बेहन ने भाई के दोस्त से अपनी सील तुडवाई

हेलो देसी कहानी के दोस्तों, कैसे हो आप सब? मैं विजय पटियाला पुंजब से हू, और मैं नमार्द हू. मेरी लुल्ली सिर्फ़ 3 इंच की है. अब आपका ज़्यादा समय ना लेते हुए मैं अपनी कहानी पर आता हू.

मेरे परिवार में मैं, मेरी मा मंजू, मेरी बड़ी दीदी रानी, और मेरी जुड़वा बेहन पिंकी है. मेरे पापा लगभग 10 साल पहले विदेश चले गये, और वही के होके रह गये. अब आप मेरी कहानी को पढ़ कर मज़ा ले, और मेरी कहानी को लीके और कॉमेंट ज़रूर करे.

25 डिसेंबर 2016 को मेरी कॉलेज से छुट्टी थी, और मैं घर पर बैठ कर ही टीवी देख रहा था. तभी मुझे बातरूम से मम्मी की सिसकियाँ सुनाई पड़ी. फिर बातरूम में देखने के लिए जैसे ही मैने डोर को धक्का दिया. तो बातरूम का डोर अंदर से खुला था. अंदर मेरी मम्मी नंगी हो कर एक रब्बर का लंड अपनी छूट में लेकर आ श कर रही थी. जब मम्मी कुछ शांत हुई और उनकी नज़र मुझ पर पड़ी, तो मम्मी एक ठंडी आअहह भर कर बोली-

मम्मी: ऊ मेरे राजा बेटा, खड़ा क्या देख रहा है. यहा तेरी मा की छूट में आग लगी है, और तू खड़ा देख रहा है.

उन्होने मुझे पकड़ कर बातरूम में खींच लिया. फिर मम्मी मेरे कपड़े उतारने लगी, और मेरी लुल्ली देख कर अपने माथे पर हाथ मार कर बोली-

मम्मी: ऊऊ साला, ये भी बिल्कुल अपने बाप पर गया है.

तभी मेरी दीदी रानी जो ये सब कुछ देख रही थी.

वो बोली: मम्मी तू क्या सेयेल इस नमार्द के पीछे पड़ी है.

फिर वो अपना फोन दिखाते हुए बोली: मम्मी लंड तो इसे कहते है.

मम्मी वो फोटो देख कर बोली: वाउ रानी, ये किसका लंड है? इतना बड़ा लंड मैने आज तक कभी नही देखा.

रानी बोली: मम्मी अगर तूने इस लंड का मज़ा लेना है. तो अपने इस सेयेल नमार्द बेटे को बोल, की अपने दोस्त टोनी को लेकर आए.

तभी मेरी छ्होटी बेहन पिंकी बोली: वाह दीदी, तुम और मम्मी अकेले-अकेले ही मज़ा करोगी? मेरा क्या होगा?

तभी मम्मी ने कहा: सेयेल मा-छोड़, हरामी, कुत्ते, कल तेरी मा की पहली चुदाई की सिल्वर ज्व्बिल है. और तू कल टोनी के लंड से अपनी दोनो बहनो की छूट की सील तुद्वा कर, और मा को छुड़वा कर, मेरी छूट की सील टूटने की सिल्वर ज्व्बिल मनाएगा.

फिर रानी दीदी बोली: मम्मी क्या तू भी अपनी शादी से पहले ही चुड चुकी थी?

मम्मी ने मेरी गांद पर लात मार कर कहा: सेयेल बहनचोड़, अब खड़ा क्या देख रहा है तू? कल सुबह जल्दी जेया कर टोनी को ले आना.

और मम्मी ने अपने फोन से किसी को हमारे घर बुलाया.

रानी दीदी बोली: साली रांड़, अब कों आ रहा है?

मम्मी ने कहा: कोई नही साली रंडी. वो तो मैने तुम दोनो रंडी बहनो की छूट और जिस्म की सफाई के लिए पार्लर वाली को बुलाया है. अब तुम दोनो बहने नंगी हो जाओ, और वो अभी आती ही होगी.

तभी बाहर डोरबेल बाजी, और दो लड़कियाँ एक बड़ा सा बाग लेकर अंदर आई.

वो बोली: किस-किस की वॅक्सिंग और जिस्म का फेशियल करना है?

तभी रानी दीदी बोली: मेरा और मेरी रंडी बेहन और मम्मी का.

