गुजराती दीदी की आखो देखी चुदाई

मेरा नाम हर्ष है और ये कहानी मेरी बाहें श्रेया की है. हम गुजरात के भावनगर मे रहते है. परिवार मे 5 लोग है. मेरे पापा जिनकी आगे 42 है, मेरी मम्मी 40 यियर्ज़ की एकदम सेक्सी लेडी है और दिखने मे अभी भी जवान ल्गती है. मेरी मम्मी के भी बोहोट लाफदे रहे है लेकिन उनकी बात फिर कभी करेगे.

ये कहानी मेरी चुड़क्कड़ बाहें श्रेया की है. और इसमे जो कुछ लिखा है एकदम सच है कुछ भी झूठ न्ही है. श्रेया जो 18 साल की है और मुजसे 4 साल बदी है. और मुजसे बदी होने के कारण मूज़े डाँट्ती रहती है और अपनी मनमानी करती है.

श्रेया का रंग गोरा और हाइट 5.4 फीट है. जेसे जेसे वो बदी हो रही थी उसका बदन खिल रहा था. उसकी च्चती का उभर बढ़ रहा था. उसके बूब्स 34 और गांद 32 की होगी और कमर एकदम पतली. सच काहु तो उसके इश्स रूप को देखकर मे भी मूठ मार लिया करता था.

श्रेया दीदी ने 12त की पढ़ाई कंप्लीट करके कॉलेज मे दाखिला लिया था. कॉलेज ह्मारे घर से 7 किलोमीटर्स दूर्र था गाव से बाहर था तो दीदी बस मे जाती थी. दीदी सुबह 7 बजे घर से कॉलेज जाने के लिए निकलती थी और बस स्टॉप पर बस का वेट करती थी.

तो एक दिन मेरा एक दोस्त मुजसे आ करके कहता है.

दोस्त – सुन भाई गुस्सा मत्ट होना तुजको एक बात बोलनी थी.

मे – बता भाई क्या बात है.

दोस्त – सुन मे कुछ दीनो से देख रहा हू श्रेया दीदी एक लड़के के साथ बिके पर घूम रही है मैने बोहोट बार देखा है.

मे – पागल है क्या तू ? किधर देखा तुमने ?

दोस्त – वो जब कॉलेज के लिए बस स्टॉप पर खड़ी रहती है तो एक लड़का बिके ले करके आता है और वो उसके साथ बेत कर चली जाती है.

मे – टुजे लड़का कों है कुछ पता है उसके बारे मे?

दोस्त – हा वो लड़का ह्मारे गाव का ही है उसका नाम भाविं है और वो बड़ा लोंड़ियबाज़ है. ह्मारे गाव की बोहोट लड़किया की चुदाई कर चुका है यहा तक की भाभी और आंटी लोगो की भी ठुकाई कर चुका है.

मे – अछा ठीक है ये बात किसिको ब्ताना मत्ट घर की इज़्ज़त का सवाल है. और मे पता करता हू दीदी के बारे मे.

ये कह कर मे घर आ गया और यूयेसेस दिन से ही मैने दीदी पर नज़र रखना स्टार्ट कर दिया. मैने देखा पूरा दिन दीदी मोबाइल मे किसी से चाटिंग करती रहती है और अपना कमरा बाँध करके किसी से कॉल मे बात करती है धीमी आवाज़ मई. वो कॉलेज भी बोहोट साज डाज कर जाने ल्गी थी और ब्यूटी पार्लर जा करके हेर्स भी मस्त स्टाइल मे करवा रखे थे और पुर बॉडी पर वॅक्सिंग भी करवा कर रखती थी.

तो मैने चुपके से जब वो मोबाइल चला रही थी तो पीछे से उसका पॅटर्न लॉक देख लिया था. और एक दिन जब वो नहाने गयी तो मैने उसका मोबाइल ले करके उसमे एक अप इनस्टॉल कर दिया, यूयेसेस अप का नामे मे इश्स स्टोरी मे न्ही बता सकता रिस्ट्रिक्षन्स की बजाह से लेकिन यूयेसेस अप की ख़ासियत ये थी की वो मोबाइल मे जो कुछ भी करती वो मूज़े मेरे लॅपटॉप मे दिखता.

अगर वो किसी से व्हातसपप मे चाटिंग करती तो वो मूज़े लॅपटॉप मे दिखता और अगर वो किसी से कॉल मे बात करती तो मे भी हेडफोन लॅपटॉप मे लगा कर सुन लेता.

वो करके मे मोबाइल जेसा था वेसा ही छ्चोड़ कर दीदी के बातरूम से बाहर आने से पहले रूम से निकल लिया. दीदी बातरूम से बाहर आई और उसने ब्लॅक पनटी और उसके उपर स्किन टाइट जीन्स पहना.

फिर वाइट ब्रा और उसके उपर वाइट क्रॉप टॉप पहना जिससे उसकी पतली कमर और नेवेल पूरी दिख रही थी. जीन्स इतनी टाइट थी की उसकी गांद और भी बदी लग थी थी और उसके ब्दे ब्दे बूब्स उसकी सुंदरता मे बढ़ावा कर रहे थे.

फिर वो कॉलेज के लिए निकल गयी. और मैने चुपके से बिके से उसका पीछा किया. मे दूर्र बस स्टॉप पर ही खड़ा था तभी एक हॅंडसम सा दिखने वाला लड़का जिसकी हाइट 6 फीट और दिखने मे एकदम मस्क्युलर बॉडी वाला लग रहा था आ के दीदी के पास रुका. दीदी उसकी बिके पर चिपक कर बेत गयी उसके पीछे और लड़के ने बिके भगा दी.

