हुस्न का जलवा दिखा कर बेहन चुदी भाई से

जैसे ही मैं और मोहित बेडरूम में गये, मैने अपना वन पीस उतार दिया. मुझे ब्रा और पनटी में देख कर मोहित बौखला गया.

मैने कहा: ऐसे क्या देख रहे हो? पहली बार थोड़ी मुझे ऐसे देख रहे हो.

मैने रेड कलर की ब्रा पनटी पहनी थी. और उसमे मैं बहुत हॉट आंड सेक्सी लग रही थी. मैने नॉटी स्माइल पास करते हुए कहा-

शीला: मैं नहाने जेया रही हू.

थोड़ी देर बाद मैं टवल लपेट कर बाहर निकली. मोहित मेरी तरफ ही देख रहा था. मैने उसको स्माइल के साथ रिप्लाइ दिया. मैने एग्ज़ाइट्मेंट में नॉर्मल नाइट वेर कुछ रखा ही नही था. मेरे पास सब सेक्सी बाबयडॉल्ल और निघट्य थी. मुझे कहा पता था की मुझे मोहित के साथ बेडरूम शेर करना पड़ेगा.

मोहित मुझे ब्रा पनटी में देख चुका था वो बात अलग थी, पर सेक्सी नाइट वेर में उसके साथ सोना मीन्स वो ज़्यादा हो जाता. और मुझे मेरी और से पहल नही करनी थी. मैं बहुत कन्फ्यूज़ हो गयी. अब करू तो क्या करू.

मोहित: क्या हुआ दीदी? कुछ प्राब्लम हुआ है क्या?

शीला: अर्रे भाई मैं अपनी नाइट ड्रेस बाग में रखना भूल गयी. अब कुछ नही है ऐसा जो पहन कर सो साकु.

मोहित ( कुछ सोच कर): आप चाहो तो मेरी त-शर्ट और शॉर्ट्स उसे कर सकते हो.

शीला: थॅंक योउ भाई.

अब मोहित ने मुझे अपनी त-शर्ट और शॉर्ट्स दिया. मैने पनटी पहन ली, और ब्रा के बिना उपर त-शर्ट डाल ली. मोहित की त-शर्ट बहुत कंफर्टबल थी. अब मैने उसकी शॉर्ट पहनने की कोशिश की, पर मेरी गांद थोड़ी बड़ी थी, तो सेट नही हुई. मोहित की त-शर्ट अब सिर्फ़ मेरी पनटी च्छूपा रही थी. त-शर्ट में से मेरे निपल दिख रहे थे. और मैं काफ़ी क्यूट आंड सेक्सी दिख रही थी.

मोहित: दीदी देख कर लगता नही है ये मेरी त-शर्ट है. आप पर बहुत मस्त लग रही है.

शीला: एस ब्रो. आंड थॅंक योउ. (मैने टाइम देखा तो रात के 12:30 हो रहे थे), ब्रो इट’स टू लाते. अब हम सो जाते है.

सुबा से रात तक हमने बहुत मस्ती की थी. शालिनी के साथ ओरल सेक्स भी एंजाय किया था. मैं इतनी तक गयी थी की मुझे कब नींद आ गयी पता ही नही चला. मोहित भी थकान के मारे सो गया होगा. रात को मुझे फील हुआ की मेरे पेट के उपर किसी ने हाथ रखा हुआ था. नींद में थी तो कुछ सोचा नही. मुझे बहुत नींद आ रही थी, उपर से इतनी ताकि हुई थी की मेरे हाथ पैर हिला भी नही पा रही थी.

मुझे फील हो रहा था पर कुछ रिक्ट करने के मूड में नही थी. गहरी नींद में सो रही थी मैं. थोड़े टाइम बाद फील हुआ की कोई मेरे बूब्स सहला रहा था. उनको हल्के हाथो से दबा रहा था. अब मुझे त-शर्ट के अंदर हाथ फील होने लगा. मुझे अछा लग रहा था. मैं नींद में मोन करने लगी.

