ड्राइवर ने की मेरी मा की चुदाई

आप सभी के खूब सारे कॉमेंट्स और मैल आए उसके लिए धन्यवाद. किसी को भी अपने बारे में बताना हो या बात करनी हो तो बिना ज़ीझक मुझे मैल कर सकते हैं.

पिछले पार्ट में अपने पढ़ा था की कैसे चाचा आख़िरकार मेरी मा की चुदाई कर देते हैं. मा के विरोध करने के बाद भी आख़िरकार मा हार जाती है.

अब आयेज…

मा बातरूम से बाहर आती है. मैं सोने का नाटक करता हूँ. मा को विश्वास नहीं होता की वह चाचा से चुड गयी है. उन्हे बहुत अफ़सोस होता है. फिर थोड़ी देर रोटी है और आख़िर में सो जाती है.

मैं सुबह उठता हूँ 8:00 बजे देखता हूँ की मम्मी अभी भी सो रही है. मैं उन्हे उठता हूँ तभी मम्मी के फोन में मेसेज आता है चाचा का – डार्लिंग गुड मॉर्निंग कैसे हो? रात की सुहग्रत कैसी लगी?

मा फोन लेकर कुछ मेसेज करती है जो मैं देख नहीं पता. फिर थोड़ी देर बाद चाचा आ जाते हैं बोलते सब तैयार हो जाओ घर जाना थोड़ी देर में.

यह बोल कर चाचा मम्मी को आँख मार कर चले जाते हैं. उसके बाद मई और मम्मी तैयार होने लगते हैं. तभी मम्मी का फोन बजता है. मा कॉल उठती है फिर फोन रख देती है और मुझे बोलती है बेटा मैं अभी आ रही हूँ थोड़ी देर में.

मुझे शक होता है और मैं भी उनके पीछे चले जाता हूँ. चुपके से देखता हूँ चाचा और मम्मी पार्किंग में जा रहे हैं. वहाँ मैं देखता हूँ चाचा मम्मी को कार में ले आते हैं. पार्किंग में पूरा तोड़ा अंधेरा होता है और कोई भी नहीं होता वहाँ पेर.

चाचा कार में मम्मी को अपने बाहों में ले लेते हैं. उन्हे कभी गर्दन पेर कभी होठों पेर कभी उनके चुचो पेर किस करते रहते हैं. मम्मी ने माना कर दिया बोलती कोई देख लेगा. पेर चाचा मम्मी की एक भी नहीं सुनते और उन्हे किस करते रहते है.न उनके ब्लाउस के अंदर से हाथ डाल कर उनके बड़े बड़े बूब्स हाथ में लेकर मसालते हैं.

मम्मी अपनी कांवासना में खो जाती है और चाचा का पूरा पूरा साथ देती है.

तभी मेरी नज़र पार्किंग के एक दीवार के पीछे पड़ती है. वहाँ पेर हमारे कार का ड्राइवर वहाँ से देख कर वीडियो बना रहा होता है. यह देख कर मुझे झटका लगता है की अब क्या होगा. तभी देखता हूँ चाचा मम्मी को मूह में लंड लेने को बोलते हैं.

मम्मी नहीं मानती है पेर चाचा इतने उतावले होते हैं वह अपनी पंत खोल कर अपना लंड सीधे मम्मी के मूह में रखते.

तो मम्मी को मजबूरन उसे मूह में लेना पड़ता है. चाचा मम्मी का बाल पकड़ कर लंड को आयेज पीछे करते हैं और पूरा लंड मूह में डाल देते हैं.

थोड़ी देर तक मम्मी के मूह में लंड रखते हैं जिससे मम्मी को उल्टी आने लगती है. और मम्मी अपने दोनों हाथों से उन्हे दूर करती है और विंडो से उल्टी करने की कोशिश करती है. पेर उल्टी नहीं होती.

चाचा दोबारा मम्मी की बाल पकड़ कर अपना लंड उनके मूह में डाल देते हैं और तेज़ी से आयेज पीछे करते हैं.

ऐसे 5 मिनूट तक करते हैं और सारा लंड का पानी मम्मी मूह में छ्चोड़ देते हैं. फिर चाचा अलग होकर अपने कपड़े पहनते हैं. मम्मी सारा पानी पी जाते हैं और कपड़े से अपना मूह को पूछती है और ब्लाउस और अपनी सारी ठीक करती है.

चाचा बोलते “तुम यहीं रूको मैं सबको लेकर आता हूँ नीचे पार्किंग में.” फिर चाचा कार से बाहर जाते.

तभी कार ड्राइवर आ जाता है, मम्मी और चाचा घबरा जाते हैं. कार ड्राइवर अरविंद बोलता है “कितने बजे जाना है साहब जी?”