उसने मुझसे कहा: सेयेल बहनचोड़, अब तुझे कहना पड़ेगा के तू यहा से चला का.

मैने कहा: दीदी मैने भी देखना है.

दीदी बोली: सेयेल कल जब तेरा दोस्त अपने लंड से तेरी रंडी बहनो की छूट का भोंसड़ा बनाएगा, तब देख लेना.

और मैं घर से बाहर चला गया. करीब 2 घंटे बाद जब मैं घर आया, तब तक वो लड़कियाँ वापस जेया चुकी थी.

मम्मी ने मुझसे कहा: विजय कल तू सुबह जल्दी जेया कर टोनी को ले आना. और कल सुबह 10 बजे मेरी पहली चुदाई की सिल्वर ज्व्बिल पर टोनी का लंड तेरी रंडी बेहन रानी की छूट में हो.

फिर हम खाना खा कर सो गये. अगले दिन सुबह करीब 8 बजे मैं टोनी के पास गया, और कहा-

मैं: टोनी तुझे अभी के अभी मेरे साथ मेरे घर चलना है.

टोनी बोला: विजय ऐसी क्या बात है जो तू इतनी जल्द-बाज़ी में है?

मैने कहा: वो तो तुझे मेरे घर जेया कर ही पता चलेगा.

टोनी तैयार हो कर मेरे साथ चल पड़ा, और रास्ते में मुझे ख़याल आया की अगर टोनी ऐसे ही रानी दीदी और पिंकी की चुदाई करेगा, तो कही वो गर्भ से ना हो जाए. यही सोच कर मैं एक केमिस्ट की दुकान पर रुका, और वाहा से एक बॉक्स कॉंडम का लिया. जब टोनी ने मेरे हाथ में वो कॉंडम का बॉक्स देखा, तो उसने पूछा-

टोनी: विजय, ये किसलिए?

मैने कहा: ये सब तुझे अभी कुछ देर में मेरे घर पहुँच कर पता चलेगा.

जब हम घर पहुँचे, मैं और टोनी हॉल में सोफे पर बैठ गये. तभी रानी दीदी और पिंकी दोनो बहने सिर्फ़ एक ब्रा कक़ची में टोनी के अगाल-बगल में बैठ कर टोनी का लंड पंत के उपर से मसालने लगी. उस समय रानी दीदी ने एक ब्लॅक कलर की जाली-दार ब्रा कक़ची और पिंकी ने गुलाबी रंग की जाली-दार ब्रा कक़ची पहनी हुई थी. दोनो बहने क्या ग़ज़ब की खूबसूरत लग रही थी.

कुछ देर टोनी का लंड पंत के उपर से मसालने के बाद रानी दीदी ने एक झटके में टोनी की पंत खोल दी, और अंडरवेर में अपना हाथ डाल कर टोनी का लंड बाहर निकाल लिया. तभी मम्मी ब्लू कलर की ब्रा कक़ची में आई और रानी से कहा-

मम्मी: साली रांड़, तेरे यार का क्या मस्त लंड है. मुझे आज अपनी 25 साल पहले हुई मेरी छूट की पहली सील तोड़ चुदाई याद आ गयी.

तभी रानी दीदी ने टोनी का लंड चूम लिया और आआआः करके बोली: ऊ मेरे राजा, आपका लंड तो बहुत गरम है.

ये बोल कर फिरसे टोनी का लंड अपने मूह में भर लिया. टोनी को भी अब मज़ा आने लगा, और टोनी रानी दीदी के मूह में धक्के लगता हुआ दीदी के मस्त मखमली कोरे जिस्म पर अपना हाथ फेरने लगा.

मम्मी ने रानी दीदी की ब्रा कक़ची उतार दी, और दीदी टोनी का लंड चूसना छ्चोढ़ कर, टोनी का लंड अपने चूचों पर लगा कर, टोनी के लंड के सूपदे पर अपना निपल लगा कर बोली-

दीदी: ऊऊ मेरे राजा, अपने मस्त लंड को अपनी रंडी का दूध पिलाओ.

फिर टोनी के लंड के सूपदे पर अपना चूचा फिरने लगी. मम्मी ने टोनी के बाकी बचे हुए कपड़े भी उतार दिए, और खुद भी अपनी ब्रा कक़ची उतार कर पिंकी को भी नंगी होने को कहा. फिर कुछ ही देर में मेरी मम्मी और दोनो बहने टोनी के सामने एक-दूं नंगी थी.

