दूसरे की बीवी के साथ चुदाई वाला रोमॅन्स

लास्ट पार्ट में आपने पढ़ा कैसे दया और अंजलि जग्गू भाई के सिड्यूस करके उसके साथ हॉट रोमॅन्स करती है. अब आयेज-

जब दया जग्गू भाई को सिड्यूस करती है, और जग्गू भाई के साथ अंजलि और दया उनका फार्महाउस देखने जाते है. तब तारक और मीनाक्षी गार्डेन में टेबल पर ब्रेकफास्ट कर रहे होते है. मीनाक्षी तो आज कमाल की लग रही थी. पिंक क्रॉप टॉप और ब्लॅक टाइट जीन्स.

लाइट पिंक लिपस्टिक और हल्का मेकप किया हुआ था. उसने बड़े रौंद इयररिंग्स पहने हुए थे. मीनाक्षी बहुत नाज़ुक सी औरत थी. 26 इंच की पतली कमर, गोरा चिकना पेट. क्रॉप टॉप में उसके 32″ साइज़ बूब्स पर्फेक्ट रौंद दिख रहे थे. हाइ हील सॅंडल्ज़ पहना था तो उसकी 34″ इंच की गांद मस्त लग रही थी. ऐसी, की किसी को भी गांद छूने का, और चाटने का मॅन कर जाए.

तारक और मीनाक्षी अब गार्डेन में अकेले थे. और तारक की आज किशमत खुल गयी थी. क्यूंकी आज उसको मसाला छाई और टेस्टी नाश्ता मिल गया था. तारक को ऐसा ब्रेकफास्ट बहुत कम मिलता है, उपर से आज ब्रेकफास्ट में मीनाक्षी जैसी सेक्सी लेडी जाय्न कर रही थी. तारक तो डबल मज़ा आचे से लेता है.

मीनाक्षी तारक की पहले से बहुत बड़ी फन थी. वो उसका हर एक आर्टिकल पढ़ती थी. जब उसने तारक को पहली बार देखा उसके शांत नेचर और इनोसेन्स से वो इंप्रेस हो चुकी थी. तारक ने भी मीनाक्षी को देखा तब से उसके चुदाई के सपने देख रहा था.

तारक ने पहले तो ब्रेकफास्ट एंजाय किया. बाद में मीनाक्षी से फिल्म के स्टोरी के रिलेटेड बातें की. तारक बीच-बीच में मीनाक्षी के सामने उसकी खूबसूरती की तारीफे कर रहा था.

मीनाक्षी भी तब शर्मा जाती थी. तारक अब एक के बाद एक शायरी सुनने लगा. मीनाक्षी तो उसके उपर पूरा फ्लॅट हो रही थी. फिर तारक ने मौका देखा की कोई पास में था नही, तो मीनाक्षी को सिड्यूस करने लगा.

तारक: मीनाक्षी जी आपको देख के लगता नही आप मॅरीड हो. अभी आप कॉलेज स्टूडेंट दिख रही है. आप तो जग्गू भाई की बेटी लग रही है.

( इस बात पे मीनाक्षी हस्स पड़ती है)

मीनाक्षी: अर्रे आप भी ना तारक.

मीनाक्षी अब तारक का हाथ पकड़ लेती है. तारक को तो यकीन नही होता की मीनाक्षी जैसा सेक्सी बॉम्ब उसके साथ इतना कंफर्टबल हो जाता है. वो सोच लेता है की आज तो मीनाक्षी को पत्ता के रहुगा. और वो मीनाक्षी के और करीब चेर लेके बैठ जाता है.

वो उसके हाथ पर अपना हाथ रख देता है. और उसकी आँखों में देख के शायरी सुनने लगता है. मीनाक्षी तो मानो पानी-पानी हो रही थी. थोड़ी देर में जग्गू भाई, दया और अंजलि वाहा आते है. उनको आते देख तारक और मीनाक्षी नॉर्मल पोज़िशन में बैठ जाते है. जग्गू भाई तारक को कहता है-

जग्गू भाई: आप मीनाक्षी के साथ यहा बैठिए, हम शाम तक यहा मिलते है.

अंजलि और दया तो जग्गू भाई के साथ फन करने के मूड में थी, और दया तो घर से उनके साथ चुदाई का प्लान करके आई थी.

अंजलि: तारक आप मीनाक्षी के साथ आचे से फिल्म के बारे में डिस्कस कीजिए, मैं और दया भाभी यहा हाउस में आराम कर रहे है. शाम तक हमे डिस्टर्ब मत करना.
जग्गू भाई: हा तारक भाई, दोनो भाभियों को आप शाम तक डिस्टर्ब मत करना.

अब दया और अंजलि हाउस की और जाते है और पीछे जग्गू भाई चला जाता है. तारक की तो किस्मत खुल गयी थी, किसी के आने का दर्र नही था. फुल प्राइवसी मिल गयी थी. अब वो फिरसे मीनाक्षी के नज़दीक आ जाता है.

