किरायेदार लड़कों से गेंग बेंग चुदाई की

Hindi Sex Story : हेलो दोस्तों मैं अंतरा आप सभी का बहुत बहुत स्वागत करती हूँ। मैं पिछले कई सालो से इसकी नियमित पाठिका रही हूँ और ऐसी कोई रात नही जाती जब मैं इसकी सेक्सी स्टोरीज नही पढ़ती हूँ। आज मैं आपको अपनी कहानी सूना रही थी। आशा है की ये आपको बहुत पसंद आएगी।मेरी उम्र 26 साल की है। मैं देखने में बहुत ही सेक्सी लगती हूँ। मेरी फिगर 34 30 36 हैं। मेरी गांड बहुत ही खूबसूरत निकली हुई है। मेरी गांड जब मैं चलती हूँ तो धमाल मचाती है। मेरी बूब्स बड़े बड़े है। मेरी बूब्स भी बहुत ही सॉफ्ट है। मेरी बूब्स बिल्कुल मक्खन की तरह है। जो भी इन्हें एक बार दबाता है। बस वो इसका दीवाना हो हो जाता है। मेरी दोनों मुसम्मी का रस सब खूब जब के चूसते है। मेरी चूत बहुत ही रसीली है। मेरी चूत की दोनों पंखुड़ियां बहुत ही लाल हैं। मैं अब तक कई लोगो से चुदवा चुकी हूँ। लेकिनमुझे सबसे ज्यादा मजा जब आया था। जब मुझे मेरे ही घर में किराये पर रहने वाले लड़को ने मिलकर चोदा। दोस्तों मै आपका ज्यादा समय नष्ट न करके अपनी कहानी पर आती हूँ।

दोस्तों मेरा घर लखनऊ में महानगर में है। मै एक बहुत ही बड़े घर की बेटी हूँ। मेरे पापा का बहुत बड़ा खुद का एक बिज़नस है। मेरे बड़े भाई भी पापा के काम में हाथ बटाते हैं। मेरा घर बहुत बड़ा है। मेरे घर के पीछे वाले रूम में कई सारे लडके रहते है। वो यहाँ तैयारी करने आये थे। वो सारे के सारे बहुत ही स्मार्ट लगते थे। सारे के सारे एक से बढ़कर एक थे। वो भी हमे घूर घूर के देखते थे। जब भी मैं पीछे छत पर जाती तो वो सब हमे ही निहारते रखते थे। ऐसा लगता जैसे वो मुझे अभी के अभी चोद ही डालेंगे।

यह कहानी भी पड़े  ससुर और उनके दोस्त ने मुझे चोदा विदेशी स्टाइल में

मेरा भी मन चुदने को हो रहा था। धीरे धीरे हम लोग एक दुसरे के दोस्त बन गये। फिर मुझे उनका नाम पता चला। रोहित, अभय और अभिषेक तीनो का नाम था। अब इस समय सिर्फ तीनो ही रूम पर रह रहे थे। मुझे जब भी मौका मिलता हम उनके रूम में जाते और बाते करते थे। हम एक दूसरे के बहुत ही करीब हो गए। एक दिन अभिषेक ही था। उस दिन मुझे उसने किस किया। कुछ देर तक चुम्मा वाला ही प्रोग्राम चला। बाद में सब आ गये। तो वही प्रोग्राम रोकना पड़ा।

एक दिन सभी लोग मेरी भाभी के घर किसी पार्टी में चले गये। मैं उस दिन चुदवाने के मूड में थी। मैंने जाने से इंकार कर दिया। घर से सब लोग चले गए। रात के 8 बज गए थे। मैंने दरवाजा बंद किया। मै उनके रूम पर चली गई। तीनो बैठे हुए थे। उन्होंने मुझे बिठाया। फिर बात करने लगे। बात करते करते मुझे अभिषेक किस कर लिया। क्योंकि वो मुझे पहले भी कर चुका था। ये देख कर कुछ देर बाद सब एक एक करके किस करने लगे। थोड़ा डरते डरते अभय किस करने लगा। मुझे सबसे हैंडसम वही लग रहा था। मैंने उसे ज्यादा देर तक किस किया। बस अब क्या था। सारे के सारे मुझपे बरसने लगें। मैने भी कब तक इसी का इंतजार किया था। मै भी रोहित को पकडे हुए जोर जोर से किस कर रही थी। उसके बाद एक एक करके मुझे किस करने लगें। अभिषेक मुझे अब किस करने लगा। अभय और रोहित मुझे सहला रहे थे। मैं गरम हो रही थी।

अभिषेक मेरी गुलाब जैसी नाजुक होंठो को चूस रहा था। मैं भी उसका अच्छी तरह से साथ दे रही थी। वो मेरी गुलाबी होंठो को चूस कर लाल लाल कर दिया। अब अभिषेक होठो का चूसने का आनान्द ले लिया था। अभय भी मुझे खड़ा करके। मेरी गालों को चूमते हुए। मेरी होंठों पर किस करने लगा। मेरी होंठों को अभिषेक चूस रहा था। अभय मेरी पीठ पर कंधे कों सहलाते किस कर रहा था। रोहित मेरी गांड को दबा रहा था। अभिषेक बैठ के अपने खड़े मीनार जैसे लंड पर बैठा लिया। उसका खड़ा लंड मेरी गांड में चुभ रहा था। लेकिन मुझे मजा आ रहा था। रोहित और अभय मेरी हाथों पकड़ को पकड़ कर अपना लंड सहलवा रहे थे। अभिषेक अपने लंड को गांड में चुभते हुए मेरी संतरे जैसे बड़े बड़े मम्मो को दबा रहा था। मेरी होंठो को भी चूम रहा था। मै भी गरम हो के कहने लगी. चूसो और चूसो मेरी होंठों को चूसो आज ..चूस. चूस.. कर इसका सारा रस पी लो।

यह कहानी भी पड़े  मोना भाभी को देवर ने चोदा

तीनो कहने लगे. साली तुझे कब से ताड़ता था। आज जाके तुझे चोदने कक मौका मिला है। आज तुझे हम तीनों दोस्त मिल के चोदेंगे। मैंने कहा. साले तुम लोग सिर्फ बात ही करोगे या कुछ करोगे भी। इतना सुनते ही रोहित और अभय अपना कच्छा खोलने लगे। दोनों अपने बड़े बड़े लंड को निकाल कर मेरी मुँह के सामने होंठो पर लगाने लगे। मै उनका लंड चूसने लगी। उनके लंड को मैं लॉलीपॉप की तरह चूस रही थी। कभी मै रोहित का तो कभी अभय का लंड चूस रही थी। मुझे बहुत मजा आ रहा था। अभिषेक खड़ा हुआ और अपने लंड को हिलाने लगा। उसका लंड बहुत बड़ा था। तीनो ने मिलकर मुझे खड़ा किया। तीनो अपना अपना हाथ मेरी जिस्म में लगा रहे थे। अभिषेक मेरी चूत में अपना हाथ लगा रहा था।

Pages: 1 2 3

error: Content is protected !!