कहानी जिसमे लड़के ने कॉलेज की कामवाली को चोदा

हेलो दोस्तों, मैं सोनू शर्मा. कैसे हो आप सारे? आशा करता हू की आप सभी आचे ही होंगे, और चुदाई का भरपूर आनंद ले रहे होंगे आप अपनी ज़िंदगी में.

वैसे मैने अभी तक काफ़ी बार चुदाई का खेल खेला है. मैने अपनी काफ़ी सारी फॅंटसीस पूरी की है, और अपने पार्ट्नर की भी पूरी की है. लेकिन आज भी कुछ फॅंटसीस मेरी अधूरी है, जैसे की टीचर, 50-60 के बीच की औरत के साथ सेक्स, और कार में सेक्स एट्सेटरा.

सारी औरतें या लड़कियाँ आपकी जो भी फॅंटसीस है मुझे ज़रूर बताए. मैं उनको पूरा करने की कोशिश ज़रूर करूँगा. मैं हाज़िर हू एक और मेरी सॅकी कहानी के साथ.

ये बात तब की है जब मैने इंडोरे के एक कॉलेज में अददमीससिओं लिया था. हॉस्टिल खाली नही था, तो मैं वाहा पर रूम लेकर अकेला रहता था. कॉलेज जाय्न किए हुए मुझे बस 2 मंत्स ही हुए थे.

हमारे लेक्चर्स चल रहे थे, और मुझे काफ़ी तेज़ टाय्लेट आई हुई थी. जैसे ही लेक्चर ख़तम हुआ, मैं भाग कर वॉशरूम गया टाय्लेट करने. टाय्लेट करने के बाद मैने सोचा चलो कोई है नही, तो खिड़की से गर्ल्स टाय्लेट में एक बार नज़र मार लेता हू.

बात ऐसी है, की हमारे कॉलेज का टाय्लेट सी शेप में था. एक तरफ बाय्स और दूसरी तरफ गर्ल्स का टाय्लेट था, तो हमारे इधर से गर्ल्स टाय्लेट काफ़ी आसानी से दिखता था. तो इसका काफ़ी सारे लड़के फ़ायदा उठाते थे, और लड़कियों को मूट-ते हुए देखते थे.

जैसे ही मैने गर्ल्स टाय्लेट में देखा, तो मैं शॉक हो गया. मैने देखा की हमारे कलाज की कंवली जिसका नाम नर्मदा था, वो इयरफोन लगा के फोन में पॉर्न वीडियोस देख रही थी. वो अपना पाजामा नीचे करके छूट में उंगलियाँ कर रही है.

मैने अपना मोबाइल निकाला, और कॅमरा ज़ूम करके नर्मदा की वीडियो निकाल ली. कुछ मिनिट बाद मेरा दोस्त टाय्लेट में आ गया, इसलिए मुझे रेकॉर्डिंग बंद करनी पड़ी. टाय्लेट से बाहर आने के बाद मुझे तोड़ा सा बुरा लगा, की मेरे होते हुए कोई औरत अपनी छूट में उंगलियाँ करे. ये तो अची बात नही थी.

नर्मदा की आगे 29, हाइट 5’4″, फिगर 36-34-38 था. उसका बदन पूरा गोरा था.

ये सब मैने किसी को नही बताया की मैने नर्मदा आंटी को छूट में उंगलियाँ करते हुआ देखा था. क्यूंकी औरत की भी अपनी इज़्ज़त है, और अगर बात फैल जाती, तो उनको काफ़ी प्राब्लम होती फिर कॉलेज में.

मैने भी सोच लिया था, की नर्मदा को अब मैं ही छोड़ूँगा, और उसको खुश करूँगा. तोड़ा सा मुझे दर्र भी लग रहा था. लेकिन दोस्तों रिस्क भी लेना होता है कभी-कभी. उसी दिन मैने सोचा की नर्मदा से बात करूँगा. लेकिन नर्मदा मुझे कही दिखाई नही दी.

फिर अगले दिन जब कॉलेज आया तो मैने देखा की नर्मदा स्टोर रूम में अकेली बैठी फोन चला रही थी. मैं स्टोर रूम के अंदर गया और बोला-

मे: गुड मॉर्निंग, आंटी.

