एक कच्ची काली को फूल बनाया

ये कहानी बड़ी दिलचस्प है, कुछ बाते इतनी जल्दी और अनोखी होती है की हम उन बातो को भूल नही पाते. मै राज, एक शादी शुदा इंसान हू, कमर्षियल फोटोग्राफर हू. मैने घर मे ही मेरा ऑफीस बना लिया है. मेरी बीवी एक आइ टी कंपनी मे टेक्निकल अड्वाइसर है. मुझे सिर्फ़ शूट के लिए घर के बाहर जाना पड़ता है, वरना बाकी मेरी सब टेक्निकल प्रोसीजर मै घर मे पूरी करता हू, छ्होटसा स्टूडियो ही बनाया है मैने फ्लॅट मे. अपर्णा, मेरी बीवी के कहने पे मैने एक रिषेदार की रेफरेन्स से एक 17 साल की लड़की घर मे सब काम करने के लिए रखी है, गीता उसका नाम है. गीता उमर से बच्ची है,

लेकिन दिखने मे 23/24 साल की लगती है. जब पहली बार वो मेरे सामने आई तो उसे देखके मेरे अंदर कुछ हल चल हुवी थी लेकिंग उसकी उमर देखकर मैने मेरे मान के ख़याल बदल दिए. दो महीने बीत गये थे, अब गीता हुमारे घर मे काफ़ी घुल मिल गयी थी, सीधे हमारे बेडरूम तक आने लगी थी. लेकिन कुछ दीनो से मै देख रहा था, उसका बिहेवियर कुछ बदला बदला नज़र आ रहा था! मैने नोटीस किया वो मेरे इनेर-वेअर ज़्यादा देर हाथ मे लेकर गौर से देखती थी. क्या हो रहा है ये मेरी समाज़ मे नही आ रहा था. अपर्णा रोज़ सुबह 6 बजे घर से निकलती थी और 4.30 बजे तक घर आती थी. उस दौरान गीता और मै ही घर मे रहते थे. गीता काम मे बिज़ी रहती थी और मई अपने स्टूडियो वर्क मे. हॉल के एक कोने मे मेरा स्टूडियो सेट उप था.

लेकिन आजकल गीता के बर्ताव से मेरा ध्यान उड़ गया था. मैने गीता के इस बिहेवियर का पता लगाने की ठान ली. मैने अपना वेब सेमरा मेरे बेडरूम मे फिक्स किया. ताकि मै बेडरूम मे चल रही बाते मेरे लॅपटॉप पे देख साकु. बेडरूम मे भी एक डेस्कपटॉप कंप्यूटर था. गीता भी अभी कंप्यूटर चलाने मे माहिर हो गयी थी. मैने एक प्लान बनाया. मैने बेडरूम के डेस्कटॉप पे एक ट्रिपल ब्लू फिल्म शुरू करके पॉज़ करके छ्चोड़ी और मेरा एक अंडरवेयार वाहा ऐसेही छ्चोड़ दिया, कुछ सामान मैने यहा वाहा बिखेर दिया और हॉल मे लॅपटॉप पे आके बैठ गया. अभी मै मेरे बेडरूम का लिव वीडियो देख सकता था और उसे रेकॉर्ड भी कर सकता था. मैने गीता से कहा,”गीता, ज़रा मेरे बेडरूम मे जाकर मेरा बेडरूम ठीक कर देना,

यह कहानी भी पड़े  मेरी चचेरी बहन शोभा की चूत चुदाई करी

पीसी अगर चालू रहेगा तो उसे शट डाउन करके अपना काम करने चली जाना.” अगले 2 मिनूट मे गीता किचन से बाहर आई और मेरे बेडरूम मे चली गयी और मैने यहा मेरा वेब केमरा ओं किया, मैने देखा, गीता जैसे ही मेरे बेडरूम मे गयी वो सब बिखरा हुवा सामान जगह पे रख रही थी. उसकी नज़र मेरे अंडरवेर पे पड़ी, वो मेरा अंडरवेर सूंगाने लगी और नीचे अपने चूत के पास रगड़ने लगी. मेरा तो बैठे बैठे लंड खड़ा हो गया, लेकिन आयेज वो क्या करती है ये मूज़े देखना था. उसकी नज़र मेरे पीसी पे गयी, उसने पॉज़्ड की हुवी फिल्म देखी, लेकिन उसने पीसी शूट डाउन करने के बजाय वो वीडियो प्ले किया.

चुदाई का वो वीडियो देखकर वो गरम होने लगी, उसने अपनी नाइटी उठाई और अपनी पनटी सरकाके चूत मे उंगलिया डालने लगी. जो मूज़े चाहिए था वो ही हो रहा था. मैने वो सब लिव रेकॉर्ड किया और लॅपटॉप उठाके बेडरूम मे गया. मूज़े अचानक आया देख वो घबरा गयी उसने उंगलिया निकल दी, अपना ड्रेस ठीक करके डाइरेक्ट पीसी स्विच ऑफ किया और किचन की और चली गयी. अभी मौका मेरे हाथ मे था. मैने लॅपटॉप बेडरूम मे कनेक्ट कर दिया और उसे आवाज़ डी, “गीता, ज़रा यहा आओ!” वो आगाय, मैने कहा, “तुम्हे बेडरूम ठीक करने के लिए कहा, लेकिन तुमने ठीक तरहसे कुछ काम नही किया? ये क्या मेरा अंडरवेर यही पड़ा है, पीसी तुमने प्रॉपर शटडाउन नही किया! क्या कर रही थी इतनी देर यहा? सच बताओ!” वो घबरा के बोली,

यह कहानी भी पड़े  मम्मी की मौसी की बेटी के साथ सेक्स

बाबूजी, मैने सब ठीक किया था. मैने कहा रूको यहा, तुम्हे कुछ दिखता हू… वो खड़ी हो गयी, मैने ज़त से लॅपटॉप ओं करके जो लिव रेकॉर्डिंग किया था वो शुरू किया. अपने आप को उस वीडियो मे देखकर उसके पसीने च्छुत गये. उस वीडियो मे गीता मेरे अंडरवेर को अपने छूट पे दबा रही थी, ये खुद को देख वो शर्म से लाल होगआई. मैने उसे मेरे बेड पे बैठने के लिए कहा, गीता सच बताओ ये सब करने के लिए तुम्हारा मान चाहता है ना? वो बोली, मूज़े माफ़ करदो बाबूजी, फिर ऐसी ग़लती नही करूँगी! मैने कहा, अरे ग़लती क्यू बोल रही हो, मई तुमसे नाराज़ नही हू, ये सब तो इस उमर मे होता ही है. सिर्फ़ तुम इतना बताओ जो तुम उस फिल्म मे देख रही थी वो तुम्हे रियल मे आजमाना है ना? उसने इशारे से हा कहा. मई मान ही मान खुश हुवा. मैने उसे फ्लॅट का मैं डोर लॉक्ड करने के लिए कहा. उसने कहा वो पहले से ही लॉक्ड है. “लेकिन बाबूजी मेडम दोपहर मे घर आज आएँगी ना?”

Pages: 1 2 3

error: Content is protected !!