मां बहन का आशिक बेटा 4

मैं मीरा एक बार फिर अपनी घटना को कहानी का माध्यम देते हुए आप लोगों के बीच में आगे की घटना को लिख रहे हूं अब जिंदगी बदल चुकी थी मैं अपने बेटे की रखैल या पत्नी मां सब कुछ बन गई थी
अब मेरा बेटा एक जिद पर अड़ा है लेकिन मैं इस चीज कााा विरोध रही हूं लेकिन वह मानने को तैयार नहीं है जिंदगी बहुत कशमकश में चल रहीी थी

बेटा मुझसे एक बच्चा चाहता हैैै लेकिन मैंं इसके लिए तैयार नहीं हूं बेटी की बेटा हो जाए क्योंकि मेरे बस में जानती हूं कि अगर बेटा हो जायेगा तो मैं अपने को फ्री हो जाऊंगी लेकिन बेटे को कुछ और मंजूर है वह नहीं चाहता बेटा

बेटा बोल रहा था कि मुझे मां से बेटाा चाहिए म उसको समझा रही थी बेटा मान नहीं रहा था मैं परेशान हो चुकी थी मैं बोली अगर मैं मां बन गई तो बेटी को क्या कहोगे बेटा बोला बहन कोोो सब पता है मैं बोली तुम उसकी बच्चेेे के बाप बेटा बोला मुझे जितना मजा तुमको चोदने मेंं आता उतना बहन में नहीं आता

बेटा बोला मुझे तुमसे एक बच्चा चाहिए उसकेे बाद मैं तुमको फ्री छोड़ दूंगा तुम चाहेे जहां जा सकतीी हो
लेकिन कुछ दिन पहले ऐसा हुआ कि मुझे एमसी आए हुए 7 दिन हुए थे यह बात पिछले 3 महीनेे की
बेटी मुझसे झगड़ा कर रहीी थ कह रही थी पहले तो तुमको बहुत बुरा लगता था बेटे के ल** कोो लेने लेकिन अब तो आधी हो गई हो काफी झगड़ाा हुआ
बेटी कोोो अब जलन हो है वह बोलतीी हैै मेरी सौतन बन गई हो मैं बेटे को बहुत समझाती हूं लेकिन बेटा मेरेेे पास आकर्ष होता है उस दिन झगड़ा इतनाा बढ़ मैंं बेेटा को कॉल कर दिया बेटा घर पर आया बेटी को बहुत डाटा और मारा भी मैंं बेटे को अलग करनेे की कोशिश करती रही
कुछ देर बाद बेटे को अपनी गलती का एहसास हुआ वह अपनी बहन हनी मेरी बेटी कोो बाहों में उठाया और बाथरूम मेंंं लेकर चला गया मैं बैठी रही बाथरूम में नंगा किया और सागर का पानी खोलकर चुचियों को रगड़ने लगा च** में मुंह डालकर पानी पीने लगा फिर धीरे-धीरे सूचियों को भी दबा रहा था
मैं भी बाथरूम में पहुंच गई बेटी से होली बोली कि बेटा जोो हुआ अब उसकोो बदला नहीं जा सकता तुम मेरी बेटी अब नहींं हो सौतन हो बेटी बोली तुम्हारे च** का आशिक हो चुका है मेरा पति और आपका बेटा मुझे भी चूत** की ल** की जरूरत है मैं बोली दोनों कोो संतुष्ट करेगा
बेटा बोला मां को और तुमको दोनोंं से प्यार करता हूं बेटी बोली हो लेकिन दिन रात मां के साथ हीी सोते हैं अब मेरीीी जरूरत नहीं हैै मैं को एक मोहरा थी मां को पाने के लिए मांंंं तुम्हारी हो चुकी है

यह कहानी भी पड़े  गर्लफ्रेंड ने मेरा लंड चूस चूस कर लाल कर दिया फिर चुदवाया

बेटा बोला तुम मेरी जान हो और मां पाकर में दुनिया की सारी खुशियां मुझे मिल गई है तुम ही कहती थी अगर मांं मिल गई तो हम लोग पूरा जीवन एक अलग रीति रिवाज से निभाएंगे आज वह काम पूरा हो गया है मां बीएफ पूरा मजाा देती मुझे सब कुछ मान चुकी है और पत्नी वालाा सुख दे रहीी है
जो मुझ जैसे भाग्यशाली को तुम्हारी वजह से मिला है अगर तुम नहीं होते तो शायद मैं यह काम कर पाता

