मैं और मेरी थ्री फ्रेंड्स की कामुकता

हेलो फ्रेंड्स मैं यानी आपका दोस्त राज शर्मा एक नई कहानी लेकर आपके सामने हाजिर हूँ दोस्तो ये कई साल पहले की बात है ऑर जब मैं 23 साल का था मैं कॉलेज मे स्टडी करता था मेरी हाइट 5 फुट 11 इंच ओर बॉडी आवरेज है ओर मैं गुड लुकिंग भी हू मैं घर मैं ज़्यादातर अकेला रहता था मेरे डॅड कही बाहर जॉब करते थे ओर मेरी मोम भी वही रहती थी मुझे आपनी स्टडी कंप्लीट करनी थी इस लिए मैं उनके साथ न्ही गया अब मैं आपनी कहानी पर आता हू.

मेरे पड़ोस मे 3 लड़किया रहती है उनमे से 2 बहेने थी ओर एक अलग घर मे रहती है हम पड़ोस में रहते थे तो सब से जान पहचान भी थी.
हम काफ़ी बातें भी किया करते थे वो सभी देखने मे बहुत सुंदर थी उनमे से एक की एज 18 साल ओर बाकी दोंनो 18 साल की थी हम काफ़ी फ्रॅंक थे ओर खुल के बातें करते थे उन दो बहेनो मे से बड़ी का नाम निमी ओर छोटी का नाम जस्सी था ओर तीसरी लड़की का नाम रमन था बात गर्मी के दिनो की है गर्मी की छुट्टिया चल रही थी मैं कही से घर आ रहा था ऑर रमन तभी घर से बाहर आई ओर मुझसे कहा कि घर मे बहुत बोर ही रही हू कुछ करने को नही है तो मैने कहा तुम ऐसा करो उन दोंनो को लेकर मेरे घर मैं आ जाओ हम कार्ड्स खेलते है

तो उसने कहा ठीक है 15 मिनट बाद वो तीनो हमारे घर मे आ गयी हम ताश कार्ड्स खेलने लग गये ओर साथ मे हस्सी मज़ाक भी करने लग गये थोरी देर बाद रमण ने कहा कि ऐसे मज़ा न्ही आ रहा खेलने का ऑर कहा चलो कोई शर्त रखते हैं फिर मज़ा आएगा तभी निमी ने एक दम कहा के जो हारेगा वो आपने एक एक कपड़ा उतारेगा जितनी बार कोई होरेगा उसके उतने कपड़े उतरेंगे तभी वो दोंनो ना ना करने लगी पर मैने कहा ठीक है मैने सब को मना लिया मैने भी कह दिया कि फिर बाद मे कोई आपनी बात से पल्तेगा न्ही उन्होने कहा ठीक है मुझे ये सोच कर ही मज्जा आने लग्गा कि मैं इनको नंगा देखूँगा सब एक दूसरे को देख कर हस्सने लगे फिर हमने दोबारा ताश खेलनी शुरू की सब सोच समझ कर खेल रहे थे कोई भी पहले आपने कपड़े उतारना न्ही चाहता था फेर आख़िर मे निमी गेम हार गई मैने कहा अब जल्दी से आपना टॉप उतारो वो मना करे लगी उसने कहा अगर ऐसा करोगे तो मैं घर चली जाउन्गि मैने कहा हमने तुम्हे पहले बोला था अब तो उतारना ही पड़ेगा

