मम्मी ने गीता आंटी को मिस्ट्रेस बनकर चोदा

हैल्लो दोस्तों मेरा नाम कुणाल है. मेरे बारे मे आपको बताता हु मेरा age 19 है मे स्कूल जाता हु. मेरी फॅमिली मे मे मम्मी और पापा है. हम नॉएडा मे रहते है हमारा बंगलो है. मेरे पापा का बिजनेस है और पापा बिजनेस के कारण दुबई मे रहते है. मम्मी और मे दोनो ही घर पर रहते है. बिजनेस से बहुत पैसा मिलता था तो मम्मी जॉब नहीं करती. हमारे बंगलो के बाजु मे 3 बंगलो है. उसमे सब अमीर फॅमिली रहती है.                                                         

मम्मी के बारे मे बताता हु. मेरे मम्मी का नाम शालू है. मेरे मम्मी एकदम मॉर्डन है. उनका age करीब 37 है. मम्मी जीन्स और टॉप पहनती है. सभी मॉर्डन कपडे पहनती है.मम्मी की हाईट करीब 5 फुट 8 इंच है. मम्मी की साइज के बारे मे बताता हु मम्मी के बूब्स मेडियम साइज के है. लेकिन मम्मी की पतली कमर और बड़ी सी उभरी हुई चौड़ी गांड,जब भी मम्मी चलती थी तो गांड एकदम मटक ती थी. मोटी मोटी जांघेँ और उभरी हुई चौडी चुतड किसी भी मर्द को पागल बना देने मेँ सक्षम थी. गठिली बदन होने के कारण मम्मी बहुत सेक्सी लगती थी. क्योँकि उसकी फिगर है ही इतना सुडौल 34-27-36.

लेकिन पापा बिजनेस के कारण घर पर साल मे 1, 2 बार ही आते थे ओ भी एक हफ्ते के लिए. तो मम्मी सेक्स के लिए भूखी रहती होगी. मम्मी की भी उम्र अब 37 हो गई थी, उम्र का छाप उसकी चेहरे पे दिखाई दे रहा था । मम्मी की बदन पे अब थोड़ा भारीपन आ गया था । फिर भी उसकी बदन बडा ही गठिला था । उसकी जांघें खम्बे के समान मोटे थे । गांड़ तो और भी चोडी हो गई थी बडी सेक्सी चुतड थी मम्मी की.                           

मम्मी अपने फ्रेंड्स के साथ अक्सर क्लब और किट्टी पार्टी करती थी. पैसे की कमी नहीं होने के कारण अक्सर शॉपिंग करती थी. हमारे बाजु वाले बंगलो की आंटीया उनकी अच्छी फ्रेंड थी. हमारे बाजूवाले बंगलो मे सभी अमीर फॅमिली थी 1) गीता जी (age 48)उनके फॅमिली मे उनके पति रहते थे ओ रिटायर हो चुके थे. 2) प्रिया आंटी (age 32) उनके पति सरकारी ऑफिसर है. प्रिया आंटी को एक छोटा बेटा है. 3) रीटा आंटी (age 35) उनके पति का बिज़नेस है. रीटा आंटी को 2 बच्चे है. ये तीनो मम्मी की अच्छी दोस्त है. सभी किट्टी पार्टी एन्जॉय करती थी क्लब मे भी जाती थी. सभी मॉर्डन कपडे पहनती थी गीता आंटी सिर्फ साड़ी पहनती थी. सभी ड्रिंक्स करती है. हमारे घर पर अक्सर किट्टी पार्टी होती थी.                           

दिसंबर का मंथ चल रहा था. मम्मी का बर्थडे था आज लेकिन पापा दुबई मे ही थे. शाम को गीता आंटी, प्रिया आंटी और रीटा आंटी भी घर पर आए थी. गीता आंटी ने आज ब्लैक साड़ी पहनी थी और स्लीवलेस ब्लाउज गीता आंटी आज एकदम सेक्सी मिलफ औरत दिख रही थी. प्रिया आंटी ने ब्लू टॉप पहना था onepeice, रीटा आंटी ने पंजाबी टाइप ड्रेस पहना था. मम्मी ने टाइट जीन्स के उप्पर स्लीवलेस पिंक टॉप पहना था. सभी आज एक से बढ़कर एक माल लग रही थी. करीब 8 बजे हमने मम्मी का बर्थडे सेलिब्रेट करना शुरू करा. केक काटा खाना वगरे खाया आंटीया ड्रिंक्स कर रही थी. उनके गपशप चल रहे थे मे उप्पर अपने रूम मे जाके टीवी देखने लगा. कुछ देर बाद मे नीचे पानी पीने गया तो प्रिया और रीटा आंटी स्मोकिंग कर रही थी. और तभी गीता आंटी मम्मी को बोल रही थी आज ओ अकेली घर पर है उनके पति बहार गये हुए है. तो मम्मी आंटी से बोली तो आप यही सो जाओ आज.