नर्मदा: गुड मॉर्निंग, आप कों(आक्च्युयली आंटी तब मुझे नही जानती थी)?

मे: मेरा नाम सोनू है, और मैं इसी कॉलेज का स्टूडेंट हू.

नर्मदा: ओह अछा, इधर कैसे आना हुआ तुम्हारा, कुछ काम है?

मे(मैं तोड़ा सा नॉट वे में बोला): हा काम तो बहुत कुछ है आप से, लेकिन उससे पहले कुछ दिखना है आपको.

फिर मैने नर्मदा को उसकी छूट में उगली करने वाली वीडियो दिखाई. नर्मदा ने जैसे ही वीडियो देखी, तो वो शॉक हो गयी. उसकी आँखें बड़ी हो गयी.

दोस्तों मेरा ऐसा कोई इरादा नही था, की मैं उसको ब्लॅकमेल करू. बस तोड़ा सा डरना था, की क्या पता छोड़ने मिल जाए.

नर्मदा (तोड़ा सा गुस्से में बोली): ये वीडियो अभी के अभी डेलीट करो.

मे: ऐसे-कैसे डेलीट कर डू?

नर्मदा: अगर वीडियो कॉलेज में विराल हो गयी, तो मेरी नौकरी जेया सकती है. प्लीज़ डेलीट कर दो.

मे: हा डेलीट तो कर दूँगा, लेकिन जैसे मैं बोलता हू वैसे करना होगा आपको.

नर्मदा: क्या है बोलो?

मे: आपको मेरे रूम पर आना होगा, मुझे आप से कुछ पर्सनल बात करनी है. वो भी आज शाम को.

नर्मदा: नही, यही बोलो, मैं नही अवँगी.

मे: प्रॉमिस मैं वीडियो डेलीट कर दूँगा.

नर्मदा: पक्का कर दोगे ना?

मे: हा पक्का.

मैने नर्मदा को अपना फोन नंबर दिया, और उसको अपने रूम का अड्रेस भी बता दिया. कॉलेज ख़तम होने के बाद रूम पर जाते-जाते मैने कॉंडम खरीद लिया.

शाम के 6:30 बजे मुझे नर्मदा का कॉल आया. नर्मदा मेरे रूम के पास आई हुई थी. मैने उसको बता दिया की कहा पे आना था. मैने गाते खुला ही रखा हुआ था. फिर नर्मदा अंदर आई, और मैने गाते अंदर से बंद कर दिया.

नर्मदा ने ग्रीन कलर की सारी पहनी हुई थी, जिसमे वो काफ़ी सेक्सी लग रही थी. मैने उसको बैठने को बोला.

नर्मदा: हा बोलो, क्या बात करनी है तुमको?

मे: आप फिंगरिंग क्यू कर रही थी?

नर्मदा: तुमको क्या मतलब, मैं कुछ भी करू? तुम बस वीडियो डेलीट कर दो.

मे(प्यार से बोला): हा वीडियो तो मैं डेलीट कर दूँगा. आप बस मुझे मेरे सवाल का जवाब दो. आप मुझे खुल कर बता सकती हो. मेरे से डरने की ज़रूरत नही है.

नर्मदा: वो सब तुम नही समझोगे.

मे: अर्रे आप बताओ तो सही.

नर्मदा की आँखों में आँसू आ गये, और वो बोली: मेरा पति बाज़ारू(रंडी) औरतों के पास जाता है, और तो और दारू पीने के बाद मुझे मारता भी है. कोई काम भी नही करता है. वो दारू के पैसे बे मेरे से लेता है. उपर से तुम भी मुझे परेशन कर रहे हो.

मे: सॉरी, अगर आपको ऐसा लग रहा है की मैं आपको परेशन कर रहा हू, तो ऐसा बिल्कुल नही है. जब आप फिंगरिंग कर रही थी तो मुझे बिल्कुल अछा नही लगा. क्यूंकी मेरे सामने कोई औरत फिंगरिंग करे, तो मुझे बिल्कुल अछा नही लगता है. मैने अभी तक काफ़ी सारी औरतों को चुदाई का सुख दिया है.

नर्मदा: अछा, तो मैं क्या करू फिर?

