खूबसूरत बहन और उसके टिंडर वाले दोस्त की मुलाकात

मैं उत्तरप्रदेश के झांसी जिले का रहने वाला हूं। मेरे घर में 6 लोग हैं मां, पापा, मैं, मेरे बड़े भैया, मेरी दीदी, और मेरी छोटी बहन। मेरा नाम रवि, तथा बड़े भैया समीर, दीदी का नाम कोमल, तथा छोटी बहन का नाम काजल है।

मेरी दोनों बहनें चुदक्कड़ निकल गयी, क्योंकि वो दोनों शादी से पहले ही लंड का स्वाद लेने लगी हैं। मेरी कोमल दीदी मेडिकल की तैयारी करने जब कोटा गई, तो उनको वहीं पर एक लड़के ने पटा लिया और जम कर चोद दिया। और दीदी की चुदाई उसने ऐसा की, कि सरकारी कालेज में एडमिशन तो छोड़ो, दो साल तैयारी के बाद भी Neet नही निकला। और ये कहानी मेरी अगली कहानी होगी।

मैं भी सेक्स कहानी में जब बहन की चुदाई की कहानी पढ़ी, तो मुझे भी लगा कि क्यूं ना अपनी बहन की दास्तान सुनाई जाए। दरअसल ये दोनों घटनाएं 2019 की है, जो कि वास्तविक है। इसमें नायक-नायिका का नाम बदला हुआ है। बाकी पूरी कहानी जैसे के तैसे है। और ये बात मुझे समीर भैया की शादी में पता चली, जब मैंने बहन काजल को रंगे हाथ अजय के साथ पकड़ा। तो कैसे दोनों मिले, और कैसे-कैसे कब कब और कितनी बार सेक्स किए, ये मैं अपनी कहानी की इस सिरीज में आपको बताऊंगा।

ज्यादा वक्त ना बिताते हुए मैं सीधे कहानी पर आता हूं। छोटी बहन काजल 12वीं पास करके इंजीनियरिंग करने कानपुर चली गयी, और 4 महीने ही बीते होंगे कि समीर भैया की शादी फिक्स हो गयी। दिसम्बर में भैया की शादी सोनम भाभी से होने वाली थी। उनके दो भाई थे, एक का नाम अजय तथा दूसरे का नाम विमल था।

काजल बहुत ही सेक्सी लड़की है। जिसका चेहरा और फिगर कुछ कुछ भोजपुरी स्टार अक्षरा सिंह जैसा है। पर काजल 19 वर्षीय मखमली गोरी लड़की है, जिसकी हाईट 5 फिट 2 इंच है। जो कभी भी मेकअप नही करती। पर हां वो अपने आंखों में काजल जरूर लगाती है, और अगर उसके फिगर का अंदाजा लगाऊं तो 32-28-32 के आस पास होगा। एक-दम गठीला बदन, शराबी नजर, खरबूजे के जैसी गोल चूचियां, कद्दू जैसी गांड, मोरनी जैसी बलखाती पतली कमर, काजल की जवानी की शोभा बढ़ा देते हैं।

उसकी जवानी साफ-साफ नजर आती थी, जब वो साड़ी पहनती, या फिर जब वो टाईट कसी हुई जींस और कुर्ती पहनती थी।

मैंने तो तब देखा कि मेरी बहन जवान हो गयी है, बारिश के दिन में जब एक दिन वो ब्लैक कलर का जालीदार कपड़ा पहनी थी, और कपड़े उतारने के लिए जब वो छत पर गयी, तो मैं भी उसके साथ कपड़े उतारने गया।

चूंकि उस वक्त हवा भी चलती है, तो शर्ट में बटन लगा कर रस्सी पर टांगा जाता है, और साड़ी को बांध देते हैं, तांकि कपड़े हवा के साथ उड़ कर गिर ना जाए। तो बारिश तेज हो गयी और मैंने तो जल्दी-जल्दी कुछ कपड़े उतार लिए। वो भी कुछ कपड़े उतारी और छत पर बने रूम में दोनों ने रख दिए। पर बचे कपड़े जब वो उतार रही थी, तब तक उसके सारे कपड़े पूरे गीले हो गए थे। तभी उसी वक्त हवा का एक झोंका आया, और उसके कपड़े उसके जवान बदन से चिपक गए।

तो मैंने अचानक उसकी चूचियों का उभार देखा, और फिर उसकी पतली कमर। तभी मुझे उसकी चूचियों पर उठे हुए निप्पल का उभार भी देखा, तो मुझे मजा आने लगा। फिर मैं उसके कपड़े के अन्दर अपनी आंखो की नजर ले जाने लगा। तभी वो कपड़े लेकर रूम के अन्दर आने लगी, तो मुझे उसका गोरा-गोरा बदन दिखा। पर चूचियां नही दिखी। पर हां उसकी सफेद कलर की बनियान मुझे दिखी।

उस दिन शायद मेरी बहन ब्रा नहीं पहनी थी, केवल बनियान ही डाल रखी थी। उस दिन मैं उसके जवान जिस्म को देख कर पागल हो गया। फिर उसके बाद से मैं उसके जवान जिस्म का अपनी आंखो से हर रोज नाप लेता था।

