कज़िन अमन को चोदा पलंग पे

हेलो फ्रेंड्स मेरा नाम सॅम है. मैं बठिंडा(पंजाब) से हू. यह मेरी पहली स्टोरी है जो मेरे और मेरी एक कज़िन के बीच हुए सेक्स से सम्भन्दित है. यह मेरी बिल्कुल सच्ची कहानी है, मेरी कज़िन का नाम अमान है. उसका रंग सांवला है लेकिन उसका फिगर उतना ही मस्त है और वो हरयाणा में रहती है. एक बार की बात है वो हमारे घर आई हुई थी. मैं उसके फिगर का दीवाना था और उसे चोदना चाहता था लेकिन कभी मेरी हिम्मत ही नही हुई क्यूकी उस टाइम मैं वर्जिन था. जब वो सफाई करती तो मैं लगातार उसे घूरता रहता, उसने भी बहुत बार मुझे उसे घूरते हुए नोट किया था और वो एक सेक्सी हल्की सी स्माइल देकर अपने काम में लग जाती. मैं हर रोज उसके बारे में सोचकर मुठ मारता. एक बार हम रात को सोए हुए थे. गाओं में अक्सर गर्मियो में पलाँघ पर सोते हैं. मैं वो और मेरी दादी साथ साथ सो रहे थे. रात को मुझे ठंड लगने लगी और मैने उसे धीरे से कहा की मुझे ठंड लग रही है तो उसने कहा की अपना ब्लॅंकेट मेरे ब्लंकेट के साथ जोड़ लो और हम दोनो ले लेते हैं और मैं उसके साथ उसके पलाँघ पर लेट गया. लेकिन अब मेरी नींद उड़ चुकी थी.

फिर थोड़ी देर बाद मैने उसकी झांघो पर टच किया तो उसने कुछ नही कहा. फिर मैने अपनी एक लेग उसके उपर रखी वो फिर भी कुछ नही बोली तो मेरी हिम्मत बढ़ गई और मैने डाइरेक्ट अपना हाथ उसके बूब्स पर रखा और कुछ टाइम वेट करने के बाद दबाना शुरू कर दिया. और फिर मैने उसे किस करना शुरू किया पहले तो वो मना करने लगी लेकिन फिर धीरे धीरे मेरी किस का रेस्पॉन्स देने लगी. फिर मैने उसकी सलवार का नाडा खोला और अपना भी पॅंट उतारा. उसने मुझे ज़ोर से हग किया और मुझे पागलों की तरह किस करने लगी. फिर उसने मेरा लंड पकड़ कर मूठ मारने लगी मैने उसे बोला की मूह में लो लेकिन उसने मना कर दिया फिर मैने भी ज़्यादा फोर्स नही किया. पहली बार तो मेरा ऐसे ही छूट गया क्यूकी मेरा फर्स्ट टाइम था तो वो बोली की टेन्षन मत लो पहली बार ऐसे हो जाता है और फिर वो मेरा लंड सहलाने लगी और कुछ टाइम बाद मेरा दुबारा खड़ा हो गया.

यह कहानी भी पड़े  मेरी सेक्सी कजन्स की हॉट चुदाई

फिर वो मेरे लंड को पकड़कर अपनी चूत पे सेट करने लगी तो मैं उसके उपर आ गया. और अपना लंड उसकी चूत पर रखा और पुश किया लेकिन उसकी चूत टाइट होने के कारण मेरा फिसल गया फिर मैने थोड़ा थूक लगा कर दुबारा ट्राइ किया तो थोड़ा अंदर चला गया उसने एक दम से उउउउउउन्न्न्न न्न्न्न्न्न अह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह्ह्ह किया दूसरी तरफ मुझे भी बहुत दर्द हुआ क्यूकी यह मेरा फर्स्ट टाइम था. फिर थोड़ा टाइम रुकने के बाद मैने धीरे धीरे पुश करना स्टार्ट किया. वो सिसकारियाँ भरने लगी, ओह्ह्ह्ह्ह्ह उफफफफफफफफफफफफ्फ़ आह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह ओह्ह्ह्ह एसस्सस्स साआम्म्म्मम ओह्ह्ह्ह्ह आआह्ह्ह्ह्ह साम्म्म्म आई लव यू सॅम चोदो मुझे आअहह आअहह माअममाआआआ भ्ह्ह्हुत्त्त्त माआअज़ा आआ रहाआ साआंम्म्मम आअहह और चोदो और अंदर इह्ह्ह्ह्ह सॅम उहह सो सूओ गुड साआम्म्म आहह मुंम्मय्ययययी अहह सामम्म्म पूरा करदो मेरे अंदर फाड़ डालो मेरी चुत को मैं अब तेरी रंडी हू साआम्म्म्म मुझे रंडी की तरह चोदो आहह सामम्म्म आह इहह ओह्ह्ह्ह्ह्ह मज़ा आ गया मेरे राअज्जजाआ कूवाम्मोन माय बेबी ओह्ह्ह्ह्ह्ह.