आंटी मना कर रही थी लेकिन मम्मी ने उनको मना लिया. कुछ देर बाद प्रिया और रीटा आंटी अपने अपने घर पे चली गयी. मम्मी और गीता आंटी ऊपर मम्मी के बैडरूम मे सोने के लिए आ गयी. मम्मी ने मुझे गुड नाईट बोला मे भी बेड पे लेट गया. कुछ देर बाद जोर जोर से हसने की आवाज आ रही थी मे समझ गया मम्मी और आंटी की ही आवाज है. लेकिन मुझे अब देखना था क्या चल रहा है क्यू की अब 12 बजे थे. तो मे उप्पर टेरेस पे गया और वहा से मम्मी के बैडरूम के गैलरी मे कूद गया और बेडरूम के विंडो मे से देखने लगा तब मम्मी और आंटी स्मोक कर रही थी तभी गीता आंटी ने मम्मी से पुछा शालू तुम्हारे पति तो इंडिया कभी कभी आते है. तो तुझे सेक्स की इच्छा नहीं होती तो मम्मी हसने लगी और बोली मेने उसका इंतज़ाम किया है.

यह कहानी भी पड़े  भाबी ने मुझे मेरे भैया से चुदवा दिया

तभी मम्मी भी बोली गीता आंटी से आपको अनिल जी मजे देते होंगे. तभी गीता आंटी बोली क्या बताऊ तुझे उनका अब पूरा खड़ा ही नहीं होता. और मेरी चुत की खुजली मिटी ही नहीं. तभी मम्मी बोली ऐसी बात है तो मे आपकी चुत की खुजली मिटाती हु. गीता आंटी हसने लगी. मम्मी उठी और उन्होंने कबोर्ड से रबर का लंड निकाला. तभी गीता आंटी बोली अभी पता चला तू इतनी खुश कैसे रहती है. मम्मी ने नीचे जाके एक रसी लाई और आते वक्त फ्रीज़ मे से केक लाया. गीता आंटी अभी भी स्मोक कर रही थी. तभी मम्मी ने पीछे से आंटी के हात बांध दिए गीता आंटी चौंक गयी बोली शालू ये क्या कर रही हो. आंटी अचानक हुए हमले से मम्मी से  छूटने की कोशिश कर रही थीं, पर मम्मी  ने उनकी पूरी लिपिस्टिक चूस ली और खा गयी .

फिर वो आंटी की चुचियों को दबाने लगी .मम्मी बोली गीता जी आज का दिन अब नहीं भूलेंगे. और मम्मी ने उनके हाथ कबोर्ड को उप्पर की तरफ बांध दिए. मम्मी उस वक्त नाईटी मे थी आंटी अभी भी साड़ी पहने हुए थी. मम्मी ने आंटी के ओठ चूमने लगी आंटी भी मम्मी के ओठ चूमे जा रही थी. मम्मी आंटी के नेक पे किस्स करने लगी तभी मम्मी ने आंटी के बालो का क्लिप निकाला और आंटी के पीठ पर किस्स कर रही थी लेकिन उनका ब्लाउज अभी निकाला नहीं था. तो मम्मी ने आंटी के गांड पे जोरसे चाटा जड़ा और बोली गीता जी आपकी गांड मुझसे बड़ी है. तभी मम्मी ने आंटी का साड़ी का पल्लू बाजु मे किया और उनके चेस्ट पे किस्स करें जा रही थी. तभी उनकी नजर आंटी के बगल की और गया मम्मी आंटी के बगल सूंघ रही थी.