मे: देखो आपका पति रंडियो के पास जाता है. ये तो ग़लत बात है ना, वो भी आपके होते हुए. अगर आप भी अपने सुख के लिए कुछ करे, तो ये ग़लत नही है. क्यूंकी हर इंसान की अपनी-अपनी सेक्षुयल नीड्स होती है, और उसको वो पूरा भी करना चाहिए.

नर्मदा: हा ये तो है, लेकिन मुझे दर्र लगता है. अगर किसी को पता चल गया तो काफ़ी बदनामी हो जाएगी. इसलिए ऐसा कुछ नही करती हू मैं.

मे(नर्मदा के हाथो पे अपना हाथ रखा और कहा): देखो आप मुझपे विश्वास कर सकती हो. मैं किसी को कुछ भी नही बतौँगा, और आप खुद ही अपने हाथो से वीडियो को डेलीट कर दीजिए.

मैने अपना फोन नर्मदा को दिया. नर्मदा ने तुरंत वीडियो को डेलीट कर दिया. मेरी 15 मिनिट की कोशिश ने नर्मदा को चुदाई के लिए कन्विन्स कर ही लिया, और उसका मैने ट्रस्ट जीत लिया. लास्ट में नर्मदा चुदाई के लिए मान गयी.

मैं नर्मदा के पास गया और अपने होंठ उनके होंठ पे रख दिए. हम दोनो मदहोश होकर लीप किस करने लग गये. किस करते-करते मैने नर्मदा की सारी निकाल दी, और उनके पेट और गर्दन पे किस किया. नर्मदा भी मेरे लंड को पंत के उपर से सहला रही थी.

फिर नर्मदा ने मेरी त-शर्ट निकाल दी, और मुझे अपनी बाहों में लेकर किस करने लगी. उसके बाद मैने नर्मदा का पेटिकोट और वाइट कलर की ब्रा निकाल दी. अब मैं उसके बड़े बूब्स को एक बच्चे की तरह चूस रहा था. उसके निपल्स टाइट हो गये थे काफ़ी. ऐसे ही कुछ मिनिट करने के बाद मैने अपना लोवर निकाल दिया.

15 से 18 मिनिट तक हमने फुल बॉडी प्ले किया. नर्मदा ने भी मेरी पूरी बॉडी पे अपनी जीभ से छाता. उसके बाद मैने नर्मदा की पिंक कलर की पनटी निकली, जो की पूरी गीली हो गयी थी, और अपना भी अंडरवेर निकाल दिया.

मैं बेड पे लेट गया, और मेरे उपर नर्मदा आ गयी. अब हम 69 पोज़िशन में थे. नर्मदा मेरा खड़ा लंड अपने गले में उतार रही थी. मैं भी इधर उसकी छूट चाट रहा था. उसकी छूट पे हल्के-हल्के बाल थे.

हमने काफ़ी देर तक 69 पोज़िशन में एंजाय किया. नर्मदा ने 2 बार पानी निकाल दिया था. उसके बाद मेरा भी पानी निकालने वाला था, तो मैने अपने पैर से नर्मदा को दबा दिया. इससे उसके गले तक लंड चला गया था. फिर मैने अपना पानी उसके मूह में निकाल दिया.

उसके बाद नर्मदा मेरे बाजू में लेट गयी, और उसकी आँखों में से पानी निकल रहा था. फिर मैने उससे पूछा-

मे: कैसा लगा आपको?

नर्मदा: सोनू, बहुत मज़ा आया पहली बार मुझे. इससे पहले ये सब मैने वीडियो में ही देखा था.

मे: अभी तो असली चीज़ बाकी है.

हम दोनो फिरसे एक-दूसरे को किस करने लगे, और साथ में नर्मदा मेरे लंड को हिला रही थी. 5 मिनिट में मेरा लंड फिरसे खड़ा हो गया. फिर मैने कॉंडम निकाला, जो था ड्यूर्क्स एक्सट्रा डॉटेड. मैने उसको लंड पर लगाया, और थोड़ी देर तक छूट को छाता.

उसके बाद मैने नर्मदा के पैर खोले, और लंड आराम-आराम से उसकी छूट में डालने लगा. नर्मदा थोड़ी सी आवाज़ कर रही थी, इसलिए मैने फोन में फुल वॉल्यूम में सॉंग चला दिए.

फिर मैने ज़ोर से एक झटका नर्मदा की छूट में मारा, और पूरा लंड अंदर चला गया.

