दोस्त के साथ पहली चुदाई का मज़ा

हेलो टू एवेरिवन, एम सागर फ्रॉम देल्ही दिस ईज़ माय फर्स्ट देसी सेक्स स्टोरी होप यू ऑल लाइक इट, कोई भी गर्ल्स या भाभी मुझे कॉंटॅक्ट कर सकती हैं फॉर प्राइवेट टॉक एंड हॅव फन, ये स्टोरी मेरी फ्रेंड जिसका नाम नेहा हैं मेरे घर के पास ही रहती है.

हम बचपन से आछे दोस्त थे कभी ग़लत फीलिंग नही हुई, वो मुझे पसंद करती थी पर मैं नही, हमारी दोस्ती अछी चल रही थी हनगाउट्स, फन मस्ती, हम दोनो कभी कभी ड्रिंक भी करते थे साथ मे पर कुछ ग़लत नही किया, आफ्टर ग्रॅजुयेशन हम दोनो अड्मिशन ले रहे थे एमबीए मे.

उसको पुणे मे अड्मिशन मिल गया था और 3दिन बाद उसको जाना था सो मैने उसके लिए सर्प्राइज़ फेरवेल प्लॅन किया सब दोस्तो के साथ मिलकर, हम देल्ही के साकेत एरिया मे ज़ूक्स बार मे गये पार्टी करी, हम दोनो ने ज़्यादा ड्रिंक कर ली थी मैं उसे घर लेकर आया उसको ड्रॉप किया.

नेहा के मोम डॅड मुझे आछेसे जानते थे तो कोई प्राब्लम नही हुई.. अंकल ने बोला यहीं रुक जाओ इतनी रात को मतलब् 2 बजे मत जाओ अपने घर, सो मैने बात मान ली और रुक गया, मैं ड्रॉयिंग रूम मे सो रहा था तभी नेहा का मेसेज आया-

नेहा-सो गये क्या?

मैं- नही तू क्यू नही सोई?

नेहा- नींद नही आ रही हैं,आप रूम मे आ जाओ हम बातें करेंगे पूरी रात.

मैं-नही तुम सो जाओ कल तुम्हे जाना भी हैं पुणे.

नेहा- गुस्से से बोली जल्दी आओ मुझे नही पता कुछ.

सो मैं अंदर चला गया वो बेड पर लेते हुई थी उसने टॉप एंड जीन्स पहनी हुई थी बोहत ब्यूटिफुल लग रही थी, नेहा का फिगर भी कामाल का था 36-28-34..

मैं बेड पर बैठ गया पीछे हो कर तभी वो मेरे लेग्स पर सिर रख कर लेट गई, मेरे लेग्स उसका पिल्लो था, हम बातें कर रहे थे बोहत अछा फील हो रहा था ऐसे ही 2अवर्स बीत गये..मेरे हॅंड उसके चेक्स पर था जो बोहत ही सॉफ्ट थे. धीरे धीरे पता नही क्या हुआ आई किस्ड हिज़ फोर्हेड..

फिर एकदम से उसने मुझे छोटी सी किस करी और हग कर लिया उसके बड़े बड़े सॉफ्ट बूब्स मेरे चेस्ट पर थे हमने किस करना स्टार्ट कर दिया और किस करते करते बेड पर लेट गये नेहा मेरे उपर थी और हम पाश्िोनेटाली किस कर रहे थे उसकी टंग मेरे माउत मे और मेरे उसके वो मेरे उपर ही थी और मैने उसका टॉप निकाल दिया.

यह कहानी भी पड़े  दोस्त से बीबी को बदल लिया

उसकी रेड कलर की ब्रा ओह माय गॉड , ऐसा लग रहा था बूब्स बोल रहे हो हमे आज़ाद करो और मज़ा देखो.

फिर मैने उसको बेड पर बिठा दिया और मैं उसके पीछे बैठ गया और ब्रा निकाल दी और उसकी कमर को लीक करने लगा और फिर पीछे से उसके दोनो बूब्स को दबाने लगा नेहा और वाइल्ड हो गई.

नेहा- जान और दबाओ बूब्स को सारा रस निकाल दो आज इनका आआह्ह्ह्ह्ह्ह..

फिर मैने उसकी जीन्स भी निकाल दी और उसने मेरे सारे कपड़े निकाल दिए मेरा लंड देख वो बोहत खुश हुई बोली इतने सालो बाद देखने का मौका मिला हैं आज ये लंड को, मैने उसको लीटा दिया एंड उसके निप्पल्स के साइड मे राउंड राउंड लीक करने लगा वो तड़प उठी उसकी पैंटी गीली हो गई, हम सब धीरे धीरे कर रहे थे कहीं आंटी अंकल उठ न जाए इसलिए..

