गर्लफ्रेंड के साथ पहली चुदाई की सेक्सी स्टोरी

ही, ई आम फ्रॉम चंडीगार्ह, और मैं चंडीगार्ह या नॉइदा में रहता हू मोस्ट्ली. मैं अपना इंट्रोडक्षन दे डू. मेरा नाम रविश है, और मैं 23 साल का हू. तोड़ा सा हेल्ती हू, बुत ड्के रेग्युलर जिम पर्सन हू. मेरा लंड 6 इंच लंबा है, और 2 इंच मोटा है. किसी भी लेडी या लड़की को खुश कर सकता हू मैं.

मेरी गिर्ल्फ्रेंड का नाम लविषा है, और उसके बारे में आप आयेज कहानी में पढ़ेंगे. हम एक कपल है, जो स्टोरी लिख रहे है अपनी. हम थ्रीसम या कपल स्वाप के लिए पार्ट्नर्स भी ढूँढ रहे है. अगर कोई चाहता है तो ज़रूर मैल करे.

आइडेंटिटी रिवील नही करी जाएगी. पहले सब डिसकस होगा आंड उसके बाद प्लान किया जाएगा. तो प्लीज़ मैल करे. देअदुसेर4320@गमाल.कॉम. और अगर कोई अकेली लड़की भी इंट्रेस्टेड हो, तो ज़रूर मैल करे.

ये मेरी पहली स्टोरी है. तो अगर कोई ग़लती हो गयी हो तो माफ़ कर देना. अब चलते है, और स्टोरी एंजाय करते है. लड़के अपना लंड हाथ में लेके हिलने के लिए तैयार हो जाए, और लड़कियाँ अपनी छूट में उंगली करने के लिए रेडी हो जाए.

पहले मैं अपनी गर्लफ्रेंड के बारे में बता डू. तो वो मेरे से एक साल बड़ी है, मतलब वो 24 की है. वो हेल्ती है, और उसका फिगर 36-30-36 होगा. वो एक-दूं गोरी और जवान है. हम दोनो एक-दूसरे को एक साल से जानते है, और अभी लिव-इन में रहते है. पर ये कहानी हमारे फर्स्ट सेक्स की है.

तो जब हम पहली बार मिले, हमने अपना पूरा दिन आचे से प्लान किया था, की हम सुबा 10 बजे एलांटे माल में मिलेंगे, जो की चंडीगार्ह का सबसे बड़ा माल है. उसके बाद हमने सुबा 11 बजे का शो बुक किया था मोविए का. तो हम अपनी सीट्स पे जाके बैठ जाते है.

सुबा-सुबा थियेटर में ज़्यादा लोग भी नही होते, और हमने वैसे भी रेक्लीनेर सीट्स ली थी, तो मोविए स्टार्ट होते ही मैं धीरे से उसका हाथ पकड़ता हू. फिर धीरे-धीरे हम क्लोज़ हो जाते है और हमारी स्मूच स्टार्ट हो जाती है. मैं पागलों की तरह उसके लिप्स चूस रहा होता हू.

फिर मैं धीरे से एक हाथ उसके टॉप में डालता हू, और उसके सॉफ्ट-सॉफ्ट बूब्स दबाता हू. उस टाइम उसका साइज़ सिर्फ़ 32″ हुआ करता था. वो आयेज करने के लिए माना करती है और बोलती है-

वो: सबर करो, रात का इंतेज़ार करो.

फिर मोविए ख़तम होने के बाद हम 2 बजे लंच के लिए जाते है, जहा पे हमने आचे से लंच किया. हम 3 बजे वाहा से निकल जाते है कसौली के लिए. चंडीगार्ह से कसौली 1.5 अवर से 2 अवर्स का रास्ता है, जहा पे हमारा होटेल बुक था वित आ जक्यूज़ी. क्यूंकी मुझे जक्यूज़ी में सेक्स करना बहुत पसंद है.

पहले सेक्स को स्पेशल बनाने के लिए जक्यूज़ी वाला रूम कराया था. हम पहले होटेल में चेक-इन करते है, और फिर समान रख के माल रोड घूमने निकल जाते है. फिर वाहा से हम 8 बजे वापस होटेल आ जाते है, और साथ में वोड्का भी ले आते है. उसके बाद हम रूम में एंटर करते ही एक-दूसरे को पागलों की तरह किस करने लगते है.