मैने रमण को कहा कि तुम दोंनो भी कहो उसको तब वो भी बोलने लग गई कि ये तो ग़लत बात है इससे सारा गेम खराब हो जाएगा रमण ने कहा कि तुम एक बार उतार देना फेर तभी दोबारा पहन लेना उसने निमी को मना लिया पर निमी ने शरत रखी कि रमण भी आपना टॉप उतारेगी मैने कहा ठीक है जब निमी आपना टॉप उतार कर दोबारा पहन ने लगी तो जस्सी ने उसका टॉप उससे झपट लिया ओर साथ वाले कमरे मे भाग गई ऑर वो ब्रा पहने खड़ी थी क्या बूब्स थे उसके मैं देख कर पागल हो रहा था मेरा उसके बूब्स पकड़ने का बहुत मंन करने लगा मेरा लंड पूरा खड़ा हो गया था निमी ने शर्मा कर आपना मूह छुपा लिया ओर वो बहुत उदास हो गई ओर बोली कि ये बहुत ग़लत बात है निमी ने रमण को पकड़ लिया ओर उससे बोली कि तू आपना टॉप उतार न्ही तो मैं इसे ज़बरदस्ती उतारुँगी उसने रमण का टॉप भी उतरवा दिया वो दोंनो ब्रा मे खड़ी थी मैने कभी किसी लड़की के बूब्स न्ही देखे थे आज

मेरे सामने 2 जवान लड़किया खड़ी थी तभी जस्सी भी कमरे मैं आ गई जस्सी ने शरारत करते हुए रमण की ब्रा का हुक खोल दिया ओर उसके बूब्स नंगे हो गये मैं उसके बड़े बड़े निपल देख कर दीवाना हो रहा था

यह कहानी भी पड़े  मकान मालिक के बेटी की चूत की प्यास को बुझाया

उसने आपने हाथो से आपने बूब्स छुपा लिए ओर नीचे से ब्रा उठा कर पहन ने लगी तभी मैने मोके का फयडा उठाया ओर जल्दी से निमी की ब्रा भी खोल दी निमी के बूब्स छोटे थे पर देखने मे मस्त थे तभी मेरे दिमाग़ मे एक आइडिया आया ओर बोला कि दोस्तो मे कैसी शरम चलो आज ये शरम मिटा देते है सब आपने आपने कपड़े उतार देते है मैने उनसे कहा कि तुम दोंनो तो आधी नंगी हो ही चुकी हो अब कैसी शरम तभी मैने आपनी शर्ट ओर पेंट उतार दी ओर सिर्फ़ अंडरवेर मे हो गया ओर मैने उनसे कहा कि अब पहले पकड़ कर जस्सी को नंगी करते है ये अकेली ही आपने कपड़ो मे है मैने भाग कर जस्सी को पीछे से पकड़ लिया ओर जान बुझ कर आपने हाथ उसके बूब्स पर रख लिए ओर उसके बूब्स भी दबाने लग्गा ओर तभी निमी ओर रमण भी मेरी हेल्प करने लगगी उसको नंगा करने मे रमण ने पहले जस्सी की जीन्स उतारी ओर मैने उसका टॉप उपर कर दिया ओर निमी ने उसका टॉप उतार दिया मैने पीछे से उसकी ब्रा की हुक भी खोल दी अब वो सिर्फ़ पॅंटी मे थी तभी निमी ओर रमण ने भी आपनी जीन्स उतार दी अब हम चारो सिर्फ़ अंडरवेर मे थे मैने कहा कि अब हम एक दूसरे की अंडरवेयर उतारेंगे