उनकी पैंटी निकाल दी मैने और उसकी चूत देखते ही मैं पागल हो गया और सीधा उसकी चूत को चाटने लगा , वो मदहोश हो गई..

नेहा- आअहहाआहह णीईिइ और चूसो मज़ा आरहा आह्ह्ह..

मैं- हाँ बेबी अभी तो स्टार्ट किया हैं..

नेहा- ऊहह अब तक कहा थे कितनी प्यासी हैं मेरी चहूऊवटतत..

ऐसे ही 10मिनट मे उसका पानी निकल गया और मैं सारा लीक करके सॉफ कर दिया अब बारी उसकी थी, उसने बिना बोले लंड अपने माउत मे ले लिया और सकिंग स्टार्ट कर दी.

एम इन हेवेन और मौन कर रहा था पागलो की तरह और वो पानी पी गई सारा, और मैं उसके साइड मे आ गया, और हम फिर किस करना स्टार्ट हो गये मैने उसको उपर से लेकर नीचे तक लीक किया और फिर 69 पोज़िशन मे हो गये, इतना मज़ा आ रहा था दोस्तो की क्या बतौ.

नेहा बिलकुल पागल हो गई थी मदहोश मोन करे जा रही थी और बोल रही थी फक मी बेबी, मारो मेरी चूत , चूत मे लंड डालो और फाड़ डालो उसको.

यह कहानी भी पड़े  मोनिका मिली ट्रेन मे ओर चुदाई

हमने फिर किस करना स्टार्ट हो गये वो मेरे लंड से खेलना स्टार्ट हो गई, वो मेरे लंड को चुस्ती, मसाज देती कभी बूब्स से टच करती , ये सब मुझे पागल बना रहा था.

मैं- नेहा आज तू इतनी प्यासी कैसे हो गई.

नेहा- आज ही मौका मिला हैं तेरा लंड इतना बड़ा और अछा हैं की कभी नही हो पाया.

मैं-आज तेरे बूब्स को देख कर पागल हो गया मैं..

नेहा- मैं तो कब से तैइय्यार थी तू ही नही मानता था.

मैं- कोई नहीआज मौका मिला हैं आज पूरा मज़ा दूँगा जानेमन बस देखती जा.

नेहा- हाँ हाँ मैं कौन सा बचना चाहती हूँ चोद दो मुझे आज मिटा दो मेरे चूत की प्यास.

मैं- आज तेरे चूत और मेरा लंड बस और कुछ नही.

मैं उससे और तड़पाना चाहता था मैने फिर चूत को लीक करना स्टार्ट किया और साथ मे बूब्स को भी दबा रहा था नेहा मेरे सिर को चूत पर दबा रही थी मोन कर रही थी आआअहह बाआबब्बयययी फुक्कककककक मी अब और नही प्लीज़ चोदो मुझे.

मेरा फिर ध्यान उसके बूब्स पर गया और चूसना स्टार्ट किया बूब्स को और फिर लंड को दोनो बूब्स के बीच मे सेट किया और चोदना स्टार्ट किया, हम सब कर ही रहे थे की उसके रूम के बाहर से आवाज़ आई हम दोनो अलग हुए और मैं छुप गया साइड मे, टाइम देखा तो सुबह के 5 बज गये थे और हम दोनो प्यासे तडपे हुए थे.

मजबूरी मे मुझे फिर ड्रॉयिंग रूम मे जाना पड़ा और दोनो वर्जिन ही रह गये, और 7 बजे मैं अपने घर आ गया तब तक नेहा सो ही रही थी, फिर सेम डे वो सुबह 1 बजे चली गई पर जाने से पहले उसने मुझे एक किस करी और टाइट से हग.

हम आज भी बात करते हैं और सेक्स चॅट करते हैं वो और वेट करते हैं वो दिन का जब हम चुदाई करेंगे, वो दीवानी हैं मेरे लंड की, किसी को भी मज़ा चाहिए तो कॉंटॅक्ट मी, किसी भी गर्ल्स या भाभी को वर्जिन को ट्राइ करना हो देन आई एम हियर मेरी मैल आईडी है प्लीज़ मेरी देसी सेक्स स्टोरी पर कॉमेंट्स करना, थॅंक.


error: Content is protected !!