मीनाक्षी भी अब तारक का हाथ पकड़ लेती है, और सेक्सी स्माइल से सिड्यूस करती है. अब गार्डेन में धूप आने लगी थी, तो वो तारक का हाथ पकड़ कर दूसरे हाउस की और चल पड़ती है. तारक को तो अपनी किस्मत पर भरोसा नही हो रहा था.

मॉर्निंग में मस्त ब्रेकफास्ट मिला, और अब मीनाक्षी के साथ रोमॅन्स करने का मौका मिल रहा था. घर के अंदर एंटर होते ही मीनाक्षी गाते लॉक कर देती है, और तारक को सोफे पे बैठने का इशारा करती है.

मीनाक्षी: तारक आप यहा रिलॅक्स हो जाओ, मैं चेंज करके आती हू.

तारक लॅपटॉप निकाल कर उसमे कुछ काम कर रहा होता है. थोड़ी देर बाद मीनाक्षी आ जाती है. वो तारक के पास आ कर खड़ी हो जाती है. वो झुक कर तारक के गाल को टच करती है, और उसके कान में कहती है.

मीनाक्षी: ई’म कमिंग.

तारक अपनी नज़र उठा के उसको देखता है, और वो पागल हो जाता है. वो लॅपटॉप को साइड में रख के खड़ा हो जाता है. मीनाक्षी ने पिंक ब्रा पनटी पहनी थी, और उसके उपर जाली-दार टॉप पहना हुआ था. उसकी ब्रा और पनटी क्लियर दिख रही थी. पिंक ब्रा में उसके 32″ साइज़ के बूब्स रौंद शेप में पर्फेक्ट दिख रहे थे.

उसकी पनटी बस नाम की थी. उसकी गांद पूरी बाहर दिख रही थी. 26 इंच की कमर और 34 इंच की गांद कैसी दिखती है, आप ही सोच लो. मीनाक्षी की गांद एक-दूं दूध जैसी गोरी थी. उसकी लेग्स पूरी चिकनी थी.

तारक अपना कंट्रोल खो देता है, और वो मीनाक्षी के लिप्स पे उसके लिप्स रख देता है. मीनाक्षी उसको रोकती है, और एक नॉटी स्माइल पास करती है.

मीनाक्षी: तारक इतनी भी क्या जल्दी है? अपने पास बहुत टाइम है. मुझे आपके साथ सेक्स फील करके करना है. जग्गू बहुत ही रफ्ली सेक्स करता है. मुझे आपके नेचर जैसा सॉफ्ट सेक्स चाहिए तारक. मैं आप से प्यार करती हू तारक. ई लोवे योउ.

ये सुन कर तारक के दिल की धड़कने तेज़ हो जाती है. उसको यकीन नही हो रहा था की मीनाक्षी उसको प्यार करती थी.

मीनाक्षी: मैने तो आपको पहली बार देखा तब से आपको दिल दे चुकी हू. मैने तो आपको देखा नही था. आपके आर्टिकल पढ़ के आपकी दीवानी हो गयी हू. प्लीज़ तारक आज मुझे तुम अपना बना लो. ये दिन मेरे लिए बेस्ट है.

मीनाक्षी तारक को टाइट हग कर लेती है. तारक अब धीरे-धीरे उसको सहलाता है. मीनाक्षी तोड़ा एमोशनल हो जाती है. उसकी आँखों में आँसू आ गये थे. तारक उसका चेहरा पोंछता है, और अपने लिप्स उसके लिप्स पे रख देता है.

इस बार मीनाक्षी तारक के लिप्स चूस रही होती है, और उसका किस में फुल सपोर्ट करती है. तारक बहुत सॉफ्टी उसको किस कर रहा था. और साथ में उसकी पीठ से होता हुआ अपने हाथ उसकी गांद पर घुमा रहा था. अब तारक मीनाक्षी के गले पर किस कर रहा होता है. उसके कान को हल्का बीते करता है. मीनाक्षी उसको और टाइट हग कर देती है.

फिर एक झटका लगा कर मीनाक्षी को अपनी गोदी में उठा लेता है. मीनाक्षी को वॉल के साथ सपोर्ट में ले लेता है, और उसके लिप्स चूस रहा होता है. मीनाक्षी उसकी इस हरकत से और हॉर्नी हो जाती है, और तारक के मूह में अपनी जीभ डाल देती है, और तारक उसकी लार चाट रहा होता है.

दोनो बहुत ही पॅशनेट्ली स्लॉपी किस करते है. धीरे से तारक मीनाक्षी को सोफा पर सुला देता है. अब तारक उसकी टाँगो की और जाता है, और उसके सॅंडल उतार देता है. फिर वो पैर की उंगलियों को मूह में लेके चूस्टा है.

इससे आयेज की कहानी अगले पार्ट में.

यह कहानी भी पड़े  अपनी सगी बड़ी बहन को नंगी करके चोदा


error: Content is protected !!