मैने अपनी बिके से उनका पीछा किया. उनकी बिके जा तो कॉलेज के रास्ते ही रही थी लेकिन बीच मे एक गार्डेन आता है वाहा उसने बिके रोक दी. फिर वो दोनो बिके से उतार कर गार्डेन मे जाने ल्गे. मे भी अपनी बिके पार्क करके उनके पीछे गया. मैने देखा वो दोनो गार्डेन मे कुछ झाड़ियो के पीछे गये जहा कोई न्ही था और दोनो नीचे घास पर बेत गये.

मे समाज गया इशी लड़के का नाम भाविं था. भाविं ने दीदी को टच करना स्टार्ट किया उसके झांग पर उसकी कमर पर सब जगह वो हाथ फेर रहा था और दीदी को अपनी और खीचा आंड लिप्स पर किस करना स्टार्ट कर दिया. मे अपनी नज़र के सामने अपनी बदी दीदी को किस करते देख रहा था.

मूज़े गुस्सा आना चाहिए था लेकिन पता न्ही क्यो मूज़े मज़ा आ रहा था देखने मे. दोनो मे किस की रफ़्तार बढ़ा दी और भाविं ने दीदी को उठा कर अपनी गोदी मे बिता दिया. और ज़ोर ज़ोर से उसके बूब्स प्रेस करने लगा कपड़ो के उपर से ही और दाँत से काटने लगा.

दीदी के मूह से आअहह उंह भाविं प्लीज़ आह काटो मत्ट दर्द हो रहा है जान आ धीर करो डार्लिंगगगग मे तुम्हारी ही हू उंह म्ह उफ़फ्फ़ एसी आवाज़े आ रही थी. फिर भाविं ने वो किया जिसका मूज़े अंदाज़ा न्ही था.

भाविं ने दीदी का टॉप और ब्रा एक साथ उपर कर दिया और उसके ब्दे ब्दे बूब्स आज़ाद कर दिए. पूरा टॉप न्ही निकाला क्योकि गार्डेन मे किसी के आ जाने का रिस्क था तो सिर्फ़ उपर करा.

फिर वो एक हाथ से दीदी के मम्मो को दबा रहा था बदी बहरामी से और दूसरे माममे को चूस रहा था और काट रहा था. दीदी के मूह से सिसकियाँ निकल रही थी और वो भाविं की गोदी मे बेत कर मज़े ले रही थी.

दीदी के बूब्स वाइट और निपल्स ब्राउन थे. उनको देख के मेरा लंड खड़ा हो गया. मैने अपनी पॉकेट से मोबाइल निकाला और उनकी वीडियो रेकॉर्ड करने लगा.

थोड़ी देर बाद भाविं ने अपनी पंत का ज़िप खोला और अपना लंड निकल कर दीदी के हाथ मे दे दिया. दीदी ने उसका लॅंड सहलाना स्टार्ट किया. उसका लंड बड़ा और मोटा था दिखने मे 7 इंच का लग रहा था.

भाविं दीदी को किस कर रहा था और साथ मे दीदी उसका लंड सहला रही थी. फिर उसने दीदी को मूह मे लंड लेने को बोला-

भाविं – मूह मे लेके चूस इसको मेरी जान.

दीदी – न्ही मे मूह मे न्ही ले स्क्ति मूज़े वो ज्ञदा ल्गता है.

भाविं – देख मूह मे लेके चूस एक बार टुजे मेरे लोड का स्वाद चखता हू.

दीदी – न्ही डार्लिंग ये मे न्ही कर स्क्ति.

इश्स बात पर भाविं को आया गुस्सा और उसने बोला एसए केसे न्ही चुसेगी तू रंडी मूह खोल अपना. और एसा बोल करके भाविं ने दीदी के हेर्स पकड़ कर उसका मूह ज़बरदस्ती अपने लोड के करीब ले आया और अपना लोड्‍ा दीदी के मूह मे दे दिया. मूह मे लंड होने की वजह से दीदी की आवाज़ भी न्ही निकल रही थी और वो उम्म्म्मम… उम्म्म्म… उम्म्म्म…. एसा कर रही थी.

भाविं ने दीदी के बाल पकड़ कर उसका सिर उपर नीचे करना स्टार्ट किया जिससे दीदी के मूह से लोड्‍ा अंदर बाहर होने लगा. दीदी के मूह मे वो बोहोट अंदर तक लंड डाल रहा था जिसकी वजह से दीदी को दर्द के मारे आँसू निकल आए और गाल पर बहने ल्गे, उसकी साँसे फूल रही थी जिससे उसका मूह भी रेड हो गया फिर भी भाविं रुकने का नाम न्ही ले रहा था.

वो अपने लंड को और भी ज़ोर ज़ोर से अंदर बाहर करने लगा और दीदी के मूह को छोड़ने लगा. उसने 10 मिनिट्स तक दीदी के मूह को छोड़ा और सारा वीर्या दीदी के मूह मे ही निकल दिया.

दीदी को उशी वक़्त वॉमिट हो गयी और उसकी हालत खराब हो गयी थी. वो खसने ल्गी और वॉमिट कर रही थी और रो रही थी. फिर थोड़ी देर बाद भाविं ने उसको बॉटल से पानी दिया और दीदी ने पानी पिया और अपने मूह को सॉफ किया. फिर दोनो अपने कपड़े ठीक करके बिके लेके कॉलेज की और निकल पडे.

आयेज के पार्ट मे मई आपको ब्ठौगा केसे भाविं ने मेरी दीदी की चुदाई करी. अगर आप को कहानी पसंद आई और आप चाहते हो मे और लिखू तो कॉमेंट करे.

यह कहानी भी पड़े  भाभी की चुदाई दिवाली में

error: Content is protected !!