बाय्फ्रेंड और गर्लफ्रेंड के पानी निकालने की कहानी

नेक्स्ट वीक सॅटर्डे उसको मेरे घर आना था. उसने अपने मम्मी-पापा को माना लिया. उसके पापा ने मेरे घर कॉल की, की अलीशा को लेने किसी को भेज दे.

मैने मौके का फ़ायदा उठाया, और अलीशा को लेने चला गया अलीशा मेरे साथ बिके पर बैठी थी. बिके पर पहले वो डोर बैठी, और मुझे शोल्डर से पकड़ा. फिर मैं उसको लेके निकल गया.

थोड़ी डोर जाते ही मैने उसका हाथ पकड़ के अपने लंड के पास रखा, और उसको खींच के करीब किया. उसके 34″ के बूब्स मेरी कमर पर टच हो रहे थे. मैं जान-बूझ के ब्रेक मारता, और वो और मुझसे चिपक जाती.

वो समझ गयी, और वो मुझे दोनो हाथो से पकड़ के चिपक गयी. हाए क्या मज़ा था, मेरा तो लंड खड़ा हो गया. मैने उसको कहा-

मैं: आज तो आपकी खैर नही.

वो हस्स के कहने लगी: क्यूँ, क्या करने का इरादा है?

मैं: नही मेरी जान, आज आपको प्यार करना है दिल खोल के.

अलीशा: देखते है कैसे करते है आप प्यार.

और मैने उसके बूब्स को मसल दिया.

मैं अब फुल गरम था. मैं घर आया उसको लेके, और वो सबसे मिली, आंड मैं रात होने की वेट करने लगा. हमारे घर में 5 रूम है. 3 रूम नीचे है जिनमे मम्मी-पापा, सिस्टर, छ्होटा भाई सोते है.

उपर च्चत पर पेंटहाउस बना है. वाहा 2 रूम है. एक रूम मेरा है, और एक बड़े भाई-भाबी का. रात में वो सिस्टर के साथ बैठ के बातें करने लगी. 2 बाज चुके थे, और सब सो गये थे. पर सिस्टर जाग रही थी. मैं उपर रूम में था. मैने उसको मेसेज किया.

मैं: कब आओगी? 2 बजे है.

अलीशा: आपकी बेहन सोए तो अओ.

मैं: तुम सोने का नाटक करो. जब वो सो जाए, तो चुपके से उपर आ जाना मेरे रूम में.

अलीशा: किसी ने देख लिया तो?

मैं: नही कोई नही देखेगा सब घोड़े बेच के सोते है. सुबा से पहले नही उठेंगे, डॉन’त वरी.

अलीशा: ओक

फिर 3 बजे अलीशा का मेसेज आया: मैं आ रही हू.

सब के रूम के डोर बंद थे, और मैने अपने रूम का डोर खोला. फिर 5 मिनिट बाद मैं अंदर एंटर हुई. मैने डोर बंद किया, और लॉक कर दिया.

उसने ब्लॅक त-शर्ट और टाइट्स पहनी थी, जिसमे उसके मोटे-मोटे हिप्स और टांगे जान-लेवा लग रही थी. उसके बूब्स भी उठे हुए थे, और त-शर्ट का गला बड़ा था. क्या बतौ क्या लग रही थी वो.

फिर मैने अलीशा को पकड़ के दीवार के साथ लगा दिया. वो मुस्कुराइ, और आँखें झुका कर कहने लगी-

अलीशा: सबर करो, आपकी ही हू पूरी रात.

मैने उसके होंठो को चूमते हुए कहा-

मैं: पूरी रात काफ़ी नही ना, तुम्हारी जवानी का रस्स पीने के लिए.

अलीशा: अछा जी, और मेरे गले में बाहें डाल के तो कितनी रातें चाहिए आपको?

मैं (उसके होंठो पर ज़ुबान फिराते हुए): ज़िंदगी भर की रातें चाहिए.

अलीशा: ह्म, तो मुझे अपना बना लो, और लेलो सारी रातें. फिर जो चाहे करना, रोज़ करना, मैं हाज़िर हू.

मैं उसके होंठो को चूमने चाटने लगा. वो भी मेरे साथ भरपूर किस में शामिल थी. मैं उसके मूह में ज़ुबान डाल के उसकी ज़ुबान चूस रहा था.