बेटी की च** को अपने तरफ खींच कर मैं बोली मैं तुम्हारा साथ दे रही हूं अब तुम्हें जलन कैसीी होती बेटीी बोली मुझे अब ये प्यार नहीं करते मैंं बोला क्यों नहीं करते
मैं बोली तुम ही से करतेे हैं बेटी बोली अगर मुझसे करते तो रात भर तुम्हारे सााथ नहीं बेटे ने बेटी को समझाते हुए कहा मैं तुमसे ज्यादा प्यार करता हूं और तुम्हारे साथ पूरा जीवन रहना है मां तो 15 20 साल तक ही साथ दे सकती है जब तक उसकी चूची और च** टाइट बनीी रहे
बेटी बोली आप तो कहे थे कीमा राजी होो जाएगी तोोो हम लोग शादी कर लेंगे इसलिए आप मां को चोदना चाहते थे लेकिन आज आप मुझे छोड़ कर मां को खुश करने में लगे रहते हैं और इनको भी शुरु-शुरु में बहुत पाप दिखता था
लेकिन अब सब पाप खत्म हो गया है बस हमेशा बेटे से चिपकीी रहत है जैसे पति हो गया हो अब इनको पाप नहीं दिखता मैं बोली बेटी तुमनेे तो मेरी आंखें खोली है कहते हुए सूचियों कोो पीने बेटा अपना ल** च** में डाल दिया कुछ देर में चुचियोंं को पीनेे के अपनी च** बेटी के मुंह पर रख दिया और कहां मजे लो जिंदगी में यही बस जीने का तरीका है और सब मनुष्य द्वाराााा बनाया गया ईश्वर किसी कोोो अलग नहीं बेटी मेरे च** को नहींं चाट रही जबरदस्ती अपनी च** को चटा रहे थे कुछ देर बाद बेटा अपना पानी बेटी की च** मेंं छोड़ मैं गर्म ही रह गई थी
बेटी कोो बेटा समझाया लेकिन बेटीी गु्स्सा रात को जब मेरेे पास ऊपर सोने आया बेटी को भी बोला तुम भी चलो पर बेटी मना कर दी जब तक वह नहीं सोए तब तक उसके पास सोया रहा इसके बाद मेरे पास आ गया

यह कहानी भी पड़े  मेरी सहेली की मम्मी की चुत चुदाइयों की दास्तान-1

बेटे सेे मैंन बोला तुम करना क्या चाहते हो तुम तो कह रहेे थ की बेटी की शादी कर दूंगाा किसी अच्छे लड़के से उसकेे बाद तुमसेे शादी करके तुम्हारे साथ रहूंगा अगर तुम्हें मेरी बात मानो बेटीीी की कहीं शादी कर दो और मैंं तुम्हारे लिए एक अच्छी लड़की खोज कर शादी कर दूंगी बेटााा गुस्सा हो गया बोला मैं इसीलिए तुम पर विश्वास नहीं करता हूं तुम मुझे दूर भागने की कोशिश करती हो जैसे तुम मजबूरी में हो मैंं बोलाी सोोच रही बेटा बोलाा मेरे लिए सोचने की जरूरत नहीं है तुम मेरी बात मानो मैं उसको मना लूंगा लेकिन पहले तुम मेरे बच्चे की मां बनोोोो अगर 3 महीने बच्चा तुम्हारेेे पेट मेंं हो जाता है
मैं उसके लिए जल्दी से शादी कर दूंगाा क्योंकि बात बतानी है मेराा एक दोस्त शिवकुमार नाम का है जिसको बाहन पसंद करती है मैं बोला तुम्हें कैसेे पता बेटा बोला जब से मैं तुम्हारे साथ ज्यादााााा टाइम देने लगा तब से वह शिवकुमार से चैटिंंग करती दिन में उसकीी चैटिंग देख लिया था

मैं जानता हूं सुकुमार के मां बाप नहीं है इसलििए वह बहन शादी कर लेगा और मैं या शहर छोड़ कर गुजरात पोस्टिंग कराा लूंग और हम दोनों अपने जीवन जिएंगे मैं बोली तुम जो चाहतेे हो करो
लेकिन मैं बेटा भीी नहीं करूंगी बेटाा बोल है जिस दिन उसकी शादी तय हो जाती है उस दिन तो करोगी मैं हां बोल दी

हम लोग गोवा घूमनेेे जाने वाले हैंं गोवा से घूम कर आने पर अपनी घटना का लास्टट भाग लिखूंगी प्लीज हमें क्या करनाा चाहिए यह बतानेे की

error: Content is protected !!