वो सब मान गई सब के चेहरे खिले हुए थे ओर मैं तो ज़्यादा ही खुश था किसी को एक चूत न्ही मिलती थी ओर मेरे सामने 3 चूत थी मेरे लंड को इतना अच्छा लग रहा था कि उसका तो बिना कुछ किए ही पानी निकलने वाला था वो तीनो मेरे लंड की तरफ देख रही थी ओर शायद यही सोच रही थी कि मेरा लंड सबसे पहले कौन पकड़े ओर मैं उनके बूब्स की ओर देख रहा था मुझसे अब वेट न्ही हो रहा था मैने झट से जस्सी की चड्डी नीचे खींच दी ओर उन्होने तीनो ने पकड़ कर मुझे नंगा कर दिया ओर उन्होने आपनी चड्डी भी उतार दी मैने पीछे से जा कर रमण ओर जस्सी को पकड़ लिया मैं आपने लंड को उनके चूतरो पर रगड़ने लग्गा ओर उनके बूब्स दबाने लगा इतने मे वो भी गरम होंने लगी तभी उन्होने मुझे बेड पर गिरा दिया ओर निमी मुझे किस करने लग गई ओर उसके बूब्स मेरी चेस्ट पर थे ओर मुझे बहुत मज़ा आ रहा था ओर वो दोंनो मेरा लंड चूसने लग गई एक मेरा लंड चूस रही थी ओर एक ने मेरे टटटे आपने मूह मे लिए हुए थे मेरे लंड ने जल्दी ही आपना पानी छोड़ दिया पर फिर भी उन्होने मेरे लंड को छोड़ा नही पानी छोड़ने के बाद भी

उन्होने मेरा लंड आपने मूह मे लिया हुया था मैने उनसे आपना लंड छुड़ाया ओर निमी को आपने उपर से उठाया ओर निमी ओर जस्सी के बूब्स चूसने लग गया रमण ने कहा कि तुम्हारे लंड ने बहुत जल्दी पानी छोड़ दिया मैने कुछ न्ही कहा ओर रमण को पकड़ कर उसके बूब्स चूसने लग गया ओर उसकी चूत मे उंगली डाल दी वो सिसकी लेन लग गई ओर जस्सी रमण को किस करने लग गई मैं बेड पर बैठ गया ओर उनका हाथ पकड़ कर आपने लंड पर रख दिया ओर उनसे कहा क इसे हिलाओ इससे जल्दी दोबारा मेरे लंड मे तनाव आ गया ओर मैने सोचा कि सबसे पहला सबसे छोटी जस्सी को चोदुन्गा

तभी मैने निमी को कहा कि मेरा लंड पकड़ कर आपनी छोटी बहेन की चूत मे डाल पर उसने कहा कि पहला मैं चुदना चाहती हू मैने कहा नही पहले मैं तुम्हारी बहेन को चोदुन्गा फेर तुम्हे उसने मेरा लंड आपने हाथ मे लिया ओर आपनी बहेन की चूत पर रख दिया

उसकी चूत बहुत टाइट थी मेरा लंड उसकी चूत मे जा न्ही रहा था फिर रमण ने मेरा लंड आपने मूह मे लिया ओर उस पर थूक लगा कर फिर से उसने जस्सी की चूत मे डाल दिया ओर मैने ज़ोर से झटका लगाया ओर मेरा लंड जस्सी की चूत मे घुस्स गया मैं ज़ोर ज़ोर से झटके लगाने लगा ये जस्सी की पहली चुदाई थी इसलिए जस्सी जल्दी ही झर गई पर मेरा लंड अभी पूरा तन्ना हुया था तभी मैने रमण को आपनी ओर खींचा ओर आपना लंड उसकी चूत मे डाल दिया ओर निमी मेरी साइड मे आ कर बैठ गई ओर उसने आपने बूब्स मेरे मूह के पास कर दिए ओर मैं कभी उसके होंठ चूस्ता कभी उसके बूब्स थोरी देर बाद मैं ओर रमण दोंनो झार गये पर अभी निमी की चुदाई
बाकी थी मैं पूरा थक गया था पर निमी ने कहा कि मेरी चुदाई भी करो मैने कहा मुझे साँस तो ले लेन दो मेरी जान लोगि क्या तुम तो उदास हो गई ओर मैने उससे कहा गुस्सा क्यो होती हो मेरी जान अब तुम्हारी ही बारी है

