सगी मामी ने मुझे समर्पित कर दिया अपनी चूत का बगीचा

Maa Beta Sex Story : हाय फ्रेंड्स, आप लोगो का में स्वागत है। मैं रोज ही इसकी सेक्सी स्टोरीज पढ़ता हूँ और आनन्द लेता हूँ। आप लोगो को भी यहाँ की सेक्सी और रसीली स्टोरीज पढने को बोलूंगा। आज फर्स्ट टाइम आप लोगो को अपनी कामुक स्टोरी सुना रहा हूँ। कई दिन से मैं लिखने की सोच रहा था।अगर मेरे से कोई गलती हो तो माफ़ कर देना।

मेरा नाम अखिलेश गुप्ता है। मैं आगरा का निवासी हूँ और आप लोगो को बता दूँ की मैं अभी अभी जवान हुआ हूँ। मेरी उम्र 24 साल की है। अब सिविल की तैयारी कर रहा हूँ और आगे चलकर मैं किसी जिले के DM बनना चाहता हूँ और समाज में बहुत नाम और शोहरत पाना चाहता हूँ। इसके अलावा मुझे हर जवान लड़के की तरह सुंदर युवतियां और उनकी चूत चोदने का बड़ा शौक है। मैं अभी तक 3 जवान और सेक्सी लडकियों से चुदाई के मजे लूट चूका हूँ और जैसे ही मैं किसी सेक्सी माल को देखता हूँ मेरा लंड खड़ा होने लग जाता है।

दोस्तों मैंने अपनी जवान मामी की भरी हुई चुद्दी(चूत) का शिकार कैसे किया, आपको सब बता रहा हूँ। मैं अपने मामा के घर गया हुआ था। मेरे मामा जी बहुत अच्छे आदमी है और मुझे बहुत प्यार दुलार करते है। असल में वो काफी गरीब है और एक कार डीलर के यहाँ सेल्स मैन की नौकरी करते है। 2 साल पहले ही मामा की शादी मामी से हुई है। मेरी मामी क्या मस्त आइटम है दोस्तों। अगर आप लोग देख लेते तो आपका भी लंड खड़ा हो जाता। कविता मामी का बदन उपर से नीचे तक भरा हुआ है और बड़ी बड़ी आँखे है। रंग खूब गोरा है, वो अच्छे घर से है और क्या मस्त मस्त आम है उनके। मामी का फिगर 34 28 32 का है। किसी पोर्न स्टार की तरह जिस्म है उनका। मैंने तो जब मामी को पहली बार देखा तो देखता ही रह गया। कुछ समय बाद मेरे मामा के पास पैसे नही थे इसलिए उन्होंने आगरे के एक लो क्लास बस्ती में एक मकान बना बनाया सिर्फ 3 लाख में खरीद लिया। दोस्तों वो जगह अच्छी नही थी पर मामा जी के पास जादा पैसे नही थे जिससे वो किसी अच्छी कालोनी में घर बना पाते। मेरे मामा और मामी ने उस बस्ती में रहना शुरू कर दिया। पर बाद में पता चला की उस बस्ती में जादातर निम्न वर्ग के लोग जैसे रेड़ीवाले, मजदूर, और अन्य लोग रहते है। धीरे धीरे उस इलाके की सच्चाई पता चली। अक्सर ही वहां पर बहु बेटियों के साथ छेड़कानी और बलात्कार हो जाता था।

यह कहानी भी पड़े  भूत की माँ की चूत

जादातर गुंडे, मवाली और नशा पत्ती करने वाले आपराधिक प्रवित्ति के लोग उस बस्ती में रहते थे। पर अब मजबूरी थी। मामा को तो मामी के साथ रहना ही था। इसलिए वो रहने लगे। कुछ दिनों बाद वही हुआ जिसका डर था। कुछ लड़को ने मामी के साथ छेड़खानी कर दी और जब वो बाहर सरकारी नल पर पानी भरने गयी तो उनके दूध दबा दिए। मामी ने लोग लाज की वजह से ये बात किसी को नही बोली। अब उन मनचलों का हौसला बढ़ गया और आये दिन किसी न किसी बहाने से मेरी मामी के दूध दबा लेते और मजा ले लेते। दोस्तों मुझे इन सबके बारे में तब पता चला जब मैं मामी के घर गया था।

दोपहर के वक्त एक मनचला जबरन घर में घुस आया और मेरी सुंदर, सेक्सी और जवान मामी से जबरदस्ती करने लगा। मैं देख लिया और उसे पकड़ लिया। मैंने उसकी जमकर धुनाई कर दी और वो किसी तरह जान बचाकर भागा। उसके बाद उन लडकों ने मेरी मामी को कभी नही छेड़ा। अपनी मामी की इज्जत मैंने बचाई थी इसलिए अब वो मुझे विशेष तौर पर प्यार करने लगी थी। एक दिन मैं उनके कमरे में किसी काम से गया था। मामा तो अपनी जॉब पर गये हुए थे और मामी ब्लाउस पहन रही थी और मैं इधर पहुच गया। मैंने आज कविता मम्मी के मस्त मस्त आम 34″ के देख लिए। मैं तो शोक्ड हो गया। क्या मस्त मस्त सनी लिओन जैसी बड़ी बड़ी चूचियां थी। दोस्तों 34″ की चूचियां किसी भी मर्द के लिए पर्याप्त होती है। हर मर्द कम से कम 34″ के दूध वाली स्त्री को चोदने के सपने देखता है। मैं भी इसी तरह का मर्द था।

यह कहानी भी पड़े  सगे भाई ने चोद चोदकर मेरी बुर फाड़ दी और भरपूर मजा दिया

मैं: ओह्ह.. सॉरी मामी

मामी: अरे रुक तो सही। कहाँ भाग रहा है???

मैं: आप ब्लाउस तो पहन लो

मामी: क्यों अगर बिना ब्लाउस के हुंगी तो क्या मुझसे तू बात नही करेगा??

मैं: वो बात नही है मामी। पर आप पहले ब्लाउस की बटन लगा लो। फिर आपके कमरे में आऊंगा

इतना मैंने बोला था की कविता मामी ने मुझे पकड़ लिया और अपने सीने से लगा लिया। “ये आप क्या कर रही हो??” मैंने घबराकर बोला।

“मुझे प्यार आ रहा है तुझ पर” इतना मामी ने बोला और मुझे खुद से चिपका लिया। मैं भी 24 साल का जवान मर्द था। कहाँ तक खुद को रोक पाता। मैंने भी मामी को पकड़ लिया और गालो पर किस करने लगा। फिर हम दोनों होठो पर किस करने लगे।

Pages: 1 2 3

error: Content is protected !!