नई किरायेदार से जंपिंग जपांग

kirayedar ke sath chodan kahani मैं नैनीताल में रहता हूँ, यह कहानी मेरे और एक इंडियन गरमा गर्म लड़की के साथ देसी सेक्स की है. मेरा घर काफी बड़ा है और तीन-चार किरायेदार भी रहते हैं. हमारा एक फ्लैट किराये के लिए खाली था, हम लोग किसी किरायेदार को खोज रहे थे. एक दिन एक देसी लड़की किराये का घर खोजते हुए हमारे यहाँ आई. मैं ही बाहर निकला ,उसने मुझसे पुछा -आपके यहाँ फ्लैट खाली है क्या,मैंने उसे बताया है और उसको साथ लेकर रूम दिखाने लगा,उसे घर पसंद आया. मैंने बात करने के लिए माँ को बुलाया, वही ये काम देखती थी. दोनों की बात होने लगी, मैं उस देसी लड़की को देखने लगा ,क्या मस्त माल थी, उम्र कोई 25 के आस-पास होगी, बड़े बड़े चुंचे कुछ 32 साइज़ के लग रहे थे, नैन-नक्श तीखे, पतली कमर और गोल-मटोल गांड थी, लड़की को किराया कुछ ज्यादा लग रहा था, माँ ने कुछ कम कर दिया. लड़की बोली ठीक है वो कल से ही आ जाएगी रहने के लिए.

अगले दिन वो अपना सामान लेकर आ गई रहने के लिए, लड़की जबलपुर की थी, उसका नाम सुमन था और कॉलेज में पढ़ती थी. मैं उन दिनों देसी सेक्स की कहानी पढ़ा करता था बहुत सारी किताबे मेरे पास थी. कुछ दिन में ही सुमन हमारे परिवार के साथ घुल-मिल गई, हमारे घर आने-जाने लगी, मेरे कमरे में भी कभी-कभी आ जाया करती थी. एक दिन मैंने देखा देसी सेक्स की कुछ किताबें मेरे कमरे से गायब थी. पहले ऐसा नहीं हुआ था, मैं समझ गया की सुमन ले गई होगी. वो मुझे काफी पसंद आती थी, एक दिन मैंने उसे देख रहा था तो बोलती है -क्या देख रहे हो. मैंने उससे कहा – कॉफी पियोगी, फिर उसी ने कॉफ़ी बनाया और हम लोग पीने लगे. अगले दिन मैं घर में अकेला था सरे लोग अपने काम से बाहर गए हुए थे लेकिन सुमन कॉलेज नहीं गई थी. मेरा मन नहीं लग रहा था, मैं उठ कर उसके कमरे में चला गया और उस से बातें करने लगा.

यह कहानी भी पड़े  ग्राहक ''ज्योति'' की चुदाई

बात करते-करते मैंने उससे पूछ लिया – तुम्हारा बॉयफ्रेंड कहाँ है. वो शर्मा के बोली- तुम चले जाओ यहाँ से हमें कोई देखेगा तो क्या कहेगा. मैंने इस इंडियन लड़की को कहा- डरने की कोई बात नहीं है अभी कोई नहीं आने वाला है, तुम मेरे साथ खुल कर बात कर सकती हो. फिर उसने कहा. मेरा कोई बॉयफ्रेंड नहीं है और मुझसे पूछ बैठी तुम्हारी तो होगी ही. मैंने सर हिलाते हुए कहा नहीं है क्या तुम मेरी गर्लफ्रेंड बनोगी. उसने कहा -मुझे इस बारे में सोचना पड़ेगा, तुम्हे सोच कर बाद में बताउंगी. मैंने कहा ठीक है पर अच्छे से सोच लेना और वहां से चला आया. अगले दिन कॉलेज से लौटते हुए मुझे देखा और मुस्कुरा के अपने कमरे में चली गई. मैं उसके पीछे-पीछे कमरे में गया और पूछा- तो क्या इरादा है, उसने कहा -मैं तैयार हूँ ,आई लव यू. सुमन जब मेरे कमरे से देसी सेक्स की बुक लेकर गई थी तभी से मैं समझ गया था साली पटेगी भी और मुझसे चुदेगी भी वो भी देसी सेक्स की किताबे पढ़-पढ़ कर-मैंने मन ही मन में खुद से कहा, खैर मैं खुश था वो तैयार थी. तभी वो बोली – वैसे भी इसमें मेरा ही फायदा होगा, एक तो कॉलेज के लड़के परेशान नहीं करेंगे और मेरा किराया भी बच जाएगा.

मैंने कहा – किराया तो मैं नहीं लेता हूँ, माँ लेती है. वो बोली-किराया मैं तुम्हे दे दूंगी तुम अपनी माँ को दे देना. मैंने कहा- तुम माँ को ही किराया दे दिया करो, वैसे भी तुम्हे किराया देना ही है मुझे दो या माँ को दो. वो फिर हँसते हुए बोली-तुम बहुत बड़े बुध्धू हो. मैं तो समझ गया था अब मुझे इंडियन गरमा गर्म लड़की चोदने को मिलेगी, पर मैं जानबूझ कर ऐसा बोल रहा था. मैंने उसे कहा ठीक है जिसे देना हो दे देना अब मैं जा रहा हूँ ,बाद में फिर कभी मिलूँगा. बाद में मुलाकात हुई तो उसने मुझे अगले दिन साथ में मार्किट जाने को कहा. मैंने कहा-माँ के साथ चली जाना, मैं नहीं चाहता था की इंडियन गरमा गर्म लड़की की चूत मिलने से पहले ही किसी को शक हो जाए. अगले दिन पापा को फ़ोन पर खबर मिली की दादाजी की तबियत ख़राब है, सभी गाँव जाने के लिए तैयार होने लगे.

यह कहानी भी पड़े  ठण्ड का मौसम और दोस्त की सुन्दर बहन

मुझसे कहा गया की तुम यहीं रहो नए किरायेदार आये है उनको किसी तरह की जरुरत हो और घर की देखभाल भी होगी. मैं तो ख़ुशी से पागल हो रहा था अब तो इंडियन गरमा गर्म लड़की सुमन की चूत चोदने को मिल जाएगी. सब लोग तैयार होकर गाँव के लिए निकल गए, मैं उन सब को बस में बैठा कर घर आ गया. सुमन ने सभी को जाते हुए देखा था उसने पुछा तो मैंने बता दिया. मैंने सुमन के फ्लैट का पानी बंद कर दिया और अपने कमरे में चला गया, कुछ देर बाद सुमन मेरे कमरे में आकर बोली, नीचे पानी नहीं आ रहा है ,तुम्हारे बाथरूम में नहा लूँ क्या. मैंने कहा-नहा लो, पर जल्दी करना, मुझे भी नहाना है. वो बाथरूम में घुस गई और अंदर से बंद करके नहाने लगी. मैं दरवाज़े की छेद से इस इंडियन लड़की को नहाते हुए देखने लगा, मेरे आँखों के सामने एक इंडियन गरमा गर्म लड़की नंगे बदन नहां रही थी. मैं उसको देखने में इतना खो गया की, उसने दरवाज़ा खोल दिया और मुझे पता भी नहीं चला. इस इंडियन जवानी को सामने देखकर तो जैसे मेरे हाथ से तोते ही उड़ गए.

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2