मेरा पेहला सेक्स

हमरि सरि फ़मिली सुज़ी परक घोमनय गैए मैन भी गया था सिरफ़ मेरय फ़थेर नहि गयी थय। वो बुसिनेस्स कय किसि कम सय मुलक सय बहिर थय। हम सब खेल रहा थय मैन मेरि मोम मेरि चचि चचा सौसिनस। मेरि चचि सलिदे मैन बेथनय सय दरति हैन ओर मेरि मोम को भोत सलिदे का शोक हय मेरि मोम नैन मेरि चचि को भोत फ़ोरसे किया मगेर वो नहि मनि। मुझय भी सलिदे का भोत शोक था हम लोग अकसर त्रैन बना कर सलिदे खया करतय थय। मेरि मोम कि अगे 42 येअरस हय, सिज़े 40-38-42 होगा।

मेरि मोम नैन मुझय बुलया ओर कहा आओ सलिदे खतय हैन मैन मोम कय सथ गया वहन पेर रुश भोत था मगेर हमैन जगा मिल गयी फिर मोम नैन कहा तुम मेरय आगय बेथो तो मैन नैन मना किया ओर कहा मुझय दर लगता हय फिर मोम नैन कहा चलो पीचय बेथ जओ मैन नैन कहा थीक हय ओर मैन अपनि मोम कय पीचय तनगोन सय पकर कर बेथ गया। ओस वकत मुझय कुच अजीब सा लगा मैन अपनि मोम सय बिलकुल चुपक कर बेथा था। मुझय मज़ा आनय लगा आज सय पेहलय मैन नैन अपनि मोम कय बरय मैन कभि ऐसा नहि सोचा था आहिसता आहिसता मेरा 6 इनच का लुनद खरा होनय लगा। मोम इस बात सय बेखबर थीन वो अपनि मसति मैन पोरि थीन।

फिर मैन नैन अपनय दोनोन हथोन सय मोम को पकर लिया ओर मेरय हथ अपनि मोम कय बोबस पेर थय। मुझय ओर भी मज़ा आनय लगा फिर हुम नैन सलिदे सय सीधा पनि मैन जा गिरय जिस सय मेरा मून सीधा मोम कि कमिज़ मैन चला गया मैन मोम कय बूबस सय तकरनय लगा फिर हम बहिर निकलय तो मोम नैन कहा अब मैन एक सिनगले सलिदे खा कर आति होन तो मैन नैन कहा मैं न भी चलता होन तो मोम नैन मना करदिया फिर मोम सलिदे खा कर अयीन पनि मैन गिरीन तो वो सीधा दीवर सय जा तकरैन्न तो इस सय मोम को चोत लगि मोम कि कमर ओर मोम कय हथ मैन दरद होनय लगा फिर हम लोग जलदि सय घर कय लिये रवना होवय मेरय चचा कि फ़मिली को मर्रिअगे मैन का जना थव ओ लोग घर जतय हे फ़ोरन चलय गये अब घर मैन मैन ओर मोम अकैलय थय मोम को नहना था तो मोम नैन मुझय आवज़ दी कय मुझय बथरूम तक चोर आ मैन मोम को बथरूम अपनय कनधर पेर चोर आया मोम नैन दूर लोसक कर दिया

यह कहानी भी पड़े  दो बहनों ने पार्क में मजे किये

थोरि दैर बाद मोम नैन आवज़ दि बेता गरम पनि नहि हय तो पनि गरम लय आ मेरि कमर मैन दरद हय मैन उथा नहि पावँ गी मैन पनि लय कर बथरूम कय पस्स फोनचा दरवज़ा खतखतय ओर कहा मोम पनि लया होन मोम नैन कहा बेता अनदेर लय आ मेरय हथ मैन भी भोत दरद हय मैन पनि लय कर अनदेर गया तो शोकेद मेरि मोम सिरफ़ बरा मैन थी उफ़्फ़ मैन नैन अपनि नज़रैन घुमा लीन मैन बहिर जनय लगा तो मोम नैन आवज़ दि कय बेता इधर आ मैन परेशन होगया मोम नैन कहा बेता मेरि बरा खोल दय मेरा हथ नहि मुर रहा मैन परेशन मोम बोलि बेता किया होवा जलदि करो मेरय हथ कनप रहय थय मैन मुम्मी का बरा खोलनय लगा तो मेरा लुसद एक दुम खरा होगया मैन नैन उस वकत लुनगि पेहनि होवी थी मेरा लुनद मुम्मी कि गनद पेर लगनय लगा मुमयी कुच नहि बोलि मुमी नैन कहा बरा खोल कर पीचय मुर जना ओर बहिर चलया जना मैन बरा खोल कर बहिर चला गया मुम्मी कय कमरय मैन बेथ गया

Pages: 1 2 3

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!