लड़के ने लड़की की कैमरा के सामने चुदाई शुरू की‌

जैसा कि आपने पिछली कहानी में पढ़ा होगा कि कैसे मेरी बहन काजल एक लड़के के साथ डेट पर गयी, और जब होटल में पहुंची तो दूसरे दिन बड़े भैया की फोटो उस लड़के के मोबाईल में देख चौंक गयी। तो पता चला कि वो लड़का कोई और नहीं, होने वाली भाभी का छोटा भाई अजय था। फिर जब काजल ने वो रिश्ता वहीं पर खत्म करने को कहा, तो अजय उस पर झपट पड़ा।

फिर जब काजल को किसी तरह अजय ने आधी नंगी किया, तो रूम की डोरबेल और काजल के फोन की रिंग एक साथ बजी। आगे क्या हुआ, आप खुद कहानी पढ़िए।

पापा से काल पर बात करते हुए काजल हल्की डरी-डरी सी लग रही थी, और आवाज़ थोड़ी भारी-भारी लगने पर पापा ने जब काजल से पूंछा कि क्या हुआ, तो काजल बोली, “कुछ नहीं पापा”।

तो पापा बोले, “कहां पर हो?” तो काजल बोली, “पापा हास्टल में”। तो फिर पापा बोले, “मैं कल आ रहा हूं कानपुर कुछ काम से, तो तुमसे भी मिल लेता हूं”। तो काजल कुछ सोची, और फिर बोली कि, “ठीक है पापा”। फिर पापा ने फोन रख दिया। बात करते-करते काजल रूम के गेट के सामने थी, तो होटल स्टाफ ने उसे देख लिया था, पर ये बात काजल नहीं जान पाई।

पर होटल स्टाफ जाते-जाते अजय से बोला, “लगे रहो सर, माल अच्छी पटाई है आपने। चूचियां तो बहुत गोरी-गोरी है, और गांड भी बड़ी है। जाईए सर, बजाइए अच्छे से, गांड फाड़ डालिए साली की”। इतना सुनते ही अजय बोला कि, “तुम अपना काम करो, जाओ भोसड़ी के”।

तो होटल स्टाफ: अरे सर गुस्सा क्यूं करते हैं? आप जो करेंगे वही मैंने बोला है, और वैसे भी इस रूम में जो भी लड़की आती है उसका MMS वायरल हो ही जाता है।

अजय: कैसे?

होटल स्टाफ: हिडेन कैमरे से, जो वहां पर लगे हैं, शीशे के अन्दर। मैंने तो देख भी लिया है आप क्या कर रहे थे उस लड़की के साथ।

अजय: इसको आपरेट कौन करता है?

होटल स्टाफ: सर ये जानकारी मैं आपको नहीं दे सकता।

अजय: अरे इसके पैसे दूंगा मैं, बस वीडियो वायरल नहीं होना चाहिए, और मुझे वो विडियो भी चाहिए।

होटल स्टाफ: सिर्फ पैसे?

अजय: तो और क्या चाहिए?

होटल स्टाफ: एक राउंड मुझे भी मिल जाता तो शायद आपके पैसे भी ना लगते।

अजय: अरे यार, इसको अभी तो पटाया हूं। प्लीज यार तू इस बार पैसे लेले। मैं अब आता-जाता रहूंगा यहां पर इसे लेकर। फिर अगली बार तू भी मजे ले लेना।

होटल स्टाफ: तो 10 हजार लगेंगे।

अजय (चौंकते हुए): 10 हजार? इतना नहीं दे पाऊंगा।

होटल स्टाफ: तो ठीक है तैयार रहिए वायरल होने के लिए।

अजय: अच्छा 5000 लेले यार, अगली बार तो तू भी चोदेगा ही।

और फिर बात बना ली।

होटल स्टाफ (अजय को बधाई देते हुए): जाइए सर, कमर तोड़ चुदाई कर दीजिए साली की। और अगर किसी चीज की जरूरत हो, तो याद करिएगा।