आंटी की खुशबु से मम्मी पागल हो गयी और. उनके बगल का पसीना अपने जीभ से चाटने लगी. गीता आंटी अब सिसकियाँ लेने लगी थी.फिर मम्मी ने आंटी का ब्लाउज के हुक निकाले और ब्रा निकाल कर अपने चुत पे रगड़ी और आंटी को सूंघने बोली. गीता उनकी बड़े बड़े बूब्स लटक रहे थे. मम्मी ने बूब्स को हाथ मे लिया और आंटी के मोटे मोटे निप्पल खींचने लगी. मम्मी ने केक लिया और आंटी के निप्पल पे लगाया और चाटने लगी.  मम्मी ने आंटी की साड़ी उतारी आंटी की जाँघे एक दम गोल-मटोल थी. और आंटी के पैंटी के अंदर हाथ डाला और आंटी के चुत के अंदर ऊँगली डाली और ऊँगली और आंटी के मुँह मे डाली और चूसने बोला फिर ओ गीली ऊँगली मम्मी ने अपने मुँह मे डालकर चूस ली और फिर आंटी के चुत मे डाली.

फिर मम्मी आंटी के पीछे चली गयी और गांड पे जोर जोर से चाटे मरने लगी और अपना बड़े हिल वाला सैंडल लेके उसका नुकीला हिल आंटी के गांड मे घुसने लगी. तभी आंटी चीखती रही, चिल्लाती रही जोर जोर से चिल्ला रही थी- मुझे छोड़ दो! मुझे छोड़ दो!  रंडी शालू कुत्तिया छोड़ मुझे…..                                                   

तभी मम्मी ने आंटी को छोड़ दिया और बेड पे लेटाया. अब मम्मी सिगारेट का आखिरी कश लेकर आश -ट्रे पर फैंक दी और बिस्तर पर अपनी मांसल जांघों को फैला कर लेट गई । और ऑंखें बंद कर के एक हाथ से चुचियां दबाती हुई दुसरे हाथ से आंटी का मुँह अपने चुत पे दबाने लगी.      उनकी होंठ दांतों तले दबी हुई थी और मम्मी अपनी भारी गांड जोरों से उछालती हुई सिसकारियां ले रही थी ।       “अब मेरी गांड चुसिए गीता जी ।” मम्मी अपनी उभरी चुतडोँ पर हाथ फिराती हुई आंटी से बोली ।

मम्मी का  गांड का छेद तो कभी खुल रहा था कभी बंद हो रहा था। व तो जैसे आंटी को ललचा ही रहा था फिर आंटी ने थूक से उसे तर कर दिया था। आंटी ने अपनी एक अंगुली उसमें डालने की कोशिश की पर वो उसे नहीं डाल सकी तो आंटी ने मम्मी की गांड का छेद पूरा थूक से भर दिया और उंगलियां मम्मी की गांड के छेद में डाल दिया।  बडा ही सेक्सी लग रहा था मम्मी की फैली गांड…

तभी आंटी एक उंगली चाट के गिली की और सिधे गांड के छेद में अंदर पेलने लगी                                            मम्मी अब अपनी जीभ से आंटी की बुर को ऊपर से नीचे और नीचे से ऊपर फिराया । फिर बुर के होंठों को दोनों हाथों से पकड़ कर चौड़ा किया और अपनी जीभ को नुकीला करके आंटी की  गुलाबी छेद पर लगा कर होले होले अन्दर बाहर करने लगी।अब मम्मी चुसना छोड़ कर उनकी चूत पर अपना थूक लगा दिया.और रबर का लंड अंदर बहार करने लगी.

यह कहानी भी पड़े  डाल दो रस मेरी प्यासी चूत में - 2

मम्मी अब आंटी की गांड चाटने लगी उनकी गांड के छेद पे जीभ फेरने लगी…                        “खूब चाटो मेरी गांड को है दैया, मर गई रीईईई, ओह इतना मज़ा तो कभी ऩहीँ आया था ओह ।                           अब मम्मी आंटी के पिछे आ गई और आंटी की गांड पे चाटे मारने लगी चाटे मार कर आंटी की गांड टमाटर जैसे लाल कर दी मम्मी ने फिर गांड को फैला कर छेद पर अपनी जीभ चलाने लगी..    तभी मम्मी ने नकली लंड आंटी के मुँह मे दिया और फिर गिला लंड आंटी के गांड मे घुसाने लगी… अचानक आंटी चिल्लाने लगी कुत्तिया शालू फाड़ देगी क्या गांड मेरी रंडी कहि की आंटी मानो रो पडेगी, मैं समझ गया अब आंटी झडने वाली है । तभी आंटी जोर से चिल्ला पडी और दो-तिन बार अपनी गांड जोर से उछालने के बाद निढाल हो गई ।