फिर मेरा पूरा लंड उसके अंदर था और मैं धीरे धीरे पुश कर रहा था फिर मैने अपनी स्पीड बढ़ाई और फिर मैं उसे बहुत ही तेज़ तेज़ चोदने लगा. उसकी चूत भूत टाइट थी लेकिन उससे खून नही आया तो मैं समझ गया की यह पहले भी किसी से चुद चुकी है लेकिन उसकी चूत मस्त टाइट होने के कारण मुझे बहुत मज़ा आ रहा था. वो आहें भर रही थी और लगातार मुझे चोदने को कह रही थी. मैं भी उसे गालियाँ देने लगा ओह्ह्ह आमाआंन्न आई लव यू हह तेरी चूत बहुत टाइट है मुझे चोदने में बहुत माजाअ आ रहा मेरी रंडी साली कुत्ति कब से तेरे को चोदना चाहता था आजज्ज मौका मिला है मुझे और अब सारी लाइफ तुझे ऐसे ही चोदुन्गा मेरी रंडी, वो भी बोल रही थी हााआआं भाईया मैं आज से तुम्हारी रंडी हूँ तुम जब चाहो मुझे चोदो मैं कभी मना नही करूँगी ओह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह भयियाआआआ उह्ह्ह्ह सो गूवुड भाईया और चोदो मुझे भाई अह्ह्ह्ह ओह्ह्ह्ह्ह उफफफफफफ्फ़ इट्स सो हार्ड भाई ओह्ह्ह आअपका लंड आह्ह्ह भाई ओह्ह्ह उफफफफफ्फ़ हाए मैं मर जावा ओह्ह्ह्ह्ह्ह और तेज़ भाई फाड़ दे आज मेरी फुदद्दी हाईए माआअ हाए रब्बा आ भाई मैने पहले क्यू नही चुदाया ओह्ह्ह्ह उफफफफफ्फ़ भाइईईईईई हाए आपका लंड ओह्ह्ह्ह्ह और तेज़ और तेज़ भाई और तेज़ चोदो मुझे.

यह कहानी भी पड़े  ट्रेन का एक सफ़र स्ट्रेंजर के साथ

ऐसे ही मैं उसे लगभग 15-20 मिनट चोदता रहा फिर मैने उसे बोला की मेरा निकलने वाला है तो वो बोली हाँ मेरे अंदर ही निकाल दो भाई आई लव यू. कम इनसाइड मी भाई. और फिर अंत मे मैने उसके अंदर अपना सारा माल भर दिया मुझे लग रहा था जैसे मैं जन्नत में आ गया हूँ फिर मैं लगातार उसे चूमता रहा. फिर मैने उसकी चूत चाटने लगा वो लगातार आहें भर रही थी ओह्ह्ह भाई ओह्ह्ह्ह प्लीज़ ऐसा मत करो ओह्ह्ह्ह उफ़फ्फ़ आहह ओह्ह्ह हाई माआआामा ओह्ह्ह भाई ओह्ह्ह मुझे कुछ हो रहा है भाई ओह्ह्ह हाए उफफफ्फ़ मेरे भाई इतना मज़ा मुझे पहले कभी नही आया भाई ओह्ह्ह्ह उहह अरे सो गुड भाई और चाटो अपनी बेहन की चूत को भाई ओह्ह्ह यअहह भाई ओह्ह्ह्ह उफफफफ्फ़ हााआववव भाई हाए ओह्ह्ह उफफफ्फ़ भाई एम सो लकी की तुम मेरे भाई हो ओह्ह्ह उहफफफफ्फ़ आहह और उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया और मैं सारा पानी पीने लगा क्यू की मैं हमेशा सोचता था की मैं अपनी बेहन की चूत का पानी पिउ.

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2

error: Content is protected !!