यह कहानी भी पड़े  अंतर्वसना सेक्स मेरा अमर प्यार

तुम्हारे लिए तो ज़्यादा स्टॅमिना बंन गया है ओर मैने उसे खींच कर आपनी गोद मे बिठा लिया ओर जस्सी ओर रमण बेड पर बैठी थी हम 10-15 मिनट बैठे बाते करते रहे वैसे ही नंगे ही मैने निमी से कहा कि तुम्हारे बूब छोटे है ओर तुम्हारी छोटी बहेन के कितने बड़े बड़े क्यो उसने कहा कि अब तुम चूस कर बड़े कर दो मैने फिर उसका बूब आपने मूह मे ले लिया ओर मेरा लंड फिर से चुदाई के लिए तैयार हो गया मैने निमी से कहा आ साली अब तेरी बारी है आजा तुझे चोद्ता हू मैने उसे घोड़ी बना लिया ओर पीछे से लंड उसकी चूत पर रख कर ज़ोर से झटका मारा एक ही झटके मे मेरा पूरा लंड उसकी चूत मे घुस गया उसकी चीख निकल गई

मैने उसके मूह पर हाथ रखा ओर ज़ोर ज़ोर से झटके मारने लगा वो दोंनो बैठ कर हमे देख रहे थे ओर कभी कभी मेरे टटटे पर हाथ फिराते ओर कभी मेरी चेस्ट पर निमी की हल्की हल्की चीख निकल रही थी बीच मे कभी ज़ोर से भी चीख पड़ती मैने कहा क्यो अब क्या हुआ तब तो बहुत कह रही थी कि चोद नही रहे मैने पूरे 20 मिनट तक उसकी चुदाई की कभी पीछे से कभी उसे उपर बिठा कर उसका पानी मेरे से पहले निकल गया ,

उसकी चूत गीली हो गई पर मैं अभी तक झारा न्ही था वो कह रही थी कि बॅस करो मैने कहा अब नही छोड़ूँगा तुझे अब तो तेरी चूत फाड़ ही डालूँगा 20 मिनट चुदाई के बाद मेरा पानी भी निकल गया ओर मैने आपना पानी निमी के पेट पर गिरा दिया ओर बेड पर लेट गया 5 मिनट मैं वैसे ही लेटा रहा इतनी चुदाई के बाद मेरा पूरा शरीर दुखने लगा था निमी ने कहा बाथरूम कहाँ है मुझे आपनी चूत सॉफ करनी है मैने कहा चलो आज इकट्ठे नहाते है तुम्हारी चूत मैं सॉफ कर दूँगा तुम मेरा लंड सॉफ कर देना फिर हम बाथरूम मे चले गये वो तीनो मेरे लंड पर हाथ फेरने लग गये ओर मैं उनके चूतरो पर हम काफ़ी देर ऐसे ही नंगे नहाते रहे जब हम नहा कर निकले मेरा फिर से लंड खड़ा हो गया ओर वो सब कपड़े पहन ने लग गये पर अभी मेरा दिल नही कर रहा था मैने जस्सी को फिर से पकड़ लिया ओर कहा कि मुझे फिर से तुम्हारी चूत मे आपना लंड घुसाना है तो उसकी बड़ी बहेन ने कहा कि नही अभी न्ही अभी बहुत देर हो गई है पर मैं न्ही माना मैने कहा न्ही मुझे एक बार ओर करना है तो उसने कहा कि मेरी चूत भी लेनी पड़ेगी मैने कहा ठीक है

मैने दोंनो बहनो को बेड पर लिटा दिया इस बार पहले मैने निमी की चूत मे आपना लंड घुसाया फिर जस्सी की इस बार जस्सी की चूत मे मेरा लंड
कुछ आसानी से घुस्स गया मैने करीब 20 मिनट उनकी चुदाई की फिर वो कपड़े पहन कर आपने आपने घर चले गई क्या दिन था वो 3 ज्वान लड़कियो की एक साथ चुदाई किसी किसी को ही नसीब होती है फिर हमे जब टाइम मिलता उनकी चुदाई करता रहता अगर आपको मेरी कहानी अच्छी लगी हो तो मुझे ईमेल करे

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published.


error: Content is protected !!