तभी मम्मी ने कहा: रानी साली कुटिया, रांड़, अब समय हो गया है तेरी छूट का उद्घाटन होने का.

और मम्मी, रानी दीदी, और पिंकी तीनो टोनी का लंड पकड़ कर अंदर रूम में बिस्तेर पर ले गयी. मैं भी पीछे-पीछे रूम में गया. रूम में बिस्तेर पर खून से सनी सफेद चादर बिछी थी. फिर रानी दीदी बिस्तेर पर चिट लेट गयी, और टोनी का हाथ पकड़ कर अपने चूचों पर रख लिया. पिंकी नीचे झुक कर टोनी का लंड चूसने लगी.

अब पुर घर में मेरी बहनो की सिसकियाँ गूंजने लगी, और टोनी रानी दीदी के चूचे मसलता हुआ रानी दीदी के जिस्म को चूमने चाटने लगा, और दीदी की दोनो टांगे फैला कर दीदी की छूट पर एक लंबा चुम्मा लिया.

दीदी ज़ोर से मदहोश हो कर बोली: एयाया ऊऊ मेरे राजा, बहुत मज़ा आ रहा है.

तभी मम्मी ने कहा: रानी अब समय हो गया है की टोनी अपना लंड तेरी छूट में थोक कर तेरी छूट की सील तोड़ चुदाई करे.

मम्मी ने दीदी के छूतदों के नीचे तकिया लगाया, और दीदी की दोनो टांगे फैला कर टोनी का लंड दीदी की छूट पर रगड़ने लगी. दीदी अपनी गांद उठा कर टोनी का लंड अपनी छूट में लेने की नाकाम कोशिश करते हुए बोली-

दीदी: ऊओ मम्मी, अब मत तड़पाव, और जल्दी से टोनी का लंड मेरी छूट में डाल कर मुझे टोनी की रंडी बना दे.

तभी मैने टोनी को रोकते हुए कहा: टोनी ज़रा रुक, मैने तेरा लंड नापना है.

ये बोल कर मैं टोनी का लंड नापने लगा. पहले मैने टोनी के लंड की लंबाई नापी, जो पुर 15 इंच थी, और जब मोटाई नापी, तो टोनी का लंड पुर 8 इंच मोटा था. फिर मैं टोनी के लंड पर कॉंडम लगाने लगा.

मम्मी ने मुझे रोकते हुए कहा: सेयेल बहनचोड़, ये क्या कर रहा है?

मैने कहा: मम्मी ऐसे तो कही दीदी गर्भ से हो गयी तो बहुत बदनामी होगी.

मम्मी ने कहा: सेयेल कुछ नही होगा. आज अपनी बहनो को टोनी का गरम-गरम वीर्या अपनी छूट में लेने दे.

फिर टोनी का लंड पकड़ कर रानी दीदी की छूट से लगा कर बोली: चल मेरे राजा, मार धक्का.

टोनी ने एक हल्का झटका लगाया, और टोनी के लंड का सूपड़ा रानी दीदी की छूट में घुस गया, और दीदी आअहह कर उठी.

मम्मी ने टोनी का जोश बढ़ते हुए कहा: मेरे राजा, साली रंडी के दोनो चूचे पकड़ कर मार धक्का, और मेरी रंडी बेटी को लड़की से औरत बना कर साली रंडी को अपने लंड की रंडी बना ले.

टोनी ने फिरसे एक धक्का लगाया, और टोनी का लंड रानी दीदी की छूट की सील तोड़ कर दीदी की छूट में घुस गया. दीदी दर्द से चिल्लाने लगी और दीदी की छूट से बहुत सारा खून निकालने लगा.

दीदी दर्द से चिल्लाते हुए बोली: उूउउइइ मा मॅर गयी. मेरे राजा, ज़रा आराम से. मेरी छूट में आज पहली बार लंड घुसा है.

टोनी धीरे-धीरे धक्के लगता हुआ अपना लंड दीदी की छूट में घुसने लगा, और दीदी दर्द से कराहते हुए बोलने लगी-

दीदी: अफ मेरे राजा, आज मैं मॅर क्यूँ ना जौ, पर आप अपना सारा लंड मेरी छूट में डाल कर ही रुकना आ श.

