मेरा ब्रिथड़े गिफ्ट

हेलो फ्रेंड्स, मैं रवि एक बार फिर से हाज़िर हूँ ये दूसरी स्टोरी हैं आशा करता हूँ पहली वाली की तरह ये भी आपको पसंद आएगी, मैं बी.टेक कर रहा हूँ और ये कहानी कुछ दिन पहले की हैं 20 डिसेंबर को मेरा बिर्थडे था उस दिन मैं और आयुषी ने एंजॉय करने का प्लॅन बनाया और हम मूवी देखने गये और मूवी शुरू हुए अभी कुछ ही देर हुई थी की अचानक से पॉवेर कट हो गया और अंधेरे मे आयुषी को डर लगता है ये बात मैं जानता था तो उसको संभालने के लिए मैने जैसे ही हाथ आगे बढ़ाया मेरा हाथ उसके चुचो पर लगे तो मैने उसे सॉरी कहा और हात पीछे कर लिया तब तक लाइट आ गयी थी और फिर मूवी ख़तम हुई और मैं उसको अपने फ्लॅट पर ले आया बिर्थडे केक काटने से ठीक पहले उसने मुझे प्रपोज़ किया, मेरी तो खुशी का ठिकाना ही नही रहा मैं जैसे पागल हो गया और कुछ देर तक हम एक दूसरे को देखते रहे और फिर मैं उसके पास गया और उसको किस करने लगा उसे थोड़ा अजीब लग रहा था.

पर उसने कुछ नही कहा तो मैं उसे सीधा अपने बेडरूम मे ले गया और एक ज़ोर दार फ्रेंच किस की तो वो किस 10 मिनट तक चली और उतने मे ही उसकी साँसे तेज हो गयी तो फिर मैने उसके सारे कपड़े उतारे और उसका फिगर देख कर पागल हो गया 34,30,36 और मैं उसपर टूट पड़ा और कभी उसके नेक को चूस्ता तो कभी नेवेल को तो कभी उसकी आर्म पिट्स को और 10 मिनट के बाद मैने सीधा उसके चुचो पर हमला किया और ज़ोर ज़ोर से चूसने लगा, मैं इतना मदहोश हो चुका था की कई बार काट लिया तो वो चिल्लाने लगी और फिर मैने उसकी लेग्स को पकड़ा और उसके टो को चूसने लगा और उसने आँखे बंद कर ली थी, धीरे धीरे मैं उसकी चुत के पास पहुचा और मैं चूसने लगा काटने लगा और मैं इतना खो गया की 15 मिनट तक वही करता रहा और जब वो बोली की प्लीज़ रवि अब बर्दाशत नही हो रहा तो मैं उठा और अपने कपड़े निकाले और उसकी गॅंड के नीचे 2 तकिये रखे और अपना लॅंड पेलने लगा पर वो बार बार फिसल जा रहा था.

तो मैने तेल लिया उसके हाथ मे अपना लॅंड देकर तेल से मसाज करवाई और उसकी चुत चाटने लगा, 5 मिनट बाद मैं उठा और उसे लिप्स पे अपने लिप्स रखे दोनो हाथो से चुचो को दबाने लगा और अपना लॅंड सेट करके एक ज़ोर का धक्का मारा और मेरी तो गॅंड फट गयी बहुत ज़ोर का दर्द हुआ मुझे और उसकी आँखो से भी आँसू निकल गये तो मैं कुछ देर यू ही पड़ा रहा और उसको किस करने लगा और चुचो को दबाता रहा और फिर उसके पूरे फेस को किस की आर्म्पाइट्स सक की और जब वो थोड़ा रिलॅक्स हुई तो मैने एक बहुत ज़ोर का धक्का मारा और उसे खूब ज़ोर से पेलने लगा, वो रो रही थी और बहुत छटपटा रही थी पर मैं ज़ोर ज़ोर से चोदता रहा और कुछ देर बाद वो भी साथ देने लगी, तो फिर मैने अपना लॅंड निकाला और उसको डॉगी स्टाइल मे चोदने लगा और करीबन 15 मिनट की चुदाई के बाद मैं थक गया तो मैने फिर उसे अपने उपर आने को कहा और मस्ती मे वो झूमने लगी और 5 मिनट बाद मैं उसकी चुत मे झड़ गया.

