एक शादी शुदा आदमी से चुदाई

मेरा नाम पिंकी है मैं दिल्ली की रहनेवाली हू और कॉल सेंटर मे जॉब करती हू आप सबने मुझे मैल किया उसके लिए थॅंक्स अब मैं आप सबको बता दू आप सब मुझे मैल करते रहिए मैं आपसे व्हातसपप पर सेक्स चैट करूँगी और अपनी देसी गर्ल्स सेक्स हॉट पिक्स भी भेजूँगी..

मैं अपने बारे मे बता दू मैं बहुत ही सेक्सी लड़की हू और मेरे कॉलोनी के सारे लड़के मुझे अपनी गर्लफ्रेंड बनाकर मुझे चोदना चाहते है और मैं आप सबको बता दू मेरी फिगर भी बहुत सेक्सी है 36-30-38 और मैं बहुत ही चुदक्कड़ हू लेकिन अपनी चूत को टाइट रखती हू..

क्यूकी चूत टाइट रहती है तो चुदवाने मे बहुत मज़ा आता है और इसलिए मेरा बाय्फ्रेंड मुझे बहुत प्यार करता है क्यूकी मैं अपनी चूत को बहुत टाइट रखती हू अब मैं अपनी कहानी पर आती हू कैसे मैं एक शादी शुदा लड़के से चुदि मैं अपने कॉलोनी की बहुत ही सेक्सी लड़की हू और मेरे घर हमेशा आंटी और भाभी आती है मेरी मम्मी से बात करने के लिए और मैं भी आंटी और भाभी से बात करती हू.

ऐसे ही मेरी एक भाभी से बहुत ही अच्छी दोस्ती हो गयी और मेरे घर हमेशा आने लगी और मैं भी उनसे बाते करने लगी और हमारा घर बहुत ही नज़दीक था इसलिए भाभी मेरे घर रात तक रहती थी और मुझसे बाते करती थी और रात को अपने घर जाकर भाभी व्हातसपप पर भी मुझसे बाते करती थी जैसे की मैं कौन से रेज़र से वॅक्सिंग करती हू कौन से पार्लर मे जाती और बहुत सारी लेटेस्ट फैशन के बारे मे बाते होती थी.

मेरी और मेरी भाभी बहुत ही मॉडर्न थी सनडे को हम दोनो मेरी स्कूटी पर जाते थे और पार्लर मे जाकर अपना मेकप करवाते थे और अपनी वॅक्सिंग भी करवाते थे और ऐसे ही मैं और मेरी भाभी हम दोनो लोग एक दूसरे से खुल गये थे और भाभी बताती थी कैसे वो अपने हस्बैंड से चुदवाति है और कैसे दोनो लोग सेक्स का मज़ा लेते..

यह कहानी भी पड़े  सुरेखा की कुवारी चूत

और मैं भी बताती थी कैसे मैं भी अपने बाय्फरेंड्स से चुदवाति हू और हम दोनो बहुत ही खुल गये थे और एक दिन भाभी बोली की तेरे भईया मुझे बहुत चोदते है मेरा तो अब चुदवाने मे बहुत मज़ा आता है और मैं खूब चुदवाति हू.

मैं बोली की हा भाभी आप चुदवाति रहिए और ऐसे ही मुझे एक दिन लगा की मुझे कोई चोरी छुपके देख रहा था मैं देखी की वो भाभी का हस्बैंड थे जो मुझे स्माइल दे रहे थे. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

मैं भी उनको स्माइल दी और बोली की भाभी कहा है वो बोले की घर मे है और मैं गयी तो भाभी खुश हो गयी और बोली की पिंकी बैठो मैं तुम्हारे लिए कुछ खाने के लिए लाती हू और मैं देखी की भाभी का हस्बैंड मेरी जगह पर ही आकर बैठ गया और बोला की आप क्या करती हो..

और मैं बोली की कुछ नही मैं कॉल सेंटर मे जॉब करती हू और ऐसे ही भाभी के हस्बैंड से मेरी बाते होने लगी और हम दोनो भी एक दूसरे को अच्छे से जान गये और हम दोनो एक दूसरे से इशारे मे बाते करते थे और भाभी डेली मुझे अपनी चुदाई की कहानी बताती थी की कैसे वो अपने हस्बैंड से खूब चुदवाति है.

मैं भी भाभी के हस्बैंड की चुदाई को सुनकर एक्साइटटेड हो जाती हू लेकिन मैं कभी नही सोची थी की मुझे भी भाभी के हस्बैंड के साथ चुदवाने का मौका मिलेगा और मैं और भाभी हमेशा एक दूसरे से खुल कर बाते करते थे और मैं एक दिन भाभी से बात कर रही थी व्हातसपप पर.

यह कहानी भी पड़े  गाओं में रेखा को चोदा

तो भाभी बोली की वो कुछ दिन के लिए अपने मैके जा रही है और बोली की उनके हस्बैंड को खाना थोड़ा अपने घर से खिला देना मैं बोली की ठीक है और भाभी बोली की एक दो दिन मे आ जाएँगी और मैं अपने घर से भाभी के हस्बैंड को खाना भेज देती थी और भाभी के हस्बैंड से मेरी अच्छी बाते होने लगी.

मैं और भाभी के हस्बैंड दोनो लोग एक दूसरे के थोड़ा नज़दीक आ गये क्यूकी मैं जब खाना लेकर उनके घर जाती थी तब मैं उनके साथ बैठ कर बाते करती थी और वो खाना खाते थे और ऐसे ही बातो बातो मे हम दोनो एक दूसरे के नज़दीक आ गये और एक दिन भाभी के हस्बैंड मेरे घर आए और बोले की आज कुछ नोन वेज खाने का मन कर रहा है.

मैं बोली ठीक है मेरे घर मे सब लोग नोन वेज खाना खाते है इसलिए भाभी के हस्बैंड मुर्गा लेकर मार्केट से आए और मुझे दे दिया और मैं मम्मी को बोली बनाने के लिए मम्मी मुर्गा बनाने लगी और मैं भाभी के हस्बैंड के घर चली गयी क्यूकी उन्होने मुझे बुलाया था.

Pages: 1 2 3

error: Content is protected !!