लगातार एक-दूसरे को 15 मिनिट तक किस और नेक पे स्मूच करने के बाद, मैं बेड के कॉर्नर पे बैठता हू, और वो मेरी गोदी में बैठती है. फिर मैं किस करते-करते उसका टॉप उतार देता हू, और फिर ब्रा के उपर से ही उसके निपल्स को काटने लगता हू. वो पागल की तरह बस मोन करती है “आह आह, प्लीज़ चूस लो इन्हे आचे से”.

फिर मैं उसकी ब्रा भी उतार देता हू, और उसके बूब्स एक-दूं से उछाल कर बाहर आते है, और मैं उन्हे फिरसे चूसने लगता हू. वो मेरी त-शर्ट और वेस्ट उतार देती है, और मेरी नेक पे किस करने लगती है. उसके बाद वो मुझे बेड पे लिटा कर मेरे उपर आती है.

वो मेरी सारी बॉडी पे किस करने लगती है, और मेरा लंड बहुत हार्ड हो जाता है. फिर मैं उसे अपने नीचे करता हू, और उपर से किस करता-करता उसकी पंत भी उतार देता हू, और उसकी ब्लॅक पनटी भी. मैं उसकी वेजाइना में फिंगर डाल के फिंगरिंग स्टार्ट करता हू, और टंग से भी लीक करना स्टार्ट करता हू.

उसके मूह से बस “आ बेबी सक मे, प्लीज़ सक मे हार्ड. ई आम ऑल युवर्ज़” निकल रहा होता है. फिर 10 मिनिट लीक करने के बाद उसकी बॉडी टाइट हो जाती है, और वो झाड़ जाती है. मैं उसका नमकीन रस्स पी जाता हू. फिर वो मुझे साइड में लिटा कर मेरी जीन्स उतारती है, और मेरा अंडरवेर भी उतार देती है.

फिर वो हाथ में ले कर मेरे लोड को हिलती है, और फिर मूह में लेके चूसने लगती है. शुरू-शुरू में थोड़ी दिक्कत आती है, पर फिर वो आचे से चूसने लगती है. 5 मिनिट की ब्लोवजोब के बाद मैं उसे लिटा देता हू, और सीधा उसके टाँगो के बीच आके बैठ जाता हू. मैं अपने डिक से वेजाइना पे रगड़ता हू.

वो पागल की तरह बस मोन करती रहती है, जिससे मेरा जोश और बढ़ जाता है, और मैं बिना इंतेज़ार करे एक धक्का लगता हू. मेरा आधा लोड्‍ा उसके अंदर च्ला जाता है, जिससे उसकी चीख निकल जाती है. फिर मैं 2 मिनिट रुकता हू, और धीरे-धीरे धक्के लगाना शुरू करता हू. उसके मूह से बस आ आ निकलता है, और 5 मिनिट ऐसे ही धक्के लगाने के बाद हम डॉगी स्टाइल में आ जाते है.

मैं पीछे से धक्के लगाना शुरू करता हू, और 2 मिनिट बाद ही वो झाड़ जाती है. फिर वो कहती है की और हिम्मत नही है. मैं फिर लेट जाता हू, और वो मुझे ब्लोवजोब देना शुरू करती है. मैं 2 मिनिट बाद झाड़ जाता हू, और सारा माल उसके बूब्स पे गिरा देता हू.
फिर वो वॉशरूम से सॉफ करके आती है, और हम दोनो साथ में लेते-लेते कब सो जाते है, हमे पता ही नही चलता.

इसके आयेज की कहानी मैं आपको अगले पार्ट में बतौँगा, और मैं उमीद करता हू की आपको मेरी कहानी पसंद आई होगी. तो ज़रूर मैल करे अपने फीडबॅक के साथ. हमे बहुत खुशी होगी आपकी फीडबॅक पढ़ कर.

यह कहानी भी पड़े  अंजान आदमी ने बीवी को चूसा, और लंड चुस्वाया


error: Content is protected !!