चाचा को तसल्ली हो जाती है तो चाचा बोलते हैं बस थोड़ी देर में निकलेंगे. कार ड्राइवर बोलता ठीक है. चाचा मम्मी को बोलते हैं “तुम वेट करो मैं अभी आया सबको लेकर”.

फिर चाचा वहाँ से चले जाते है. तभी कार ड्राइवर मम्मी से बोलता है “भाभी जी बड़ी रंगीन हो आप”.

मम्मी बोलती “क्या मतलब तुम्हारा?!”

कार ड्राइवर मम्मी को वीडियो दिखता तो मम्मी घबरा जाती है. मम्मी कार ड्राइवर को बोलती है “मैं तुम्हारे सामने हाथ जोड़ रही हूँ प्लीज़ किसी को मत बताना. मैं बर्बाद हो जवँगी मेरा परिवार खराब हो जाएगा. प्लीज़ किसी को मत बताना, तुम जो बोलॉगे मैं वह करूँगी.”

कार ड्राइवर बोलता है “मुझे भी वही करना है जो मलिक करके गये हैं”.

मम्मी बोलती “नहीं ऐसा नहीं हो सकता मैं यह नहीं कर सकती”.

कार ड्राइवर बोलता है “ठीक है फिर यह वीडियो में आपके पति को दिखा दूँगा”.

मम्मी गबरा जाती है और बोलती है “ठीक है मैं करूँगी जो तुम्हें करना है, प्लीज़ किसी को मत बताना उसके बारे में”.

फिर कार ड्राइवर पीछे वाली सीट मे आ जाता है और मा को अपनी बाहों में लेता है. अपने होंठ उनके होंठ में रखता है और स्मूच करने लगता है.

पहले मा तोड़ा विरोध करती है फिर बाद में कार ड्राइवर का साथ देने लगती है. मैं पीछे से सब कुछ देख रहा होता हूँ. मेरा लंड भी खड़ा हो जाता यह सब देख कर. मैं भी अपने लंड को हिलने लगता हूँ.

फिर कार ड्राइवर मम्मी हाथ लेकर अपने पंत के अंदर ले जाते हैं और मम्मी के हाथ को अपने लंड में रख देता है. मम्मी लंड को अपने हाथो मे आयेज पीछे करती है.

कार ड्राइवर ब्लाउस को उपर कर देता है और उनके बड़े बड़े बूब्स बाहर आ जाते हैं. उन्हे बुरी तरह चूस्ता है कार ड्राइवर एक हाथ से उनकी छूट में उंगलियाँ करता है. जिससे मा बुरी तरह बहक जाती है और शिसकारिया लेले लगती और मूह से आह… आह उम्मह अरविंद आराम से करो है…

तभी अचानक मम्मी को होश आता है की सब आने वेल है. वो कार ड्राइवर अपने से दूर करती और बोलती है अभी नही प्लीज़ सब आने वेल है.

कार ड्राइवर बोलता है बस एक किस डेडॉ लंड पर मे चोर दूँगा. फिर मम्मी को मजबूरन किस करनी पड़ती है. उसके बाद कार दीवार अपनी सीट पर चला जाता है और मम्मी अपना ब्लाउस नीचे करती है और अपने आपको ठीक करके बैठ जाती है.

तभी मे कार के पास चला जाता हू. मा मुझे देखते ही घबरा कर बोलती “कब आए बेटा?”

मे बोलता हू “जस्ट अभी मा”.

फिर मा बोलती है “रूम से समान नही लाए?”

मैने बोला “नही मा मे आपको डुँदने आया था”.

फिर मा बोलती है “मे यही हू तुम समान ले आओ”.

मे वापस जाता हू तभी चाचा अपनी फॅमिली को ले कर पार्किंग मे पोचोच जाते है. मुझे बोलते “तू कहा था?”.

मैने बोला “यही तो था, चाचा मे रूम से समान ले कर आता हू”.

मे चला जाता हू, चाचा भी मदात करने आते है. मे और चाचा समान ले कर पार्किंग मे पोचोच जाते है और कार मे बैठ जाते है. चाचा पीछे वाली सीट मे और चाची और मम्मी के बीच मे बैठ जाते है. सीमा और मे पीछे वाली सीट मे. कार ड्राइवर कार ले कर निकल पड़ता है.

बस अभी के लिए इतना ही बाकी आयेज पार्ट मे और इंट्रेस्टिंग मोड़ आने वेल कहानी कैसी लगी मैल ज़रूर करना

यह कहानी भी पड़े  बेटे ने थकी हुई माँ की चूत और गांड मारी

error: Content is protected !!