आंटी की सांसें जोर से चल रही थी, उनका पूरा बदन कांप रहा था । आंटी झड रही थी उनका सारा पानी मम्मी अपने मुँह मे ले रही थी. मम्मी ने चाट चाट कर आंटी की चुत साफ की.. आंटी मम्मी से पागल औरत चाट ले मेरा पानी…………       मम्मी ने आंटी के सर पर बने बालों के जूड़े को पकड़ कर उन्हें अपनी तरफ खींचा और उनके होंठों पर किस करने लगे.  क्या जोश मे थी मम्मी आज शेरनी की तरह लग रही थी जैसे गीता आंटी को खा जायगी….                                                   

करीब पाँच मिनट तक पड़े रहने के बाद आंटी उठी खडी हुई,
आंटी अब मम्मी के बूब्स दबाने लगी ओह! गजब की चुचियां थी मम्मी की, देखने से लग रहा था जैसे की दो बडे तरबूज दोनों तरफ लटक रहे हो । एक दम गोल और आगे से नुकीले तीर के जैसे । मम्मी के निपल थोडे मोटे और एकदम खडे थे और उनके चारोँ तरफ हल्का गुलबीपन लिए हुए गोल गोल घेरा था । निपल भूरे रंगे के थे । मम्मी अपने हाथों से अपने चुचियों को नीचे से पकड कर चुचियों पर हाथ फेरते हुए  आंटी को दिखाती हुई हल्की सी हिलायी और बोली-
“खूब सेवा करनी होगी इसकी तुम्हेँ ।”

अब मम्मी अपने बूब्स को एक हाथ से पकड़ कर आंटी के  मुँह के नरम नाजुक होंठ पर लगा दिया.                                                       

“हाई … गीता जी ऐसे ही चूसो … या…. ओह …. और जोर से और जोर से …” मम्मी मस्ती मेँ बडबडाने लगी । गीता जी आप मेरे दूध पिलो सारा….                      

मम्मी चुत के गुलाबी छेद को सहला रही थी…                  आंटी का सर को दोनोँ हाथोँ से पकड कर अपनी चुत पर दबाने लगी और मस्ती मेँ कराहते हुए उछालने लगी…. करीब दो मिनट तक मम्मी अपनी चुत  चुसवाने के बाद आंटी को रोक दी और उठ खडी हुई । और आंटी को अपनी गांड मे लंड डालने को बोला… आंटी बोली देख मे कैसे फाड़ देती हु तेरे गांड अब……………..

मम्मी तो आ … उन्ह … ओईईइ … करता मीठी सित्कारें मारने लगी । आंटी  ने तेजी से लंड चलाने लगी। मम्मी जोर से अपनी चौडी मांसल गांड उछली रही और उसके साथ ही व आ … उ.ऊ … ओईईइ … करने लगी मानो रो पडेगी और मम्मी की चुत अब झडने वाली थी…. मम्मी भी झड गयी आंटी के मुँह पे सारा पानी छोड़ दिया….बाद मे मम्मी ने पुछा-
“और गीता जी , कैसी लगी मेरी चुत का स्वाद, अच्छा लगा या ऩहीँ ।”
“हां शालू बहुत स्वादिष्ट था सच में मज़ा आ गया…

दोनो एक दूसरेसे लिपटकर बेड पे लेट गयी थोड़ी देर बाद मम्मी को पेशाब आया तो मम्मी ने अपनी मांसल गांड आंटी के मुँह पे टिका कर उसने अपने दोनो पैरोँ को आंटि के सामने खोल कर फैला दिया और बोली गीता जी पिलो मेरा नमकीन पेशाब… मुँह पे बैठ गयी और आंटी के मुँह मे पेशाब छोड़ दिया. तभी आंटी ने मम्मी से पूछा कहा से सीखा ये सब मम्मी बोली पोर्न देख कर सीखा ।मम्मी ने अपनी एक पैर उठाई और अपनी मोटी जांघोँ को आंटी की ऊपर डाल दिया….                                                 दोनो अब सो गए थी……

error: Content is protected !!