दोस्त की पत्नी की चुदाई

Hello…. friends.. I m daily reader of “ Antarvasna “ मुजे कै कहनिया अच्छी लगि। और कयी तो बहूत हि अच्छी लगि। मुझे पेहले तो येह लगा कि लोग जुथि कहनिया लिख के दे देते हे।। पर जब से हदसा मेरे सथ हुअ हे तब से मे मान गया के कोइ ऐसे हि लिख के उसे कया मिलता होगा । पर नहि। मुजे आज ये सरि सतोरिएस सस्सहि लगति। हे।। येह मेरि पेहलि सतोरिए हे जो मे आप सबको सुनने जा रहा हु ओर मेरा पेहला अहेसस ।।

तो फिर सुनो मेरि ये बात। मेरा नाम आरया हे। मे 22 साल का हु। मुजे कभि सेक्स मे इनत्रेसत ना था लेकिन मेरे एक फ़रिएनदस ने जबसे मुजे बलुए फ़िलम देखयि हे तबसे मेरि ये कोशिश रेहति थि के कोइ ऐसा मिले जिसके साथ मे सेक्स कर सकु लेकिन कुच नहि अच्छर पया। मेरि कहनि लुमबि हे लेकिन धयन सी पधना

उसि दिनो मे मेरा फ़रिएनदस जो मेरे पदोस मे रेहता था उसकि सादि पाकि हो गयि ओर 15 दिनो मे उसकि सादि हो गयि। उसकि सादि मे नहि जा पया था कयोकि मे बोमबय मेरे उनसले के यहा था। जब मे वपस आया तो वोह मिला साम को मेने कहा कैसि रहि सादि ओर फ़िरसत निघत विथ उर विफ़े।। वोह कुच बोला हि नहि। तभि वोह बोला चल तुमे मेरि विफ़े से मिलतु हु। मे ओर मेरा दोसत गये उसके घर पे वहा उसकि विफ़े अकेलि थि। मे जब अनदर गया। मेने देखा उसकि बिबि बहुत सुनदर ओर सेक्सी लग रहि थि। और सादि मे तो बहुत आचि लग रहि थि। और उसकि फ़िगुरे तो ऐसि थि कि पुचो मत वोह मेरि हि उमर कि थि। उसका नाम दिवया था मुजे तो वोह औरत नहि लदकि हि लग रहि थि। मेने मेरे दोसत को कहा यार तेरि बिबि तो बहुत मसत लग रहि हे। मेने तभि दुअ कि मुजे बिबि दो तो ऐसि फ़िगुरे ओर सुनदर देना। मेने उस्से बात कि तो उसकि आवज़ भि सेक्सी थि। वहो भि मेरे को देख कर बरि बरि मेरे को हि देख रहि थि।

फिर एक दिन मे जब आपनि बिके को वश कर रहा था तभि वोह घरसे कुच कपदे और बरतन लेके मेरे यहा धोने अगयि। जब वोह निचे कि तरफ़ जुकति थि तो तभि मेने उसके पयरे से बूबस (मोमे) को देख लिया। मे उसे कुच कह नहि पया मुजे मजा आ रहा था मे बिके को वश करता गया और वोह मुजे देखति गयि लेकिन उसने एसा किया के उसके बूबस मेरे को साफ़ नज़र आने लगे।। उसके बूबस जब देखता था तो मेरे मे 400 वत्तस का करनत एक साथ दोदता था। इस तरह मे कयि बर उसके बूबस को दिख चुक्का था वोह कुच केहति नहि थि।।