नर्मदा: हाए माआ आ आअहह.

मे: कैसा लगा रहा है मेरी जान?

नर्मदा: अया मज़ा आ रहा है. तोड़ा ज़ोर से धक्के मारो.

उसके बाद मैं मिशनरी पोज़िशन में ज़ोर-ज़ोर से नर्मदा की छूट मारने लगा. साथ में मैं उसके बूब्स को भी सक कर रहा था. नर्मदा ने अपने पैर पुर फोल्ड कर रखे थे, और मेरे लंड का पूरा मज़ा ले रही थी.

ऐसे काफ़ी देर मिशनरी पोज़िशन में छोड़ने के बाद, मैने पोज़िशन चेंज की. मैं दीवार से टेक लेकर बैठा गया, और नर्मदा को लंड पर बैठे को बोला. फिर नर्मदा मेरे लंड पर बैठ गयी. फिर हम दोनो किस करने लगे, और नर्मदा मेरे लंड पर बैठ कर आयेज-पीछे होने लगी.

ऐसे छोड़ने के बाद मैने नर्मदा को छोड़ते-छोड़ते अपनी गोद में उठा लिया, क़ूर अपनी स्टडी टेबल पे बिता दिया. अब मैं ज़ोर-ज़ोर से उसकी छूट मारने लगा. पूरा रूम नर्मदा की आवाज़ और पच पच की आवाज़ों से गूँज रहा था.

मेरा पानी निकालने वाला था, तो मैने नर्मदा को कस्स कर पकड़ लिया, और तेज़ी से लंड को उसकी छूट में अंदर-बाहर करने लगा. 5 मिनिट बाद मैने छूट के अंदर ही पानी निकल दिया (कॉंडम लगा रखा था). और 2 बार नर्मदा बे डिसचार्ज हो गयी थी.

कुछ मिनिट बाद मैने अपना लंड निकाला, तो देखा की कॉंडम के उपर खून लगा हुआ था.

नर्मदा: सोनू, काफ़ी ज़्यादा मज़ा आया आज मुझे. थोड़ी सी जलन भी हो रही है अंदर.

मे: कोई नही, ठीक हो जाएगा कल तक. एक और रौंद हो जाए?

नर्मदा: नही, अभी टाइम देखो. 8:40 हो गये है. मुझे घर भी जाना है. और हा, प्लीज़ ये सब किसी को मत बताना, जो भी हमारे बीच हुआ है.

मे: अर्रे आप टेन्षन मत लो. मैं ग़लती से भी किसी को नही बटौगा. नेक्स्ट टाइम कब मिले फिर हम?

नर्मदा: कल मैं सुबा 8 बजे तक तुम्हारे रूम पर आ जौंगी. इसलिए कल तुम कॉलेज मत जाना, मैं भी छुट्टी ले लूँगी कल की.

मे: ठीक है, जैसे आपकी मर्ज़ी.

फिर नर्मदा ने अपने कपड़े पहने, और मुझे किस करके चली गयी अपने घर. नेक्स्ट दे मैने नर्मदा को 4 बार छोड़ा, शाम के 5 बजे तक. स्टार्टिंग में नर्मदा को खूब छोड़ा. फिर उसके बाद हमारा मिलना तोड़ा सा कम हो गया था.

मंत में 1-2 बार ही मैं नर्मदा की चुदाई करता था. मैं इंडोरे में 3 साल रहा. वाहा पे और भी छूट छोड़ी. आपको आने वाली स्टोरी इंडोरे की ही मिलने वाली है.

तो यही थी दोस्तों मेरी ज़िंदगी की सॅकी कहानी, जो की आपके साथ शेर की. अगर देल्ही में किसी गर्ल, कपल्स, आंटी, भाभी को सॅटिस्फॅक्षन चाहिए, तो मुझे मैल कर सकते है. मुझे बस एक अछा एक्सपीरियेन्स और मज़े करने, और सामने वालो को मज़े देने से ही मतलब होता है. आपकी प्राइवसी का भी पूरा ध्यान रखा जाएगा.

मुझे अपना फीडबॅक ज़रूर देना

यह कहानी भी पड़े  खेल खेलते हुए भाई बहन की चुदाई की कहानी


error: Content is protected !!