यह कहानी भी पड़े  रंडी की चूत चोद कर अपने लंड की प्यास बुझाई

फिर दोनो सो गये और उसके बाद जब हम उठे तो मेरे लॅंड मे दर्द था और शायद उसे भी पर दोनो के चेहरे पर एक मुस्कान थी, आयुषी ने मुझसे पूछा कैसा था बिर्थडे गिफ्ट तो मैं बोला “बहुत बढ़िया” और फिर हमने केक काटा और थोड़ा खाया और बेडरूम मे आ गये और फिर हम एक दूसरे को फिर से किस कर रहे थे और किस के बाद मैने उसे बेड से उतारा और अपनी गोद मे लिया और दीवार से चिपका दिया और एक ज़ोर दार स्मूच करने लगे, मैं शायद कुछ ज़्यादा ही जोश मे था तो उसके होंठो को बाइट कर दिया और इसी पोज़िशन मे मैं उसके बूब्स चूसने लगा और वो काफ़ी खुश लग रही थी, फिर मैने उसके चुत पर अपना लॅंड सेट किया और एक ही झटके मे पूरा पेल दिया और वो ज़ोर से चीखी “ऊऊऊओ ऊऊओ ऊओई माआआअ आआआआ एयायाह मैं मर गयी रवि प्लीज़ इसे निकालो” पर मैं कहा मानने वाला था उसे ज़ोर ज़ोर से ठोकने लगा और पूरे रूम मे चुदाई की आवाज़े गूँज रही थी और फिर मैं थक गया तो उसे नीचे उतारा और टेबल के सहारे झुकने को बोला.

और फिर पीछे से मैं उसकी चुत मारने लगा और 20 मिनट की चुदाई के बाद दोनो पूरी तरह थक गये और हाफने लगे, फिर हम बेड पर आए और सो गये और रात को करीब 2 बजे मेरी आँख खुली तो मैं बाथरूम गया और आ कर जब उसकी नंगी गॅंड को देखा तो मेरा लॅंड खड़ा हो गया तो फिर मैं उसके जिस्म को चूमने लगा और वो भी उठ गयी, मुझे एक शरारत सूझी मैने बोला की तुम मुझे फुल बॉडी मसाज दो मैं तुम्हे दूँगा वो मान गयी और उसने मेरे पूरे बॉडी पर मसाज की और अपने हाथो मे तेल लगा कर मेरे लॅंड की खूब मालिश की और मैने भी उसकी पूरी बॉडी की मसाज की और उसकी चुत को खूब मला इससे वो मचलने लगी, फिर मैने उसकी गॅंड की मालिश की और एक हाथ से उसकी गॅंड मलता तो दूसरे हाथ की 2 उंगलिओ से उसकी चुत चोदता और इतने मे ही वो झड़ गयी, फिर मैं उसे किस करने लगा और वो फिर से उत्तेजित हो गयी तो मैने उसे पलटने को कहा और वो पलट गयी और फिर मैने उसकी गॅंड पे लॅंड सेट किया और धक्का दिया और लॅंड फिसल गया.

यह कहानी भी पड़े  मेरे जीजू मेरी चूत के प्यासे

2 बार किया पर लॅंड अंदर नही गया तो मैने अपना अंगूठा पेल दिया और उसे दर्द हुआ पर मैं रुका नही और अंगूठा घुमाने लगा और कुछ देर बाद उसे अछा लगने लगा तो मैने अपना लॅंड इसबार सेट किया और एक ज़ोर का झटका मारा और लॅंड पचररर करता हुआ सीधा 2 इंच अंदर चला गया और सच मे दोस्तो मेरी तो जान ही निकल गयी, मैं 5 मिनट रुका और वो लगातार रोती रही और फिर मैं उठा हिम्मत तो नही थी पर एक जोरदार धक्का और मारा तो वो लगभग बेहोश हो गयी और दर्द के मारे मेरी भी हालत खराब हो गयी और मैं वैसे ही सोता रहा, करीब 45 मिनट बाद मैं उठा तो देखा मेरा लॅंड और उसके गॅंड से खून बह चुका था पर उसकी नंगी गॅंड देख कर मेरा लॅंड फिर से खड़ा हुआ और मैने अपने लॅंड पे तेल लगाया और सीधा उसके उपर चढ़ गया और आराम से लॅंड पेलने लगा, वो उठ गयी और मना करने लगी पर मैं कहा मानने वाला था और थोड़ी देर मे दोनो को मज़ा आने लगा और हम मज़े से चुदाई करने लगे.

इस बार मैने उसे हर पोज़िशन मे आधे घंटे तक चोदा और फिर उसकी गॅंड मे ही झड़ गया और हम दोनो फिर से सो गये, तो दोस्तो कैसी लगी स्टोरी अपने विचार ज़रूर दे मेरी मैल आईडी है “[email protected]” और कोई भी लड़की या विमन मुझसे बात करना चाहे तो आई एम रेडी और सारे कॉनवेर्सेशन गुप्त रहेगे और कहानी अभी बाकी है मेरे दोस्तो. कहानी पढ़ने के बाद अपने विचार नीचे कॉमेंट्स मे ज़रूर लिखे, ताकि हम आपके लिए रोज़ और बेहतर कामुक कहानियाँ पेश कर सके – डीके

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published.


error: Content is protected !!