मेरे दोनो हाथ उसकी कमर से होते हुए उसकी हिप्स पर आ कर रुक गये. फिर मैं उसके हिप्स को मसालने लगा. क्या नरम-नरम गांद थी उसकी, और बड़े-बड़े हिप्स थे.

मैं उसके हिप्स को मसला तो उसकी आहह निकली. फिर मैने उसको 25 मिनिट तक किस किया, और उसकी जिस्म से खेलता रहा. मैं उसके हिप्स को मसलता रहा.

फिर मैं उसको उठा के बेड पर ले गया, और लिटा दिया. मैने उसकी त-शर्ट उपर की. उसके बूब्स क्या लग रहे थे ब्लॅक ब्रा में. ब्रा उसकी फुल टाइट थी. मैं ब्रा के उपर से बूब्स को दबाने लगा, और उसकी लाइन पर ज़ुबान फेरने लगा.

अलीशा: आअहह, क्या कर रहे हो अयान? गुदगुदी हो रही है.

मैं बूब्स दबाता और उसकी अया निकलती. फिर मैं उसकी नेवेल पर ज़ुबान फेरने लगा, और पेट चाटने लगा.

अलीशा: आअहह बेबी, ऐसे ही लीक करो. मज़ा आ रहा है.

मैं उसका पूरा पेट चाट रहा था. फिर मैने उसकी कमर के पीछे हाथ डाल के ब्रा का हुक खोला. उसने मुझे रोका और उपर से करने को बोला. मैने उसको कन्विन्स किया, और उसने ब्रा उतार के रख दी. वाउ क्या बूब्स थे.

गोरे-गोरे लाइट ब्राउन छ्होटे-छ्होटे निपल्स थे उसके. मैं उसके बूब्स को पकड़ के दबाने लगा, और एक बूब को मूह में लेके चूसने लगा. उसको झटका लगा, और वो बोली-

अलीशा: आअहह अयान, श ऐसे नही करो. मुझसे कंट्रोल नही हो रहा आअहह. बेबी प्लीज़ नही करो अया.

मैं उसके बूब्स को दबाते हुए चूस भी रहा था, और ज़ुबान से चाट भी रहा था. मेरा लंड उसकी छूट से टकरा रहा था. उसकी छूट की हीट मेरे लंड पर महसूस हो रही थी, और उसकी आहें मुझे पागल कर रही थी.

अलीशा: ऑश बेबी सक मे, ईट में प्लीज़. बीते करो, और मेरा दूध पी लो. अयाया बेबी ज़ोर से बीते भी करो ना अयान. निपल्स पर काटो मुझे, आआआः ऑश मी गोद. बेबी प्लीज़ दो इट फास्ट अयाया, कम ओं, सक मी बूब्स हार्डर.

मैं उसकी बातें सुन कर पागलों की तरह उसको काटने लगा, और ज़ोर-ज़ोर से चूसने लगा. मैं समझ चुका था, की वो बहुत हॉट और वाइल्ड थी. और उसको वाहा नही छोड़ सकता था, वरना वो बहुत शोर करने वाली थी.

मैं उसके बूब्स चूस रहा था, और लंड नएचए से टाइट्स के उपर से मसल रहा था. वो मज़े से पागल हो गयी थी. उसको होश नही था. फिर मैं उसके उपर आ गया. वो पागलों की तरह मुझे चूमने लगी.

मैं नीचे से उसके टाइट्स के उपर से लंड को छूट पर मसालने लगा, और उसके कान, होंठ, फेस सब जगह चूमने लगा.

फिर मैने कहा: अलीशा पूरा सेक्स करे? ई नीड तो फक योउ.

उसने हा में सर हिलाया. मुझे सिग्नल मिलते ही मैने उसकी टाइट्स उतार दी. आँकें फाड़ के देखने लगा मैं उसकी ब्लॅक पनटी को. उसकी फूली हुई छूट अफ. मैने पनटी के उपर से ही उसकी छूट पर किस किया. पनटी गीली थी थोड़ी उसकी.

फिर मैने उसकी लेग्स खोल के उसकी पनटी उतार दी. वाउ! बिल्कुल शेव्ड वाइट छूट थी उसकी. अंदर से पिंक थी उसकी छूट, और देखते ही मैं पागलों के तरह चूमने-चाटने लगा. वो एक-दूं चिल्लाई-

अलीशा: आआआः अयान, नो, मेरी जान निकल जाएगी.

