मुस्लिम कज़िन बहें को रात मे चोदा

दोस्तों मेरा नाम खलील खान हैं और मैं गुजरात के भरूच का रहनेवाला हूँ. आज मैं आप दोस्तों के लिए एक सच्ची और सेक्सी हिंदी कहानी ले के आया हूँ. मेरी एज अभी 23 साल हैं. ये कहानी आज से कुछ 4 साल जितनी पुरानी हैं. तब मेरे खाला की बेटी शाहीन हमारे घर ईद करने के लिए आई थी.

शाहीन की अम्मी यानी की मेरी खाला और उसके अब्बा को नया नया यूएस का वीजा मिला था. और शाहीन बालिग़ होने की वजह से उसका वीजा नहीं हुआ. वो यही हॉस्टल में रहती थी और ईद वगेरह के लिए हमारे घर आती थी.

शाहीन का फिगर एकदम सेक्सी हैं. उसके बूब्स किसी बड़ी भाभी के जैसे भरे हुए हैं और गांड भी पीछे की और निकली हुई हैं.. उसकी चुचिया हवा में लहरा जाती थी जब वो अपनी गांड को हिला के चलती थी. शाहीन के हुस्न का मैं भी कायल था लेकिन हिम्मत नहीं हुई क्यूंकि मैं रंग में सांवला सा था और वो गोरी और सेक्सी लुक्स वाली थी. ऊपर से रिश्ते में वो मेरी कजिन बहन भी थी.

लेकिन उस रात को सब कुछ बदल गया. ईद हो चुकी थी और दूसरी नाईट थी आज. रात को करीब 10 बजे पावर चला गया. गर्मी के दिन थे इसलिए अम्मी ने कहा चलो हम सब ऊपर ही सो आते हे क्यूंकि पता नहीं पावर कब आएगा.

अम्मी ने कुछ गोदड़ी तकिये और चद्दरे ले ली. मैं, शाहीन मेरी बहन नफीसा और अम्मी ऊपर चले गए. मेरे अब्बा वैसे भी अगासी में सोये हुए थे इसलिए वो निचे ही रहे. अम्मी ने बिछोना लगाया. पहले कोर्नर इ वो सोई, उसकी बगल में मेरी बहन, और एंड में मैं था. मेरे पास में शाहीन थी. ठंडी और मीठी सी पवन आ रही थी. और बहुत समय के बाद अम्मी लोग तो छत पर सोने के लिए आये थे.

यह कहानी भी पड़े  भाभी की मचलती जवानी देवर के लंड की दीवानी

सब को जल्दी से ही नींद आ गई लेकिन मेरा दिल एकदम जोर जोर से धडक रहा था. और उसकी वजह ये थी की मेरे सामने शाहीन सोयी हुई थी. उसने अपने बदन के ऊपर चद्दर दो डाली हुई थी लेकिन चद्दर के अंदर भी उसकी गांड बड़ी सेक्सी लग रही थी. मैंने पहले तो सोचा की लंड हिला के सो जाता हूँ. लेकिन फिर मेरे मन ने कहा की आज मौका सही लगता हैं आज एक बार ट्राय कर ही लेते हैं.

मैंने मन ही मन सोचा की नींद में अपने लंड को गांड में टच करवाने की एक्टिंग कर लेता हूँ. ज्यादा से ज्यादा शाहीन मुझे दूर हटा के सो जाएगी!

और अपने प्लान को अमल में लाने के लिए पहले तो अपनी चद्दर निकाल के उसे एक साइड में छिपा दी. मम्मी और बहन को देखा तो वो लोग मजे से सोये हुए थे. मैंने शाहीन के पास जा के उसकी चद्दर खिंची. वो भी सोयी ही थी. मैं धीरे से उसके पीछे उसकी चद्दर में घुस गया. उसके और मेरे बिच में 2 3 इंच का ही फासला था.

मेरा दिल जोर जोर से धडक रहा था. और मेरा लंड एकदम कडक हुआ था. मैंने लंड को रखने से पहले अपने हाथ को धीरे से शाहीन की गांड पर टच किया. वो नहीं हिली. मेरी हिम्मत अभी भी नहीं हुई. मैं उसके पास सरक गया और मैने चद्दर को अपने कंधे तक खिंच लिया.

चद्दर के अन्दर से ही अब मैंने अपने हाथ को धीरे से शाहीन की कमर के ऊपर रख दिया. और फिर थोडा आगे खिसक के मैंने उसके बूब्स के साइड वाले हिस्से को उंगली से टच किया वाऊ क्या मस्त सॉफ्ट टच था वो. शाहीन ने अपनी टी शर्ट के अन्दर ब्रा नहीं पहनी थी उसकी सॉफ्ट चूची मेरे हाथ को टच कार रही थी और मुझे एकदम सेक्सी फिलिंग हो रही थी मेरा लंड और भी खड़ा होने लगा था. अब मैंने धीरे से अपने लंड को शाहीन की बिग एस के ऊपर टिका दिया.

यह कहानी भी पड़े  अपनी क्लासमेट कुंवारी लड़की को चोदा

शाहीन की ठंडी ठंडी एस का टच मेरे लंड के लिए एकदम कातिल था. वो हिली नहीं और मेरी हिम्मत थोड़ी खुल सी गई. मैंने वापस अपने हाथ को उसके बूब्स के ऊपर रख दिया. अब वो थोडा हिली लेकिन उसने पीछे मुड़ के नहीं देखा. मैं घबरा रहा था लेकिन खड़े लंड क आगे मेरी चली भी तो नहीं. मैंने धीरे से अपने हाथ को उसके बूब्स पर ही दबाया और मुझे उसके निपल का टच हुआ. उसके निपल्स मुझे कड़े हुए लगे.

मैंने लंड को अपनी इस सेक्सी बहन की गांड की फांक में अन्दर दबाया. और ऊपर उसके बूब्स को हलके हलके से दबाने लगा शाहीन ने तभी पीछे मूड के मुझे देखा. उसकी आँखे एकदम खुली देख के मैं अँधेरे में थर थर कांप उठा. एक ठंडी पवन जैसे मुझे छू के चली गई थी. मुझे डर था की अगर इसने अम्मी को बोला तो वो मुझे मार ही डालेगी!

लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ. शाहीन वापस पलट गई. एक मिनिट के लिए मैंने सोचा की वो शायद सुबह अम्मी को बोलेगी. मैंने मन ही मन सोचा की उसे माफ़ी के लिए कहता हूँ. मैंने उसके कंधे के ऊपर हाथ रखा तो वो पलट के बोली, करना हे तो कपडे उतार के कर लो, वरना पानी की पिचकारी लगी तो मैं गरम हो के रह जाऊंगी!

Pages: 1 2

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!