बड़ी गंद वाली सेक्सी चुदक्कड आंटी की चुदाई

हेलो दोस्तों मेरा नाम अजय है और मैं राजस्थान से हूं. मैं आपको अपनी एक सच्ची सेक्स घटना के बारे में बताने जा रहा हूं जो कि मुझसे जुड़ी हुई है और पूरी की पूरी एकदम सच्ची है. इसको पढ़कर आपको भी खूब मजा आएगा.

दोस्तों चलो अब मैं आपको अपनी कहानी सुनाता हूं, अब आप सब अपना पानी निकालने के लिए तैयार हो जाए.

दोस्तों यह बात आज से एक महीने पहले की है. दोस्तों में आपको बता दूं कि मेरे पड़ोस में एक आंटी रहती है जिसका नाम अनु है और वह ३८ साल की है और उसका फिगर क्या मस्त माल है और ३८-३०-३८ का फिगर है जो कि बहुत ही अच्छा है और उसके गोल गोल चुत्तड और मोटी सी गांड को देखकर मेरा लंड खड़ा हो जाता है.

आंटी एकदम गोरी चिठ्ठी है और आज की मेरी यह कहानी उन्हीं के साथ हुई क्योंकि उन्हें जब भी देखता हूं तो मेरा उन्हें चोदने का मन करता है, और इसी के चक्कर में मैंने कई बार उनके नाम की मुट्ठ भी मारी है.

दोस्तों आंटी के पति एक आर्मी ऑफिसर है जिसकी वजह से उनकी चूत भी तड़पती रहती है और एक दिन की बात है, मैं सुबह के समय आंटी के पास गया. तो मैंने देखा कि आंटी घर पर अकेली थी और जब उनसे पूछा तो उन्होंने बताया कि अंकल का तो तुम्हें पता ही है और बच्चे अपने मामा जी के घर गए हुए हैं.

में वहां से वापस आने को चलने लगा तो आंटी ने मुझे रोक दिया और कहा बेटा तुम यहीं रुक जाओ. मैं नहा लेती हूं ताकि घर का ख्याल तुम रख पाओ. अब मैं आंटी की बात मानकर उनके बेडरूम में बैठ गया और आंटी ने जाते हुए यह भी कहा कि पीसी भी ठीक कर देना तो मैं यह सुनकर हैरान हो गया आंटी भी पीसी चलाती है और अब आंटी अंदर बाथरुम में चली गई तो मेरी नजर ऐसे ही बेड पर पड़ी तो देखा कि उनकी ब्रा और पेंटी बेड़ पर ही पडी थी.

यह कहानी भी पड़े  होटल में चुदाई का खेल

अब में ऐसे ही आंटी का इंतजार करने लगा तो करीब १५ मिनट के बाद आंटी ने आवाज लगाकर कहा की टॉवेल पकड़ा दो, तो मेने उनका टोवेल पकड़ा दिया, और फिर उनकी फिर से आवाजा आई और कहा कि अब मेरी ब्रा और पैंटी भी पकड़ा दो, तो मैंने वह भी पकड़ा दी और फिर आंटी वाइट सूट पहनकर बाहर आ गई और उनको देखते ही मेरा लंड खड़ा हो गया, और मेरी नजर नीचे ब्रा पर पड़ी तो मैंने खुद को कंट्रोल कर के वहां से चलने को कहा.

अब आंटी ने मुझे फिर से रोका और कहा कि तुम्हें कोई काम है क्या? तो मेंने कहा कि नहीं.. आंटी ने कहा कि तुम भी यहीं रुक जा में बहुत बोर होती हूं और तुम रहोगे तो बात करेंगे टाइम पास भी हो जाएगा. मैं उनकी बात सुनकर उनके पास बैठ गया और कुछ देर में वह लाइफ से जुड़ी बातें करने लगी. जब मैं भी उनकी बातों में इंटरेस्ट लेने लगा तो उन्होंने अचानक से मुझे पूछ लिया कि मुझे तुम्हारी गर्लफ्रेंड है या नहीं?

मुझे उनकी बात सुनकर थोड़ी सी शर्म आ गई और मैंने ना मे सर हिला दिया. आंटी फिर से बोली कभी सेक्स किया है किसी से? क्या तुम्हें भी सेक्स पसंद है? बताओ अजय.

मैंने झट से जवाब दे दिया नहीं आंटी मुझे पसंद नहीं है और ना ही मैंने कभी सेक्स किया है मेरी बात सुनकर थोड़े गुस्से में बोली तुम बहुत खराब हो, बहुत ज्यादा झूठ बोलते हो. मुझे सब पता है तुम्हारे बारे में. तुमने अपने घर की कामवाली को नहीं छोड़ा फिर उसके बाद नेहा को भी चोदते हो तुम जब भी उसकी चूत में लंड लेने की खुजली होती है वह जट से तुम्हारे पास आ जाती है और तुम उसे तसल्ली से चोदते हो. मुझे लगता है अब मुझे तुम्हारी मम्मी से बात करनी पड़ेगी अब अपने लड़के की शादी कर दो यह मोहल्ले की लड़कियों और आंटीयों को चोदता फिरता है.

यह कहानी भी पड़े  नशे के कारण आंटी चुद गई

उनकी बात सुन कर मैं डर गया और सारा डर मेरे चेहरे पर साफ दिख रहा था. तभी आंटी बोली अरे पागल तुम डरो मत मैं किसी को कुछ नहीं बताऊंगी, डरो मत और हां मैंने तुम्हें नंगा भी देखा है.

मैंने बोला – आप ने मुझे नंगा कब देख लिया?

आंटी ने कहा जब तुम मेरे घर के बाथरूम में फ्रेश हो रहे थे.

मैं उनकी यह बात सुनकर कुछ नहीं बोला. मेरी नज़रें नीचे की तरफ थी आंटी फिर से मुझे देखते हुए बोली मुझे बेटा तुम नेहा की चूत के गुलाम बन सकते हो तो क्या थोड़ी सी प्यास मेरी चूत कि नहीं मिटा सकते तुम? मैं और मेरी चूत भी एक दमदार लंड के लिए काफी टाइम से तड़प रही है.

मैं उनकी यह बात सुनकर मन ही मन खुश हो रहा था. मैं सोच रहा था कि जिस आंटी को चोदने के बारे में दिन रात सोचता और जिससे में डरता था आज वही खुद मुझसे चुदने के लिए तैयार हो रही है वह क्या बात है.

Pages: 1 2 3

error: Content is protected !!