और एक दिन आया जब मेरि किसमत खुलि। वोह घर पे आयि और मेरे को बोलि घर पे तव मे कुच दिखता नहि हे तो थिक किजिये ना। मे जैसे हि तव वलि रूम मे गया तो उसने दरवजा बनध कर दिया था। मुजे मलुम नहि था कि उसने दरवजा बनध किय… तब उसके घर पे कोइ नहि था मे तव को देख रहा था उसने मुजे पिचे से आके उसकि बहोन मे पकद लिया। मे मन हि मन मे खुश हो रहा था । मे जनबुज़ के पुचा ये कया कर रहि हो तो वोह बोलि जो तुमे दिख रहा हे। उसने मुजे किस्स करना सुरु कर दिया मेरे लिपस को वोह बुरि तरह से किस्सस करने लगि। मे भि जोश मे आ गया और उसको किस्स करने लगा। और उसको आपनि बहोन मे दबने लगा।। उसको मेने खिच के सोफ़े पे लेता दिया और मे उसके उप्पेर सो गया और उसको चुमना सुरु कर दिया । 10 मिन तक मे उसको चुमता रहा । फिर मेने उसका बलौसे खोल दिया । उसके बाद मेने उसकि बरा भि खोल दि। जेसे हि मेने बरा खोलि तो उसके बूबस उचल के बहर आ गया मे उसे देखकर उसको दबने लगा। कितने दिनो के बाद इसके पुरे के पुरे बूबस दिखने को ओर दबने को मिले फिर मेनि उसकि नेअपले को मुह मे रख दिया और चूसने लगा वोह आआआह्हह्हह्हह्हहाआआआह्हह्हह्हहाह्हह्हह कर रहि थि। मे उसे चूसता हि रहा थोदि देर बाद मेने उसकि सादि हतके उसको पनती पे ला दिया उसकि चुत बहुत गरम हो गयि थि तो उसकि पनती गिलि हो चुकि थि। मेने पनती को निकल के उसकि चूत को फैला के चतने लगा। वोह सिसकरि मर रहि। थि। अहाआआ अ।स्सस्सशह्हह्हस आआआअह्हह्हह्हह्हस्सस्स स्सशाआ आआहस्सह्हस्सस अह्हह्हह्हह्हह ह्हहह्हह हस्साआ आअह्ह ह्हह्हहाआआ ह्हह्हाआ ह्हह्हाहह उसने कहा कि ऐसा तो तेरा दोसत भि नहि कर रहा था उसे और मुजे भि बहुत मजा आ रहा था कयुकि मेने चूत पेहलि बार देखि थि। वोह पुरि ननगि थि। पहलि बार ऐसि ननगि लदकि को देख के मेरा लुनद जो सो रहा था वोह तिघत हो चुक्का था। उसने मुजे बिथा के मेरे को ननगा कर दिया। मेरा लुनद देखते हि वोह बोलि इतना लमबा तो तेरे दोसत का भि नहि हे। मुजे मजा आयेगा तेरे लुनद से सुदवने मे। मेरा लुनद उसके हथोन मे आते हि जतके खने लगा वोह बहुत तिघत हो चुक्का था उसने कहा तुमरा लुनद तो बहुत मोता ओर लमबा हे मेने कहा 9’ इनच का हे।। उसने मेरे लुनद को आपने मुह मे ले कर चूसने लगि। मुजे बहुत मजा आ रहा था थोदि देर वोह चूसति रहि बद मेने उसे सोफ़े पे लेता दिया। ओर फिरसे उसकि चूत को चतने लगा। वोह सिसकरिया मर रहि थि फिर मे उथा उसके दोनो पेरो को खुल्ला कर दिया उसने आपने हथो से उसकि चुत को फैला दिया। मेने आपना लुनद उसकि चुत पर रख दिया ओर उसकि चुत पर घिसने लगा वोह बोलि आब दल भि दो कितना तदपावँगे। मेने कहा तदपने मे हि मजा हे मेरि जान ओर मेने धक्का लगके उसकि फैलि हुइ चुत मे मेने लुनद को 3 इनच तक घुसा दिया। वोह चिल्लै। ऊऊऊउ इऊऊउ ऊईईईईईईई इ माआआआ आआआआ आआआआ आआआआअ घह्हह्हह्हह्ह ह्हहुस्सस्स स्सस्सस्सस्सस्स स्सस्सस्सस्स स्सस्सस्सस्सस्सस्सस गयाअ आअ आ आआअ आआआ। मेने धक्के मरना बनध किया वोह सानत हो गयि ओर मेने उसको किस्स करमा सुरु कर दिया थोदि देर