टोनी का लगभग आधा लंड दीदी की छूट में घुस गया, और टोनी दीदी की छूट में धक्के लगाने लगा. कुछ देर बाद दीदी को मज़ा आने लगा, और दीदी अपने चूतड़ उठा कर टोनी का लंड अपनी छूट में लेने लगी, और मस्ती में बोलने लगी-

दीदी: उहह मेरे राजा, बहुत गरम लंड है आपका. अब छोड़ो मुझे, और ज़ोर से छोड़ो. मेरे राजा, क्या आपका सारा लंड मेरी छूट में घुस गया है?

टोनी दीदी के चूचे मसलता हुआ बोला: अभी कहा, मेरी रांड़, अभी तो मेरा आधा लंड ही तेरी छूट में घुसा है.

दीदी अपनी गांद उठा कर बोली: ओह मेरे राजा, अब अपना बाकी लंड भी मेरी छूट में घुसा दो.

टोनी ने दीदी की छूट से सूपदे तक लंड बाहर निकाला, और फिर एक ज़ोरदार झटके में दीदी की छूट में लंड पेल दिया.

दीदी फिरसे दर्द से कराहने लगी और बोली: मेरे राजा, क्या अब आपका सारा लंड आपकी रंडी की छूट में घुस गया?

टोनी दीदी के चूचे मसलता हुआ बोला: अभी कहा, अब मेरा लंड तेरी छूट के और ज़्यादा अंदर नही जेया रहा.

मम्मी टोनी की पीठ थपथपाते हुए बोली: मेरे राजा, तेरा लंड मेरी रंडी बेटी की छूट में बच्चे-दानी तक नही गया है. अब तू एक ही झटके में अपना लंड मेरी रंडी बेटी की छूट में बच्चे-दानी के अंदर तक थोक डाल.

टोनी ने फिरसे एक ज़ोरदार धक्का लगाया. और इस बार टोनी का सारा लंड मेरी दीदी की छूट में समा गया.

दीदी आह करके बोली: आ मेरे राजा, तेरा लंड मेरी छूट में बहुत आचे से घुस गया है. अब देर मत करो, और मेरी ज़ोरदार चुदाई करके अपने गरम-गरम वीर्या से मेरी छूट और बच्चे-दानी भर कर मुझे अपनी पर्सनल रंडी बना लो.

टोनी ज़ोर-ज़ोर से दीदी की छूट में धक्के लगाने लगा, और दीदी मदहोश हो कर मादक सिसकियाँ भरते हुए बोलने लगी-

दीदी: आ मेरे राजा, बहुत मज़ा आ रहा है. ऐसे ही छोड़ मुझे. और ज़ोर से, और ज़ोर से. और दीदी का जिस्म अकड़ने लगा, और कुछ देर बाद दीदी शिथिल पद गयी.

मम्मी ने टोनी को रोकते हुए कहा: मेरे राजा, अभी थोड़ी देर रुक जेया, और कुछ देर बाद साली रंडी को फिरसे मज़ा आने लगेगा.

टोनी दीदी के चूचे मसलता हुआ दीदी के उपर ही पड़ा रहा, और दीदी के होंठ और गाल पर काटने लगा. दीदी को फिरसे मज़ा आने लगा, और दीदी फिरसे अपनी गांद उठा कर टोनी का लंड अपनी छूट में लेने लगी.

ऐसे ही करीब एक घंटे तक टोनी दीदी को रुक-रुक कर छोड़ता रहा, और फिर अपना वीर्या दीदी की छूट में छ्चोढ़ दिया.

दीदी टोनी का गरम-गरम वीर्या अपनी छूट में महसूस करके मादक आअहह कर उठी. फिर कुछ देर बाद टोनी ने अपना लंड दीदी की छूट से निकाला. दीदी की छूट से टोनी का गरम-गरम वीर्या और दीदी का छूट रस्स निकल रहा था. उसने अपनी एक उंगली से टोनी का वीर्या अपनी छूट से लगा कर छाता और बोली-

डोडी: श मेरे राजा, आपके वीर्या का स्वाद तो बहुत मस्त है.

उसके बाद रानी दीदी ने टोनी का लंड और टोनी ने दीदी की छूट को चाट कर आचे से सॉफ किया. उसके बाद टोनी ने मेरी छ्होटी बेहन पिंकी और मा किरण को छोड़ा. और उनकी गांद भी मारी. ये सब मैं आपको अपनी कहानी के अगले भाग में बतौँगा. तब तक आप मेरी कहानी को लीके और कॉमेंट करे.

यह कहानी भी पड़े  फ्री सेक्स किया रंडी साली पिंकी के साथ


error: Content is protected !!