हैप्पी न्यू इयर भाभी की चूत चुदाई के साथ

हैप्पी न्यू इयर भाभी की चूत चुदाई के साथ

(Happy New year Bhabhi Ki Chut Chudai Ke Sath)

Happy New year Bhabhi Ki Chut Chudai Ke Sath

अन्तर्वासना के सभी पाठकों को मेरा नमस्कार, आज मैं आपके साथ अपनी एक सच्ची हिंदी सेक्स स्टोरी शेयर कर रहा हूँ। मैं कोई लेखक नहीं हूँ, अगर मेरी कहानी में कोई ग़लती हो जाए.. तो पहले से ही उसके लिए मैं आप सभी से माफी चाहता हूँ।

मेरा नाम अभिषेक है। मैं अन्तर्वासना का पिछले 5 साल से पाठक हूँ। मैं नागपुर का रहने वाला हूँ, पर अब मैं बैंगलोर में जॉब करने के कारण यहीं शिफ्ट हो गया हूँ।

सेक्सी पड़ोसन का दीवाना

यह कहानी कुछ दिन पहले की है। मैं जहाँ किराए से रहता था वहाँ मेरे रूम के सामने एक शादीशुदा कपल रहते थे। भाभी का फिगर 34-32-36 के लगभग का रहा होगा.. वो दिखने में बहुत खूबसूरत हैं। उनके पति सुबह दस बजे काम पर चले जाते हैं और रात में 8 बजे घर आते हैं।

भाभी अपने घर का काम संभालती हैं और वे घर में अकेली रहती हैं। मैं घर आते-जाते उनसे हमेशा बातें करता हूँ। मैं उन लोगों से अच्छा खुल गया था। रविवार की शाम को मैं भैयाज़ी के साथ सब्जी लाने जाता था, घर आने पर भाभी जी हम दोनों को चाय पिलाती थीं।

भाभी की उम्र 25-26 साल की रही होगी मगर दिखने में वो अब भी कमसिन लौंडिया जैसी ही लगती हैं। वो हमेशा घर में सलवार सूट पहनती हैं। यह बात नए साल की 2 तारीख की है.. जब मैं शाम को अपना काम ख़तम करके घर आया.. तो भाभी जी ने मुझे आवाज़ दी।

मैं- हाँ भाभी.. बस दो मिनट में फ्रेश होकर आता हूँ।

यह बोल कर मैं रूम में गया.. फ्रेश और रेडी होकर भाभी के घर आ गया।

यह कहानी भी पड़े  मेरी प्यारी बीवी और चुदासी मकान मालकिन की चूत चुदाई

मैं आपको एक बात बताना ही भूल गया कि जब से मैंने भाभी जी को देखा था तब से मुझे उनसे प्यार हो गया था, मैं दिन-रात उनके ही सपने देखा करता था, मैं रोज उनकी नाम की मुठ मार के ही सोता था, मैं किसी भी हालत में भाभी को भोगना चाहता था। मैं हमेशा यही सोचता कि भाभी को कैसे पटा कर चोद लूँ।

मैं भाभी के घर गया, भाभी ने काले रंग की नाइटी पहनी थी। उनके गोरे बदन पर काली नाइटी बहुत ही सेक्सी लग रही थी।
मैंने भाभी से पूछा- हाँ भाभी.. आपने मुझे बुलाया था?
भाभी ने मुस्कुरा कर ‘हाँ’ में जवाब दिया।

‘आपके भैया ऑफिस के काम से दो दिन के लिए दिल्ली गए हैं, आज शाम से आप दो दिन मेरे ही घर में खाना खाइएगा।’
उनकी बात सुनकर मेरा दिल खुशी से नाचने लगा। जिस वक़्त का मैं इंतज़ार कर रहा था.. वो वक़्त आ गया।
कहते हैं ना.. कि भगवान के घर देर है.. अंधेर नहीं।

भाभी- आप बैठिए.. टीवी देखते, मैं चाय बनाकर लाती हूँ।

ठंड का मौसम चल रहा था और शाम के 7 बज गए थे। मैं टीवी ऑन करके गाने देख रहा था। कुछ ही मिनट में भाभी चाय और बिस्किट लेकर आईं और मेरे पास सोफा में बैठ गईं।

उन्होंने मुझे चाय का एक कप दिया और एक उन्होंने भी ले लिया। अब हम दोनों ठंड के मौसम का मज़ा लेते हुए चाय पी रहे थे और टीवी में नए गाने सुन रहे थे।

भाभी ने मुस्कुरा कर पूछा- अभि जी चाय कैसी लगी?
मैं- चाय तो आपकी ही तरह स्वीट है।
भाभी इस बात पर शर्मा गईं- आप अच्छा मज़ाक कर लेते हैं।
‘भाभी ये मज़ाक नहीं था.. ये सच है.. आप रियली बहुत स्वीट और खूबसूरत हैं।’
मेरी इस बात पर भाभी और शर्मा गईं।

यह कहानी भी पड़े  पंजाबी भाभी को चुदाई

भाभी की प्यासी चूत

मैं- आप कितनी लकी हैं.. आपको कितने अच्छे पति मिले हैं.. आपका कितना ख्याल रखते हैं।
इस बात पर भाभी थोड़ी उदास हो गईं।
मैं- क्या हुआ भाभी.. मैंने कुछ ग़लत बोल दिया क्या? सॉरी आइन्दा से नहीं बोलूँगा।

भाभी- ऐसी कोई बात नहीं है, उनका किसी और लड़की से अफेयर चल रहा है। आपके भैया को नई-नई लड़कियां सिर्फ़ भोगने के लिए चाहिए, रात को घर आते हैं.. खाना ख़ाकर सो जाते हैं। मेरी अन्तर्वासना प्यासी ही रह जाती है। रविवार में एक बार मुझे भोगते हैं और रविवार में भी पूरा दिन बाहर रहते हैं। मेरा वो कोई ख्याल ही नहीं रखते।
ऐसा बोलकर भाभी रोने लगीं।

मैं- भाभी प्लीज़ मत रोइए, नहीं तो मुझे भी रोना आ जाएगा। आज भाभी की बात सुनकर मुझे भी थोड़ा बुरा लग रहा था और मेरी समझ में नहीं आ रहा था। आज भाभी ने अपनी दिल की बात मुझे बता दी।
‘भाभी मैं बहुत दिनों से आपको एक बात बताना चाहता था.. पर कभी हिम्मत नहीं बोलने की मगर आज बोल रहा हूँ.. आई लव यू.. मैं आपसे बहुत प्यार करता हूँ, भैया आपका ख़याल नहीं रखते तो मैं आपका ख्याल रखूँगा भाभी।’

मेरी यह बात सुनकर उनके चेहरे पर ख़ुशी आईं, मैंने उनको गले से लगा लिया और ‘आई लव यू..’ बोला।

Pages: 1 2

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!