंड बाहर और चूसो उसे प्लीज़”. वो फिरसे हासणे लगी और उस गीले दाग पे किस करके मेरी अंडरवेर उतार दी.

मैं अब उसके सामने पूरा नंगा लेता हुआ था, और वो भी टॉपलेस थी, और सिर्फ़ पाजामा निकालने की देर थी. मेरा लंड अपने मुलायम हाथो से पकड़ कर वो मेरे सामने झुकी, और मेरे लंड को चूमते हुए मुझसे बातें कर रही थी.

उसने मेरा लंड तो पकड़ रखा था, पर वो मुझे तडपा रही थी. मेरे लंड पे उसकी गरम साँसे, उसके नरम होतो से चुम्मिया, और गीली ज़ुबान से चाटने के बाद भी उसने अब तक मेरा लंड चूसना शुरू नही किया.

मैं उसकी इस टीज़िंग से अब बहुत परेशान हो गया था. मैने फिरसे भाभी से बिनटी की, “भाभी प्लीज़ अब तड़पाना बंद भी करो. चूसो ना अब मेरा लंड”.

उसने एक ईविल स्माइल देते हुए मेरी तरफ देखा मानो वो यही चाहती थी की मैं उससे बिनटी करू. फिर तोड़ा हस्स के वो मेरा लंड चूसने लगी.

भाभी के इतने तड़पने के बाद जब वो मेरा लंड चूसने लगी, तो मैं खुद पे ज़्यादा कंट्रोल नही रख पाया, और 2 मिनिट में ही झाड़ गया. वो ये देख के हास पड़ी और कहा, “कोई तो ज़्यादा ही एग्ज़ाइटेड था शायद”.

मैने उसको सॉरी कहा इतनी जल्दी झड़ने के लिए. वो मुस्कुराते हुए बोली, “कोई बात नही, मैं समझ सकती हू. तुम यही रूको मैं बातरूम जेया कर अपना हाथ मूह धो कर आती हू”.

मैं फिरसे उसके पीछे चला गया, और उसके फ्रेश होते ही मैं उसका हाथ पकड़ कर फिरसे बेडरूम में ले गया, और बेड पे लिटा कर फिरसे उसका बदन चूमने लगा. फिर मैने उसका पाजामा उतरा, और वो पनटी में मेरे सामने लेती हुई शर्मा रही थी.

फिर जब मैं उसकी टांगे फैलने लगा, तो अचानक से वो माना करने लगी और कहा, “हुमारे पास कॉंडम नही है, प्लीज़ आज जाने दो. आज नही करते है इसके आयेज कुछ”. मैं उसके नर्वस और दर्रे हुए चेहरे को देख के हासणे लगा.

मैने फिर उसके निपल्स चूमना शुरू कर दिया और उसको मानने की कोशिश करता रहा. पर वो मान नही रही थी, तो मैने उसको बोला, “अछा ठीक है, चलो आज नही करेंगे सेक्स. पर ये बताओ कभी भैया ने आपकी छूट छाती है?” वो तोड़ा कन्फ्यूज़ हो गयी, क्यूंकी मेरे भैया ने कभी ऐसा कुछ नही किया था. वो लोग सिर्फ़ नॉर्मल सेक्स करते थे.

वो मुझसे अलग-अलग सवाल पूछने लगी, “तुम आज-कल के नौ-जवान ऐसा भी करते हो? तुम्हे गंदा नही लगता ये करते हुए?” मैने उसको शांत करने के लिए उसको स्मूच किया ताकि वो बोल ना सके और फिर उसको कहा, “भाभी आज मैं आपको मज़ा करता हू. आप सिर्फ़ आराम करो और मुझपे भरोसा रखो”.

वो अभी भी इस चीज़ को लेकर इतना कंफर्टबल नही थी. मैं उसका बदन चूमते हुए उसकी पनटी के तरफ बढ़ा, और उसकी पनटी पे किस करना शुरू किया. उसकी पनटी भी गीली हो गयी थी हमारे इतने देर तक किए गये मज़े के कारण.

फिर मैं कुछ देर तक उसकी पनटी पे चाटने के बाद धीरे से उसकी पनटी उतारने लगा, और पनटी उतारते ही मेरे मूह से “वाह” निकला, वो अंदर से और भी ज़्यादा गीली थी, जितना मैने पनटी के उपर से महसूस किया. उसकी छूट इतनी गीली थी की पनटी के साथ और उसकी झांतो पर भी उसका रस्स चिपका हुआ था.

