गढ़वालन की चुदाई

gadvalan ki hot sex chudai दोस्तो मेरे बारे मे तो आप जानते ही हैं लेकिन फिर भी बता देता हूँ मे देल्ही मे रहता हूँ एक जॉब की तलाश मे हूँ हाइट 5.11 इंचस बॉडी आवरेज लुक वाइज़ स्मार्ट हूँ.

अब स्टोरी पे आता हूँ ये स्टोरी रियल ओर ट्रू है ये स्टोरी अभी एक मंत पहेले की है हुआ यूँ कि मे अपनी जॉब की तलाश मे था तो मुझे एक भाईसाब ने अपने साथ रख लिया उनका कन्स्ट्रक्षन का काम था ओर उन्होने मुझे अपने यहाँ

सूपरवाइज़र रख लिया था उनकी साइट देल्ही मे ही चल रही थी रेसिडेन्षियल क़्वार्टेर मे वो मुझे अपने साथ ले जाते ओर मुझे गाड़ी मे बिठा कर ऑफीस का काम करते ओर मे उनकी साइट पे काम देखता था मुझे साइट देखने का अच्छा एक्सपीरियेन्स

भी था इसी लिए मेरे लिए कुछ मुश्किल भी नही था वही एक क्वॉर्टर था जिसमे एक गदवाली फॅमिली रहा करती थी उस फॅमिली मे फाइव मेंबर्ज़ थे मा बाप बेटा बेटी ओर दामाद बेटी ने लव मॅरेज की थी इस लिए उसके हज़्बेंड के पास

ज़्यादा कुछ नही था तो इसी लिए वो अपने पेरेंट्स के पास ही रहती थी मे हमेशा उसी के क्वॉर्टर के बाहर भाईसाब की गाड़ी मे बैठा रहता था उस लड़की का नाम रीना (नेम चेंज्ड ) था रीना सुबह सुबह

अपने घर मे क्लीनिंग ओर डस्टिंग किया करती थी ओर डस्टिंग करते हुए वो बाहर वाले पोर्षन मे भी झाड़ू लगाया करती थी रीना कभी भी ब्रा नही पहना करती थी ओर वो मुझे देख के अपना मूह फेर लिया करती थी मगर

दोस्तो यकीन मानो साली थी बहुत सुन्दर एक दम गोरी चित्ति दूध की तरह ओर मस्त फिगर , जब वो झाड़ू लगाते वक्त ब्रा नही पहनती थी तो उसकी चुचियाँ मस्त तरीके से हिला करती थी ओर उसके निपल भी दिखा करते थे

यह कहानी भी पड़े  राज शर्मा की पड़ोसन की वासना

मे कैसे अपने आप पे कंट्रोल करता था मे ही जानता था मन तो करता था साली का रेप कर डालु मगर नही कर सकता था अपनी फॅमिली का ख्याल आ जाता था कुछ दिन ऐसे ही बीत गये करीब 10 दिन तक मे हर रोज़ उसके क्वॉर्टर के”यह कहानी आप हिंदी सेक्सी कहानियाँ पर पढ़ रहे हैं”

सामने खड़ा रहता ओर उसकी चुचियाँ ओर निपल देखा करता वो सारे सरकारी क्वॉर्टर्स थे तो हमारे पास रेपेरिंग के लिए काफ़ी क्वॉर्टर्स थे जो कि खाली थे ओर उन क्वॉर्टर्स को हमे रिपेर ओर अपग्रेड करके वापिस देना पड़ता था ,

बस यूही दिन बीतते गये मे उसे देखता वो मुझे एक नज़र देखती ओर अपना क्लीनिंग ओर डस्टिंग करके अंदर चली जाती , वो जानती थी कि उसने ब्रा नही पहनी ओर उसकी गाउन का गला भी काफ़ी बड़ा था ओर वो जब भी नीचे की तरफ

झुकती तो मुझे उसके बूब्स ओर निपल दोनो सॉफ सॉफ दिख जाते एक दिन भाईसाब आए ओर उन्होने मुझसे कहा कि यार एक क्वॉर्टर मिला है जिसमे टाइल ओर पत्थर का काम करवाना हे मेने पूछा कॉन सा तो उन्होने मुझे उसी के क्वॉर्टर का नंबर. दिया मे उसके क्वॉर्टर के सामने हर रोज़ खड़ा ज़रूर होता था मगर उसका क्वॉर्टर नंबर कितना हे ये नही जानता था नेक्स्ट डे वो फिर से सॉफ सफाई करने जब बाहर आई तो मेने उसे क्वॉर्टर नंबर. पूछा जिसमे मेने काम करवाना था उसने कहा कि ये नंबर.

उसी के क्वॉर्टर का हे ओर हमे ही काम करवाना हे मे बहुत खुश हुआ मुझे लगा कि जैसे मेरा काम 50 % बन गया बाकी भी बन जाएगा तो मेने उसे पूछा कि कब से काम करवाना हे तो उसने अपनी फॅमिली मे डिसकस करके

यह कहानी भी पड़े  अनिल की जवान खूबसूरत बीवी की चुदाई

बताया कि 1 वीक के बाद क्यूंकी मा ओर पापा गाँव जा रहे हे 15 डेज़ के लिए ओर ब्रदर अपने एग्ज़ॅम देने देल्ही से बाहर जा रहा है 1 मंत के लिए , काम आराम से हो सकेगा नही तो घर मे सारे लोग रहेंगे तो कहीं अडजेस्ट

नही हो पाएँगे ओर प्रॉब्लम्स भी काफ़ी आएँगी मेने उसे ओके कहा ओर अपना मोबाइल नंबर. दे के आ गया ओर कहा जब करवाना हो तो एक दिन पहेले बता देना एक वीक के बाद उसका फोन आया ओर उसने मुझे नेक्स्ट डे से

काम स्टार्ट करने को कहा उसका एक बेटा था 7 मंत्स का जिसे वो दूध पिलाया करती थी मेने काम स्टार्ट करवा दिया अब मे किसी ओर क्वॉर्टर्स मे नही जाया करता था सिर्फ़ उसी के क्वॉर्टर मे रहा करता था वो तब भी बिना ब्रा के

रहा करती थी ओर मेरी नियत उसे देख के बहुत खराब हुआ करती थी कभी कभी तो मेने उसी के बाथरूम मे जाके मूठ मारी थी क्यूंकी मुझे वहाँ उसकी पेंटी ओर ब्रा तंगी हुई मिलती थी ओर उन्हे सूंघ सूंघ कर मे मूठ

मारा करता था एक दिन मेने उसके बाथरूम मे जब मूठ मारी तो मे पानी डालना भूल गया ओर मेरा सारा माल वही ऐसे ही पड़ा रहा , थोड़ी देर के बाद वो बाथरूम मे गयी ओर जब बाहर आई तो मेरे पास आके बैठ गयी ओर

Pages: 1 2 3 4

error: Content is protected !!