मामी का उद्घाटन चुदाई के साथ

हैल्लो दोस्तों.. में सन्नी एक बार फिर से आप सभी के सामने हाजिर हूँ। एक और सेक्सी सच्ची कहानी लेकर। तो में अब अपनी स्टोरी पर आता हूँ.. ये 2013 की गर्मियों की छुट्टियों की घटना है.. जब में चेन्नई गया हुआ था अपने मामा के घर पर और वहाँ पर मैंने मेरी मामी को पटाकर बहुत चोदा और उनकी कई बार गांड भी मारी। अब में आपको मेरी मामी के बारे में थोड़ा बता दूँ.. मेरी मामी की उम्र 35 है और उनका 10 साल का एक बेटा भी है और उसका नाम आरव है। मेरी मामी और मामा में ज़्यादा बनती नहीं.. क्योंकि मामा बहुत गुस्से वाले हैं और वो छोटी छोटी बातों पर ही मामी पर गुस्सा हो जाते हैं। मेरी मामी का फिगर 36-32-37 है। उनकी हाईट 5.5 इंच है और वो बहुत ही मस्त और बहुत ही सेक्सी हैं और वो बहुत ही गोरी हैं। वो ज्यादातर साड़ी पहनती हैं और वो साड़ी में बहुत सुंदर लगती है।

अब में सीधा अपनी घटना पर आता हूँ। में उस वक़्त 18 साल का था और मेरी हाईट 5’8 इंच है.. अच्छी बॉडी है और मेरा लंड 6.5 इंच का है। मुझे हमेशा से मेरी मामी को चोदने का मन था.. लेकिन मैंने कभी कोशिश नहीं की उन्हें चोदने की। वो मई का महीना था मामा रोज़ की तरह फेक्ट्री गये हुए थे और घर पर केवल में और मामी ही थे। मामी को में बहुत अच्छा लगता था और मामी मुझसे बहुत सारी बातें करती। तो उस दिन भी मामी किचन से साफ सफाई करने के बाद ऊपर वाले कमरे में आई.. जहाँ पर में आराम कर रहा था। फिर मामी आईं और मुझे हिलाकर पूछा।

मामी : बाबू सो रहे हो क्या?

में : नहीं मामी बोलो ना क्या बात है?

मामी : चल मेरे रूम में आजा वहाँ पर में मेरी अलमारी भी जमा लूँगी और हम बातें भी कर लेंगे।

यह कहानी भी पड़े  मेरी जानू और उसकी माँ

फिर हम मामी के रूम में चले गये और फिर मामी और में ऐसे ही इधर उधर की बातें करने लगे और मामी अपनी अलमारी जमाने लगी। मामी मुझसे बहुत फ्रेंक थी और मुझसे कोई भी बात करने में शरमाती नहीं थी।

मामी : और बताओ सन्नी कितनी गर्लफ्रेंड है तुम्हारी?

में : एक भी नहीं मामी।

मामी : अरे बाबू.. मुझसे क्यों शरमा रहे हो में थोड़े ही दीदी को बताउंगी तुम्हारी गर्लफ्रेंड के बारे में।

में : अरे मामी आपसे क्या शरमाना.. सच में मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है और अगर होती तो आपको तो जरुर बता ही देता।

मामी : अरे बाबा बंगलोर की लड़कियों को क्या हो गया है। मेरे इतने सोने भांजे की कोई गर्लफ्रेंड नहीं है.. अगर तू मेरी उम्र का होता तो देखता तेरे साथ क्या क्या होता। मामी मेरे साथ ऐसे अडल्ट जोक्स हमेशा करती ही रहती है।

फिर में नॉटी स्माईल पास करते हुए बोला कि क्या होता मामी ऐसे ही बता दो? और मामी हंसने लगी और फिर अपना कम करने लगी। बातें करते करते मामी समान जमा रही थी और उनकी गांड मेरी तरफ थी। में उनकी गांड को देखे जा रहा था। हम ऐसे ही कुछ देर बात करते रहे और फिर मैंने मामी से कहा कि मुझे प्यास लगी है और में पानी पीने किचन में चला गया.. जब में पानी पीकर किचन से वापस मामी के रूम में घुस रहा था.. तभी मामी बाहर आ रही थी तो में और मामी टकरा गये। तो मामी के बूब्स मेरे चेस्ट पर ज़ोर से टकराए और एकदम से मामी फिसली.. लेकिन इससे पहले की मामी गिरती मेरा हाथ सीधा मामी की कमर पर गया और मैंने उन्हें संभाल लिया।

में : मामी आप ठीक तो हो ना?

मामी : हाँ बच गयी।

फिर मामी थोड़ा संभली और पीछे मुडकर जाने लगी तो उनका हाथ मेरे लंड पर लगा जो कि तनकर खड़ा था।

यह कहानी भी पड़े  मैडम की चूत में लंड उतार डाला

मामी : सन्नी बाबू.. तुम बड़े हो गये हो और इतना कहकर उन्होंने एक नॉटी स्माईल दी।

में : में तो कब से ही बड़ा हो गया हूँ मामीज़ी अपने तो आज नोटीस किया और हम दोनों एक दूसरे को देखे जा रहे थे और पता नहीं मुझे क्या हुआ कि मैंने अपने हाथ मामी के बूब्स पर रख दिए और उन्हें दबाने लगा। मामी एकदम दंग होकर मुझे देखती हुई बोली।

मामी : अरे यह क्या कर रहा है? तुझे ज़्यादा शैतानी सूझ रही है.. छोड़ मुझे।

फिर मामी यह कह कर पलटी और वहाँ से जाने लगी.. लेकिन में अब मानने वाला नहीं था और मैंने मामी के बूब्स पीछे से पकड़ लिए और उन्हें जोर जोर से दबाने लगा।

मामी : बस बाबू.. अब यह सब बहुत बदतमीज़ी लग रही है और में तेरी मामी हूँ। तुम मेरे साथ यह सब नहीं कर सकते हो।

में : मामी आप मुझे पसंद नहीं करते क्या? और वैसे भी अभी अपने ही तो कहा था कि में अगर आपकी उम्र का होता तो मेरे साथ बहुत कुछ होता.. तो अब बताओ मेरे साथ क्या क्या होता? फिर मामी मेरी तरफ पलटी और बोली कि नहीं बाबू यह सब ग़लत है.. समझा कर तू चाहता है कि में तुझसे बात वगेराह ना करूँ तो बोल दे.. में नीचे चली जाउंगी। फिर यह बोलकर मामी पलटने लगी कि हमारी चैन आपस में उलझ गयी और में खींचने की वजह से फिसल गया और में और मामी बेड पर गिर गये। में उस वक़्त मामी के ऊपर था। फिर हम दोनों एक दूसरे को देखे जा रहे थे और मामी मुझे अपने ऊपर से हटाने की कोशिश कर रही थी.. लेकिन बहुत ही कमज़ोर कोशिश थी। कुछ ही पल में पता नहीं क्या हुआ और हमारे होंठ मिल गये। अब हम एक दूसरे को किस कर रहे थे।

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2 3

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!