बैंक वाली सहकर्मी भाभी की प्यासी चुत

अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज पढ़ने वाले सभी को नमस्कार.
मैं अभय जालंधर पंजाब से हूँ. मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ, मैं दिखने में गोरा और 5’10” गठीला और छरहरा शरीर का हूँ, स्मार्ट और डैशिंग हूँ.

मेरी पिछली कहानियों
सेक्सी पंजाबन भाभी की चुदाई करके प्रेग्नेंट किया
जमींदार का कर्ज ना चुका पाने का दण्ड चूत चुदाई

को अपने बहुत प्यार दिया. मुझे बहुत से मैसेज आये. उस सब के लिए आप सब का तहेदिल से शुक्रिया.

यह कहानी है जब मैं लुधियाना प्राइवेट बैंक में लोन विभाग में जॉब करता था. बैंक में हमारी टीम होती थी. मैंने जब जॉब शुरू की तो मेरी टीम में मेरे साथ एक भाभी थी जिसका नाम महक (बदला हुआ नाम) था.
रंग उसका बिलकुल गोरा था, 36 साइज के टाइट मम्मे थे, जब पहली बार देखा तो देखता ही रह गया. उसकी उम्र करीब 38 साल की थी. पर वो दिखने में 30-32 की लगती थी. मतलब कुल मिला कर वो ऐसा आइटम था कि उसके हुस्न से नजरें ही हटें. उनका फिगर अराउंड 36-30-34 का होगा. प्राइवेट बैंक में लड़कियां कैसी होती है. आप सब जानते ही हो.

लोन विभाग में काम करने वालो को मार्केटिंग के लिए बाहर ही रहना पड़ता है, दूर दूर गांवों में जाना पड़ता है. बैंक ने मुझे बाइक दी थी तो बाइक पर वो मेरे साथ बैठ कर जाती थी.
जहाँ कहीं सड़क ख़राब होती या स्पीड ब्रेकर होता था तो मैं उस पर से निकालता था. तब उसके 36 के बड़े बड़े मम्मे मेरी पीठ में दब जाते थे. मैं बता नहीं सकता कि कितना अच्छा लगता था. उस वक़्त ही मेरा 8 इंच लंड उसके मम्मों के छूने से तन जाता था.

यह कहानी भी पड़े  होली के रंग पिया संग

एक दिन सुबह बहुत बारिश हो रही थी और जाना भी ज़रूरी था तो हमने बारिश मैं जाने का फ़ैसला किया. उस दिन तो वो गजब लग रही थी. मैं बता नहीं सकता सिर से लेकर पैरों तक बिल्कुल भीग गयी थी, उसकी ब्रा बिल्कुल साफ़ साफ़ दिख रही थी और मम्मे तो जैसे बाइक पे लग रही झटकों के साथ उछल रहे थे.
और उसकी भरी हुई गांड… जब वो चलती थी थी तो देखने वालों की आँखें खुली रह जाती थी.

आज कहानी लिखते वक़्त भी उसको याद किया तो लंड तन गया है. मैं बहुत कोशिश करता था पर वो ज़्यादा भाव नहीं देती थी. शायद ही कोई ऐसा दिन रहा होगा जब मैंने उसके नाम की मुठ ना मारी हो.

उस दिन भारी बारिश की वजह से वापिस आते वक़्त मेरी बाइक बंद हो गयी. हम दोनों वापिस पैदल आने लगे. तो रास्ते में हम बात करने करने लगे.
उसने मुझसे पूछा- तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है क्या?
मैंने कहा- नहीं. कोई आपके जैसी मिली नहीं.
तो वो हंस पड़ी. मैं समझ गया कि काम बन सकता है. मैंने उसके बारे में पूछा तो उसने बताया कि वो तलाकशुदा है. हमारे बीच आजतक काम के बारे में ही बात होती थी.

मैंने कहा- आप बहुत खूबसूरत हो.
तो वो मेरी तरफ देखने लगी और बोली- नहीं, तुम ऐसे ही बोल रहे हो.
मैंने कहा- नहीं… कसम से.
और दोस्तो, सच में बहुत गजब थी वो.

फिर हमारी रोज बात होने लगी. अब वो खुल कर बात करने लगी. किस तरह से उसका तलाक़ हुआ. और फिर एक दिन मौका देख कर मैंने उसे प्यार का इज़हार कर दिया. उसने मुझे कोई जवाब नही दिया. मैं डर गया और सोचा कि शायद उसको बुरा लग गया होगा.

यह कहानी भी पड़े  बीवी को गैर मर्द से चुदाई के लिए पटा लिया

लेकिन थोड़ी देर बाद उसका ‘आई लव यू…’ का मेसेज आया. मैंने भी उसको छेड़ना शुरू कर दिया. जब भी मुझे मौका मिलता तो मैं उसको किस कर देता था, उसके मम्में दबा देता था.
धीरे धीरे हम फ़ोन पर सेक्स करने लगे.

फिर हमें मौका मिला, मेरे घर वाले सब शादी पर दूसरे शहर जा रहे थे, मैं घर पर रुक गया, कह दिया कि काम काफी है, छुट्टी नहीं मिल सकती.

मैंने महक घर आने को कहा पर वो मना कर रही थी. पर मेरे बार बार जिद करने पर वो राजी हो गयी.

जैसे ही रात को मेरे घर वाले निकले तो मैं भी महक को लेने निकल पड़ा. क्या बताऊँ मैं कि मुझे कैसा लग रहा था. ऐसे लग रहा था कि आज बरसों की हसरत पूरी हो जाएगी. सारी रात में और वो एक बिस्तर पर…
मैं ऐसे सोचते सोचते उसके घर पहुँच गया तो उसको फ़ोन किया, वो आई… नाईट ड्रेस में बहुत हॉट लग रही थी. मैंने उसको बाइक पे बिठाया और बाइक बहुत तेज चला के अपने घर लाया.

घर आने के बाद मैं उसको देखने लगा तो वो सिल्क की नाइट ड्रेस में बिल्कुल अप्सरा लग रही थी. फिर हमने एक दूसरे को कस के हग किया. आज मैं उसकी तड़प को, उसकी चाहत को महसूस कर रहा था. उसकी चुचियाँ बिल्कुल तन गयी थी. मानो वो इस क़ैद से आज़ाद होना चाहती हो.

Pages: 1 2 3

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!