भाई ने बहन को वॉशरूम में चोदा

हेलो फ्रेंड्स, मैं हू आर्यन, और आपका स्वागत करता हू कहानी के इस पार्ट में. काफ़ी लोगों के प्यार सपोर्ट और रिक्वेस्ट के बाद मैं आयेज की कहानी लिख रहा हू. उमीद है आपको कहानी अची लगे. अभी तक आपने पढ़ा कैसे मैने राशि दी को छोड़ा, और अब आरोही दी भी मेरे जाल में फैस्टी जा रही थी. अब आपका ज़्यादा टाइम ना लेते हुए हम आते है कहानी पे.

जब आरोही दी ने पॉपकॉर्न खाने के लिए हाथ आयेज बढ़ाया, और उनका हाथ मेरे लंड वाली जगह पे गया, तो उन्होने हाथ हटाने के बजाए अपना हाथ वाहा टटोलने लगी. इससे मेरा लंड खड़ा होने लगा. काफ़ी देर बाद उन्होने अपना हाथ हटाया.

मेरे दिमाग़ में एक शैतानी आइडिया आया. मैने पॉपकॉर्न वापस रखा और अपनी पंत की ज़िप खोल कर लंड को बाहर निकाल लिया. मैने अपना लंड पॉपकॉर्न के पॅकेट के पीछे रखा और मोविए देखने का नाटक करने लगा. आरोही दी ने पॉपकॉर्न के लिए फिरसे हाथ आयेज बढ़ाया, और मैने पॉपकॉर्न का पॅकेट हटा लिया. इस बार उनका हाथ सीधा मेरे नंगे लंड पे गया.

उन्होने फटत से अपना हाथ हटा लिया. मैं दर्र गया. मुझे लगा कही मैने कोई ग़लती तो नही कर दी. मैं घबरा गया था. अभी मैं इतना सोच ही रहा था की तभी मुझे मेरे लंड पे फिरसे कुछ महसूस हुआ. ऐसा लग रहा था जैसे मेरे लंड को चारों तरफ से घेर लिया गया हो.

मैने देखा आरोही दी मेरे लंड को अपनी मुट्ठी में ले कर उसे धीरे-धीरे हिला रही थी. उफ़फ्फ़ वो एहसास, मैं तो पागल सा हो गया. आरोही दी ने स्पीड बढ़ा दी. मेरा लंड अब अपने असली साइज़ में आ गया था. मैने भी इस मौके को जाने नही दिया, और अपने हाथो को आरोही दी के बूब्स पे रख दिया.

गाइस मैं आपको आरोही दी के बारे में बताता हू. उनके बूब्स का साइज़ 32ब है. वो दिखने में बहुत ज़्यादा हॉट है. उनकी बड़ी-बड़ी गांद और चब्बी फेस है. वो हल्की फॅटी है जिसकी वजह से वो और भी हॉट लगती है.

अब मैं उनके बूब्स को दबाने लगा, और वो मेरे लंड को हिला रही थी. मुझसे रहा नही जेया रहा था, तो मैं अपना हाथ उनके बालों पे ले गया, और उनके बालों को जाकड़ लिया. मैने उनके सिर को अपने लंड की तरफ झुका दिया. वो समझ गयी मैं क्या चाहता था.

आरोही दी ने अपने बालों को पीछे बाँधा. मैने हाथ रखने वाली सीट उठा दी, और आरोही दी ने मेरा मोटा लंबा लंड अपने मूह में ली लिया. उफफफ्फ़ आज मेरी दूसरी बेहन भी मेरा लंड चूस रही थी. मैं तो सातवे आसमान पे था.

आरोही दी मेरे लंड को चूज़ जेया रही थी. उनकी स्पीड देख कर ऐसा लग रहा था, की उन्हे इसका एक्सपीरियेन्स था. मैने राशि दी को देखा वो मोविए में बिज़ी थी. इधर आरोही दी मेरा लंड अपने गले तक भर-भर कर चूस रही थी. अंधेरे का हम फ़ायदा उठा रहे थे.

आरोही दी अपनी स्पीड बढ़ती जेया रही थी, और मैं झड़ने को आ गया. मैने उनके सिर को ज़ोर से पकड़ा. वो समझ गयी मैं झड़ने वाला था. उन्होने मेरा लंड अपने गले में लिया, और मैं झाड़ गया. मेरा सारा रस्स उनके मूह में ही रह गया.

उन्होने बड़े प्यार से मेरा लंड सॉफ किया और बैठ गयी. बुत मैं अब और नही रुक सकता था. मेरे दिमाग़ में एक और आइडिया आया. मैं वॉशरूम जाने के लिए उठा, और आरोही दी को भी इशारे से बुला लिया. मैं वॉशरूम गया और पीछे-पीछे आरोही दी भी आ गयी. मैने उन्हे अंदर लिया, और गाते लॉक कर दिया.

