बीमार चाची के साथ रोमांस और सेक्स देसी कहानी

हेलो दोस्तों मैं स्मार्टी हाजिर हूं अपनी एक और बहुत ही इंटरेस्टिंग और रियल स्टोरी आपके सामने लेकर आया हूं, आशा करता हूं की आप लोगों को मेरी यह सेक्स कहानी जरुर पसंद आएगी. दोस्तों मेरी उम्र २३ साल है और यह कहानी की हीरोइन मतलब मेरी चाची है उसकी उम्र ३३ साल है बिल्कुल स्लिम सेक्सी है, उसे देखने के बाद मन करता है कि उसे पकड़ कर चोद दूं, यह स्टोरी थोड़ी लंबी है पर मैं वादा करता हूं आप सभी का पानी जरुर निकल जाएगा.

दोस्तों बात कुछ महीने पहले की है, हमारे घर के बगल में नए पड़ोसी आए थे हस्बेंड वाइफ, मैं उन को चाचा चाची कहता था. और उनके दो लड़के थे ४ क्लास में था और एक ७ वी क्लास में था.

शुरु में तो उसने इतनी ज्यादा बातें नहीं होती थी पर फिर हम काफी घुल मिल गए चाची बहुत फ्रेंक थी और फैशनेबल कपड़े पहनती थी. अंकल ऑफिस चले जाया करते और बच्चे स्कूल. वह घर पर अकेली रहती थी, तो मैं उनके घर चले जाया करता उनसे बात करता.

एक दिन मैं उनके घर गया, चाची चाची करके दो बार आवाज दिया, किसी ने रिप्लाई नहीं दिया तो मैं बेडरूम में चला गया. वहां चाची सोई हुई थी. मैंने उनसे पूछा चाची क्या हुआ? इस टाइम आप कैसे सो रही हो? तो उन्होंने बोला मुझे बहुत बुखार आ गया है, मेरा सर छू कर देखो. फिर मैं उनके पास गया और पहली बार उनको टच किया, उनके सर पर हाथ लगा कर देखा, गर्दन पर हाथ लगा कर देखा, और कहा सच में आपको तो बुखार है. तो मैंने कहा दवा लिया या नहीं? तो उन्होंने बोला हां ले लिया है.

जब मैं दूसरे दिन उनके घर गया तो देखा कि वह सो रही थी मैक्सी पहन कर. फिर उनके पास गया और उनको चाची कहकर उठाया, पर वह नहीं उठी बहुत गहरी नींद में थी. उनको देखकर मैं अपने आप को रोक नहीं पाया और उनके पास जाकर उनके बूब्स पर हाथ रख दिया, और धीरे से दबा दिया. और वह नहीं उठी, मैंने धीरे करके उनके दोनों बूब्स दबा रहा था, और मुझे डर भी लग रहा था कि अगर चाची उठ गई तो मेरा क्या होगा. पर थोड़ा रिस्क तो लेना पड़ता है, फिर मैंने एक हाथ उनकी मैक्सी में डाल दिया और बूब्स दबाने लगा. और एक हाथ उनकी चूत के पास ले गया और धीरे-धीरे रब करने लगा. अचानक आंटी उठ गई और उन्होंने कहा यह क्या कर रहे हो तुम? मैं बहुत डर गया और पसीना पसीना हो गया, वह बोली रुको अभी तुम्हारी मम्मी को आवाज लगाती हूं और बताती हूं.

यह कहानी भी पड़े  आइसक्रीम, मालिश और माँ की चुदाई

मेने तुरंत उनके पैर पकड़ लिए, मैंने कहा सॉरी में बहक गया था, मुझे माफ कर दो पर वह नहीं मानी. बोली मैं तो तुम्हारी मम्मी को बता कर रहूंगी, मैंने रोना शुरु कर दिया, फिर उन्होंने कहा पहले रोना बंद करो और जो मैं पूछूंगी सच सच बताना.

मैंने ओके कह दिया, उन्होंने बोला कब से तुम्हारे दिमाग में यह सब चल रहा है? मैंने कहा कि जब से मैंने आपको देखा है मुझे आप बहुत अच्छी लगी. यह सुनकर चाची ने बोला झूठ कह रहे हो, मैंने कहा नहीं चाची मैं बिल्कुल सच कह रहा हूं. आप मुझे बहुत अच्छी लगती है, वह बोली मुजमे तुम्हें सबसे ज्यादा क्या अच्छा लगता है? यह सुनते ही मेरा लंड पूरा खड़ा हो गया और झटके मारने लगा. मुझे लगा आज मेरा काम बन जाएगा, मैंने कहा मुझे आपके लिप्स और बूब्स बहुत पसंद है. फिर उन्होंने जो कहा मेरा तो दिमाग एकदम हील गया, उन्होंने कहा मुझे किस करोगे?

मैं बोला क्या? तो उन्होंने कहा मुझे भी तुम बहुत पसंद आए थे, पर मैं चाहती थी पहले तुम बोलो अपने मुंह से.. यह सुनते ही मैं चाची को तुरंत लिप किस करने लगा और उनके बूब्स दबाने लगा. मेरा लंड पूरा खड़ा था, जो चाची की चूत में बाहर से ही रगड़ रहा था, मैंने उनको १० मिनट तक किस किया. उसके बाद मैंने उनको बेडरूम में ले गया, और तुरंत उनकी नाइटी उतार दी और चाची सिर्फ ब्रा पैंटी में थी. फिर मैं उसके पास गया और उनकी ब्रा उतार कर उनके बूब्स पर टूट पड़ा. और उनको जोर जोर से चूसने लगा, उनके मुंह से आवाज आ रही थी. वह मेरा सर अपने बूब्स पर दबा रही थी, मैं भी पागलों की तरह उनके बूब्स चूस रहा था और काट रहा था, फिर मैंने उनके निप्पल को काट लिया जोर से.. उनके मुंह से चीख निकल गई क्या कर रहे हो? थोड़ा धीरे करो ना प्लीज.

यह कहानी भी पड़े  पापा ने चोद दिया

मैं एक हाथ से उनके बूब्स दबा रहा था और नवल में किस कर रहा था, और जैसे वह जन्नत में थी. और कह रही थी बस.. फिर मैंने जट से उनकी पैंटी उतार दी और देखा तो उनकी चूत पर छोटे-छोटे बाल थे, पर बहुत अच्छी खुशबू आ रही थी. मैं तुरंत चूत में किस किया और उसको चाटने लगा, वह तो उछल पड़ी. बोली आज तक किसी ने मेरी चूत नहीं चाटी, कम ऑन बहुत अच्छा लग रहा है. और जोर से चाटो और मेरा सर अपनी चूत में दबाने लगी. मैं भी पागलों की तरह उनकी चूत चाट रहा था. और आह्ह्ह कम ऑन बोलती जा रही थी और अचानक रुक गई और सारा पानी मेरे मुंह पर छोड़ दिया मैंने उसका पानी पी गया.

Pages: 1 2

error: Content is protected !!