जैसे ही मैने उसकी पनटी उतार के फेंकी, उसने अपनी टांगे बंद कर ली, और मुझे शरमाते हुए पूछा, “तुम सच में ये करना चाहते हो? मैं नीचे बहुत गीली हू, पहले सॉफ करके आ जौ क्या?” मैने उससे कहा, “तुम बिल्कुल चिंता मत करो. मैं ये करना चाहता हू, और गीली छूट चाटने में ही सबसे ज़्यादा मज़ा आता है”.

फिर जैसे ही मैं उसकी टांगे फैलने लगा. उसने शरमाते हुए अपनी आखें बंद कर ली. कसम से कितनी प्यारी दिख रही थी वो, ऐसे नज्नी मेरे सामने टांगे फैला के लेती हुई, उफ़फ्फ़. मैं उसकी इस हालत में फोटो खींचना चाहता था. पर मोबाइल लिविंग रूम में था, और मैं अब और रुकना नही चाहता था.

मैने उसकी दोनो जांघें पकड़ी, और एक लंबी साँस लेते हुए उसकी छूट की मधुर सुगंध ली. मेरी गरम साँसे उसकी नाज़ुक छूट पे गुदगुदी करने लगी, और वो तोड़ा काँपने लगी. फिर मैं कुछ देर तक उसकी छूट चाटने लगा, और उसके रस्स का स्वाद चखता रहा.

वो पहली बार ये सुख महसूस कर रही थी, तो वो बड़े मज़े लेते हुए आहें भर रही थी. और मेरे बालों को कस्स के पकड़ रखा था.

कुछ देर बाद हम दोनो ने एक-दूसरे से नज़रें मिलाई, और मैं अब उसके बाबलो से खेलने लगा. थोड़ी देर बाद मैं उसकी छूट को गहराई तक चाटने और चूसने लगा. मानो जैसे मैं उसकी छूट को फ्रेंच किस कर रहा था.

आओ भी बहुत जल्दी झाड़ गयी, और मेरे मूह पर उसका सारा रस्स छोढ़ दिया. फिर मैं फिरसे उसके बदन पर चढ़ गया, और उसको चूमने गया. पर उसने अपना मूह फेर लिया, और कहा, “ची गंदे! नही अभी-अभी तुम नीचे चाट के आए हो ना मुझे”.

मैं उसको ऐसे देख कर हासणे लगा, और एक ईविल स्माइल दे कर कहा, “ये तो बस शुरुवत है, आयेज तो और गंदे काम करने है हमे”. वो ये सुन कर तोड़ा चौंक गयी और मुझसे कहा, “तुम इतने गंदे हो सकते हो मैने सोचा नही था. वैसे तो बड़े भोले बनते हो सब के सामने”. मैने हेस्ट हुए उसके गाल पकड़े, और उसके रस्स से गीला मूह लेकर उसको चूमने लगा.

वो मुझे हाथो से धकेल कर हटाने की कोशिश करने लगी. तो मैने उसके हाथो को बगल में करके दोनो हाथ दबोच लिए, ताकि वो मुझे धकेल ना सके, और मैं उसको किस और स्मूच करता रहा. वो भी समझ गयी की वो अब कुछ नही कर पाएगी, तो उसने भी हिलना बंद कर दिया.

फिर कुछ देर तक जी भर के उसको चूमने और स्मूच करने के बाद, मैं उसके उपर से हॅट कर उसके बगल में लेट गया. उसने थोड़ी साँस भारी और उठ कर मुझे गुस्से से देखा. मैने उसको आँख मारी और फ्लाइयिंग किस दी. वो जल्दी से जेया कर मूह और छूट ढोने लगी. मैं वही लेट कर अपने होंठो को चाट कर उसके रस्स का स्वाद ले रहा था.

वो फ्रेश हो कर वापस आई, और मेरे हाथ पे सिर रख कर लेट गयी, और हम दोनो बिस्तर पर नंगे लेट कर कड्ड्ल कर रहे थे. थोड़ी देर बाद घर की बेल बाजी, और हम दोनो हड़बड़ा कर घर में अपने कपड़े ढूँढ कर पहनने लगे.

मैं जल्द ही अगला पार्ट भी ज़रूर आपके साथ शेर करूँगा, जिसमे मैने और भाभी ने जाम के चुदाई की. तब तक आप चाहो तो नीचे कॉमेंट करके बता सकते हो आपको मेरी ये स्टोरी कैसी लगी, और आपने कभी ऐसा कुछ एक्सपीरियेन्स किया है क्या.

यह कहानी भी पड़े  अपनी सगी भाभी को पटा कर चोदा


error: Content is protected !!