अंदर लेते ही मैं उन्हे किस करने लगा. मेरे होंठ उनके होंठो को चूसने लगे. आरोही दी भी मेरा साथ दे रही थी. मैने किस करते हुए उनके टॉप को उतार दिया. आरोही दी ने भी मेरी शर्ट को खोल दिया. मैं ब्रा के उपर से ही उनके बूब्स दबाने लगा और उनको किस करने लगा. आरोही दी ने देखा मुझे प्राब्लम हो रही थी, तो उन्होने अपनी ब्रा उतार दी और उनके 32″ के बूब्स मेरे सामने उछालने लगे. मैं उन बूब्स पे टूट पड़ा.

मैं उनके बूब्स को चूसने लगा, और आरोही दी आहें भरने लगी. जब मैं उनके निपल को काट-ता था, तो वो एक लंबी साँस लेती थी. मैने उनके बूब्स दबा-दबा के बहुत चूज़. आरोही दी ने मेरा सर नीचे करने की कोशिश की. मैं समझ गया लोहा गरम हो चुका था.

फिर मैं नीचे गया, और उनकी जीन्स और पनटी उतार दी. उनकी छूट देख के कोई नही बोल सकता था, की वो वर्जिन नही थी. बुत मेरा फोकस अभी कही और था. मैने उनकी छूट पे पहले एक किस किया, जिससे वो बिल्कुल तड़प उठी. उन्होने मेरे सिर को पकड़ के अपनी छूट में दबा लिया, और अपने बूब्स भी दबाने लगी.

मैं उनकी छूट को चाटने लगा. उनकी छूट बहुत गीली थी. ऐसा लग रहा था मैं कोई रस्स से भरा आम चूस रहा था. आरोही दी ज़ोर-ज़ोर से सिसकियाँ ले रही थी. मैने पहले उनकी छूट को चाट-चाट कर सॉफ किया, और फिर उसमे अपनी जीभ डालने लगा.

इससे आरोही दी और भी ज़ोर से सिसकियाँ लेने लगी. वो अपनी गांद को हिलने लगी. मैने उनकी गांद को पकड़ लिया, और दबाने लगा. उनकी छूट ने पानी छ्चोढ़ दिया. मैं उनका सारा रस्स पी गया. मैने आरोही दी को देखा वो मुझे बहुत प्यार से देख रही थी. मैं खड़ा हो गया, और उन्हे किस करने लगा.

मैने उनकी एक टाँग पकड़ कर उठा दी, और उन्होने मेरे लंड को अपनी छूट पे सेट कर लिया. फिर मैने एक ज़ोरदार झटका दिया, जिससे मेरा पूरा लंड उनकी छूट में घुस गया. वो अपनी गांद हिला रही थी. मैं भी उनको छोड़ने लगा. मैने अपनी स्पीड बढ़ा रखी थी, जिससे हमारी चुदाई की आवाज़ गूँज रही थी वॉशरूम में.

मैं उनकी छूट छोड़ता था, और फिर उनको किस करता था, और फिर उनकी छूट छोड़ने लगता था. हम इस चुदाई का मज़ा ले रहे थे. फिर मैने उन्हे पोज़िशन बदलने को बोला. वो फट से घोड़ी बन कर दीवार से लग कर खड़ी हो गयी. मैने उनकी गांद देखी उफ़फ्फ़ चिकनी और गद्देदार.

फिर मैने उनकी गांद पर ज़ोर से एक छाँटा मारा. आरोही दी ने मेरी और देखा और एक सेक्सी स्माइल दी. मैने फिरसे छाँटा मारा और उनकी गांद को फैला दिया. अब मैने अपना लंड उनकी गांद के च्छेद में डाला. उनकी छूट तो सील पॅक नही थी, पर उनकी गांद बहुत टाइट थी.

मैने उनकी गांद को छोड़ना शुरू किया. धीरे-धीरे करके मेरा पूरा लंड उनकी गांद में घुस गया. अब आरोही दी अपनी गांद हिला-हिला कर खुद को छुड़वा रही थी. मुझे उनकी गांद मारने में मज़ा आ रहा था. मैं स्पीड-उप करने लगा, उधर आरोही दी सिसकियाँ लेने लगी. आअहह उहह फक की आवाज़े वॉशरूम में गूँज रही थी. काफ़ी देर उनको छोड़ने के बाद मैं अब झड़ने को आ गया.

आरोही दी ने मुझे इशारों में ही अपने गांद में मेरा रस्स निकालने की इजाज़त डेडी थी. मैं भी उनकी आगया का पालन करते हुए उनकी गांद में ही झाड़ गया. मैने सारा रस्स उनकी गांद में छ्चोढ़ दिया. कुछ देर उनको किस करने के बाद हमने अपनी हालत ठीक की, और वॉशरूम से बाहर गये.

उधर राशि दी सभी भी मोविए में ही मगन थी. हम वापस अपनी सीट पे बैठ गये.

फ्रेंड्स आयेज भी कहानी जारी रहेगी, बस आपका प्यार यू ही बना रहे. आपकी फीडबॅक की वजह से मैं इस कहानी को आयेज बढ़ा रहा हू. आप अपनी राय शेर कर सकते है मुझे (आर्यन्मे987@गमाल.कॉम) पर. थॅंक योउ.

यह कहानी भी पड़े  कज़िन सिस्टर के साथ लेज़्बीयन चुदाई शुरू हुई


error: Content is protected !!