अजय: ठीक है, अभी जाओ, बाद में मिलता हूं तुमसे।

होटल स्टाफ: कोई कसर मत छोड़िएगा सर। नहीं तो अक्सर लड़कियां पहली चुदाई में मजा नहीं पाती, तो दूसरे लंड को ढूंढती हैं। तो गांड फाड़ चुदाई करिएगा, ताकि वो तुम्हारे लंड की दीवानी हो जाए।

अजय: ठीक है ठीक है, बाकी तुम तो देख ही लेना क्या होने वाला है। तांडव होगा आज।

होटल स्टाफ: बेस्ट आफ लक सर!

फिर अजय रूम में आ गया और दरवाजा लाॅक कर लिया। अन्दर आते ही काजल अजय से पूछी, “कौन था?”

तो अजय ने बताया कि खाना लेकर आया था। और फिर अजय बोला कि, “शायद उसने तुम्हे देख लिया था”। तो काजल चौंकते हुए बोली, “क्या?” अजय बोला कि, “वो अभी बोल रहा था कि मस्त माल लाए हो सर, गोरी-गोरी टांगे और बड़ी गांड है लड़की की, जम कर चोदिएगा उसे”।

काजल: अरे आपको बताना था ना कि कोई अन्दर आया था। बहुत बदत्तमीज आदमी हैं वो, उसे तो मैं बाद में बताऊंगी।

अजय: अरे छोड़ो यार उसे ये बताओ फोन किसका था?

काजल: पापा का था, वो कल आ रहे हैं मिलने।

अजय: तो फिर क्या करना है?

काजल: कुछ नहीं, कल सुबह चलेंगे (कहते हुए बेड से उठने लगी)।

तो अजय ने काजल की मोटी जांघो को देखा जो होटल स्टाफ बोल रहा था। वो खुद को रोक नहीं पाया और उसे अपनी बाहों में भर लिया, और होठों को होठों पर रख दिया, और धीरे-धीरे काजल के जीन्स को और ब्रा को निकाल दिया, और फिर अपनी चड्डी भी निकाल दी। अब दोनों एक दम से नंगे एक-दूसरे के सामने खड़े थे, तो दोनों एक-दूसरे के बदन को देख एक-दूसरे के जिस्म को घूरने लगे।

तभी अजय बोला: इतने बड़े-बड़े चूचे और इतनी गोरी जांघ।

तभी काजल के मुंह से आवाज निकली: इतना बड़ा लंड!

और देख कर चौंक गयी।

तभी अजय काजल के ऊपर झपट पड़ा, और मुंह में उसकी चूचियों को भर कर पीने लगा, और खूब तेज़-तेज़ मुंह से खींचने लगा, जैसे कि आज ही दूध निकाल लेगा। काजल भी मदहोश हुए जा रही थी, और अपने एक बूब्स को पकड़ कर उसे पिला रही थी, और अपने होठों को काट रही थी।

काजल को पूरा मजा आने लगा था तो काजल भी अजय का साथ दे रही थी। देखते ही देखते दोनों एक-दूसरे पर टूट पड़े और दोनों एक-दूसरे को चूमे जा रहे थे। जैसे कि उन्हें जन्नत मिल गयी हो। एक-दूसरे को चटर-चटर करके चाट रहे थे, और एक-दूसरे को कस कर पकड़े हुए थे, और उसी बेड पर रोल कर रहे थ। कभी काजल नीचे अजय ऊपर, तो कभी अजय नीचे काजल ऊपर। ऐसे दोनों एक-दूसरे के साथ रोमांस कर रहे थे।

