विदेशी लड़की की रफ़ चुदाई

पुणे में मुझे एक इजराइली लड़की मिली तो मैं उसे चोदने के ख्याल से बेचैन हो गया. मैंने कैसे उससे बात की और दोस्ती करके उसकी चूत को चोदा? पढ़ें!

दोस्तो, मेरा नाम अमन है और मैं इंदौर शहर का रहने वाला हूँ. मेरा कद 5 फुट 4 इंच का है. मेरा रंग एकदम गोरा है और आंखें थोड़ी नशीली सी हैं; ऐसा सब बोलते हैं.

ये मेरी पहली सेक्स कहानी है जोकि किसी अजनबी के साथ मेरी पहली चुदाई की कहानी है.

ये बात अभी तीन महीने पुरानी है, जब मैं अपनी जॉब के लिए पुणे गया था. वहां मैं कॉलेज के हॉस्टल में रुका था, उधर देश विदेश से लड़के और लड़कियां आया करते थे.
अपनी गर्लफ्रेंड से ब्रेकअप के बाद मैंने बहुत दिनों से चुदाई नहीं कर पाई थी, जिसकी वजह से मेरा लंड चूत के लिए भीख सी मांग रहा था.

उस हॉस्टल में देश विदेश की मस्त और गर्म लड़कियों को देख कर मेरा लंड बार बार अपनी चरम सीमा पर खड़ा हो जा रहा था, लेकिन बेबसी में मुझे लंड को सिर्फ हिला कर ही शांत करना पड़ रहा था.

मैं जिस जगह रहता था, वहां शराब और गांजे का नशा करना एकदम आम बात थी. लड़के और लड़कियाँ दोनों खुल कर नशा करते थे. खास कर विदेशी लड़कियां खूब नशा करती थीं.

एक दिन उस जगह इजराइल की एक लड़की आयी, जिसकी उम्र 24 साल थी. उसका कद कुछ 5 फुट 2 इंच का रहा होगा. उसका फिगर एकदम टाइट था क्योंकि वो आर्मी से ट्रेनिंग लेकर आयी थी, जो कि इजराइल की हर लड़के लड़की को लेना ज़रूरी होता था.

जब वो सुबह हॉस्टल में आयी, तो वो एक टाइट सी सफ़ेद टी-शर्ट पहने हुए थी, जिसमें से उसके चूचे बाहर आने के लिए मचल रहे थे.

यह कहानी भी पड़े  होली का नया रंग बहना के संग

वैसे तो मैं रोज़ाना एक बार सुबह उठ कर और एक बार सोने से पहले मुठ मारता हूँ. ये मेरी आदत सी बन गयी थी.

जिस दिन वो मेरे सामने आयी, उस दिन मैंने सुबह मुठ नहीं मारी थी. आप सब लड़के जानते हैं कि सुबह आपसे पहले आपका लंड उठ जाता है. मेरे साथ भी यही हुआ. लेकिन मुठ न मार पाने की वजह से मेरा लंड भकभका रहा था. फिर जैसे ही उस लड़की को देखा, तो यही ख्याल आया कि जो होगा, सो देखा जाएगा; आज इसकी चूत लेकर ही मानूंगा.

मैं भी उसके पास गया और उससे इंग्लिश में बात करने लगा. तब पता लगा कि वो यहां अकेली घूमने आयी है. लेकिन उसे ये नहीं पता था कि घूमना कहां से शुरू करे.

मैंने बोला कि मेरी दो दिन कि छुट्टी है, मैं तुम्हें पूरा पुणे घुमा दूंगा.
वो मान गयी और हम दोनों बाहर निकल गए.

मैंने उसे पहले लंच का निमन्त्रण दिया और हम साथ में एक रेस्तरां में लंच करने लगे. लंच के साथ ही हम दोनों आपस में बातचीत करते हुए एक दूसरे को जानने लगे. मेरी नज़रें केवल उसके मचलते चूचों पर ही टिकी थीं. मेरी इस भेड़िये सी भूखी नजर को उसने भी तीन से चार बार नोटिस कर लिया था लेकिन वो चुप थी.

फिर हम दोनों थोड़ा घूमे और शाम को वापस हॉस्टल में आ गए.
उसने मुझसे बोला कि मैं थक गयी हूँ और बियर पीना चाहती हूँ.

मैंने मन में सोचा कि मौका अच्छा है. मैंने बोला- ओके … तुम्हारे रूम में चल कर साथ में पिएं, तो कैसा रहेगा?
उसने झट से हां कर दी.

मुझे ऐसा लगा कि इसकी चूत के दरवाज़े मेरे लिए खुल गए हों. मैं जल्दी से नहा कर दोनों के लिए बियर की छह कैन ले आया.

यह कहानी भी पड़े  अपनी क्लासमेट कुंवारी लड़की को चोदा

मैंने उसके कमरे की घंटी बजाई और उसने दरवाजा खोला.

अब तक वो भी नहा चुकी थी और उसने पिंक टॉप पहन लिया था, जिसमें उसके गहरे गले से लाल ब्रा साफ़ दिख रही थी.

मैं उसको देख कर पगला सा गया. मैंने उसकी खूबसूरती के लिए एक बार उसकी तारीफ़ की, तो उसने मुझे थैंक्स बोला.

हम दोनों अन्दर आ कर सोफे पर बैठ गए. मैंने एक बियर खोली और उसे दे दी. दूसरी मैंने खोल ली. फिर हम दोनों ने चियर्स बोल कर बियर पीना शुरू किया. बीच बीच में हमारी बातें होने लगीं. मैंने सिगरेट की डिब्बी निकाली और उससे सिगरेट पीने की इजाजत लेते हुए उसे भी ऑफर की. उसने एक ही सिगरेट जलाने की बात कहते हुए मुझे इजाजत दे दी.

सिगरेट जलाई मैंने … और एक लम्बा कश खींच कर उसकी तरफ बढ़ा दी. उसने भी कश खींचा और मेरे मुँह पर छोड़ते हुए आंख मार दी.
मैंने स्माइल कर दी.
हम दोनों की दो दो कैन हो चुकी थीं.

वो शायद बहुत ज्यादा थक चुकी थी इसलिए उसको दो कैन में ही नशा चढ़ने लगा था. वो नशे में इधर उधर डोलते हुए मेरे ऊपर झुकने लगी थी.

मैंने मौके को हाथ से जाने नहीं दिया और पूछ लिया कि तुम इतनी खूबसूरत हो, तुम्हारा बॉयफ्रेंड तो होगा ही.
उसने बोला- हम्म . … था एक, लेकिन ब्रेकअप हो गया.

Pages: 1 2 3 4 5

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!