फिर जब काजल का कालेज आना-जाना शुरू हुआ था, तो धीरे-धीरे मेरी बहन सोशल मीडिया पर भी एक्टिव रहने लगी, और उसके इंस्टाग्राम पर दस हजार से ज्यादा फालोवर महीने भर में ही हो गये। लड़को के मैसेज आने स्टार्ट होने लगे। हर लड़का उसे गर्लफ्रेंड बनने को बोलता। हर कोई उसे लाईन मारता, और जब भी वो कोई फोटो अपलोड करती, तो लाईक और कमेन्ट की भरमार मच जाती। ऐसा इसलिए क्यूंकि वो किसी परी से कम नहीं थी। उसकी कमर, चूची और गांड हर किसी को दीवाना कर देती थी।

फिर ऐसे बातों ही बातों में एक दिन काजल की दोस्त ने उसे टिन्डर ऐप के बारे में बताया। जब काव्या को टिन्डर ऐप का पता चला, तो उसने डाउनलोड किया और वो फिर टिन्डर पर भी ऐक्टिव रहने लगी। फिर धीरे-धीरे उसके सोशल मीडिया पर दोस्त बन गए।

पर काजल को ज्यादा कुछ पता नहीं था सोशल मीडिया की बातें। तो उससे कई लड़के लड़की की आई.डी. बना कर उससे बहुत तरीके की बात करते। कुछ लड़के तो दीदी बोलते, पर कुछ लड़के जान बोलते। कोई उनमें से गर्लफ्रेंड बनने के लिए बोलता, कोई कुछ कोई कुछ।

एक दो लड़के तो सेक्स करने की बात बोलते, कि आप मेरे साथ एक बार सेक्स कर लो आपको जितने बोलोगी उतना पैसे देंगे। तो ये सब देख काजल परेशान सी होने लगी। फिर उसने अपनी एक दोस्त को बताया तो उसने बोला कि मैसेज रिक्वेस्ट एक्सेप्ट ही ना किया कर, और जो भी हैं उनको ब्लाक कर दे। तो काजल ने सब को ब्लाक कर दिया।

फिर एक दिन ऐसे ही एक लड़के से बात करते-करते काजल उसकी बातों में आने लगी। वो लड़का जैसे कि जादू कर दिया था काजल पर। तो काजल उससे बात करना शुरू कर दी। बात करने पर पता चला कि वो भी कानपुर में ही रह कर पढ़ाई करता था, और चित्रकूट का रहने वाला था।

बातें करते-करते धीरे-धीरे वो उस लड़के के जाल में फंसती गई, और वो डबल मीनिंग बात करता जिससे काजल को भी मजा आने लगा था। ऐसे महीने बीत गए, और एक दिन उस लड़के ने काजल को डेट पर चलने को बोला। तो काजल कुछ आनाकानी करने के बाद मान गयी। फिर जब दोनों मिलने के लिए तैयार हुए, तो उस लड़के ने एक होटल में दो दिन के लिए एक रूम बुक किया।

जब दोनों मिले और जब एक-दूसरे को देखे, तो काजल को लगा कि दोनों एक-दूसरे से अंजान थे। पर एक रात दोनों एक साथ बिताए। उस रात वो दोनों बस बातें करते रहे और एक-दूसरे को जानने की कोशिश करते रहे। फिर रात में दोनों सो गए ।

जब दूसरे दिन सुबह करीब 11 बजे अजय ने खाने का आर्डर किया, तो पता चला खाना 1 घंटे में रूम में पहुंच जाएगा। तो अजय ने फोन कट करके बेड पर रख दिया। तभी काजल अजय का मोबाईल लेकर फोटो देखने लगी तो अजय के मोबाईल में काजल ने समीर भैया का फोटो देखा तो वो बोली, “ये कौन है? इनकी फोटो तुम्हारे फोन में कैसे”?

तो अजय बोला, “ये मेरे होने वाले जीजू हैं। पर तुम इन्हे कैसे जानती हो”? तो काजल बोली, “ये मेरे बड़े भैया हैं”। और इतना सुनते ही दोनों हक्के-बक्के रह गए। फिर कुछ देर बाद काजल बोली कि, “चलो यहीं पर सब खत्म करते हैं”। पर अब तक अजय ने काजल को चोदने का पूरा प्लान बना लिया था। अजय बोला, “ऐसे कैसे खत्म यार, इसमें हमारी क्या गलती”?

तो काजल बोली कि, “हमारी गलती इतनी है कि हम दोनों रिश्तेदार बनने वाले हैं, तो अब कुछ नहीं हो सकता”। तो अजय बोला, “कैसे नहीं हो सकता”? और काजल को अजय ने तुरन्त पकड़ लिया, और उसके होठों पर अपना होंठ रख दिए।

इसके आगे क्या हुआ, आपको अगले पार्ट में पता चलेगा।

यह कहानी भी पड़े  सालो बाद फिर से अपने दीदी को चूसा


error: Content is protected !!