मेरी छूट कोई सहलाने लगा, और उसके अंदर उंगली फील होने लगी. मुझे नींद में ऐसा लगा की कोई मेरी ताबड़तोड़ चुदाई कर रहा था, और मैं झाड़ गयी.

गहरी नींद में थी मैं, उपर से और थकान हुई तो सो गयी. मेरी हल्की नींद खुली तो मैने टाइम देखा. सुबा के 7 बाज रहे थे. मैने देखा की मोहित का हाथ मेरी त-शर्ट के अंदर था, और उसका एक पैर मेरे उपर था. वो बहुत गहरी नींद में सो रहा था.

अब मुझे समझ में आया की रात को मोहित ने मेरे जिस्म का मज़ा लिया था. मैने अपने आप को मोहित से डोर किया, और फ्रेश हो कर थोड़ी दूरी बना कर सो गयी. सुबह मेरी नींद खुली, तो मोहित फिरसे मुझे चिपक कर सोया हुआ था. अब शायद वो नींद में नही था. वो मेरे बूब्स दबाने लगा. मैने भी सोने का नाटक किया. रात की हरकत से उसका कॉन्फिडेन्स पीक पर था. मैने सोचा जो चीज़ नींद में महसूस की थी, वो होश के साथ एंजाय करू.

मोहित ने मुझे टाइट हग किया था, और उसका हाथ त-शर्ट उपर करके बॅक को सहला रहा था, और पनटी में हाथ डाल कर मेरी गांद के उपर घुमा रहा था. मैं भी चुप-छाप पड़ी रही. थोड़ी देर बाद उसने मुझे सीधा किया और त-शर्ट उपर कर दी. फिर वो मेरे दोनो नंगे बूब्स पर किस करने लगा.

वो निपल्स को हल्का-हल्का चूसने लगा. उसकी ऐसी हरकत से मैं ज़्यादा देर अपने आप को रोक नही पाई. मैने मोहित को अपने से डोर किया, और गुस्से से उसको देखने लगी. मोहित भी दर्र गया.

शीला (गुस्से से): ये क्या कर रहे थे तुम? तुम्हे शरम नही आती ये सब करते हुए? मैं तुम्हारी बेहन हू ये भी भूल गये?

मोहित (गुस्से में): अगर वो लोग भाई बेहन का रिश्ता भूल सकते है, तो मैं क्यूँ नही?

शीला: क्या बकवास कर रहे हो? मैं तुम्हारे साथ फ्रेंड्ली बिहेव कर रही हू, तो तुमने उसका ये मीनिंग निकाला? तुम मेरे साथ ये सब सोच भी कैसे सकते हो?

मोहित ( अपनी नज़रें झुका कर उसके मोबाइल में वीडियो चला कर): दीदी आप ये देखो. आपको लगता है मैं ग़लत हू, पर जो ये लोग कर रहे है, वो क्या सही है?

मैने देखा तो उसमे मोहित ने पूरी वीडियो बाल्कनी में से बनाई थी. विजय और शालिनी पूल के पास रखे बेंच के उपर बैठे थे, और दोनो एक-दूसरे को लिप्स तो लिप्स किस कर रहे थे. और विजय एक हाथ से शालिनी के बूब्स को सहला रहा था. थोड़ी देर बाद शालिनी गरम हो गयी, तो वो पंत के उपर से विजय का लंड सहला रही थी. दोनो पॅशनेट्ली किस कर रहे थे.

अब विजय उसके लिप्स को छ्चोढ़ कर उसकी नेक और एअर पे किस करने लगा. शालिनी ने जो वन पीस पहना था, वो निकाल दिया. अब वो सेक्सी ब्रा पनटी में खड़ी थी. उसका हॉट लुक देख कर मैं भी सहम गयी. मैं वीडियो देख कर मोहित के सामने सर्प्राइज़िंग एक्सप्रेशन देने लगी.