और करते भी क्यूं नहीं? दोनों पहली दफा चुदाई करने जा रहे थे। अजय ने पहली दफा छरहरी जवान गदराई जिस्म वाली कमसिन कच्ची कली, पपीते जैसी चूचियों, और गोरी-गोरी टांगो, मांसल जांघो वाली लड़की को नंगी देखा था, तथा काजल भी मजबूत दमदार हृष्ठ-पुष्ट शरीर, 7 इंच लम्बे, 2.5 इंच मोटे लंड वाले जवान फुर्तीले लड़के को नंगा देखी थी।

करीब 20 मिनट ऐसे ही रोमांस करने के बाद दोनों के शरीर का अंग-अंग चिपचिपा सा हो गया था। तो फिर अजय ने इशारे में ही काजल को घुटने के बल बैठने को बोला, और लंड चाटने के लिए उकसाया। पहले तो काजल मना की, तो अजय बोला-

अजय: जब लंड चूसोगी तभी ज्यादा मजा आएगा।

और इतना कहते ही अजय ने अपना लंड काजल के मुंह के सामने कर दिया।

फिर काजल ने अजय का लंड पकड़ा, और घुटने के बल बैठ कर अजय के लंड को मुंह में ले लिया और चूसने लगी। काजल का लंड पकड़ना और सटर-सटर करके लंड को हाथों से हिलाना, और फिर मुंह में लेकर चूसना बहुत ही आनन्ददायक था।जिस वजह से अपने आप अजय की आंखें बंद हो गई, और फिर काजल ने जब अजय के लंड का टोपा पलट कर लंड को जल्दी-जल्दी चूसना शुरू किया, तो अजय ने काजल को हटाना शुरू कर दिया।

क्योंकि अजय को एहसास हो गया कि अगर ऐसे ही काजल चूसती रही तो वो झड़ जाएगा। फिर अजय लेट गया और काजल फिर से लंड चूसने लगी। पता नहीं काजल में क्या-क्या जादू थे। मुंह क्या जीभ से ही लंड चाट कर लंड खड़ा कर दी, और जब भी काजल के रसीले होंठ अजय के लंड के अगले भाग को चूसते, अजय के शरीर में करंट दौड़ जाता।

करीब 10 मिनट की लंड चुसाई के बाद अजय उठा, और काजल को बेड पर उठा कर पटक दिया। उसने उसकी कमर के नीचे तकिया रख दिया, जिससे चूत बाहर की तरफ उठ गयी। काजल की कच्ची कमसिन कली चूत जो हल्की-हल्की भूरी भूरी झांटो के बीच छुपने की कोशिश कर रही थी, वो कमर के नीचे तकिया रखने से बाहर आ गयी, और काजल की हल्की गुलाबी चूत दिखने लगी, और अजय के मन को मोहित करने लगी।

फिर तुरन्त अजय ने काजल की चूत पर अपनी‌ जीभ रख दी, और उसकी चूत के दानों को जीभ से ही चाटने लगा, और दांतो से हल्का-हल्का काटने लगा। अजय ने पता नहीं कौन सा जादू किया कि कुछ ही मिनटों में एक जोरदार उहहहह… उमम्ममम… मैं गइईईईईई करते हुए काजल की चूत ने पानी छोड़ दिया। अजय ने जीभ से पूरा पानी चाट कर चूत को साफ कर दिया। अजय को ऐसा करते देख काजल बहुत खुश हुई, और वो फिर अजय को बोली-

काजल: अब बस भी करो, अब मत तड़पाओ। प्लीज अब डाल भी दो, चोद दो मेरी चूत को।

काजल के मुंह से इतना सुनते ही अजय भी चूत चोदने के लिए तैयार हो गया, और मन ही मन सोचा कि जल्दी से चोद दूं, वरना कब ये बदल जाए और मना करने लगे।

इसके आगे की कहानी अगले भाग में। कमेन्ट करके जरूर बताइए कि आपको स्टोरी कैसी लगी,

धन्यवाद!

यह कहानी भी पड़े  अकेली हाउस वाईफ और सेल्समेन


error: Content is protected !!