बाद मेने फिरसे धिरे धिरे धक्के लगना सुरु कर दिया वोह अहह्हाआअ हह्ह ह्हह्हा हा ह्हह्ह ह्हह अहह्हह आअ आआह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्ह हह्हसा आआआअह ऊऊऊऊह उह्हहा उफ़्फ़फ़ फ़्फ़ू फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़ उफ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़ उफ़्फ़फ़्फ़फ़ कर रहि थि। तभि मेने एक जोर से धक्का लगके मेरे लुनद को मेने 7 इनच तक उसकि चुत मे घुसा दिया वोह चिल्ला नहि सकि कयुकि उसका मुह मेरे मुह मे था। ओर मे उसको जोर जोर से किस्स करता गया ओर धक्के लगते गया। तभि वोह बोलि फद दाल मेरि चुत को वोह तुमरे लुनद जैसा हि मगति हे। उसके येह केहने से मेरे मे जोश आ गया मेने फिर से धक्का लगके मेरे पुरे 9 इनच के लुनद को उसकि चुत मे घुसा दिया वोह इस बार जोर से चिल्ला उथि। आआ आआआआ आआआआअह्ह आआआह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह ह ह्हह्हह्हह्ह अहह्ह ह्हह्हहा आआअ हा ह्हह्हह्हा अह्हह्हह्हहह्हह्हह ऊऊऊऊओह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्ह ह ह्ह ऊऊऊऊऊऊऊउ ऊउई ईईईईईईईईईईईईईईईई ईईईइउईईईईऊऊऊऊऊऊऊईईई मे समज गया कि मेरा पुरा लुनद उसकि चुत मे घुश चुक्का हे। वोह बोलि मे ओर सह नहि पा रहि हु तुमरा लुनद बहर निकल दो। मेने कहा तुमने खुद मेरे लुनद को नयोता दिया हे तो उसकि भुख मितने के बाद मे येह बहर निकलूनगा। वोह बद मे कुच बोलि नहि।। मे उसे लगतर धक्के लगा रहा था। ऐसा 15 से 20 मिनुते तक मे उसको उसि पोसितिओन मे चोदता गया। आब उसेभि मजा आ रहा था वोह आपने कुली (चत्तद) उचल उचल के मुजसे चुदवा रहि थि मेने उसे और जोरसे चोदना सुरु कर दिया। थोदि देर बाद वोह झर गयि। ओर सानत पद गयि। फिर मेने उसको घोदि बनदि सोफ़े के सहरे वोह खदि रह गयि । मेने उसके पिचे जके उसकि चुत मे मेरा लुनद दाल दिया। इस बार मेरा लुनद एक हि धक्के मे पुरा का पुरा उसकि चुत मे चला गया। फिर उसे मे झोर झोर से धक्के मरने लगा। मुजे तो पसिना पसिना हो गया था मे उसके बूबस को दबते जा रहा था। तकरिबेन 25 मिन। तक ऐसे हि मेने उसको चोदा। तब तक वोह 2 बार ओर झर चुकि थि पर मेरा पनि तो अभि भि नहि निकला था मेने आपनि सपीद बधदि और फ़ुल्ल सपीद से चोदना सुरु कर दिया। मेने कहा मेरा पनि निकलने वाला हे उसे कहा निकलु वोह बोलि। मेरि चुत मे हि पानि चोअद दो। मेने उसकि चुत मे पनि चोद दिया। फिर उसको मे अपनि बहोन मे लेके सोफ़े पे लते गया। थोदि देर बाद वोह उथि ओर उसकि चुत से मेरा लुनद निकल के उसको चूसने लगि। ब्बद मे वोह मुजे बथरूम मे ले गयि। ओर मेरे लुनद को सबुन से साफ़ किया। उसने मुजे पुच मजा आया। मेने कहा बहुत मजा आया तभि वोह बोलि तुमरा लुनद तो अभि भि तिघत हे कयु।। मेने कहा अभि भि भुका लगता हे।। तो उसने कहा तो फिर चलो सुरु हो जओ।। मेने ये सुनके तो खुसि के मरे उचल पदा।

यह कहानी भी पड़े  अन्तर्वासना का तोहफा- फिर से मिली कुंवारी चूत-1

Pages: 1 2

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!