मैने उसके मूह पर हाथ रखा, और ज़ोर-ज़ोर से ज़ुबान अंदर तक डाल के उसकी छूट को चाटने लगा. वो मचलने लगी, और मेरे सर पर हाथ रख के छूट पर मूह दबा दिया. उसने अपनी लेग्स भी बंद कर ली.

अलीशा: आहह बेबी, श एस, करो ऐसे ही. योउ अरे मेकिंग मे हॉर्नी आंड मद. एस, सक आंड लीक मी पुसी. श बेबी, एस, योउ अरे टू गुड बेबी. अया ऑश अयान, खा जाओ प्लीज़, मुझे नोच दो, मेरे साथ जो दिल में आए करो. बुत मुझे आज सारा मज़ा दो. अयाया जानू, बेबी अयाया, सक मे. छातो ज़ोर-ज़ोर से मेरी छूट को अया अया, अयान ई आम कमिंग बेबी.

मैं ज़ोर-ज़ोर से चाट रहा था. मैं एक उंगली उसकी छूट में डाल के इन-आउट करने लगा, और वो और वाइल्ड होने लगी.

अलीशा: अयाया बेबी ई आम कमिंग. एस दो इट फास्ट बेबी, करो ज़ोर से. श एस बेबी, आ अयान अया.

और वो झाड़ गयी. ये उसका फर्स्ट ऑर्गॅज़म था. भरपूर पानी निकला उसका, जिससे मेरा फेस भर गया. और फिर वो सुस्त पद गयी.

फिर उसने मेरे तरफ देखा, और बोली-

अलीशा: सॉरी बेबी.

और उसने मेरा फेस सॉफ किया.

मैने कहा: तुम तो बहुत हॉर्नी और वाइल्ड हो.

अलीशा: हहा.

और वो मेरे करीब लेट गयी.

फिर मैने उससे पूछा-

मैं: अब मुझे कों फारिघ् करेगा?

अलीशा उठी, और मेरा लंड पकड़ के हिलने लगी.

मुझे अब मज़ा आ रहा था. मैने उसको कहा-

मैं: जानू इसको मूह में लो ना.

फिर वो झुकी, और उसने लंड को मूह में लिया और चूसने लगी. वाउ, क्या चूस रही थी वो.

मैने कहा: तुमने कहा से सीखा लंड चूसना?

अलीशा हेस्ट हुए बोली: वो वीडियोस में देखा है.

और वो फिरसे लंड को चूसने लगी. मैं उसकी बूब्स दबाने लगा. वो मेरी बॉल्स को भी चाट रही रही. वाउ, क्या मज़ा था. वो पूरा लंड एक बार में मूह में लेके बाहर निकालती, तो मेरी अयाया निकल जाती. 15 मिनिट लंड चूसने के बाद मैने उसका सर पकड़ा.

मैं पीक पर था अपनी, और मैं पूरा लंड उसके मूह में दे कर मौत फक करने लगा. फिर मैं उसके मूह में फारिघ् हो गया. उसका मूह भर गया माल से. उसने आधा माल पी लिया, और बाकी आधा थूक दिया.

अलीशा: गंदे, कमीने, मूह है मेरा, छूट नही, जो सारा मूह में छ्चोढ़ दिया.

मैं (हेस्ट हुए): यार ऐसे चूसोगी तो कहा कंट्रोल होगा.

फिर वो हेस्ट हुए मेरे साथ लेट गयी, और मैं उसकी छूट पर हाथ फेरने लगा, और उसको किस करने लगा. वो इतनी गरम लड़की थी, की मैं उसको छोड़ भी देता, तो वो माना नही करती. पर मैने मौके की नज़ाकत को समझा, और उसको कहा-

मैं: तुम बहुत वाइल्ड हो, बाकी कल करेंगे फ्लॅट पर चल के.

उसने हा में सिर हिलाया, और कपड़े पहन के चली गयी. मैने शवर लिया, और सो गया.

इसके आयेज क्या हुआ, वो आपको अगले पार्ट में पता चलेगा. स्टोरी पसंद आए तो फीडबॅक ज़रूर देना, ताकि नेक्स्ट स्टोरी में मैं जल्दी सेंड करू. जिसको मुझसे बात करनी हो, टिप्स लेनी हो, या कोई रिलेशन्षिप में इंट्रेस्टेड हो, तो वो मुझे एमाइल करे

यह कहानी भी पड़े  रतिका की जम कर चुदाई करी

error: Content is protected !!