अब शालिनी ने विजय को खड़ा किया और उसकी त-शर्ट निकाल कर फेंक दी, और उसको कस्स कर गले लगा कर उसको लिप्स किस करने लगी. विजय का हाथ उसकी गांद को सहला रहा था, और उसकी चेस्ट पर किस करने लगी. साथ में वो उसके पेट पर किस करते हुए बेंच पर बैठ गयी.

शालिनी ने विजय के ट्रॅक को नीचे तोड़ा खींचा, और उसका लंड बाहर निकाल दिया. उसका लंड देख कर शालिनी एग्ज़ाइट हो गयी और लॉलिपोप की तरह लंड चूसने लगी. ये सब में वीडियो में देख कर फेक सर्प्राइज़िंग एक्सप्रेशन देने लगी.

थोड़ी देर लंड चूसने के बाद शालिनी खड़ी हुई, और अपने एक हाथ में वन पीस ड्रेस और दूसरे हाथ में विजय का लंड पकड़ कर उसको बेडरूम में लेकर चली गयी. मैं वीडियो देख कर बिल्कुल चुप रही. मुझे अब टेन्षन हो गयी थी क्यूंकी मैं मोहित को कैसे समझती, ये सब सोचने लगी. मोहित अब क्या आक्षन करेगा वो सोच कर ही मेरा दिमाग़ काम करना बंद हो गया था. मैने फिर गहरी साँस ली, और फिर मोहित को समझने लगी.

मोहित (गुस्से से): देखा आपने दीदी कैसे ये लोग एंजाय कर रहे है? इन लोगों का रिश्ता भाई बेहन का नही है क्या?

शीला ( उसको हग करते हुए): मुझे लगा तुम मुझे लीके करते हो ( उसको धक्का मारते हुए). पर तुम तो मुझसे विजय का बदला ले रहे हो.

मोहित: नो दीदी, ई रियली लीके योउ. मैं तो आपको बहुत सालों से लीके करता हू. दीदी आप मानोगी नही, बचपन से आप मेरी क्रश रही हो. उस दिन आपको सारी में देखा तब से आपके ही ख़याल आने लगे थे.

शीला: श रियली ब्रो ( नॉटी स्माइल के साथ)? अब क्या ख़याल आ रहे है, ज़रा मुझे भी बताओ.

मोहित ब्लश करने लगा. मैने उसके गाल पर किस किया, और बातरूम में चली गयी. बाहर आई तब मैने रेड कलर की ब्रा पनटी पहनी थी. और उसमे मैं बहुत हॉट आंड सेक्सी लग रही थी. मैने नॉटी स्माइल पास करते हुए कहा-

शीला: मैं नहाने जेया रही हू. तुम चाहो तो मेरे साथ शवर ले सकते हो.

और मैं अपनी गांद मतकते हुए बातरूम में चली गयी. मैने बातरूम का डोर ओपन रखा. मोहित अपने कपड़े निकाल कर बस अंडरवेर पहन कर बातरूम में आ गया. मैने शवर ओं किया, और हम दोनो भीगने लगे. अब मैं और भी ज़्यादा सेक्सी लगने लगी. मोहित की आँखों में मेरे लिए मुझे हवस दिख रही थी. मैने भी उसकी आँखों में देखते हुए शवर गेल लिया, और उसकी बॉडी पर लगाने लगी.

मेरे छ्छूते ही उसका लंड टाइट हो गया, जो मुझे अंडरवेर में दिखने लगा. मैं बिना कुछ कहे उसकी चेस्ट, बॅक, लेग्स पर गेल लगाने लगी. अब मैं और मोहित एक-दूं चिपक से गये थे. मुझे उसकी साँस महसूस होने लगी.

धीरे-धीरे हमारे लिप्स करीब आ गये, और हमने लिप्स किस करना शुरू कर दिया.

मैं भी उसका पूरा सपोर्ट कर रही थी. मैने अपनी दोनो बाहें उसके गले में डाल दी, और स्मूच करने लगी. विजय के दोनो हाथ मेरी कमर पर थे, और वो मेरी कमर और गांद सहला रहा था. ऐसे ही हम 5-7 मिनिट किस करते रहे. जब हमारी किस टूटी, तो मैं उसकी और देख कर शर्मा गयी. फिर उसको टाइट हग कर दिया.

उसने मेरे भीगे बालों को मेरी एअर से हटा कर मुझे एअर बीते किया, और वो मेरी नेक पर किस करने लगा. रेड ब्रा में मेरे बूब्स बहुत ही सेक्सी दिख रहे थे. अब उससे कंट्रोल नही हुआ, और वो मेरे दोनो बूब्स पर किस करने लगा. मैने भी मेरा हाथ पीछे करके ब्रा के हुक खोल दिए, और ब्रा को निकाल कर फेंक दिया. मेरे बूब्स अब पुर आज़ाद हो गये, और निपल टाइट हो गये थे.

मोहित मेरे निपल्स को आचे से चूस रहा था. मैं भी उसके सर को सहला रही थी. अब मोहित धीरे-धीरे मेरी बॉडी पर किस करते हुए घुटनो पर बैठ गया. फिर मेरी पनटी के उपर से मेरी छूट सहला रहा था. मैं तो जल बिन मछली की तरह तड़प रही थी. अब उसने आराम से मेरी पनटी निकली, और मेरी छूट पर किस करने काग़ा.

मैने बातरूम की वॉल से सपोर्ट ले लिया, और मोहित का सर पकड़ कर मेरी छूट पर दबाने लगी. ऐसे ही उसने मेरी छूट का पानी निकाल दिया और चाट गया. फिर खड़ा हो कर मेरे लिप्स पर किस करने लगा. मैं भी अंडरवेर के उपर से उसका लंड सहलाने लगी. फिर किस करते हुए घुटनो पर बैठ गयी, और अंडरवेर खींच कर निकाल दिया.

उसका लंड देख कर मैं खुश हो गयी. उसका लंड मेरे हज़्बेंड से काफ़ी हेल्ती था. विजय के लंड से तोड़ा लंबा था, पर उसके जितना मोटा नही था. मैने अब उसकी और देख कर नॉटी स्माइल पास की, और लंड को हाथ में पकड़ कर उसके उपर किस किया. मेरे कोमल होंठ लगते ही उसका लंड तो एक-दूं कड़क हो गया, और मुझे सलामी देने लगा.

मैने भी अब टाइम वेस्ट ना करते हुए सीधा लंड चाटना और चूसना शुरू कर दिया. ऐसे ही 5 मिनिट लंड चूसने के बाद मैं खड़ी हो गयी, और टाय्लेट सीट पर एक पैर रख कर घोड़ी बन गयी. मोहित ने उसका लंड पीछे से सेट किया, और मुझे आचे से छोड़ने लगा. उसका लंड लंबा था तो ऐसे चूड़ने में बहुत मज़ा आ रहा था. मैं भी मोन कर रही थी.

थोड़ी देर चुदाई के बाद हमने साथ में शवर लिया, और हम टवल लपेट कर बेडरूम में आ गये. मैने मोहित का टवल खींच दिया, और उसको बेड पर लिटा दिया, और मेरा टवल निकाल कर उसके खड़े लंड पर बैठ गयी. मैं उसके उपर चढ़ कर उछालने लगी, और अपने बूब्स खुद से दबाने लगी.

मोहित मेरी ऐसी हरकत से और एग्ज़ाइटेड हो गया और नीचे से मुझे धक्के मारने लगा. मैं ऐसे . रही और फिर . . गयी. मोहित ने पीछे से मेरी चुदाई करना . कर दिया. 10 मिनिट . चुदाई के बाद उसका . वाला था, तो हमने . . में चुदाई . की, और वो मेरी छूट में झाड़ गया. फिर वो मेरे उपर . हो कर ..

इस चुदाई के दौरान मैं 3 बार झाड़ गयी थी. हम ऐसे ही लेते रहे, और फिर दोनो बातरूम में गये. फिर एक-दूसरे को किस करते हुए हमने साथ में शवर लिया.

यह कहानी भी पड़े  मा सस्ती रॅंड की तरह नौकर से चुदी


error: Content is protected !!